सुकन्या समृद्धि योजना 2021: Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) Scheme: Eligibility, Interest

Sukanya Samriddhi Yojana Online Form | सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर | सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट | Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

देश की बेटियों का उज्जवल भविष्य बनाने हेतु मोदी सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना को शुरू करवाया है यह एक बचत योजना है इस योजना के अंतर्गत लड़कियों के माता पिता उनकी पढाई व शादी के लिए पैसों को भविष्य के उपयोग के लिए रख सकते है। इसकी शुरुवात 22 जनवरी 2015 में की गयी। इसको बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ के अभियान के एक हिस्से के रूप में शुरू किया गया। Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) के तहत सरकार 7.6% का ब्याज प्रदान कर रही है। योजना के तहत लड़की के माता-पिता किसी भी नेशनल बैंक में या पोस्ट ऑफिस में अपना अकाउंट खोल सकते है। केवल 10 साल से कम उम्र वाली लड़कियों का अकाउंट योजना के अंदर खुल पायेगा। अकाउंट खुलवाने के लिए मिनिमम राशि 250 रुपये है और मैक्सिमम राशि 1.5 लाख रुपये है आप अपने हैसियत के हिसाब से राशि को जमा कर सकते है। और वह बेटी के 18 साल पूरे होने के बाद इन पैसो का 50% राशि निकाल सकते है।

पहले इस योजना से 1000 रुपये जमा करना अनिवार्य था। लेकिन अब 250 रुपये हर साल जमा कर सकते है। इससे योजना का लाभ उठाने वाले नागरिको की संख्या बढ़ेगी। आपको इसमें 14 साल तक इन्वेस्ट करना होगा जिसेक बाद ही आप रकम को निकल सकते है। हम आपको इससे सम्बंधित सभी जानकारी जैसे: योजना का उद्देश्य, योजना से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएं, जरुरी दस्तावेज, योजना हेतु ओपनिंग सेविंग अकाउंट आवेदन फॉर्म, खाता बैलेंस कैसे देखें, योजना अंतर्गत क्या क्या बदलाव किये गए, अकाउंट दोबारा RE-OPEN कैसे करें आदि के बारे में बताने जा रहे है। सम्बंधित जानकारी जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

Table of Contents

सुकन्या समृद्धि योजना 2021

आपको बता दें कि 12 दिसंबर 2019 में सुकन्या समृद्धि योजना को रद्द कर दिया गया और उसी दिन 2019 में नई सुकन्या योजना बनायीं गयी। पहले 9.1% का ब्याज निर्धारित किया गया था जो की अब 7.6 कर दिया गया। योजना का लाभार्थी बनने के लिए पोस्ट ऑफिस नहीं जाना होगा। खाता खोलने के लिए आपके पास पैन कार्ड या आधार कार्ड होना अनिवार्य है जिसके माध्यम से आप अपने घर बैठे ही खाता खोल सकते है डिजिटल अकाउंट की वैद्यता 1 साल की होगी। अकाउंट खोलने के लिए आवेदक की आयु 18 साल या उससे अधिक होनी बहुत जरुरी है।

योजना सुकन्या समृद्धि योजना
के द्वारा केंद्र सरकार द्वारा
लाभ लेने वाले देश की बालिका
योजना का उद्देश्य सरकार द्वारा बच्चियों के उज्वल भविष्य बनाना
श्रेणी केंद्र सरकारी योजनाएं
ऑफिसियल वेबसाइट www.indiapost.gov.in

Objectives of Sukanya Samriddhi Yojana (SSY)

सुकन्या-समृद्धि-योजना

जो भी माता-पिता इस योजना से मिलने वाला लाभ प्राप्त करना चाहते है वह अपनी बेटी के लिए भविष्य के लिए पैसे जमा करना चाहते है वह योजना के माध्यम से बचत खाता खुलवा सकते है। सुकन्या समृद्धि योजना भारतीय पोस्ट ऑफिस द्वारा चलायी जा रही है। पहले लोगो को पैसे जमा करने के लिए पोस्ट ऑफिस के चक्कर मारने पढ़ते थे परन्तु अब सभी कामो को डिजिटल माध्यम से किये जाने का प्रयास किया जा रहा है जिससे नागरिको को आसानी से सुविधा प्राप्त हो सके, इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने भारतीय पोस्ट ऑफिस डिजिटल खाता बनाया है जिसके माध्यम से पैसे जमा किये जायेंगे और इसके लिए आपको पोस्ट ऑफिस जाने की भी आवश्यता नहीं होगी और आप अपने मोबाइल के जरिये पैसों को डायरेक्ट बैंक या पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर कर पाएंगे।

