UP Dhan Kharid: धान बेचने के लिए ऐसे करें ऑनलाइन पंजीकरण

UP Dhan Kharid Registration : उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा UP Dhan Kharid Registration योजना की शुरुआत की है। अब किसानों को धान बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा। इसके लिए उन्हें इस योजना के तहत पंजीकरण करने के लिए खाद्य एवं रसद विभाग के आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा। इस पोर्टल के माध्यम से आवेदन करने के पश्चात सभी किसान अपनी धान की फसल सरकार को आसानी से बेच पाएंगे। अब अपनी धन की फसल बेचने के लिए उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी और न ही कहीं जाने की आवश्यकता पड़ेगी। इसके लिए अब उन्हें सिर्फ इस योजना के लिए पोर्टल पर पंजीकरण करवाना होगा। इस बारे में और जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को पढ़ सकते हैं। इस लेख के माध्यम से हम आपको इस लेख के बारे में सम्बंधित सभी जानकारी देंगे। इसके साथ ही आपको इस योजना के लाभ हेतु आधिकारिक पोर्टल पर पंजीकरण (UP Dhan Kharid Registration) करवाने की पूरी प्रक्रिया भी विस्तार से बताएंगे। आवेदन के वक्त सभी आवश्यक दस्तावेज़ों की ज़रूरत पड़ती है जिसकी सूची भी हम आपको इस लेख के माध्यम से उपलब्ध कराएंगे। कृपया अन्य सभी जानकारियों के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

uttar pradesh dhan kharid kisan registration
आर्टिकल का नाम UP Dhan Kharid Registration
राज्य का नाम उत्तर प्रदेश
सम्बंधित विभाग खाद्य एवं रसद विभाग , उत्तर प्रदेश
लाभार्थी प्रदेश के सभी किसान
आवेदन का मोड ऑनलाइन आवेदन
वर्तमान वर्ष 2021
आधिकारिक वेबसाइट ई-क्रय प्रणाली (up.gov.in)

Update– धान की खरीद रजिस्ट्रेशन करने के किसान का मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है यूपी सरकार के माध्यम से किसानो के लिए यह निर्देश जारी किये गए है की सभी किसान नागरिकों का धान की खरीद हेतु अपना मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक करवाना आवश्यक है।

धान खरीद पंजीकरण / UP Dhan Kharid Registration 2021

इस योजना के माध्यम से सभी किसान जो धान की बुवाई करेंगे या कर चुके हैं वो खाद्य एवं रसद विभाग के आधिकारिक पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं। ये आवश्यक है कि किसान अपना पंजीकरण करवाएं क्यूंकि तभी वो अपना धान सरकार को बेच सकेंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें जल्द ही न्यूनतम समर्थन मूल्य पर होने वाली धान की सरकारी खरीद की शुरुआत की तारीख से सम्बंधित जानकारी जल्द ही पता चल जाएगी । इस से सम्बंधित क्रय नीति को तय करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य का निर्णय करने के लिए कैबिनेट बाय सर्क्युलेशन्स से मंजूरी मिलना आवश्यक होता है । इस योजना के तहत अनेक क्रय केंद्रों की स्थापना की जाएगी। UP Dhan Kharid Registration के अंतर्गत हुई सरकारी खरीद का मूल्य किसानो के बैंक खाते में डायरेक्ट भेजा जाएगा। ये आवश्यक होगा की सभी किसानों का आधार कार्ड भी पंजीकृत किया गया हो।

UP Dhan Kharid Registration

किसान पंजीकरण से सम्बंधित कुछ आवश्यक जानकारी

यहाँ हम आपको उत्तर प्रदेश धान खरीद पंजीकरण से सम्बंधित कुछ आवश्यक जानकारी देने जा रहे हैं ताकि आवेदन पूर्व आप इन्हे पढ़ लें।

