नाबार्ड योजना 2024 रजिस्ट्रेशन: डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

नाबार्ड योजना – केंद्र सरकार के अंतर्गत देश के नागरिकों को रोजगार दिलाने के उद्देश्य से नाबार्ड स्कीम को शुरू किया गया है। केंद्र सरकार की इस स्कीम के अंतर्गत डेयरी फार्मिंग को सुव्यवस्थित करने के लिए देश के ग्रामीण क्षेत्रों में नागरिकों को कम ब्याज दरों में ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा। पशुपालन विभाग से सभी जिलों में नाबार्ड योजना के अंतर्गत आधुनिक डेयरी स्थापित की जाएगी। बेरोजगार युवकों को यह स्कीम स्वयं का स्वरोजगार शुरू करने के लिए एक अवसर प्रदान करेगी। NABARD Yojana में केंद्र सरकार के अंतर्गत मत्स्य पालन विभाग को भी शामिल किया गया है।

नाबार्ड योजना रजिस्ट्रेशन: डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म
नाबार्ड योजना रजिस्ट्रेशन

आइये जानते है नाबार्ड योजना रजिस्ट्रेशन: डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म से संबंधित जुड़ी जानकारी को विस्तार रूप से किस तरह से बेरोजगार नागरिक इसका लाभ उठा सकते है। आवेदन से संबंधित प्रक्रिया को हमारे इस लेख में साझा किया गया है।

नाबार्ड योजना 2024 रजिस्ट्रेशन

ग्रामीण क्षेत्रों में डेयरी फार्म को विकसित करने के लिए नाबार्ड योजना को शुरू किया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में डेयरी फार्मों की अभी भी ऐसी स्थिति है जिनका विकास नहीं हो पाया है जिस कारण नागरिकों को बेहतर आमदनी भी हासिल नहीं होती है। वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा नाबार्ड योजना की घोषणा की गयी है। कोविड 19 के चलते ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकतर प्रवासी लौटकर आये है। ऐसे में वापस लौट रहे प्रवासियों के पास रोजगार के साधन उपलब्ध करवाने हेतु यह योजना शुरू की गयी है।

कोविड-19 के चलते अपना रोजगार खोने वाले सभी प्रवासी नागरिक घर बैठे अपने लिए स्वरोजगार शुरू कर सकते है। इसके लिए सरकार के द्वारा नाबार्ड योजना के अंतर्गत ऋण प्राप्त करने के लिए सब्सिडी देने में सहायता प्रदान की जाएगी। अपना स्वरोजगार शुरू करने से बेरोजगार नागरिक ग्रामीण क्षेत्र के अन्य नागरिकों को भी रोजगार देने में सक्षम होंगे। आरक्षित श्रेणी से संबंधी नागरिकों को डेयरी फार्म शुरू करने के लिए सब्सिडी में अन्य उम्मीदवारों की भांति आरक्षण दिया जायेगा।

NABARD Yojana Overview

योजना का नामनाबार्ड योजना
योजना शुरू की गयी निर्मला सीता रमण जी के द्वारा
लाभार्थीदेश के बेरोजगार नागरिक
योजना का उद्देश्यग्रामीण समृद्धि को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्र का विकास बैंक
आवेदन मोड़ऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटwww.nabard.org

नाबार्ड डेयरी योजना 2024 बैंक सब्सिडी

  • दुग्ध उत्पाद (मिल्‍क प्रोडक्‍ट) बनाने की यूनिट शुरू करने के लिए भी डेयरी उद्यमिता विकास योजना के अंतर्गत सब्सिडी दी जाती है।
  • दुग्ध उत्पादन की प्रोसेसिंग उपकरण को आप नाबार्ड डेयरी योजना के अंतर्गत खरीद सकते है।
  • इस योजना के माध्यम से यदि आप मिल्क प्रोडक्ट हेतु 13.20 लाख रूपये तक का उपकरण खरीदते है तो उसमें आपको 25 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी। यानी की 3.30 लाख रुपये तक सब्सिडी मिल सकती है।
  • अनुसूचित जाति ,अनुसूचित जनजाति के अंतर्गत आने वाले कैंडिडेट को योजना के अंतर्गत 4.40 लाख रूपये तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना में ऋण राशि बैंक के द्वारा अनुमोदित की जाएगी और 25 प्रतिशत लाभार्थी द्वारा दी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत व्यवसाय शुरू करने हेतु रूचि रखने वाले नागरिक सीधे जाकर शामिल किये बैंको से संपर्क कर सकते है।
  • 5 गाय के साथ डेयरी फार्म शुरू करने के लिए योजना के अंतर्गत लाभार्थी नागरिकों को लागत का प्रमाण देना होगा। इसके लिए सरकार के द्वारा 50 प्रतिशत तक सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • किसान नागरिकों को योजना के अंतर्गत 50 प्रतिशत अलग-अलग किस्तों में बैंक को भुगतान करना होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत छोटे बड़े डेयरी फार्म खोलने के लिए सरकार के अंतर्गत अलग-अलग दूध देने वाली गाये, हाइब्रिड गाये सबके लिए अलग रूप में सब्सिडी दी जाएगी।

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना में शामिल लाभार्थी

NABARD Yojana के अंतर्गत वह सभी नागरिक आवेदन कर सकते है जो नीचे दिए गए निम्न प्रकार का कार्य करते है।

