राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana 2022। इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन। राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 एप्लीकेशन फॉर्म

दोस्तों आज हम बात करने जा रहें हैं, राजस्थान सरकार द्वारा आरम्भ की गई इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की जिसके अंतर्गत सरकार राज्य की गर्भवती महिलाओं को योजना का लाभ प्रदान करती है। इस योजना का आरम्भ अभी राजस्थान के चार जिलों (प्रतापगढ़, उदयपुर, डूँगरपुर और बांसवाड़ा) में किया गया है, इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के माध्यम से राज्य की गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के समय किसी तरह के पोषण की कमी ना हो इसके लिए योजना के अंतर्गत आवेदक महिलाओं को सरकार द्वारा 6000 रूपये की आर्थिक सहायता राशि दूसरे बच्चे के जन्म के समय प्रदान की जाती है। राज्य की जो गर्भवती महिलाएँ Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana के अंतर्गत दिए जाने वाले लाभ और योजना में आवेदन हेतु, योजना से सम्बंधित सभी जानकारी जैसे योजना की पात्रता, आवेदन प्रक्रिया आदि जानना चाहती हैं, तो वह इसे हमारे लेख के माध्यम से प्राप्त कर सकती हैं।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म
राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना क्या है ?

जैसा की आप सब जानते हैं की राजस्थान सरकार राज्य में महिलाओं के शसक्तिकरण और उनकी स्थिति में सुधार लाने हेतु बहुत सी योजनाओ द्वारा उन्हें सहयोग प्रदान करती है। जिसके तहत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा अभी हाल ही में राज्य की गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और पोषण की सुविधा प्रदान करवाने के लिए इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का आरम्भ 19 नवंबर 2020 में हमारे देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के जन्मदिन की 103 वीं जयंती पर किया गया है। इस योजना का संचालन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जाता है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत राज्य की गर्भवती महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म के समय सरकार द्वारा 6000 रूपये की आर्थिक सहायता राशि 5 किस्तों में प्रदान की जाती है। इस योजना की शुरुआत अभी केवल राजस्थान के प्रतापगढ़, उदयपुर, डूँगरपुर और बांसवाड़ा में की गई है, क्योंकि इन चार जिलों में अन्य जिलों की तुलना में कमजोर और पिछड़े वर्ग की महिलाओं के लिए कम पोषण के संकेतक प्राप्त हुए हैं। जिसके कारण इन जिलों में विशेष रूप से ध्यान दिया जा रहा है, जिससे महिलाओं को बेहतर स्वाथ्य और राहत प्रदान किया जा सकेगा और योजना के माध्यम से राज्य में महिलाओं और बच्चों को पर्याप्त पोषण प्रदान कर अल्पोष्ण/कुपोषण जैसी समस्याओं को भी खत्म किया जा सकेगा।

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana : Details

योजना का नाम राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
किनके द्वारा आरम्भ की गई मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा
सम्बंधित विभाग महिला एवं बाल विकास विभाग
साल 2022
योजना की शुरुआत 19 नवंबर 2020
योजना के लाभार्थी राज्य की गर्भवती महिलाएँ केवल (दूसरे बच्चे के जन्म के समय)
उद्देश्य महिलाओं को उचित स्वास्थ्य एवं पोषण प्रदान करने हेतु आर्थिक सहयाता देना
सहायता राशि 6000 रूपये
आधिकारिक वेबसाइट जल्द ही जारी की जाएगी।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का उद्देश्य

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य योजना के माध्यम से राज्य में दूसरे बच्चे को जन्म देने वाली महिलाओं को उचित स्वाथ्य देखभाल और पोषण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है। जिससे गर्भवती महिलाओं को बेहतर चिकित्सा या जाँच के लिए किसी आर्थिक समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा, साथ ही योजना के अंतर्गत किस्तों में मिलने वाली आर्थिक सहायता से प्रयाप्त पोषण प्राप्त कर दूसरे बच्चे के जन्म के समय माँ और बच्चे में किसी तरह की शारीरिक कमजोरी उत्प्पन्न नहीं होगी इससे महिला को मिलने वाले पोषण से स्तनपान करने वाले नवजात शिशु को भी पर्याप्त मात्रा में पोषण प्राप्त हो सकेगा, जिससे राज्य के बच्चों में हो रही कुपोषण जैसी समस्याओं को ख़त्म किया जा सकेगा।

राजस्थान-शुभ-शक्ति-योजना

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए निर्धारित बजट

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा योजना के कार्यान्वयन हेतु 225 करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है, जिसके माध्यम से पाँच वर्षों में लगभग राज्य की 3.75 लाख महिलाओं को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। जिसमे हर वर्ष 75,000 महिलाओं को योजना के अंतर्गत शामिल कर उन्हें 45 करोड़ रूपये धनराशि का लाभ प्रदान किया जाएगा, आवेदक महिलाओं को यह धनराशि सीधे उनके बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाली आवेदक गर्भवती महिलाओं को ही यह लाभ प्रदान किया जाएगा। जिसके लिए राज्य की सभी पात्र गर्भवती महिलाएँ Indira Gandhi Matritva Yojana की आवेदन प्रक्रिया जारी होते ही योजना में आवेदन कर सकेंगी।