  • UP Dhan Kharid Registration में पंजीकरण के समय आपको 6 स्टेप्स में इस प्रक्रिया को पूरी करना होगा।
  • आपको सबसे पहले पंजीकरण का प्रारूप डाउनलोड करना होगा। इसके बाद उसका प्रिंट निकलकर उसमे सभी जानकारी भर सकते हैं।
  • आपको किसान पंजीकरण के समय धान की फसल के लिए इस्तेमाल होने वाली सभी भूमि का विवरण बताना होगा या सूचित करना होगा।
  • भूमि विवरण में आप को साथ में खतौनी/खाता संख्या, प्लाट/खसरा संख्या, भूमि का रकबा (हेक्टेयर में) एवं फसल (धान) का रकबा (हेक्टेयर में) के बारे में भी जानकारी देनी होगी और ये अनिवार्य है।
  • आधार संख्या भरना न भूलें।
  • पंजीकरण प्रपत्र में आपको ऑनलाइन आवेदन दर्ज़ करना होगा। और उसके बाद कृपया अपना पंजीकरण संख्या नोट कर लें।
  • अगले चरण में आप को “पंजीकरण ड्राफ्ट ” से ड्राफ्ट आवेदन पत्र का प्रिंट आउट निकाल लें।
  • अगर कभी आप को भविष्य में आपको फिर से ड्राफ्ट की आवश्यकता हो तो आप पंजीकरण संख्या और मोबाइल नंबर देकर इसे आसानी से निकाल सकते हैं।
  • अगर आप द्वारा दी गयी कोई भी जानकारी में संशोधन करने की आवश्यकता हो तो आप इसके लिए चौथे चरण में “पंजीकरण संशोधन ” कर सकते हैं। आपको पंजीकरण संख्या और अपना रजिस्टर्ड नंबर यहाँ दर्ज़ करना होगा जिसके माध्यम से आप आसानी से संशोधन कर पाएंगे।
  • इसके बाद आपको स्टेप 5 में पंजीकरण लॉक के विकल्प पर आना होगा। आपको बता दें कि सभी जानकारी ठीक करने के बाद आप ये जानकारी लॉक कर सकते हैं , जिसके बाद आप इसमें कोई सुधार नहीं कर सकते।
  • अगले और आखिरी स्टेप में आप प्रपत्र को डाउनलोड कर सकते हैं।
  • आपकी जानकारी के लिए बता दें की अगर आप आवेदन लॉक नहीं करेंगे तो आपका आवेदन स्वीकार्य नहीं होगा।

आवश्यक दस्तावेज़

इस योजना के तहत आवेदन हेतु आप को कुछ दस्तावेज़ों की आवश्यकता पड़ेगी। इसके लिए आप की सुविधा हेतु हम यहाँ उन सभी दस्तावेज़ों की सूची यहाँ उपलब्ध करा रहे हैं। कृपया आवेदन पूर्व एक बार इन्हे अवश्य जांच लें।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • जोतबही / खाता नम्बर अंकित कमप्यूटराइज़्ड खतौनी।
  • बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ (जिसमे खाता धारक का विवरण अंकित हो) की छाया प्रति
  • एक नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो
  • पहचान पत्र

धान खरीद पंजीकरण/आवेदन की प्रक्रिया

अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेब पोर्टल पर आपको पंजीकरण करना होगा। इस लेख में आगे हम आप को इस योजना के तहत पंजीकरण करने की पूरी प्रक्रिया विस्तार से बताने जा रहे हैं।