SSY योजना से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएं

  • INCOME TAX सेक्शन 80-C के तहत सुकन्या समृद्धि योजना में इन्वेस्ट टैक्स में भी छूट मिलेगी जिससे आप हर साल 1.5 लाख रुपये का इन्वेस्ट करने पर आपको टैक्स से छूट का लाभ ले सकेंगे।
  • योजना के अन्तर्गत आप अपनी बेटियों के लिए उनके भविष्य हेतु धनराशि को जमा कर सकते है।
  • हर साल मिलने वाला ब्याज पर सरकार कोई भी टैक्स नहीं लगाएगी इस योजना से आपकी राशि मिलने वाले ब्याज से केवल बढ़ेगी।
  • जिस दिन से अपने अकाउंट खुलवाया होगा उस दिन से लेकर 14 साल तक आपको इसमें हर साल निर्धारित राशि को इन्वेस्ट करना है।
  • देश का कोई भी नागरिक अपनी 10 साल से कम उम्र की बेटी का अकाउंट खोल सकता है।
  • आप 250 रूपये से सुकन्या समृद्धि योजना में अकाउंट खोल सकते है।
  • जमा राशि को आप बेटी के 18 साल होने पर केवल 50% निकल सकते है और जब आपकी बेटी 21 साल की हो जाएगी आप पूरी रकम उस समय खाते से निकल सकते है।
  • आपको प्रतिवर्ष 7.6% का ब्याज मिलेगा।
  • आप अधिकृत बैंक जैसे: स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, आंध्रा बैंक, इलाहबाद बैंक, PNB बैंक, एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ़ इंडिया, बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र, कैनरा बैंक, बरोदा बैंक, देना बैंक, और अन्य आदि में खाता खुलवा सकते है।
  • आप किसी भी बैंक, डाक घर में खाते को खुलवा सकते है जो की एक छोटी सेविंग स्कीम है।

कितनी बेटियों को लाभ मिल सकता है?

सरकार द्वारा शुरू की गयी सुकन्या समृद्धि योजना 2021 के तहत परिवार की केवल 2 बालिका ही इस योजना का लाभ पा सकती है। अगर किसी भी परिवार में 2 जुड़वाँ बेटियां होंगी तो उस परिवार की 3 बेटी इस योजना का पात्र समझी जाएँगी। आप केवल 10 साल से नीचे उम्र वाली बच्ची का अकाउंट खोल सकते है और उसके पढाई और शादी हेतु भविष्य के लिए पैसे जोड़ सकते है।

Sukanya Samriddhi जरुरी दस्तावेज

  • बेटी का जन्मप्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।
  • पहचान पत्र (पैन कार्ड, वोटर id कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट आदि)
  • पासपोर्ट साइज फोटो माता-पिता व बच्चे की
  • आधार कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ(address proff)

सुकन्या समृद्धि योजना अपडेट

दिसंबर अपडेट में यह बताया गया कि भारतीय डाक द्वारा देश में लोगो की सुविधाओं हेतु 9 तरह की सेविंग स्कीम को चलाया जा रहा है। अभी इन योजना पर 7.6% का ब्याज दर रखा गया है। इन सभी सेवाओं को डाक घर बचत योजना(POST OFFICE SAVING SCHEME) का नाम दिया गया है इन सभी स्कीमो के नाम इस प्रकार से है:

डाक घर बचत खाता(एसबी)राष्ट्रीय बचत आवर्ती जमा खाता(आरडी)डाक घर मंथली इनकम स्कीम(MIS)
PPF(पुब्लिक प्रोविडेंट फण्ड)सुकन्या समृद्धि स्कीम(SSA) राष्ट्रीय बचत पत्र(NSC)
राष्ट्रीय बचत समय जमा खाता (टीडी)किसान विकास पत्र(केवीपी)सीनियर सिटिज़न बचत योजना

