स्वयं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वदेशी बिज़नेस आइडिया

स्वदेशी बिज़नेस आइडिया: अर्थव्यवस्था किसी देश के लिए रीढ़ की हड्डी का काम करती है। यदि किसी भी देश की इकॉनमी को कमजोर कर दिया जाए तो देश हर तरह से कमजोर पड़ जायेगा। आज़ादी से पूर्व राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी जी ने साल 1906 में स्वदेशी आंदोलन की शुरुआत की थी जिसमें विदेशी सामान का बहिष्कार करने और स्वदेशी अपनाने पर ज़ोर दिया गया था। आज़ादी के 75 साल बाद भी देश में विदेशी सामान का काफी अधिक मात्रा में उपयोग किया जाता है।

प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा भारत में स्वदेशी वस्तुओं के निर्माण और इसके उपयोग के लिए समय -समय पर देशवासियों से आग्रह किया गया है। भारत सरकार स्वदेशी उत्पादों की खपत को विश्व स्तर पर पहुंचाने के लिए प्रयास कर रही है। कुछ वर्षों से देश ही नहीं विदेशों में भी भारत के स्वदेशी सामानों की मांग बढ़ी है। आज के लेख में हम आपको स्वदेशी बिज़नेस आइडिया के बारे में जानकारी देंगे। आर्टिकल में आप जानेंगे Swadeshi Business Ideas in hindi के बारे में विस्तार से।

स्वदेशी बिज़नस आइडिया
Swadeshi Business Ideas in hindi

इसे भी जानें : घरेलू महिलाओं के लिए बिजनेस आइडिया

स्वदेशी व्यापार (Swadeshi Business) क्या होता है?

पहले तो आपको यह जान लेना चाहिए की स्वदेशी शब्द का क्या मतलब होता है स्वदेशी का अर्थ होता है अपना देश। और अगर हम स्वदेशी सामान की बात करें तो यह देश में ही निर्मित की गयी वस्तुओं होती है। मुख्य रूप से स्वदेशी वस्तुएं उन्हें कहा जाता है जिनका उत्पादन हमारे ही देश में होता है।

अब बात आती है की स्वदेशी व्यापार या बिज़नेस क्या होता है ? तो आपको बता दें की ऐसी सभी वस्तुएं जिनका उत्पादन या निर्माण देश में ही किया जाता है और इनका उपयोग भी देश में किया जाता है देश में ही निर्मित किये गए सामान का व्यापार या बिज़नेस स्वदेशी बिज़नेस कहलाता है। स्वदेशी व्यापार देश की अर्थव्यवस्था को मज़बूती प्रदान करेगा और भारत के आत्मनिर्भर अभियान का सपना साकार करेगा।

स्वदेशी बिज़नस आइडिया

जैसे की हम सभी जानते हैं भारत एक ग्रामीण प्रधान देश है। 60 प्रतिशत से भी अधिक आबादी ग्रामीण क्षेत्र से सम्बंधित है जिसका भारत की अर्थव्यवस्था में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से योगदान रहा है। हमारे देश में कई ऐसे कस्बे या ग्रामीण इलाके हैं जहाँ पर कम लागत पर अच्छे उत्पादों का निर्माण किया जाता है। हम सभी इसे लघु उद्योगों के नाम से भी जानते हैं। देश में स्वदेशी वस्तुओं से आप भी अच्छा खासा मुनाफ़ा कमा सकते हैं आईये जानते हैं ऐसे स्वदेशी बिज़नस आइडिया के बारे में जिससे केवल आपको ही नहीं बल्कि देश को भी काफी फायदा होगा।

Swadeshi Business Ideas in hindi

वैसे तो हर देश की आपकी ख़ास विशेषता है। प्रत्येक देश में कई सारी वस्तुओं का निर्माण किया जाता है और इनका आयात- निर्यात भी होता है। भारत में भी कई ऐसी वस्तुओं का निर्माण किया जाता है जो हर देशवासी अपने दैनिक जीवन में उपयोग में लाता है।

इन व्यवसायों को चलाने वाली कंपनियां या फर्म ‘स्वदेशी कंपनी‘ होती हैं और इन व्यवसायों को स्वदेशी बिजनेस के नाम से भी जाना जाता है। आप भी ऐसे ही कुछ स्वदेशी उत्पादों को निर्मित कर अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं। आईये जानते हैं Swadeshi Business Ideas के बारे में जिन्हें आप आसानी से कर सकते हैं –

स्वदेशी बिजनेस लिस्ट

आपको बता दें की स्वदेशी बिज़नेस के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी पर ऋण बह उपलब्ध कराया जाता है। देश में कई ऐसे स्वदेशी बिज़नेस हैं जो आप आसानी से कम लागत पर शुरू कर सकते हैं। Swadeshi Business में कई सारे लघु और कुटीर उद्योग आते हैं जो निम्नलिखित हैं –

  • मुर्गी पालन
  • जैम का व्यवसाय
  • मछली पालन
  • स्वदेशी टूथपेस्ट
  • देशी साबुन
  • डेरी उत्पाद
  • स्वदेशी कपडे
  • चाय कॉफी का उत्पादन
  • लोकल प्रोडक्ट
  • गाय के मूत्र और गोबर से बनने वाले उत्पाद का बिजनेस
  • बकरी पालन