  • सबसे पहले आप खाद्य एवं रसद विभाग के आधिकारिक पोर्टल पर जाएँ। आप की सुविधा के लिए हम यहाँ डायरेक्ट लिंक उपलब्ध करा रहे हैं। कृपया यहाँ क्लिक eproc.up.gov.in करें।
  • इस लिंक पर क्लिक करने पर आपके सामने होम पेज खुल जाएगा। उत्तर प्रदेश धान पंजीकरण
  • यहाँ आप देख सकते हैं की आप को ये आवेदन पत्र कुल 6 चरणों में पूरा भरना होगा।
  • पहला चरण – आप होम पेज पर दिए गए स्टेप 1 पंजीकरण प्रारूप पर क्लिक करें। यूपी धान पंजीकरण
  • आपके सामने पंजीकरण के लिए प्रपत्र का प्रारूप खुल जाएगा। इसे डाउनलोड करके आप इसे समझ सकते हैं ।
  • 2 स्टेप में आप पंजीकरण प्रपत्र पर क्लिक करेंगे। यहाँ आपको मोबाइल नंबर और दिए गए कैप्चा कोड को भरना है। इसके बाद आगे बढ़ें के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपके सामने फॉर्म खुल जाएगा। आप इसे ध्यान पूर्वक सभी पूछी गयी जानकारी को भर सकते हैं।
  • तीसरे स्टेप में आप अपनी भरी गयी सभी जानकारी को देख सकते हैं।
  • चौथे स्टेप में आपको अगर अपने आवेदन पत्र पर किसी प्रकार की कोई त्रुटि रह गयी हो तो आप यहाँ उसमें संशोधन कर सकते हैं।
  • पांचवे स्टेप में आप को अपनी पजीकृत जानकारी को लॉक करना होगा। तभी आपका पंजीकरण मान्य होगा।
  • अब आप इसका प्रिंट आउट निकाल लें। फिर इसके बाद आप पजीकरण संख्या नोट कर लें।
  • अगले स्टेप में आप फार्मर आईडी और मोबाइल नंबर के बाद कैप्चा कोड डालकर अपना टोकन प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस तरह से आपकी प्रक्रिया पूरी होती है।

UP Dhan Kharid Registration से सम्बंधित प्रश्न – उत्तर

UP Dhan Kharid Registration क्या है ?

इस योजना के माध्यम से सभी किसान जो धान की बुवाई करेंगे या कर चुके हैं वो खाद्य एवं रसद विभाग के आधिकारिक पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं। ये आवश्यक है कि किसान अपना पंजीकरण करवाएं क्यूंकि तभी वो अपना धान सरकार को बेच सकेंगे।

आवेदन करने के लिए कौन कौन से दस्तावेज़ों की आवश्यकता पड़ेगी ?

आवेदक का आधार कार्ड ,जोतबही / खाता नम्बर अंकित कमप्यूटराइज़्ड खतौनी।
बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ (जिसमे खाता धारक का विवरण अंकित हो) की छाया प्रति ,
एक नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो ,पहचान पत्र

UP Dhan Kharid Registration किस विभाग के अंतर्गत आती है ?

ये योजना खाद्य एवं रसद विभाग , उत्तर प्रदेश के अंतर्गत आती है।

इस योजना की शुरुआत क्यों की गयी है ?

इस योजना की शुरुआत किसानों के हित के लिए की गयी है। इस योजना के माध्यम से सरकार सभी किसानों से धान को उचित न्यूनतम मूल्य पर खरीदेगी। इसका उद्देश्य किसानों को आर्थिक रूप से सबल करना है। साथ ही उनके धान के न बिकने या कम मूल्य पर बिकने से होने वाले नुक्सान की भी भरपाई हो जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करने से क्या लाभ हैं ?

इस पोर्टल के माध्यम से आवेदन करने के पश्चात सभी किसान अपनी धान की फसल सरकार को आसानी से बेच पाएंगे। अब अपनी धन की फसल बेचने के लिए उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी और न ही कहीं जाने की आवश्यकता पड़ेगी। इसके लिए अब उन्हें सिर्फ इस योजना के लिए पोर्टल पर पंजीकरण करवाना होगा।

अपना पंजीकरण इस योजना के तहत कैसे कराएं ?

इसके लिए आप हमारे लेख को पढ़ सकते हैं। हमने पूरी प्रक्रिया विस्तार से समझायी है। जिसे पढ़कर आप आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर

हमने अपने आर्टिकल में UP Dhan Kharid Registration से सम्बंधित सभी जानकारी देने के प्रयास किया है। अगर आप कुछ और भी जानकारी चाहते हैं या किसी प्रकार की समस्या है तो आप हमे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से बता सकते हैं। हम आपकी समस्या तथा प्रश्नों का उत्तर अवश्य देने का प्रयास करेंगे। इसके अतिरिक्त अगर आप चाहें तो हेल्पलाइन नंबर : 1800 000 150 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त भी आप जनपद के जिला खाद्य विपणन अधिकारी या फिर तहसील के क्षेत्रीय विपणन अधिकारी या ब्लॉक के विपणन निरीक्षक से संपर्क कर सकते हैं। आप को वहां से इच्छित जानकारी और आप की समस्या का निवारण मिल जाएगा।

Leave a Comment