पिंक ऑटो स्कीम | लाभ, पात्रता, दस्तावेज व अप्लाई प्रक्रिया | What is pink auto scheme in Hindi

दोस्तों जैसा की आप जानते होंगे की हमारे देश भारत में परिवहन के रूप में ऑटो- रिक्शा एक लोकप्रिय साधन है। खास तौर में शहरी क्षेत्रों में। आप भी कभी न कभी ऑटो- रिक्शा में बैठे होंगे। भारत सरकार ने महिलाओं के विकास को बढ़ावा देने के लिए ऑटो- रिक्शा के माध्यम से उन्हें रोजगार के क्षेत्र में प्रोत्साहन के लिए पिंक ऑटो स्कीम योजना की शुरुआत की है। खास तौर पर ऑटो- रिक्शा एक स्थान से दूसरे स्थान जाने व सामान ले जाने ले लिए प्रयाग किया जाता है। ये एक सरल और सुविधाजनक परिवहन है। अगर आपको भी ऑटो- रिक्शा का शौक है तो इस योजना के बारें में जान ले। तो आइये जानते है पिंक ऑटो स्कीम क्या है? इसमें आवेदन करने के लिए किन पात्रता, दस्तावेजो की आवश्यकता होती है।

इस आर्टिकल से जुड़ी सभी जानकारी को लेने के लिए हमारे आर्टिकल को विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़े।

पिंक ऑटो स्कीम | लाभ, पात्रता, दस्तावेज व अप्लाई प्रक्रिया | What is pink auto scheme in Hindi
What is pink auto scheme in Hindi

पिंक ऑटो स्कीम क्या है?

यह योजना महिलाओं की आजीविका के लिए मुख्य परिवहन सुविधा है। इस योजना के माध्यम से महिला को एक अच्छा रोजगार प्राप्त होगा। अक्सर हमने पुरुषों को ऑटो चलाते हुए देखा है। लेकिन सभी चीज़ों में बदलाव किया जा रहा है। पिंक ऑटो स्कीम का लक्ष्य है कि महिलाओं की ड्राइविंग और ऑटो-रिक्शे का ज्ञान लेने के लिए उन्हें प्रोत्साहन देना। ऐसा करने से महिला का विश्वास बढ़ेगा। यह योजना भारत देश के अनेक राज्यों में लागू हुई है जैसे – दिल्ली, महाराष्ट्र और तमिलनाडु राज्य शामिल है। यह योजना कुछ शर्तो के माध्यम से चलेगी। महिलाओं को ऑटो-रिक्शा की लागत पर 50% की सब्सिडी सरकार द्वारा दी जाएगी। यह भारत सरकार की पहली पहल है जिसमे महिलाओं की उद्यमशीलता को बढ़ावा देने एवं उनका कल्याण करने के लिए रोजगार का साधन उपलब्ध करवाया है।

Pink Auto Scheme 2023 Highlights

योजना का नाम पिंक ऑटो स्कीम (Pink auto scheme)
योजना का आरंभ राज्य सरकार द्वारा
वर्ष 2023
लाभार्थी महिला व बालिका
लाभार्थी राज्य दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश
उड़ीशा, बिहार, झारखंड, असम
पश्चिम बंगाल, पंजाब
उद्देस्य देश की महिलाओं को उद्यमशीलता के प्रति बढ़ावा देना व रोजगार देना
महिला की उम्र 18 साल से अधिक
आवेदन ऑनलाइन/ऑफलाइन

इसे भी पढ़े :- महिला के लिए 10 वीं पास सरकारी नौकरी

पिंक ऑटो स्कीम का उद्देस्य

राज्य सरकार द्वारा Pink auto scheme को आरंभ करने के अनेक उद्देस्य है जो की इस प्रकार से है –

  • ऑटो-रिक्शा भारत का लोकप्रिय साधन है, जब कोई महिला रात के समय सफर करती है तो वह असुरक्षित महसूस करती है। ऐसे में महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए व महिला को ऑटो चलाने के प्रति प्रोत्साहन देने के लिए इस योजना की शुरुआत की है।
  • पिंक ऑटो स्कीम से महिलाओं को रोजगार प्राप्त होगा और ऑटो चलाकर वह आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रोत्साहित होंगी।
  • ऑटो-रिक्शा हमारे पर्यावरण में वायु प्रदूषण को बढ़ाने के लिए मुख्य स्रोत है। इस इलेक्ट्रॉनिक ऑटो-रिक्शा के माध्यम से देश में बढ़ रहे प्रदूषण को कम किया जा सकता है।
  • Pink auto scheme से महिला का विकास होगा। रोजगार का साधन लेकर अच्छी आय प्राप्त कर सकती है। और अन्य किसी पर आत्मनिर्भर नहीं हो पायेगी।

पिंक ऑटो स्कीम द्वारा लाभार्थी राज्यों के नाम

  1. दिल्ली
  2. राजस्थान
  3. हरियाणा
  4. उत्तर प्रदेश
  5. उड़ीशा
  6. बिहार
  7. झारखंड
  8. असम
  9. पश्चिम बंगाल
  10. पंजाब

Pink auto scheme के मुख्य लाभ

सरकार जब भी किसी योजना की शुरुआत करती है तो वह सभी के हित के लिए लाभदायक होती है। तो आइये यहाँ जानते है पिंक ऑटो योजना का लाभ। जो की इस प्रकार से है –

