(पंजीकरण) इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है | ऑनलाइन आवेदन

आज देश में बेटियों तथा महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हर वो कार्य किये जा रहे है ताकि वह भी खुद के पैरो पर खड़े होकर लड़को से कंधो से कन्धा मिलाकर चल सके। बेटियों तथा महिलाओं के विकास के लिए राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना को शुरू किया है। यह 18 दिसंबर 2019 को इसका आरम्भ किया गया। इस योजना के अंतर्गत सरकार निशुल्क RS-CIT/ RS-CFA कोर्स करवाएगी। RS-CIT का कोर्स करने के लिए आवेदक का 10वी पास होना बहुत जरुरी है और RS-CFA के लिए 12वी उत्तीण होना अनिवार्य है। जिनकी उम्र 16 से 40 साल की बालिका व महिलाएं ही इस योजना का आवेदन कर पाएंगी, राज्य की कुल 75000 लड़कियों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके अंतर्गत RS-CIT की अवधि 132 घंटे यानि 3 महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी और RS-CFA की अवधि 100 घंटे यानि 2 घंटे प्रतिदिन हप्ते के 5 दिन की ट्रेनिंग लाभार्थियों को दी जाएगी। आवेदक किसी एक कोर्स का ही आवेदन कर सकते है यदि आप भी इसका आवेदन करना चाहते है तो आप सरकार द्वारा दी गयी आधिकारिक वेबसाइट https://myrkcl.com पर जाएं।

इंदिरा-गांधी-प्रियदर्शनी-प्रशिक्षण-व-कौशल-संवर्धन-योजना

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना

राजस्थान सरकार ने यह योजना इसलिए आरम्भ की है ताकि जिन औरते घरेलू हिंसा से पीड़ित है या जो विधवा है उन्हें सरकार पहली प्रायोरिटी(प्राथमिकता) देगी। सरकार ने महिलाओ को और अधिक मजबूत बनाने के लिए योजना के लिए 1000 रुपये करोड़ का बांटे गए है। इस योजना के अंतर्गत नए रोजगार के अवसर प्रदान करेगी ताकि इन्हे भी रोजगार प्राप्त हो सके और वह अपना परिवार का भरण-पोषण भी कर सके। आप योजना का आवेदन घर बैठे या कही से भी ऑनलाइन माध्यम द्वारा कर सकते है इसके लिए आपको कही भी इधर-उधर नहीं भटकना होगा। हम आपको योजना से सम्बंधित और अधिक जानकारी जैसे: योजना का उद्देश्य, योजना से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएं, पात्रता क्या होगी, महवपूर्ण दस्तावेज, योजना का आवेदन कैसे करें आदि के बारे में बताने जा रहे है आप आर्टिक्ल को अंत तक अवश्य पढ़े।

राज्य राजस्थान
योजना नामइंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना
के द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी
लाभ लेने वाले गरीब महिलाएं एवं लड़कियां
ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 31.01.2021
योजना की आरंभ तिथि 18 दिसंबर 2019
योजना का उद्देश्य लड़कियों तथा महिलाओं को कंप्यूटर पर्शिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलइन मोड
श्रेणी राज्य सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइट https://myrkcl.com

योजना का उद्देश्य

यह तो आप जानते है की आज के समय में लड़कियों और महिलाओ को स्वयं से आत्म निर्भर होना बहुत जरुरी है ताकि उसे किसी के आगे झुकना न पड़े क्यूंकि देश में कई ऐसे जगह है जहाँ औरतो को बोझ समझा जाता है और उन्हें पढ़ाया लिखाया भी नहीं जाता उनकी पढाई आधी में ही छोड़ दी जाती है और उनकी शादी करवा दी जाती है जिससे उन्हें पूरी जिंदगी घर के अंदर ही बितानी पढ़ जाती है और कई ऐसे परिवार है जो आर्थिक तंगी की वजह से अपनी बेटियों को नहीं पड़ा पाते लेकिन अब इस योजना के माध्यम से लड़किया व महिलाएं मुफ्त में पर्शिक्षण ले सकेंगी, जिसमे महिलाओ और बालिकाओं को कंप्यूटर व एकाउंटिंग की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए उन्हें कोई भी फीस देने की जरुरत नहीं पड़ेगी और स्वयं के पैरो पर खड़ी हो सकेंगी।

rajasthan-indira-gandhi-yojna

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना लाभ एवं विशेषताएं

योजना से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएं इस प्रकार से है:

  • इससे राज्य की महिलाएं व बेटियां आत्मनिर्भर बन पाएंगी।
  • योजना के अंतर्गत 18% सीट SC व 14% सीट ST वर्ग से सम्बन्ध रखने वाली महिलाओ व लड़कियों के लिए रिज़र्व की जाती है।
  • RS-CIT कोर्स के माध्यम से लाभार्थी कंप्यूटर का ज्ञान प्राप्त कर सकेंगी इस कोर्स की अवधि 3 महीने तक निर्धारित की गयी है।
  • RS-CFA कोर्स के माध्यम से व्यक्ति कंप्यूटर के साथ साथ एकाउंटिंग का ज्ञान भी रख पाएंगे जिससे महिलाओ को कॉमर्स(वाणिज्य) फील्ड में रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे।
  • महिलाओ एवं लड़कियों के लिए फ्री ट्रेनिंग का सारा खर्चा राज्य सरकार द्वारा किया जायेगा इसमें कुल 20 करोड़ का खर्चा होगा।
  • ऑनलाइन माध्यम से एप्लीकेशन फॉर्म भरने से आवेदक के समय और पैसे दोनों बच पाएंगे।
  • इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के अंतर्गत परिक्षण पूरा होने के पश्चात लाभार्थियों को सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जायेगा।
  • जिन परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होती जिसके चलते वह अपनी बेटियों को और अधिक शिक्षण नहीं दे पाते उन्हें अब निशुल्क कंप्यूटर कोर्स सरकार द्वारा करवाया जायेगा।
  • आवेदक योजना का आवेदन ऑनलाइन माध्यम से अपने मोबाइल व कंप्यूटर से कर सकते है।
  • जो महिला घरेलु अत्याचार से पीड़ित हुई हो, तलाकशुदा हो या विधवा हो उन्हें सरकार पहली प्राथमिकता प्रदान करवाएगी।

योजना हेतु पात्रता

योजना की पात्रता जानने के लिए पॉइंट्स को पढ़े।

  1. आवेदन करने के लिए आवेदक महिला व लड़की की आयु 16 से 40 साल तक की होनी चाहिए।
  2. इस योजना का आवेदन पुरुषो के लिए नहीं है केवल महिलाये व लड़की इसका आवेदन कर सकेंगी।
  3. राजस्थान राज्य के मूल निवासी इस योजना के पात्र माने जायेंगे।
  4. जिन आवेदक महिलाओं ने कोर्स के योगयता अनुशार 10वी व 12वी उत्तीण की होगी वह इसका पात्र होगा।
  5. हिंसा पीड़ित, तलाकशुदा, विधवा महिला भी इस योजना हेतु पात्र समझी जाएँगी।

योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले ट्रेनिंग कोर्स

योजना के अंतर्गत 2 तरीके के कंप्यूटर कोर्स महिलाओं व लड़कियों को कराये जायेंगे।

RS-CIT(राजस्थान स्टेट सर्टिफिकेट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी): RS-CIT एक बेसिक कंप्यूटर कोर्स है इसमें आपको MS-ऑफिस की मदद से ऑफिस ऑटोमेशन सिस्टम के बारे में ट्रेनिंग दी जाएगी। इस कोर्स को करने के लिए आपको 10 वी पास होना बहुत जरुरी है। कोर्स का टाइम 3 महीने का है। 3 महीने तक लाभार्थियों को पर्शिक्षण दिया जायेगा।
RS-CFA(राजस्थान सर्टिफिकेट इन फाइनेंसियल एकाउंटिंग): इसके अंतर्गत कुल 5000 लड़कियों को फाइनेंसियल एकाउंटिंग के बारे में जानकरी दी जाएगी और कंप्यूटर के साथ साथ पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में भी एकाउंटिंग का ज्ञान दिया जायेगा, इसके अंतर्गत महिलाओ और बालिकाओ को टैली, VAT, सर्विस टैक्स, वॉचर्स आदि के बारे में ट्रेनिंग दी जाएगी, ताकि भविष्य में उन्हें वाणिज्य क्षेत्र में नौकरी मिल सके। इस कोर्स को करने के लिए आपको 12वी पास होना बहुत जरुरी है। इसकी अवधि 5 दिन की है।

