उन्नत भारत अभियान योजना: जानें क्या है उद्देश्य लाभ व विशेषताएं

उन्नत भारत अभियान योजना की शुरुआत 11 नवम्बर 2014 में हुई थी। इस योजना के नाम से ही हम समझ सकते हैं की ये योजना भारत की उन्नति को ध्यान में रखकर लायी गयी है। ये कहना गलत नहीं होगा की हमारा भारत देश गाँव में बसता है और भारत के विकास के लिए सबसे जरुरी है की हम यहाँ बसने वाले गाँव का विकास पहले करें। Unnat Bharat Abhiyan के तहत गाँव को उन्नत बनाने के लिए वहां के बुनियादी विकास और शिक्षा पर ज़ोर दिया गया है। शिक्षण संस्थानों द्वारा गाँव के विकास से सम्बंधित स्थानीय आर्थिक, समाजिक व अन्य समस्याओं का भी समाधान किया जाएगा। इस बात का भी प्रयास रहेगा की जो भी गाँव अभी तक विकसित नहीं हो पाए है या आज भी बाकी गाँव की अपेक्षा पिछड़े हैं उनके विकास पर ज़ोर दिया जाए।

Unnat Bharat Abhiyan
Unnat-Bharat-Yojana-Abhiyan

Unnat Bharat Abhiyan का लाभ मूलतः देश के ग्रामीण क्षेत्रवासियों के लिए ही है। उन्नत भारत अभियान योजना में गाँव के विकास में बाधा बनने वाले कारणों का पता लगाना है और उन्हें दूर करके गावों की स्थिति को सुधारना है। Unnat Bharat Abhiyan के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमारे लेख को पूरा पढें।

उन्नत भारत अभियान योजना क्या है?

“एम् एच आर डी” (अब “शिक्षा मंत्रालय”) द्वारा भारत के ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए उन्नत भारत अभियान योजना की शुरुआत की गयी है। इस अभियान को दिल्ली आईआईटी ने शुरू किया था जिसे बाद में भारत सरकार ने स्वीकृति देकर देशव्यापी अभियान में बदल दिया।इस अभियान के अंतर्गत उच्च शिक्षा संस्थानोंको गाँव से जोड़ा जा रहा है जहाँ वो अपने ज्ञान के आधार पर गाँव के विकास में भागीदार बन सकें। उच्च शिक्षा संस्थान ज्यादा से ज्यादा जिलों में पहुंचकर विकास कार्यों को आगे बढ़ा रहे हैं । ये संस्थान अनेक प्रकार के प्रोग्राम जैसे कि मशरुम खेती ,धुआं रहित चिमनी, ग्रामीण ऊर्जा , हस्त शिल्प ,स्वास्थ्य सेवा और जल प्रबंधन, ग्रामीण आवास और अन्य विकासात्मक पहलुओं में सहायता प्रदान कर रहे हैं। इस योजना के नेशनल कॉर्डिनेटिंग इंस्टिट्यूट (राष्ट्रीय समन्वय संस्थान) के रूप में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली (आईआईटी, दिल्ली ) को बनाया गया है।

उन्नत भारत अभियान योजना 2.0

“एम् एच आर डी” ने 25 अगस्त 2018 को उन्नत भारत अभियान योजना का दूसरा संस्करण शुरू किया था। देश के मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) को अब “शिक्षा मंत्रालय “ के नाम से जाना जाता है। उन्नत भारत अभियान 2.0 पहले से बेहतर संस्करण है। यू बी ए 1.0 (आमंत्रण मोड ) जिसमे इस योजना का हिस्सा बन ने के लिए विभिन्न संस्थानों को आमंत्रित किया गया था और किसी भी तरह की कोई भी बाध्यता नहीं थी । लेकिन इसके नए संस्करण (चैलेंजिंग मोड ) में ऐसा नहीं है। इसके तहत अब विभिन्न उच्च शिक्षण संस्थानों को कम से कम 5 गाँवो को अपनाना या गोद लेना आवश्यक है। इस वक्त UBA 2.0 योजना चल रही है। इस संस्करण के तहत 750 निजी व सरकारी प्रमुख शिक्षण संस्थानों को शामिल किया गया है।