  • इस योजना का माध्यम से महिला को ऑटो-रिक्शा की लागत पर 50% की सब्सिटी सरकार द्वारा दी जाएगी। जिसकी अधिकतम सीमा 50,000 रूपये तक है। इस राशि को सीधे महिला के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जायेगा।
  • Pink auto scheme से महिला को एक अच्छा रोजगार मिलेगा। और इस योजना के माध्यम से राज्य की सभी महिलाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।
  • अक्सर सभी महिला सुरक्षित गाडी चलाती है। ऐसे में सभी यात्रियों को सुरक्षा प्राप्त होगी। और जो महिला रात के समय ऑटो में सफर करती है। वह भी इसमें सुरक्षित महसूस करेगी।

इसे भी पढ़े :- महिला सम्मान बचत पत्र योजना 2023 क्या है

पिंक ऑटो स्कीम में आवेदन करने के लिए पात्रता

पिंक ऑटो स्कीम का लाभ लेने के लिए योजना में आवेदन करना अनिवार्य है आवेदन करने से पहले आप इस योजना के पात्र होने चाहिए। नीचे जानें पात्रता –

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए महिला के पास खुद का मान्यता प्राप्त ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए।
  • महिला की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। तभी वह इस योजना में आवेदन कर पायेगी।
  • जिन राज्यों में ये योजना शुरू की गई है। उन सभी राज्य की महिलाओं के पास उस राज्य का निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • ऑटो-रिक्शा महिला के नाम पर पंजीकृत होना चाहिए। और योजना के माध्यम से मिला ऑटो सिर्फ व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए प्रयोग होना चाहिए। अन्यथा नहीं।

Pink auto scheme में आवेदन करने के लिए जरुरी दस्तावेज

  • महिला का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड
  • बैंक पासबुक वितरण
  •  वैध ड्राइविंग लाइसेंस 
  • आय प्रमाण पत्र
  • फोटो
  • मोबाइल नंबर

महत्वपूर्ण बात प्रत्येक राज्य के लिए अलग-अलग दस्तावेज की आवश्यकता हो सकती है। जिस राज्य में पिंक ऑटो योजना के लिए खास एजेंसी और सरकारी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है।

पिंक ऑटो स्कीम में लाभ लेने के लिए आवेदन की प्रक्रिया

  • पिंक ऑटो योजना में आवेदन करने के लिए प्रत्येक राज्य की अलग-अलग आवेदन प्रक्रिया होती है।
  • सभी दस्तावेज होने के बाद आप कार्यान्वयन एजेंसी की आधिकारिक वेबसाइट या फिर अपने राज्य सरकार की वेबसाइट से आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते है।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे – महिला का नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, लाइसेंस नंबर, आप किस प्रकार का ऑटो-रिक्शा लेना चाहते है, उस ऑटो की सभी जानकारी आदि अन्य सभी जानकारी को सही से भरना है।
  • फॉर्म को भरने के बाद आपसे मांगे गए सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच कर देना है।
  • सारी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद आपको अपने फॉर्म को राज्य सरकार के द्वारा आयोजित एजेंसी या फिर ऑनलाइन के माध्यम से जमा कर देना है।
  • ऐसा भी हो सकता है कि आपको कोई शुल्क देना पड़े। क्योकि प्रत्येक राज्य की अलग-अलग स्कीम है।
  • आवेदन फॉर्म जमा करने के बाद सरकारी अधिकारी द्वारा आपके दस्तावेज की जांच होगी। सही से जांच होने पर आपको इस योजना का लाभ मिलने में 2 से 3 हफ्ते का समय लग सकता है।
  • यदि आपने आवेदन करते समय अपने फॉर्म में ऋण के लिए आवेदन किया है। और यदि आप योजना को प्राप्त करने के पात्र है तो राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी सीधे महिला के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस प्रक्रिया के माध्यम से आप आसानी से अपना Pink auto scheme में आवेदन कर पाएंगे।

इसे भी पढ़े:- घरेलू महिलाओं के लिए बिजनेस आइडिया

Pink auto scheme से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें –

  • इस योजना की शुरुवात 20 जनवरी से आरंभ कर दी गई थी।
  • इस योजना के तहत महिला को राज्य सरकार द्वारा नि:शुल्क ऑटो-रिक्शे का प्रशिक्षण दिया जायेगा।
  • हर राज्य की अलग-अलग आवेदन प्रक्रिया है यदि आप इस योजना में आवेदन करना चाहते है तो अपने पास के  कार्यान्वयन एजेंसी में जाकर योजना से जुडी सभी जानकारी को प्राप्त कर सकते है।
  • इस योजना का लाभ सिर्फ ऊपर बताएं गए सभी राज्य की महिला ले सकती है।

Pink auto scheme से सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर (FAQs)

पिंक ऑटो स्कीम क्या है?

यह योजना राज्य सरकार द्वारा राज्य की सभी महिलाओं के लिए है। जो खुद का रोजगार शुरू करना चाहती है। इस योजना के माध्यम से राज्य की महिला को आर्थिक सहायता देने और उन्हें उद्यमशीलता के प्रति बढ़ावा देने हेतु ऑटो-रिक्शा चलाने के लिए सरकार द्वारा सहायता दी जाएगी।

Pink auto scheme के तहत राज्य की महिलाओ को क्या सुविधा प्रदान की जाएगी।

इस योजना का अंतर्गत राज्य की महिलाओं को ऑटो-रिक्शा चलाने पर ऑटो के लागत में 50% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

पिंक ऑटो स्कीम में राज्य के पुरुष भी आवेदन कर सकते है?

जी नहीं, यह योजना सिर्फ राज्य की महिलाओं के लिए है।

Pink auto scheme क्या उद्देस्य क्या है?

इस योजना की सहायता से महिला की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। महिला को रोजगार करने के लिए परिवहन साधन की सुविधा मिलकर वह अपनी आय को बढ़ा सकती है। ऐसा करने से महिला का विकास होगा व उसमे काम के प्रति प्रोत्साहन बढ़ेगा।

Leave a Comment

Join Telegram