मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना – Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना – मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाल ही में राज्य के मेधावी छात्र/छात्रों के लिए जो प्रतियोगी परीक्षाओं या किसी भी प्रोफेशनल कोर्स की तैयारी कर रहें है और कोचिंग के लिए किसी अन्य शहर में रह रहे है, उनके लिए मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का शुभारम्भ किया है। Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana का लाभ राज्य के सभी वर्ग जैसे- अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग और EWS के पात्र विद्यार्थी उठा सकते है। इस योजना की शुरुआत सरकारी नौकरी, प्रतियोगी परीक्षा या किसी भी प्रकार की अन्य परीक्षा की तैयारी सही ढंग से करने और सभी वर्ग के छात्र/छात्रों को समान अवसर प्रदान करने के लिये की गई है। ताकि अपनी आर्थिक स्थिति के कारण प्रतिभाशाली छात्र अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने से वंचित न रह जाएँ।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना

यहाँ आपको बताएंगे कि मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है ? योजना का आवेदन करने के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ? कौन – कौन इस योजना का आवेदन करने के पात्र होंगे ? और इस योजना से संबंधित अनेक विषय जानकारी हम आपको इस लेख में उपलब्ध कराएंगे। राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना से जुडी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख से अंत तक जुड़े रहिये।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021

सीएम अशोक गहलोत ने राज्य के मेधावी छात्र/छात्रों के लिए एक नयी योजना जिसका नाम मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना है, का शुभारम्भ किया है। Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 के लिए छात्र/छात्रों का चयन करने हेतु उनके कक्षा 10वीं और 12वीं के अंकों के आधार पर मेरिट तैयार की जाएगी और उस मेरिट के आधार पर ही लाभार्थियों का चयन किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत उन मेधावी एवं प्रतियोगी परीक्षाओं में अध्ययनरत छात्र/छात्रों को दिया जायेगा जो पढाई करने के लिए अपने घर से दूर किसी दूसरे शहरों में जाते है और जिनके पारिवारिक वार्षिक आय 8 लाख रूपये से कम है। ऐसे छात्रों को इस योजना के तहत आवास और भोजन हेतु प्रति वर्ष 40,000 रूपये भी प्रदान किये जाएंगे।

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 Highlights

यहाँ हम आपको मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021 से संबंधित मुख्य तथ्यों के विषय में सूचित करने जा रहें है। यदि आप भी इन विशेष सूचनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप नीचे दी गयी सारणी में उपलब्ध जानकारी पढ़ सकते है। ये सारणी निम्न प्रकार है –

योजना का नाम मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना
किसके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा
साल 2021
राज्य का नाम राजस्थान
लाभार्थी राज्य के विद्यार्थी
आवेदन मोड ऑनलाइन
ऑफिसियल पीडीएफ लिंक यहाँ क्लिक करें
आधिकारिक वेबसाइट

मुख्यमंत्री अनुप्रति योजना के उद्देश्य

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने राज्य के मेधावी छात्र/छात्रों के लिए मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग स्कीम को शुरू किया है जिसका एक मात्र उद्देश्य प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षा और कोर्स करने के लिए मुफ्त कोचिंग करने का अवसर दिया जाएगा। बहुत से छात्र आर्थिक स्थिति के कारण प्रतिभा होते हुए भी अवसरों से वंचित रह जाते है। कमजोर व गरीब वर्ग के छात्र/छात्राओं की इस दयनीय स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा योजना के तहत मुफ्त कोचिंग देने की घोषणा की है। इस योजना का उद्देश्य प्रतियोगी परक्षाओं और शिक्षण संस्थानों से कोर्स करने वाले अभ्यर्थियों को लाभान्वित किया जाना है।

योजना आवेदन हेतु पात्रता

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का आवेदन करने के इच्छुक छात्र/छात्रों को कुछ आवश्यक पात्रता एवं शर्तों को पूर्ण करना होगा। आवेदक इन पात्रताओं के आधार पर ही योजना आवेदन फॉर्म भर सकते है। मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की पात्रता निम्न प्रकार है –

  • आवेदनकर्ता राजस्थान राज्य में स्थायी रूप से निवास करता हों।
  • जिन अभ्यर्थियों के अभिभावक पे-मैट्रिक्स लेवल-11 का वेतन का लाभ उठा रहें है, आवेदन कर सकते है।
  • अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, EWS, पिछड़े वर्ग से संबंधित छात्र/छात्रा आवेदन करने के पात्र होंगे।
  • जिन छात्र/छात्रों की पारिवारिक वार्षिक आय 8 लाख रूपये या इससे कम है वे आवेदन कर सकते है।
  • वे छात्र/छात्रा जिन्होंने एंट्रेंस एग्जाम पास करके एजुकेशनल इंस्टिट्यूट में एड्मिशन लिया या जिन्होंने कॉम्पिटेटिव एग्जाम का निर्धारित चरण पास किया है, आवेदन कर सकते है।
  • जिन अभ्यर्थियों का नंबर मेरिट लिस्ट में होगा वे कोचिंग इंस्टिट्यूट में फ्री एड्मिशन ले सकते है।
राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति योजना आवेदन हेतु दस्तावेज

