बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण जमीन रजिस्ट्री के नियम, फीस व ऑनलाइन चेक ऐसे करें

देश के विकास हेतू सरकार सभी वह कार्य कर रही है जिसके माध्यम से देश को आर्थिक मजबूत किया जाएं। इसलिए सभी राज्य की सरकार देश के साथ साथ नागरिको को भी हर वो सुविधा दे रही है जिसके माध्यम से उनका काम और आसानी से पूरा हो जाएं उन्हें अपने कामों के लिए इधर उधर न भटकना पढ़े। नागरिको की सुविधा के लिए बिहार सरकार ने बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण पोर्टल को शुरू किया है जिसके माध्यम से राज्य में रहने वाले लोग आसानी से पोर्टल के जरिये अपनी जमीन से जुडी सभी जानकारियों को एक ही जगह देख पाएंगे। यह एक कंप्यूटराइज्ड प्रोजेक्ट है। इसके माध्यम से लोग अपनी भूमि का ऑनलाइन पंजीकरण करवा सकेंगे। इसका नाम बिहार e-रजिस्ट्रेशन ऑफ़ प्रॉपर्टी और e-सेवा तय किया है।अगर आप भी अपनी जमीन का रजिस्ट्रेशन करवाने चाहते है तो आपको ई-सर्विस पोर्टल biharregd.gov.in पर जाना पड़ेगा।

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण

बिहार सम्पति पोर्टल द्वारा राज्य के लोग अब आसानी से अपनी जमीन से जुडी जानकारी अपने घर बैठे अपने मोबाइल व कंप्यूटर द्वारा देख सकेंगे और अपनी जमीन का रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे। ऑनलाइन सुविधा के चलते अब कोई भी नागरिक भूमि हेतू धोखाधड़ी नहीं कर सकेगा क्यूंकि बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण पोर्टल के जरिये भूमि धारक की सभी इनफार्मेशन रिकॉर्ड रखी जाएगी जो की ऑनलाइन सुरक्षित तरीके से रखी जाएगी और इससे आसानी से यह भी पता चल जायेगा की जमीन किसके नाम है।
जमीन का असली मालिक कौन है और इसके साथ साथ समय और पैसे दोनों की बचत हो पायेगी क्यूंकि जमीन की जानकारी के लिए पहले लोगो को कार्यालय के चककर काटने पढ़ते थे और कई दिनों तक भीड़ की वजह से उन्हें इंतजार करना पड़ता था और बार बार कार्यालय जाना पड़ता था जिससे उन्हें कई परेशानिया और कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था। इस पोर्टल पर राज्य के लोग भूमि से जुडी अन्य सुविधाओं का लाभ भी ले सकेंगे।

इससे सम्बंधित जानकारी जैसे: बिहार सम्पति रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान कैसे करें, पोर्टल से मिलने वाले लाभ, BIHAR सम्पति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, रजिस्ट्री ऑफिस में मांगे जाने वाले डॉक्युमनेट्स क्या होंगे, भूमि की जानकारी कैसे देखें आदि को जानने के लिए दिए गए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

Key points of Bihar Property Registration Portal

राज्य बिहार
लेख का नाम सम्पति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री
लाभ लेने वाले राज्य के लोग
श्रेणी राज्य सरकारी योजना
उद्देश्य नागरिको को ऑनलाइन सुविधाएं प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन एवं ऑफलाइन मोड
आधिकारिक वेबसाइट biharregd.gov.in

बिहार जमीन लगान रसीद ऑनलाइन कैसे निकालें

बिहार ई सेवा पोर्टल का उद्देश्य

बिहार ई-सेवा पोर्टल का उद्देश्य यही है कि पहले नागरिको को अपनी जमीन से जुडी समस्या का समाधान करने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने पढ़ते थे किन्तु अब उन्हें कही ही जाने की आवश्यकता नहीं होगी। ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा से नागरिको के समय और पैसे दोनों बच पाएंगे। इस पोर्टल के जरिये लोग आसानी से घर बैठे अपने जमीन की रजिस्ट्री का पंजीकरण करवा पाएंगे और जमीन से जुडी सभी चीजों की पूरी डिटेल्स देख पाएंगे। यह सुविधा राज्य के लोगो के लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित होगी।

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री से मिलने वाले लाभ

पोर्टल से मिलने वाले लाभ इस प्रकार से है:

  • बिहार में रहने वाले स्थायी निवासी लोग ही पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे।
  • पोर्टल के जरिये धोखाधड़ी कम हो जाएगी।
  • जिन आवेदकों को जमीन खरीदनी होगी वही इसका आवेदन कर सकते है।
  • आवेदक अपनी भूमि से जुडी सभी जानकारी को ऑनलाइन माध्यम से अपने घर बैठे मोबाइल व कंप्यूटर के द्वारा देख सकेंगे।
  • ई-रजिस्ट्रेशन ऑफ़ प्रॉपर्टी पोर्टल के जरिये आवेदक अपनी जमीन का रजिस्ट्रेशन आसानी से करा सकेंगे।
  • अब नागरिको को जमीन से जुडी जानकरी जानने के लिए कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।
  • ऑनलाइन माध्यम से नागरिक को जानकारी जानने के लिए रिश्वत नहीं देनी पड़ेगी और भ्रस्टाचार ख़त्म होगा।
  • पोर्टल के जरिये आवेदक के भूमि की जानकारी, भूमि धारक की जानकारी सभी ऑनलाइन माध्यम से रिकॉर्ड रहेगी ताकि भविष्य में कोई उनकी जमीन पर मालिकाना हक़ न जताये।

बिहार सम्पति रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान ऐसे करें?