आवश्यक दस्तावेज

अगर आप भी इस योजना का आवेदन करना चाहते है और निशुल्क ट्रेनिंग प्राप्त करना चाहते है तो आपको इसके लिए आवेदन फॉर्म में मांगे गए दस्तावेजों के बारे में जानना होगा जिससे आप आसानी से इसका आवेदन कर सकेंगे। दस्तावेजों की सूची इस प्रकार से है:

10वी का पासिंग सर्टिफिकेट 12वी का पासिंग सर्टिफिकेट पति का मृत्यु प्रमाण पत्र(यदि कोई विधवा हो)
तलाक नामा का प्रमाण पत्र(यदि तलाकशुदा हो)परित्यक्ता(त्यागा हुआ) होने का शपथ पत्रजातिप्रमाण पत्र
हिंसा पीड़ित महिला को पुलिस रिपोर्ट प्रमाण पत्र आधार कार्ड पैन कार्ड
बैंक अकाउंट डिटेल्स मोबाइल नंबर निवास प्रमाण पत्र

इंदिरा गाँधी प्रियदर्शिनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना ऑनलाइन आवेदन करें

योजना का ऑनलाइन आवेदन करने के लिए दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • इंदिरा गाँधी प्रियदर्शिनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना का आवेदन करने के लिए राजस्थान राज्य की महिला एवं बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • यहाँ आपके सामने इस तरह का होम पेज खुल जायेगा।
    rajasthan-indira-gandhi-priyadarshini-प्रशिक्षण-व-कौशल-संवर्धन-योजना-ऑनलाइन-आवेदन
  • अब आप होम पेज पर दिए गए फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे: अपना मोबाइल नम्बर, कैप्चा कोड आदि को भर दें। rajasthan-indira-gandhi-scheme-online
  • इसके बाद आप send otp के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • जैसे आप क्लिक करेंगे उसके बाद आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP प्राप्त करेंगे।
  • अब आप OTP को बॉक्स में भर दें।
  • आपको अपना डिस्ट्रिक्ट, तहसील सेलेक्ट करने होंगे, इसके बाद आप प्रियोरिटी के अनुसार अपने IT ज्ञान का सिलेक्शन करें।
  • अब आप दूसरे में भी प्राथमिकता के आधार पर IT का सिलेक्शन करें।
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे: अपना नाम, माता का नाम, पिता का नाम, मोबाइल नंबर, जन्मतिथि, पता आदि भरनी है।
  • यहाँ आपको अब आप मेट्रियल स्टेटस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • इसके साथ साथ आपको अगर आप तलाकशुदा, विधवा, परित्यक्ता, या हिंसा पीड़ित है तो इसके प्रमाण पत्र और अन्य दस्तावेजों के साथ लगाने होंगे।
  • सभी जानकारी भरने के पश्चात फॉर्म को दोबारा पढ़ ले।
  • अब आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद आपका आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

महत्वपूर्ण लिंक्स

RS-CIT योजना डिटेल्स देखें यहाँ क्लिक करें
RS-CFA योजना डिटेल्स देखेंयहाँ क्लिक करें
आवेदन फॉर्म डाउनलोड करें यहाँ क्लिक करें
आवेदन फॉर्म भरने हेतू निर्देशानुसार यहाँ क्लिक करें

IGP Training Skill Scheme से जुड़े प्रश्न/उत्तर

इंदिरा गाँधी प्रियदर्शिनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है?

इंदिरा गाँधी प्रियदर्शिनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के अंदर राज्य की महिलाओ एवं लड़कियों को निशुल्क कंप्यूटर कोर्स करवाने की ट्रेनिंग दी जाएगी जिससे उन्हें भविष्य में रोजगार प्राप्त हो सके और वह स्वयं से कुछ बन सके।

योजना की शुरुवात कब हुई और किसके द्वारा की गयी?