राजस्थान IGMPY के अंतर्गत दी जाने वाली सहायता राशि

यहाँ हम आपको Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता राशि की किस्तों के विषय में बताने जा रहें है। योजना के अंतर्गत दी जाने वाला लाभ 5 किस्तों में प्रदान किया जाता है। आप नीचे दी गयी सारणी के माध्यम से समझ सकते है –

पहली किस्त योजना के अंतर्गत 1000 रूपये की पहली किश्त आवेदक महिला
को गर्भावस्था जाँच और रजिस्ट्रेशन होने पर प्रदान की जाती है।
दूसरी किस्त आवेदक महिला को 1000 रूपये की दूसरी किश्त दो प्रसव
पूर्व जाँच होने पर प्रदान की जाती है।
तीसरी किस्त आवेदक महिला को 1000 रूपये की तीसरी किश्त संस्थागत
प्रसव होने पर प्रदान की जाती है।
चौथी किस्त2000 रूपये की चौथी किश्त बच्चे की जन्म से 105 दिन तक
सभी आवश्यक नियमित टीके लगाने तथा बच्चे के जन्म का
पंजीकरण होने की स्थिति में दी जाती है।
पांचवी किस्त 1000 रूपये की पांँचवी किश्त बच्चे के जन्म के तीन माह के
भीतर परिवार नियोजन का साधन अपनाने पर प्रदान की जाती है।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना से जुड़े लाभ एवं विशेषताएं

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana के लाभ एवं विषेशताओं से संबंधित जानकारी आवेदक यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। ये जानकारी नीचे दिए गए कुछ पॉइंट्स के माध्यम से उपलब्ध कराई गयी है –

  • राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का आरम्भ राजस्थान सरकार द्वारा राज्य की गर्भवती महिलाओं को आर्थिक लाभ प्रदान करने हेतु किया गया है।
  • योजना की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री जी द्वारा 19 नवंबर 2020 में हमारे देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के जन्मदिन की 103 वीं जयंती पर किया गया है।
  • Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana का संचालन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जाएगा।
  • राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत पंजीकृत पात्र गर्भवती महिलों को ही योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना (Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana) के माध्यम से महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और प्रयाप्त पोषण प्रदान करने के लक्ष्य से योजना का आरम्भ किया गया है, जिससे राज्य में कुपोषण जैसी समस्या को ख़त्म किया जा सकेगा।
  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म के समय 6000 रूपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • आवेदक महिलाओं को प्रदान की जाने वाली धनराशि पाँच किश्तों में प्रदान की जाती है।
  • सरकार द्वारा योजना के माध्यम से आने वाले पाँच वर्षों में 225 करोड़ रूपये का आर्थिक लाभ राज्य की 3.75 लाख महिलाओं को प्रदान किया जाएगा।
  • Rajasthan इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना लाभ प्रदान करने के लिए राज्य के चार जिलों (प्रतापगढ़, उदयपुर, डूँगरपुर और बांसवाड़ा) को इसमें शामिल किया गया है।
  • योजना के माध्यम से चुने गए जिलों के कमजोर और बीपीएल वर्ग महिलाओं की उचित जाँच के लिए स्वास्थ्य केंद्र और आशा द्वारा देखभाल की जाएगी।
  • प्रतियेक वर्ष राज्य की 75,000 महिलाओं को योजना के अंतर्गत शामिल कर उन्हें 45 करोड़ रूपये धनराशि का आर्थिक लाभ प्रदान किया जाता है।
  • योजना में दिए जाने वाले लाभ से गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सकेगा जिससे पर्यापत रहत और पोषण प्राप्त कर स्तनपान कराने वाली माता और बच्चे में शारीरिक दुर्बलतापन जैसी समस्या उत्पन्न नहीं होगी।
  • योजना के माध्यम से राज्य में कुपोषित बच्चों की दरों में कमी आएगी और बच्चे स्वस्थ पैदा होंगे।
  • Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana के अंतर्गत दी जाने वाली धनराशि सीधे आवेदक महिलाओं के बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी।
राजस्थान-इंदिरा-गांधी-मातृत्व-पोषण-योजना

Indra Gandhi Matratva Poshan Yojana आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

उम्मीदवारों को राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 का आवेदन फॉर्म भरने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इन दस्तावेजों के आधार पर ही उम्मीदवार फॉर्म भर सकते है। ये दस्तावेज निम्न प्रकार है –

1. आवेदक महिला का आधारकार्ड 5. बैंक की पासबुक
2. आवासीय प्रमाण पत्र 6. सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड
3. पहचान पत्र 7. मोबाइल नंबर
4. बीपीएल कार्ड 8. पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana के लिए पात्रता

आवेदकों को राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 का आवेदन करने के लिए योजना की सभी पात्रता को पूरा करना होगा। योजना की निर्धारित पात्रताओं को पूरा करने पर ही आप योजना हेतु फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते है। Rajasthan Indira Gandhi Matritva Yojana के लिए पात्रता निम्न प्रकार है –