  • कंपनियां, संगठित समूह
  • गैर सरकारी संगठन,उद्यमी
  • असंगठित क्षेत्र
  • किसान

इन आवेदक नागरिकों को निम्न प्रकार के बैंकों से ऋण देने में सहायता प्रदान की जाएगी।

  • राज्य सहकारी कृषि
  • ग्रामीण विकास बैंक
  • राज्य सहकारी बैंक
  • व्यवसायिक बैंक
  • क्षेत्रीय बैंक और वे संस्थान जो नाबार्ड संस्था से जुड़े हुए है।
नाबार्ड योजना 2022 रजिस्ट्रेशन: डेयरी फार्मिंग योजना

dairy farming scheme नाबार्ड डेयरी के लिए योग्यता

  • नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना खोलने के लिए एक परिवार में से केवल एक ही व्यक्ति इस योजना हेतु आवेदन करने के योग्य माना जाएगा।
  • अलग-अलग रूप में सरकार के द्वारा डेयरी फार्म खोलने के लिए सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यदि एक परिवार के दो लोग इस योजना के अंतर्गत डेयरी फार्म स्थापित करते है तो उन दोनों फार्म में लगभग 500 मीटर से अधिक की दूरी होनी चाहिए।
  • एक समय में केवल एक ही बार नागरिक के द्वारा आवेदन किया जा सकता है।
  • dairy farming scheme के तहत जितने भी घटक शामिल है उन सभी में निवेश के लिए सब्सिडी प्राप्त कर सकते है। लेकिन केवल एक बार में ही मौजूद घटकों का लाभ लिया जा सकता है।
  • योजना के तहत केवल वही लोग डेयरी फ़ार्म स्थापित करने के पात्र है जो कंपनियां, संगठित समूह, गैर सरकारी संगठन, उद्यमी, असंगठित क्षेत्र, किसान नागरिक है।

नाबार्ड योजना डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें

  • नाबार्ड योजना के अंतर्गत डेयरी फार्म खोलने के लिए www.nabard.org की ऑफिसियल वेबसाइट में जाएँ।
  • वेबसाइट में जाने के पश्चात होम पेज में Information Centre (सूचना केंद्र ) के विकल्प में क्लिक करें। नाबार्ड योजना 2022 डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन
  • इसके पश्चात अगले पेज में आपको आधार पर आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिंक में क्लिक करना है।
  • डाउनलोड पीडीऍफ़ के ऑप्शन में क्लिक करने के बाद आवेदन पत्र का प्रिंट लें।
  • अब आवेदन पत्र में डेयरी फार्म खोलने से संबंधी पूछी गयी सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी को दर्ज करें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म के साथ मांगे गए महत्वपूर्ण दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच कर जिले के नाबार्ड कार्यालय में अपने आवेदन पत्र को जमा कराएं।
  • इस तरह से नाबार्ड योजना डेयरी फार्मिंग एप्लीकेशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • आवेदन पत्र की जांच सफल होने के बाद डेयरी फार्मिंग खोलने के लिए सरकार के द्वारा लाभार्थी नागरिक को ऋण सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी।

हरियाणा ई-अधिगम योजना

NABARD dairy farming scheme से संबंधित प्रश्न उत्तर

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना की घोषणा किसके द्वारा की गयी है ?

वित्त मंत्री निर्मला सीता रमन जी के द्वारा नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना की घोषणा की गयी है।

नाबार्ड के अंतर्गत डेयरी फार्मिंग खोलने के लिए सरकार के द्वारा क्या सहायता प्रदान की जाएगी ?

केंद्र सरकार के अंतर्गत नाबार्ड के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में डेयरी फार्मिंग खोलने के लिए नागरिकों कम ब्याज दरों में ऋण सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी।

NABARD dairy farming scheme के अंतर्गत क्या लाभ प्राप्त होंगे ?

ग्रामीण क्षेत्रों में डेयरी फार्मिंग से ग्रामीण इलाकों में विकास होगा। इससे भारत में दुग्ध उत्पादन के स्तर में वृद्धि होगी,साथ ही यह ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए अपनी एक अहम भूमिका निभाएगी। NABARD dairy farming scheme से स्वरोजगार को बढ़ावा मिलेगा साथ ही ग्रामीण इलाकों में बढ़ रही बेरोजगारी की संख्या में कमी आएगी।

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना के अंतर्गत कौन -लोग आवेदन कर सकते है ?

कंपनिया, गैर संगठित समूह,गैर सरकारी संगठन, उद्यमी, किसान नागरिक ,असंगठित क्षेत्रों में रहने वाले नागरिक नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते है।

क्या एसटी ,एससी श्रेणी से संबंधित आवेदक को नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना के तहत अधिक सब्सिडी दी जाएगी ?

जी हाँ यदि सामान्य श्रेणी के अंतर्गत आवेदनकर्ता को डेयरी फार्म उपकरण खरीदने के लिए 25 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जाती है तो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के आवेदनकर्ता को योजना के माध्यम से 30 प्रतिशत से अधिक रूप में सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

हेल्पलाइन नंबर

दूसरी मंजिल, ‘ए’ विंग, सी-24, ‘जी’ ब्लॉक,
महाराष्ट्र – 400051. बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बांद्रा (पूर्व), मुंबई – 400 051
मुंबई

फोन 1 : 02226530098

ई मेल 1 : ccd@nabard.org

Leave a Comment