Swadeshi Business Ideas in hindi

आपको बता दें की भारत में पिछले कई सालों से स्वदेशी उत्पाद की मांग में वृद्धि हुई है। देश में बहुत सी ऐसी कंपनियां हैं जिन्होंने देश में ही बहुत सारे उत्पादों का निर्माण किया है और अब बड़े स्तर पर अपने स्वदेशी उत्पादों को बाजार में उतार रही हैं। आप भी स्वदेशी उत्पादों से अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं इसके लिए आप नीचे दिए गए स्वदेशी बिज़नेस आईडिया की सहायता ले सकते हैं –

गाय के मूत्र और गोबर से बने उत्पाद का व्यवसाय

देश का हर व्यक्ति अब जागरूक हो चुका है। भारत अपने पशुधन के लिए विश्व में प्रसिद्ध है। आपने पतंजलि कंपनी का नाम तो जरूर सुना होगा यह कंपनी भी स्वदेशी उत्पादों से ही निर्मित वस्तुओं का व्यापार करती है। पतंजलि जोकि एक आयुर्वेदिक कंपनी है यह आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों और गाय भैंस के मूत्र और गोबर से कई उत्पादों का निर्माण करती है। मार्किट में इनके उत्पादों की काफी डिमांड रहती है। यदि आपके पास भी गाय या भैंस है तो आप भी अपना एक स्वदेशी व्यापार शुरू कर सकते हैं। आप गोमूत्र और गोबर के उपयोग से कई प्रकार के उत्पाद बना सकते हैं। गोमूत्र से साबुन, शेम्पू ,फिनाइल आदि कई प्रकार के प्रोडक्ट को बनाया जा सकता है।

गाय के दूध से बने उत्पाद का बिजनेस (डेयरी उद्योग)

dairy industry सबसे अधिक प्रचलित स्वदेशी बिजनेस में से एक है। जैसे की आप सभी जानते हैं की भारतीय बाजार में दूध से बनी सामाग्री जैसे दही, पनीर, छांछ की डिमांड अधिक रहती है। गाय या भैंस के दूध से बने उत्पाद का व्यापार आपके लिए सबसे अच्छा स्वदेशी व्यापार होगा। आप गाय के अतिरिक्त बकरी के दूध से भी कई प्रकार के उत्पाद बनाकर इसका बिज़नेस कर सकते हैं।

मुर्गी पालन का बिजनेस

जैसे की आप जानते ही हैं भारत में बड़ी संख्या में लोग मांस का सेवन करते हैं और मुर्गी के अंडो की भी भारी मात्रा में डिमांड रहती है। Poultry Farm Business भी एक अच्छा स्वदेशी बिज़नेस है। आप इस बिज़नेस में निवेश कर कम लगत पर अच्छा खासा मुनाफ़ा कमा सकते हैं। राज्य सरकार द्वारा विभिन्न पशुपालन योजना के माध्यम से इसके लिए सब्सिडी पर ऋण भी उपलब्ध कराया जाता है।

स्वदेशी कपड़ों का बिजनेस

महात्मा गाँधी जी द्वारा स्वदेशी सामान को अपनाने और विदेशी सामग्रियों को त्यागने के लिए प्रयास किये गए थे। भारत में आजादी के समय से ही स्वदेशी पहनावे को अधिक तवज्जो दी गयी और विदेशी परिधानों और सामग्रियों का विरोध किया गया। आजादी के 75 साल बाद भी देश अपने सूती वस्त्र उद्योग के लिए देश ही नहीं विदेशों में भी पहचान बना चुका है। सूत के बने वस्त्र या सामग्री पूरी तरीके से कपास की खेती पर निर्भर है। भारत में युवा वर्ग कपड़ों में अलग अलग वेराइटी के साथ कम्फर्ट भी चाहता है।

आप भारत में सूती कपड़ों का बिज़नेस कर अच्छा खासा मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप भी स्वदेशी कपड़ों का बिज़नेस शुरू करना चाहते हों तो आप अपने नए नए आइडियाज से सूती, रेशम और विभिन्न फेब्रिक से कपड़ों का निर्माण कर सकते हैं और अधिक मुनाफ़ा कमा सकते हैं।

Swadeshi Business से जुड़े सवाल (FAQs)-

हम स्वदेशी बिजनेस को कैसे शुरू करें ?

आपको स्वदेशी व्यापार को शुरू करने के लिए लाइसेंस और परमिशन की आवश्यकता होगी। आपको FSSAI से लाइसेंस लेना होता है और स्वदेशी Business में गाय के दूध से बने उत्पादों का व्यापार ,मुर्गी पालन का बिज़नेस, स्वदेशी कपड़ों का बिजनेस, स्वदेशी टूथपेस्ट का बिज़नेस आदि आते हैं। को नाम देने के बाद इसे रजिस्टर करवाना होता है। आपको किसी भी बिज़नेस को शुरू करने के लिए कुछ रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है।

कौन -कौन से बिज़नेस स्वदेशी बिज़नेस होते हैं ?

इसे सभी बिज़नेस जिसमें उत्पादों का निर्माण देश में ही हो रहा है और उत्पाद को बनाने की प्रारंभिक सामग्री भी देश की ही प्रयोग में लायी जा रही हो। स्वदेशी व्यापार की श्रेणी में आता है।

Swadeshi Business कौन -कौन से हैं ?

स्वदेशी Business में गाय के दूध से बने उत्पादों का व्यापार, मुर्गी पालन का बिज़नेस ,स्वदेशी कपड़ों का बिज़नेस, स्वदेशी टूथपेस्ट का बिज़नेस आदि आते हैं।

Leave a Comment