आप दो तरीको से फीस का भुगतान कर सकते है इसके लिए आपको दिए गए स्टेप्स को पढ़े।

ऑफलाइन मोड:

आप ऑफलाइन मोड से भी बिहार सम्पति रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान कर सकते है इसके लिए आपको अपना रजिस्ट्रेशन फॉर्म का प्रिंटआउट निकाल लेना है जिसके बाद आपको फॉर्म को बैंक में जाकर बैंक अधिकारी के पास दे देना है जिसके बाद आपके बैंक खाते से फीस का भुगतान कर लिया जायेगा।

ऑनलाइन मोड:

ऑनलाइन मोड से फीस का भुगतान करने के लिए आपको सबसे पहले पोर्टल पर जाकर फीस जमा करनी है आप अपने क्रडिट कार्ड के माध्यम भुगतान कर सकते है। जिसके बाद आपके खाते से फीस का भुगतान हो जायेगा। ई-सेवा पोर्टल के माध्यम से ईमेल या मैसेज द्वारा रजिस्ट्री को कार्यालय में जमा कर देना है।

आवश्यक दस्तावेज (रजिस्ट्री ऑफिस में मांगे जाने वाले)

  • जमीन खरीदने वाला और बेचने वाला नागरिक का प्रमाण पत्र और पैन कार्ड
  • फॉर्म-4
  • फॉर्म-13
  • ई-फिलिंग रसीद
  • फॉर्म 60/61

बिहार सम्पति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें?

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ऑनलाइन प्रक्रिया, जमीन की रजिस्ट्री करने के लिए दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  1. बिहार सम्पति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आपको सबसे पहले E-सर्विस पोर्टल पर जाना है।
  2. यहाँ आपको रजिस्ट्रेशन डिपार्टमेंट के अंदर लैंड/ प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना है। bihar bhumi property panjikaran karein
  3. क्लिक करने के बाद अगले पेज पर आपको अपनी लॉगिन डिटेल्स भरनी है।
  4. लॉगिन करने के लिए आपको ईमेल ID/मोबाइल नंबर, पासवर्ड भरना है बिहार सम्पति प्रॉपर्टी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
  5. अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर आपको OTP(वन टाइम पासवर्ड) भरना है।
  6. और लॉगिन पर क्लिक कर देना है जिसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल कर आजायेगा।
  7. इसके बाद आप फॉर्म में भूमि से सम्बंधित पूछी गयी सभी जानकारी को भर दें।
  8. और इसके साथ मांगे गए सभी डॉक्युमनेट्स भी अपलोड कर दें और इसके साथ भुगतान शुल्क भी जमा करवा दें।
  9. अब आपको सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।

आप जन सेवा केंद्र जाकर भी आसानी से अपनी जमीन की रजिस्ट्री हेतु आवेदन कर सकते है। इसके लिए आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म में मांगे गए दस्तावेजों को अपने साथ ले जाना होगा और इसके साथ साथ भुगतान शुल्क भी जमा करना होगा।

बिहार भूमि, भूलेख नक्शा, जमाबंदी, खसरा संख्या

बिहार में भूमि की जानकारी ऐसे देखें

यदि आप भी अपनी भूमि का विवरण देखना चाहते है तो हमारे द्वारा दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आप बिहार ई-सर्विस पोर्टल पर जाएं।
  • अब आप यहाँ भूमि जानकारी के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर दें। चेक बिहार भूमि इनफार्मेशन
  • क्लिक करने के पश्चात आपके सामने नया पेज खुल कर आजायेगा।
  • यहाँ आपको पूछी गयी जानकारी जैसे पंजीकरण कार्यालय, भूमि लोकेशन, सर्किल, मौजा, एरिया, खाता नंबर, प्लाट नंबर, पिता-पति का नाम, लैंड टाइप आदि भरनी है। bhumi ki jankari dekhein bihar e sewa portal
  • जिसके बाद आपको सर्च पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करते ही आप अपनी भूमि की जानकारी देख पाएंगे।

बिहार में e-receipt डाउनलोड ऐसे करें ?