Unnat Bharat Abhiyan 2022 Highlights

योजना का नाम उन्नत भारत अभियान योजना
शुरुआत हुई 11 नवम्बर 2014 , 25 अप्रैल 2018 (उन्नत भारत अभियान योजना 2.0 )
लाभार्थी भारत के सभी गाँव
विभाग मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय (अब शिक्षा मंत्रालय )
योजना का उद्देश्य गाँव के विकास हेतु उच्च शिक्षा संस्थानों को गाँव से जोड़ना
योजना का स्टेटस जारी है (यू बी ए 2.0)
आधिकारिक वेबसाइट लिंक unnatbharatabhiyan.gov.in
उन्नत-भारत-अभियान-योजना, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
Unnat Bharat Abhiyan Yojana Apply

उन्नत भारत अभियान योजना का उद्देश्य क्या है ?

उन्नत भारत अभियान योजना का उद्देश्य देश के गावों के विकास के लिए उच्च शिक्षण संस्थाओं को ग्राम विकास का भागीदार बनाना है। उच्च शिक्षण संस्थान अपने ज्ञान व अनुभव के माध्यम से गाँव की समस्याओं का व्यावहारिक हल निकाल सकें। इस योजना के उद्देश्य हम आगे दिए गए कुछ बिंदुओं से समझ सकते हैं।

  • इस योजना के तहत उच्च शिक्षा संस्थानों के छात्रों व विभिन्न डिपार्टमेंट को गाँव की वास्तविकताओं से परिचय कराना है ताकि सभी उसे बेहतर समझ सकें और विकास के लिए अपना योगदान भी दे सकें।
  • स्थानीय जरूरतों के हिसाब से नयी तकनीकों को चुनाव करना और उनका इस्तेमाल करना। उपलब्ध तकनीकी साधनों में जरुरत के हिसाब से फेरबदल कर उनको प्रयोग लाने लायक बनाना।
  • सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं और प्रोग्रामों को ज्यादा प्रभावी बनाने में संस्थानों के ज्ञान व समझ की मदद लेना।
  • गाँव के विकास में रोड़ा बन रहे कारणों का पता लगाना। उसके बाद उनका समाधान करना।
  • गावों को उच्च शिक्षण संस्थान की सहायता से आत्म निर्भर बनाने के लिए।

निपुण भारत 2022: कार्यान्वयन प्रक्रिया

उन्नत भारत योजना की विशेषताएं

  • यू बी ए भारत सरकार के “मानव संसाधन विकास मंत्रालय”(शिक्षा मंत्रालय) द्वारा देश के ग्रामीण इलाको को विकसित करने के उद्देश्य से लायी गयी योजना है।
  • उन्नत भारत अभियान 2.0 की शुरुआत 25 अप्रैल 2018 में हुई है। इस अभियान के तहत कॉलेज और यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों को भी सम्मिलित किया जाएगा।
  • उत्तर भारत अभियान कार्यक्रम के तहत उच्च शिक्षण संस्थान के छात्रों को गाँव की वास्तविकता और वहाँ की समस्याओं से परिचय कराया जाएगा। साथ ही समस्याओं का समाधान भी निकला जाएगा।
  • नेशनल कॉर्डिनेटिंग इंस्टिट्यूट (राष्ट्रीय समन्वय संस्थान) के रूप में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली (आईआईटी , दिल्ली ) को उन्नत भारत अभियान योजना के लिए नामित किया गया है।
  • इस अभियान के अंतर्गत 750 शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी गांवो को गोद लेंगे। वहां वो गांवो के पिछड़ेपन का कारण पता करके दूर करेंगे। इसके अलावा वहां के आर्थिक व सामाजिक मुद्दों का भी निक्षण करेंगे ताकि विकास के लिए हर जरुरी कदम उठाया जा सके।
  • भारत सरकार द्वारा लायी गयी इस योजना के अंतर्गत शिक्षा क्षेत्रों के विकास से सम्बंधित कार्य किये जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण लोगों को उनकी जरुरत के हिसाब से प्रशिक्षण भी दिया जाएगा ताकि विकास के लिए ग्रामीण स्वावलम्बी बन सकें। उन्ही की सहायता से गाँव का विकास किया जाए।
  • इस योजना के अंतर्गत समग्र ग्रामीण विकास के लिए दो डोमेन जोड़े गए हैं। जिनमे पहला है मानव विकास और वस्तुगत (आर्थिक) विकास