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 का आवेदन करने के लिए पात्र छत्र/छात्राओं के पास ये सभी दस्तावेज होने चाहिए। क्योंकि इन दस्तावेजों के आधार पर ही आप योजना आवेदन फॉर्म भर कर योजना का लाभ उठा सकते है। ये महत्वपूर्ण दस्तावेज/डाक्यूमेंट्स निम्न प्रकार है –

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • प्रतियोगी परीक्षाओं में पास होने के प्रमाण पत्र
  • शपथ पत्र
  • शिक्षण संस्थान में एड्मिशन लेने का प्रमाण
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

योजना के अंतर्गत आने वाली परीक्षाएं

यहाँ हम आपको मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत आने वाली परीक्षा और योजना के तहत दिए जाने वाली राशि, अवधि, न्यूतम योग्यता और पात्र छात्र/छात्राओं की कुल संख्या के विषय में जानकारी प्रदान करने जा रहें है। आप नीचे दिए गए चित्र के माध्यम से इन समस्त सूचनाओं को प्राप्त कर सकते है। आइये देखते है –
mukhyamantri anuprati coaching yojanaCM anuprati coaching yojana

कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • लाभार्थियों को आवास और भोजन के लिए प्रतिवर्ष 40 हजार रूपये दिए जायेंगे।
  • इस योजना का लाभ लाभार्थियों को केवल एक साल की अवधि के लिए दिया जायेगा।
  • जिनके अभिभावक राज्य आयोग कार्मिक के रूप में पे-मैट्रिक्स लेवल-11 का वेतन प्राप्त कर रहें है, वे योजना का आवेदन कर सकते है।
  • इस योजना के अंतर्गत लगभग 50 प्रतिशत छात्राओं को आवेदन हेतु प्राथमिकता दी जाएगी।
  • लाभार्थी छात्रों का चयन उनकी कक्षा 10वीं और 12वीं के अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार करके किया जायेगा।
  • इस योजना का लाभ एससी, एसटी, पिछड़े वर्ग,अति पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक आदि वर्ग के छात्र उठा सकते है।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

राजस्थान राज्य के वे सभी इच्छुक उम्मीदवार जो मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरकर योजना का लाभ उठाना चाहते है उन्हें आवेदन करने के लिए अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा क्योंकि इस योजना की घोषणा हाल ही में की गयी है। Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 का आवेदन करने की प्रक्रिया अभी जारी नहीं की गयी है। जैसे ही आवेदन करने की प्रक्रिया जारी कर दी जाएगी इसकी अपडेट हमारे द्वारा इस लेख के माध्यम से आपको दे दी जाएगी।

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 से संबंधित प्रश्न और उत्तर

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है ?

यह योजना सीएम अशोक गेहलोत ने राज्य के ऐसे छात्रों के लिए शुरू की है जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तयारी के लिए दूसरे शहरों में कोचिंग के लिए जाते है। इस योजना के तहत ऐसे छात्रों को आवास और भोजन के लिए हर साल 40 हजार रूपये राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना की शुरुआत किसके द्वारा की गयी है ?

मुख्यमंत्री अनुप्रति योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा की गयी है।

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 अप्लाई करने के लिए किन डाक्यूमेंट्स की जरूरत होगी ?

योजना का आवेदन करने के लिए आपको कुछ जरूरी दसतावेजो की जरूरत पड़ेगी जैसे – आवेदक का आधार कार्ड
जाति प्रमाण पत्र
मूल निवास प्रमाण पत्र
आय प्रमाण पत्र
पासपोर्ट साइज फोटो
प्रतियोगी परीक्षाओं में पास होने के प्रमाण पत्र
शपथ पत्र
शिक्षण संस्थान में एड्मिशन लेने का प्रमाण
मोबाइल नंबर
ईमेल आईडी, आदि

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत लाभार्थी विद्यार्थियों को भोजन एवं आवास हेतु कितनी राशि दी जाएगी ?

इस योजना के तहत सरकार द्वारा लाभार्थी विद्यार्थियों को आवास और भोजन के लिए प्रतिवर्ष 40 हजार रूपये दिए जायेंगे।

सीएम अनुप्रति कोचिंग योजना के लाभार्थी कौन होंगे ?

राजस्थान राज्य के वे सभी मेधावी छात्र जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहें है और कोचिंग के लिए अपने घर से दूर किसी अन्य शहर में कोचिंग ले रहे है।

कौन-कौन सी परीक्षाओं को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है ?

इस योजना के अंतर्गत अनेक प्रतियोगी परीक्षाओं को शामिल किया गया है जैसे –
सबइंस्पेक्टर परीक्षा
कांस्टेबल परीक्षा
सिविल परीक्षा
इंजीनियरिंग परीक्षा
मेडिकल परीक्षा
नीट परक्षा
आईआईटी परीक्षा
क्लैट परीक्षा
आरएएस परीक्षा, आदि

हेल्पलाइन नंबर

जैसा कि इस लेख में हमने आपको Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021 आवेदन और इससे संबंधित बहुत सी सूचनाएं प्रदान की है। यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी सूचनाओं के अतिरिक्त कोई अन्य सूचना चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते है। हमारे द्वारा आपके प्रश्न का उत्तर अवश्य दिया जाएगा। आशा करते है आपको हमारे द्वारा इस लेख में दी गयी जानकारी के माध्यम से सहायता मिलेगी।

Leave a Comment