  • ई-रिसीप्ट डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आप बिहार ई-सर्विस पोर्टल पर जाएं।
  • अब आप यहाँ ई -रिसीप्ट के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद आपके सामने नए पेज पर डाउनलोड e-चालान पर क्लिक कर दें। बिहार संपै पोर्टल ई-रिसीप्ट डाउनलोड
  • जिसके बाद आपका ई-रिसीप्ट डाउनलोड हो जाएगी।

मॉडल डीड डाउनलोड ऐसे करें

  1. मॉडल डीड डाउनलोड करने एक लिए आपको सबसे पहले बिहार ई-सर्विस पोर्टल पर जाना होगा ।
  2. आप यहाँ मॉडल डीड के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  3. जिसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  4. यहाँ आपको मॉडल डीड से जुडी जानकारी के ऑप्शन दिखाई देंगी।
  5. जिसके बाद आप किसी भी एक ऑप्शन को सेलेक्ट करके क्लिक कर सकते है।

बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण e-सेवा पोर्टल से जुड़े प्रश्न/उत्तर

क्या बिहार सम्पति पोर्टल के जरिये राज्य के नागरिक अपनी जमीन से जुड़े सभी ब्योरो को देख सकेंगे?

जी हां, बिहार सम्पति पोर्टल के जरिये राज्य के नागरिक अपनी जमीन से जुड़े सभी ब्योरो को देख सकेंगे। सरकार ने इस पोर्टल के माध्यम से नागरिको को भूमि से जुडी सभी चीजों को आसानी से देखने की सुविधाएं प्रदान कर दी है।

बिहार e-सेवा पोर्टल क्या है?

यह बिहार सरकार द्वारा बनाया गया एक कंप्यूटर प्रोजेक्ट है इसके अंतर्गत राज्य में रहने वाले लोगो को जमीन से जुडी सभी जानकारियों का रिकॉर्ड रखा जायेगा जिससे लोग कभी भी ऑनलाइन माध्यम से अपने जमीन से जुडी जानकारी देखे पाएंगे और इससे धोखाधड़ी भी नहीं होगी क्यूंकि इसमें जमीन तथा जमीन के मालिक की सभी डिटेल्स सेव की जाएगी। इसके माध्यम से नागरिक अपनी जमीन की ऑनलाइन रजिस्ट्री भी करवा सकेंगे जिसके लिए उन्हें पहले पोर्टल पर पंजीकरणा करवाना होगा।

पोर्टल बनाने का क्या उद्देश्य है?

पोर्टल का उद्देश्य यही है कि पहले नागरिको को अपनी जमीन से जुडी समस्या का समाधान करने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने पढ़ते थे किन्तु अब उन्हें कही ही जाने की आवश्यकता नहीं होगी। ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा से नागरिको के समय और पैसे दोनों बच पाएंगे। इस पोर्टल के जरिये लोग आसानी से घर बैठे अपने जमीन की रजिस्ट्री का पंजीकरण करवा पाएंगे और जमीन से जुडी सभी चीजों की पूरी डिटेल्स देख पाएंगे

भूमि की रजिस्ट्री करने की आवेदन प्रक्रिया क्या होगी?

भूमि की रजिस्ट्री करने के लिए आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यम द्वारा कर सकते है। यदि आप ऑनलाइन माध्यम द्वारा आवेदन करते है तो इसके लिए आपको बिहार सरकार की ई-सर्विस पोर्टल जाकर आवेदन फॉर्म भरना होगा और यदि आप ऑफलाइन माध्यम से फॉर्म भरना चाहते है तो इसके लिए आपको कॉमन सर्विस सेंटर जाकर या कार्यालय में जाकर पंजीकरण फॉर्म को भरना होगा।

रजिस्ट्री ऑफिस में मांगे जाने वाले आवश्यक दस्तावेज कौन से है?

रजिस्ट्री ऑफिस में मांगे जाने वाले आवश्यक दस्तावेज प्रकार से है:
जमीन खरीदने वाला और बेचने वाला नागरिक का प्रमाण पत्र और पैन कार्ड, फॉर्म-4, फॉर्म-13, ई-फिलिंग रसीद, फॉर्म 60/61

नागरिक को रजिस्ट्री ऑफिस में कब जाना होगा?

नागरिक को रजिस्ट्री ऑफिस में तब जाना होगा जब उसे SMS द्वारा मैसेज या ईमेल प्राप्त होगा।

पोर्टल पर बिहार सम्पति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ऑनलाइन पंजीकरण कैसे कर सकते है।

बिहार सम्पति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ऑनलाइन पंजीकरण करने की प्रक्रिया हमने आपको ऊपर अपने अतिक्ले में बता दी है आप आर्टिकल को अवश्य पढ़े।

हमारे द्वारा लिखे गए लेख बिहार संपत्ति प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ई-पंजीकरण में हमने आपको से सम्बंधित सभी जानकारियों को हिंदी में विस्तारपूर्वक बता दिया है, यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है या इससे सम्बंधित कोई भी सवाल या जानकारी आपको जननी है तो आप हमे मैसेज कर सकते है।

Leave a Comment