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग आवेदन

फॉर्म डाउनलोड: यहाँ क्लिक करें

  1. यदि आप भी इस योजना का लाभ पाना चाहते है तो आप सबसे पहले सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग फॉर्म को आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड करें।
  2. फॉर्म डाउनलोड करने के पश्चात आप इसमें पूछी गयी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरें।
  3. जिसके बाद आप मांगे गए जरुरी डाक्यूमेंट्स की फोटो कॉपी को इसके साथ अटैच करें।
  4. अब आप इसे बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करवा दें, जिसके बाद आपका बचत अकाउंट खुल जायेगा।

सुकन्या समृद्धि खाता बैलेंस कैसे देखें

आप अकाउंट पासबुक को ऑनलाइन व ऑफलाइन माध्यम से देख सकते है इसका बैलेंस चेक करने का तरीका बहुत ही आसान है क्यूंकि लगभग सभी बैंक इस योजना की सुविधा को आप तक पहुंचा रहे है। अकाउंट खुलवाते समय आपको साथ साथ इसकी पासबुक भी दी जाएगी, आप पासबुक के द्वारा भी अपना खाता बैलेंस चेक कर सकते है या तो आप डिजिटल माध्यम से और मोबाइल ऐप द्वारा भी बैलेंस को देख सकते है। आपको अपने जमा किये हुए राशि को देखना है तो आप हमारे द्वारा बताई गयी प्रक्रिया को ध्यान से पढ़े।

  • ऑफलाइन माध्यम द्वारा पासबुक को नियमित रूप से अपडेट करा कर आप सुकन्या समृद्धि योजना के अकाउंट में जमा रकम के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है।
  • ऑनलाइन माध्यम द्वारा आप बैंक के इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल पर लॉगिन कर अपने खाते का बैलेंस चेक कर सकते है या तो आप मोबाइल ऐप द्वारा बैलेंस देख सकते है।

SSY खाता कैल्कुलेशन

उदाहरण के रूप में राशि की एक लिस्ट निम्नलिखित दी गई है जो आवेदक को 21 वर्ष की योजना के कार्यकाल पूरा होने के बाद प्राप्त होती है-

राशि (वार्षिक)
(₹ में)
राशि(14 वर्ष)
(₹ में)
मेच्योरिटी राशि (21 वर्ष)
(₹ में)
10001400046,821
20002800093,643
5000700002,34,107
100001400004,68,215
200002800009,36,429
5000070000023,41,073
100000140000046,82,146
125000175000058,52,683
150000210000070,23,219

₹ 1000 योगदान के साथ गणना (वार्षिक)

  • श्चित ब्याज- 8.4%
  • अवधि- 14 साल
  • भुगतान वार्षिक रूप से
वर्षओपनिंग बैलेंस (₹ में)जमा राशि (₹ में)ब्याज (₹ में)क्लोज़िंग बैलेंस (₹ में)
101000841084
2108410001752259
3225910002743533
4353310003814914
5491410004976410
6641010006228033
7803310007599792
89792100090611698
9116981000106713765
10137651000124016005
11160051000142818433
12184331000163221066
13210661000185423919
14239191000209327012
15270120226929281
16292810246031741
17317410266634407
18344070289037298
19372980313340431
20404310339643827
21438270368147508

परिणाम:

  • खाते में कुल जमा राशि– ₹.14,000
  • मैच्योरिटी के बाद राशि– ₹.47,508
  • प्राप्त ब्याज – ₹ 33,508 

₹ 5000 योगदान के साथ गणना (वार्षिक)

  • निश्चित ब्याज- 8.4%
  • कार्यकाल- 14 साल
  • भुगतान आवृत्ति- वार्षिक रूप से
साल ओपनिंग बैलेंस     (₹ में)जमा राशि (₹ में)ब्याज (₹ में)क्लोज़िंग बैलेंस (₹ में)
1050004205420
25420500087511295
3112955000136917664
4176645000190424568
5245685000248432052
6320525000311240164
7401645000379448958
8489585000453258490
9584905000533368823
10688235000620180024
11800245000714292166
129216650008162105328
1310532850009268119596
14119596500010466135062
15135062011345146407
16146407012298158706
17158706013331172037
18172037014451186488
19186488015665202153
20202153016981219134
21219134018407237541

परिणाम:

  • कुल जमा राशि- 70,000 रु.
  • मैच्योरिटी राशि के बाद राशि- 2,37,541 रु.
  • प्राप्त ब्याज-1,67,541 रु.