18 दिसंबर 2019 को राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने इंदिरा गाँधी प्रियदर्शिनी पर्शिक्षण व कौशल संवधर्न योजना को शुरू किया है।

RS-CFA की फुल फॉर्म क्या है और यह किस तरह का कोर्स है

RS-CFA की फुल फॉर्म राजस्थान सर्टिफिकेट इन फाइनेंसियल एकाउंटिंग है। इस कोर्स के माध्यम से व्यक्ति कंप्यूटर के साथ साथ पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में भी एकाउंटिंग का ज्ञान रख सकते है इसके अंतर्गत महिलाओ और बालिकाओ को टैली, VAT, सर्विस टैक्स, वॉचर्स आदि के बारे में ट्रेनिंग दी जाएगी, ताकि भविष्य में उन्हें वाणिज्य क्षेत्र में नौकरी मिल सके। इस कोर्स को करने के लिए आपको 12वी पास होना बहुत जरुरी है।

RS-CIT की फुल फॉर्म क्या है और यह किस तरह का कोर्स है?

RS-CIT की फुल फॉर्म राजस्थान स्टेट सर्टिफिकेट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी है। RS-CIT एक बेसिक कंप्यूटर कोर्स है इसमें आपको MS-ऑफिस की मदद से ऑफिस ऑटोमेशन सिस्टम के बारे में ट्रेनिंग दी जाएगी। इस कोर्स को करने के लिए आपको 10 वी पास होना बहुत जरुरी है।

योजना की शुरुवात किसके द्वारा की गयी है?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना की शुरुवात राजस्थान मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी द्वारा की गयी है।

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के अंतर्गत किसे पहली प्राथमिकता दी जाएगी?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के अंतर्गत वह बालिका व महिलाएं जो आर्थिक स्थिति से कमजोर होंगे, जो विधवा महिला है, जिनके साथ किसी तरह का दुष्कर्म या घरेलु अत्याचार किया गया है ऐसी महिलाओ को राज्य सरकार ट्रेनिंग के लिए पहले प्राथमिकता देगी।

योजना का उद्देश्य क्या है?

योजना का उद्देश्य यह है कि इसके माध्यम से लड़किया व महिलाएं मुफ्त में पर्शिक्षण ले सकेंगी, जिसमे महिलाओ और बालिकाओं को कंप्यूटर व एकाउंटिंग की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए उन्हें कोई भी फीस देने की जरुरत नहीं पड़ेगी और स्वयं के पैरो पर खड़ी हो सकेंगी।

Indira gandhi priyadarshini traning and skill enhancement scheme के तहत कितनी बालिकाओ को ट्रेनिंग दी जाएगी?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के तहत 75000 लड़कियों को कंप्यूटर कोर्स व एकाउंटिंग कोर्स की ट्रेनिंग दी जाएगी।

योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज क्या होंगे?

हमें योजना हेतू आवशयक दस्तावेजों की सूची ऊपर अपने आर्टिकल में विस्तारपूर्वक बता दी है, महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट्स जानने के लिए आप आर्टिकल को पढ़े

क्या इस योजना का आवेदन किसी दूसरे राज्य के नागरिक कर सकते है?

जी नहीं, इस योजना का आवेदन किसी दूसरे राज्य के नागरिक नहीं कर सकते, केवल राजस्थान राज्य की महिलाएं एवं लड़कियाँ इसका एप्लीकेशन फॉर्म भर सकती है और इसके अंतर्गत मिलने वाली ट्रेनिंग का लाभ प्राप्त कर सकती है।

क्या में योजना के अंतर्गत दोनों कोर्स का आवेदन एक साथ कर सकता हूँ?

नहीं, आप योजना के अंतर्गत दोनों कोर्स का आवेदन एक साथ नहीं कर सकते आवेदक केवल इन दोनों कोर्स में से एक कोर्स के लिए ही आवेदन कर सकता है।

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना में कितने परसेंट सीट SC/ST वर्ग के लोगो के लिए आरक्षित की गयी है?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना में 18% सीट SC व 14% सीट ST वर्ग से सम्बन्ध रखने वाली महिलाओ व लड़कियों के लिए रिज़र्व की जाती है।

हमने आपको अपने आर्टिकल में इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना से सबंधित सभी जानकारियों को हिंदी में विस्तारपूर्वक बता दिया है, यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो हमे मैसेज करके बता सकते है और इसके अलावा इससे सम्बंधित कोई भी सवाल के जवाब आपको जानने है तो हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है। हम आपके सवालों का जवाब देने की जरूर कोशिश करेंगे।

Leave a Comment