  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाली महिलाएँ राजस्थान की स्थाई निवासी होनी चाहिए।
  • योजना में आवेदन हेतु दूसरे बच्चे को जन्म देने वाली गर्भवती महिलाएँ ही आवेदन हेतु पात्र होंगी।
  • आवेदक महिला का बैंक में खाता होना अनिवार्य है।
  • योजना के अंतर्गत आवेदक गर्भवती महिलाएँ राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर बीपीएल परिवार से होनी चाहिए।
  • आवेदक महिला के पास आवेदन हेतु सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है।
  • अन्य राज्य की महिलाएँ योजना में आवेदन हेतु पात्र नहीं होंगी।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

वे इच्छुक उम्मीदवार जो इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना में आवेदन करना चाहते है वे योजना से जुडी जानकारी यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं।

राजस्थान की जो भी आवेदक महिलाएँ सरकार द्वारा जारी राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लाभ हेतु योजना में आवेदन करना चाहती हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा क्योंकि अभी योजना में ऑनलाइन आवेदन हेतु सरकार द्वारा कोई भी पोर्टल जारी नहीं किया गया है। जिसे सरकार द्वारा जल्द ही जारी किया जाएगा, इसके बाद ही पोर्टल पर आवेदक आसानी से घर बैठे आवेदन कर सकेंगे। सरकार द्वारा जैसे ही पोर्टल से संबंधित कोई भी आधिकारिक सूचना जारी की जाती है, उसकी जानकारी हम आपको अपने लेख के माधयम से प्रदान कर देंगे, इसके लिए आप हमारी साइट से जुड़े रह सकते हैं।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 से जुड़े प्रश्न और उनके उत्तर

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की शुरुआत कब और किसके द्वारा की गई ?

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा 19 नवंबर 2020 में की गई।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना क्या है ?

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान सरकार द्वारा राज्य की गर्भवती महीलाओं को आर्थिक लाभ प्रदान करने की लिए जारी की गई योजना है, जिसके अंतर्गत सरकार गर्भवती महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म के समय 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

Indira Gandhi Matritva Yojana का संचालन किस विभाग द्वारा किया जाता है ?

Indira Gandhi Matritva Yojana का संचालन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जाता है।

इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली सहायता राशि कितनी किश्तों में प्रदान की जाती है ?

इस योजना (राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना) के अंतर्गत मिलने वाली सहायता राशि आवेदक को पॉंच किश्तों में प्रदान की जाती है।

इस योजना को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

राज्य की कमजोर परिवार की गर्भवती महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म पर पर्याप्त मात्रा में पोषण और उचित देखभाल मिल सके जिससे बच्चे के जन्म के समय माँ और बच्चे को किसी तरह की शारीरिक दुर्बलता के करण कोई समस्या उत्पन्न न हो इसके लिए सरकार योजना के माध्यम से इन महिलाओं को आर्थिक लाभ प्रदान करती है, जिससे महिलाओं उचित जाँच करवा सके और उन्हें रहत और पर्याप्त मात्रा में पोषण मिल सके जिससे बच्चे में ओने वाली कुपोषण जैसी सम्याओं को खत्म किया जा सके।

योजना में आवेदन हेतु आवेदक महिला की क्या पात्रता निर्धारित की गयी हैं ?

योजना में आवेदन हेतु आवेदक महिला राजस्थान की नागरिक होनी चाहिए, जो पिछड़े, (BPL) वर्ग से ताल्लुक रखती हों और उनका बैंक में खाता होना अवश्यक है, साथ ही यह लाभ आवेदक महिला को केवल दूसरे बच्चे के जन्म के समय ही प्राप्त हो सकेगा

Indira Gandhi Matritva Yojana में आवेदन हेतु आवेदक महिला के पास कौन-कौन से महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है ?

आवेदक महिला के पास उनका आधारकार्ड, पहचान प्रमाण पत्र, BPL कार्ड, बैंक की पासबुक, आवासीय प्रमाण पत्र, सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि दस्तावेज होने आवश्यक है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की आवेदन प्रक्रिया कब से शुरू की जाएँगी ?

सरकार द्वारा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की अभी केवल शुरूआत ही की गई है, परन्तु आवेदन प्रक्रिया शुरू होने में अभी थोड़ा समय लगेगा, सरकार द्वारा जैसे ही योजना की आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी जाएँगी, उसकी जानकारी हम आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान कर देंगे।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना से सम्बंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से विस्तारपूर्वक प्रदान कर दी है, परन्तु फिर भी यदि आपको योजना से सम्बंधित कोई भी अन्य जानकारी प्राप्त करनी हो या कोई सवाल हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। आपके द्वारा पूछे गए सभी प्रश्नो के उत्तर अवश्य दिए जायेंगे। आशा करते है आपको हमारे द्वारा इस लेख में दी गयी जानकारियों से सहायता मिलेगी।

Leave a Comment