उन्नत भारत मिशन योजना में पंजीकरण के लिए पात्रता

देश की उन्नत भारत योजना के तहत अगर आप भी अपने संस्थान का पंजीकरण करना चाहते हैं तो पहले पात्रता शर्तों को जान लें।

  • वो संस्थान जो अपने आस पास के 5 गावों को गोद लेने की क्षमता रखता हो।
  • संस्थान के लिए कम से कम 2 संकाय का सदस्य होना आवश्यक है। तभी वो किसी प्रकार के विकास सम्बन्धी कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं।
  • कोई भी केंद्रीय अथवा राज्य के उच्च शैक्षिणिक संस्थान जो विकास सम्बंधित कार्यों में रूचि रखते हों , वो इस योजना के तहत पंजीकरण कराने के लिए पात्रता रखते हैं।
  • जो भी संस्थान पंजीकरण के लिए आवेदन करेंगे वो भारत देश के ही होंगे।
  • आवेदन करने वाले संस्थानों का चयन मंत्रालय द्वारा किया जाएगा। जिसमे चयन के मानदंडों के हिसाब से उच्च रैंक वालों को चुना जाएगा।

शौचालय योजना ₹12000 आवेदन – sauchalay yojana online | Swachh Bharat Mission Phase 2 Online Apply

Unnat Bharat Abhiyan पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज़

आवेदकों को उन्नत भारत अभियान योजना 2022 का पंजीकरण करने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इन दस्तावेजों के विषय में हम आपको नीचे दिए गए पॉइंट्स के माध्यम से बताने जा रहें है। ये दस्तावेज निम्न प्रकार है –

  • डी सी पत्र
  • जनादेश प्रपत्र
  • ईमेल आईडी और फ़ोन नंबर
  • संस्थागत बैंक विवरण
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • ग्रामीणों की संख्या व नाम को अपनाने का प्रस्ताव (लिखित में )
  • समन्वयक संस्थान
  • मान्य AISHE CODE

पोषण संबंधी कार्यक्रम राज्यवार

उन्नत भारत अभियान (यूबीए) रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

भारत सरकार द्वारा ग्रामीण विकास के लिए लायी गयी यू बी ए योजना के अंतर्गत अगर आप भी पंजीकरण कराना चाहते हैं तो कृपया आगे बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आपको उन्नत भारत पोर्टल के आधिकारिक वेबसाइट unnatbharatabhiyan.gov.in पर जाना होगा। उन्नत-भारत-योजना
  • उसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • वहां पर आपको “ज्वाइन यू बी ए ” का ऑप्शन दिखाई देगा। आपको उसे क्लिक करना है। उन्नत-भारत-अभियान
  • आगे आपके सामने इंटरफ़ेस खुलेगा जिसमे आप पंजीकरण के लिए पात्रता पढ़ सकते हैं। साथ ही इसमें पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी भी दी गयी है।उन्नत-भारत-अभियान-पात्रता
  • इन्हे पढ़ने के बाद आप नीचे दिए गए “प्रोसीड ” के ऑप्शन पर क्लिक कर दें। उन्नत-भारत-योजना-एलिजिबिलिटी
  • क्लिक करने के पश्चात आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • यहाँ आपको आपके संस्थान से सम्बंधित जानकारियां भरनी होंगी। जिनमे आपके संस्थान का नाम , AISHE CODE , पता ,राज्य का नाम इत्यादि होगा।
    उन्नत-भारत-अभियान-रजिस्ट्रेशन
  • इसके बाद आपको अपने संस्थान से संपर्क करने हेतु जानकारी भरनी होगी। यूबीए-रजिस्ट्रेशन-फॉर्म
  • अंत में नीचे दिए गए “सबमिट ” के बटन पर क्लिक कर दें। रजिस्ट्रेशन-फॉर्म-यूबीए

Unnat Bharat Abhiyan 2022 से संबंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

भारत सरकार द्वारा लायी गयी उन्नत भारत अभियान योजना क्या है ?

केंद्र सरकार द्वारा उन्नत भारत अभियान देश के ग्रामीण हिस्सों के विकास के लिए लायी गयी है। ये योजना “मानव संसाधन विकास मंत्रालय ” के द्वारा  कार्यक्रम है जिसको आईआईटी, एनआईटी आदि के साथ मिल कर बनाया गया है।इस योजना के तहत 750 प्रमुख शिक्षण संस्थानों के छात्र कम से कम 5 गॉंवो को गोद लेंगे। सभी छात्रों को गाँव की रोज़मर्रा की समस्याओं से रूबरू होंगे और उनके उचित निदान करने की कोशिश करेंगे।

उन्नत भारत योजना का उद्देश्य क्या है ?

Unnat Bharat Abhiyan के माध्यम से सरकार ग्रामीण क्षेत्रों को प्रमुख शिक्षण संस्थानों की सहायता से विकसित करेगी। जिसके अंतर्गत शिक्षण संस्थानों के तकनीकी ज्ञान और समझ का इस्तेमाल करके गॉंवो के विकास में आने वाली समस्याओं का व्यावहारिक तरीके से समाधान करना है। इसका उद्देश्य ग्रामवासियों को स्वावलम्बी बनाकर गाँव को विकसित करना है।

Unnat Bharat Abhiyan में विशेष क्या है ?

इस योजना की विशेषताएं आगे दी जा रही हैं
ये योजना मुख्यतः भारत के ग्रामीण इलाकों के विकास के लिए ही लायी गयी है।
उन्नत भारत योजना 2.0 के तहत कॉलेज और युनिवर्सिटीज़ के विद्यार्थियों को भी शामिल किया जाएगा जो की ग्राम विकास के लिए समस्याओं का निदान करने में सहायता करेंगे।
इस योजना के तहत ग्रामीणों को विभिन्न प्रशिक्षण दिया जाएगा और कौशल विकास के कार्यक्रम चलाये जाऐंगे जिस से वे सभी स्वावलम्बी बन सकेंगे।
अन्य िशेषताओं को जान ने के लिए हमारे आर्टिकल को पढ़ें।

उन्नत भारत योजना 2.0 पहले के अपेक्षा कैसे अलग है ?

उन्नत भारत योजना पहले की तुलना में ज्यादा बेहतर है। एम् एच आर डी” ने 25 अगस्त 2018 को उन्नत भारत अभियान योजना का दूसरा संस्करण शुरू किया था। इस संस्करण के तहत अब प्रमुख शिक्षण संस्थानों को भी इस योजना से जोड़ा जाएगा। छात्र भी गाँव की परिस्थितियों से अवगत होंगे और ग्राम विकास में भी अपनी भूमिका निभाएंगे।

Unnat Bharat Abhiyan में पंजीकरण कैसे करें ?

इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने की प्रक्रिया जान ने के लिए हमारे आर्टिकल को पूरा पढ़ें। आर्टिकल में बताये गए स्टेप्स को फॉलो कर के आप अपने संस्थान को इस योजना के तहत पंजीकृत कर सकते हैं।

उन्नत भारत योजना की पात्रता क्या है ?

इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण कराने के लिए पात्रता जान लें।
पंजीकरण कराने वाले संस्थान भारतीय ही होने चाहिए
आवेदन संस्थान कम से कम 5 गॉंवो को गोद लेने की क्षमता रखते हों
वो उच्च शैक्षिणिक संस्थान(केंद्रीय अथवा राज्य ) जो विकास सम्बंधित कार्यों में रूचि रखते हों, वो पंजीकरण करा सकते हैं
अन्य पात्रता शर्तें जान ने के लिए आप हमारे आर्टिकल को पढ़ सकतें हैं

Unnat Bharat Abhiyan के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन कराने हेतु कौन कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं ?

डी सी पत्र
जनादेश प्रपत्र
ईमेल आईडी और फ़ोन नंबर
संस्थागत बैंक विवरण
आवेदक का आधार कार्ड
ग्रामीणों की संख्या व नाम को अपनाने का प्रस्ताव (लिखित में )
मान्य AISHE CODE

उन्नत भारत योजना की ऑफिसियल वेबसाइट ?

आप दिए गए लिंक पर क्लिक करके ऑफिसियल साइट पर जा सकते हैं। इस वेबसाइट का लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

जैसे कि इस लेख में हमने आपसे उन्नत भारत अभियान योजना से जुडी समस्त जानकारी साझा की है, यदि आपको इन जानकारियों के अलावा कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते है। आशा करे है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से सहायता मिलेगी।

यह भी जानें –

Leave a Comment