योजना के अंतर्गत आने वाले 28 अधिकृत बैंको की सूची

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया अलाहाबाद बैंक एक्सिस बैंक IDBI बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ त्रावणकोरसेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया
बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र आंध्रबैंक बैंक ऑफ़ बरोदा ICICI बैंक ओरिएण्टल बैंक ऑफ़ कॉमर्स इंडियन ओवरसीज बैंक
स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर बैंक ऑफ़ इंडिया कारपोरेशन बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर और जयपुर पंजाब और सिंद बैंक इंडियन बैंक
यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया विजया बैंक UCO बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबादकैनरा बैंक
पंजाब नेशनल बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ पटिआला देना बैंक सिंडिकेट बैंक

Sukanya Samriddhi Yojana में किये गए बदलाव

हम आपको योजना से जुड़े नए नियम के अनुसार किये गए 5 बदलाव के बारे में बताने जा रहे है जो की इस तरह से है:

काउंट डिफ़ॉल्ट होने के बाद भी नहीं बदलेगा ब्याज दर(interest rate):

खाता खुलवाने के बाद योजना के अनुसार हर साल खाते में 250 रुपये जमा करना जरुरी है और यदि आपने हर साल इस राशि को भी जमा नहीं किया तो आपका अकाउंट डिफ़ॉल्ट मान लिया जायेगा अगर आपने अकाउंट को दोबारा से एक्टिवेट नहीं किया होगा तो लड़की के मैच्योर होने तक आपके डिफ़ॉल्ट अकाउंट पर 2019 के नए नियम के अनुसार आपको निर्धारित 7.6% ब्याज मिलता रहेगा। जबकि पोस्ट ऑफिस के सेविंग अकाउंट में केवल 4% इंटरेस्ट दिया जाता है।

समय से पहले अकॉउंट क्लोज करने का नियम:

12 दिसंबर 2019 में बनाये गए नए नियम के हिसाब से समय से पहले खाता बंद करने का नियम इसलिए बनाया गया क्यूंकि यदि किसी बेटी की मृत्यु हो जाती है या खाताधारक किसी गंभीर बीमारी का शिकार हो गया हो तो वह इस मामले में कहते को स्वयं से आगे जारी नहीं रख पायेगा तो सरकार द्वारा बनाये गए नए रूल्स के अनुसार ऐसी स्थिति में समय से खाता बंद करना अनिवार्य होगा।

आकउंट चलाने की स्थिति:

योजना के तहत जब तक आपकी बेटी पुरे 18 साल तक की नहीं हो जाती तब तक उसे अकाउंट को अपने द्वारा ऑपरेट करने की स्वीकृति नहीं है। पहले नियम के अनुसार लड़की के 10 साल होने के पश्चात उसे अकाउंट होल्डर बना दिया जाता था लेकिन अब 18 साल तक उसके माता-पिता ही उसका अकाउंट संभालेंगे। 18 साल पूरे हो जाने पर उससे जरुरी डाक्यूमेंट्स बैंक या डाक घर में जमा करना है जिसके बाद वह स्वयं से खाता संचालित कर सकती है।

2 बेटियों से ज्यादा अकाउंट खोलना:

योजना के अंतर्गत केवल दो बेटियों का ही खाता खोला जा सकता है लेकिन अगर किसी भी परिवार में एक बेटी होने के बाद दो जुड़वाँ लड़की पैदा होती है तो इस मामले में 3 बेटियों का अकाउंट खुल सकता है। नए रूल्स के अनुसार 2 से अधिक अकाउंट खोलने के लिए आपको बच्चियों का जन्मप्रमाण पत्र और साथ में एफिडेविट भी जमा करना है।

अन्य बदलाव(other changes):

सुकन्या समृदि योजना के अनुसार बनाये गए नए नियमो में कई शर्तो को जोड़ा तथा हटाया गया है। जो पूरी तरह पता नहीं चली है। जैसे ही इनके बारे में जानकारी मिलेगी हम आपको सूचित कर देंगे।

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट दोबारा RE-OPEN कैसे करें?

सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना को बेटियों के उज्जवल भविष्य के लिए इसका आरम्भ किया है जिसके माध्यम से बेटी के माता-पिता उसके लिए अपने हिसाब से पैसे जमा कर सकते है और इसकी शुरुवात 250 रूप से 1.5 लाख रुपये तक रखी गयी है। यह बहुत जरुरी है की यदि आप सुकन्या समृद्धि योजना का खाता किसी भी पोस्ट ऑफिस में खुलवाते है तो आप को हर साल उसमे अपने हैसियत के हिसाब से धनराशि जमा करनी होगी।

यदि आप 250 रूपये की धनराशि को जमा करते है तो आपको हर साल इतनी ही राशि जमा करनी है। अगर आप किसी भी साल आपके द्वारा निर्धारित राशि जमा नहीं करते तो आपका खाता बंद कर दिया जायेगा परन्तु आप इस अकाउंट को दोबारा रि-ओपन करवा सकेंगे। दोबारा अकाउंट एक्टिवटे करने के लिए आपको पोस्ट ऑफिस या बैंक में जाना होगा जिधर भी आपका अकाउंट होगा। अब आपको रि-ओपन का फॉर्म लेकर भरना है और बची हुई राशि को पेनल्टी(जुर्माना) के साथ जमा करना होगा।

उदाहरण: जैसे की आपने 3 साल से 500 रुपये की धनराशि जमा नहीं करी, जो की आपके द्वारा बचत खाते में डालना निर्धारित की गयी थी। तो आपको 3 साल के हिसाब से 1500 रुपये के साथ साथ हर साल 50 रुपये का जुर्मना भी जमा करना होगा। यानि (3*500+150(तीन साल का जुर्माना)=1500+150=1650)रूपये एक साथ जमा करने होंगे।

IPPB(इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक) मोबाइल ऐप की शुरुवात

नागरिको को सुविधा प्रदान करने के लिए भारतीय डाक घर द्वारा इस ऐप की शुरुवात की गयी है। जिसके माध्यम से आप आसानी से अपने मोबाइल से अपने सेविंग अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकेंगे। इसका उपयोग वही कर सकते है जिनका कोर बैंकिंग(यानि जो आये दिन बैंकिंग लेनदेन की प्रक्रिया करती है और खातों और रिकॉर्ड को अपडेट करती है) सक्षम अकाउंट होगा। आपके अकाउंट का KYC (क्नोव योर कंस्यूमर फॉर्म) पहले से भरा होना चाहिए और आपके अकाउंट में इंटरनेट और मोबाइल बैंक की सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए।

आप IPPB मोबाइल ऐप के जरिये अपना लेन-देन का कार्य आसानी से कर सकते है जिसके लिए आपको डिजिटल अकाउंट खोलना पड़ेगा और मोबाइल ऐप को डाउनलोड करके अपनी लॉगिन डिटेल्स व OTP को भरकर अकाउंट खोल सकते है और 4 डिजिट का MPIN(Mobile Banking Personal Identification Number) सेट करके पैसे आसानी से ट्रांसफर कर सकते है।

IPPB मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए हमारे द्वारा दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें:

  • सबसे पहले आप IPPB ऐप डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा
  • अब आप IPPB मोबाइल APP को सर्च करना होगा।
  • सर्च करने के बाद इसे आप INSTALL करें।
  • जिसके बाद आपका ऐप SUCCESSFULLY DOWNLOAD हो जायेगा। और सभी सम्बंधित जानकारी आपके मोबाइल पर ऐप द्वारा देखने को मिलेंगी और आप आसानी से इसके माध्यम से अपनी राशि ट्रांसफर कर पाएंगे। samridhi-sukanya-yojana-ippb-mobile-app-download

सुकन्या समृद्धि योजना से सम्बंधित प्रश्न उत्तर

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत लोन राशि किस तरह से प्राप्त होगी?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत जब बालिका 18 वर्ष की हो जाएगी तब आप 50% राशि विथड्रॉल कर पाएंगे। जिसको आप बालिका की शिक्षा व शादी हेतु उपयोग कर सकते है।

योजना के तहत परिवार की कितनी बेटियों को लाभ प्राप्त होगा?

परिवार की केवल 2 बालिका ही इस योजना का लाभ पा सकती है। लेकिन बेटी की आयु 10 साल से नीचे होना अनिवार्य है।

SUKANYA समृद्धि योजना को किसके अंतर्गत आरम्भ किया गया?

सरकार द्वारा बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ के अंतर्गत इस योजना को शुरू किया गया जिसके माध्यम से देश में बेटी को भोज न समझा जाये और उनकी भ्रूण हत्या नहीं हो पाए।

योजना के अंतर्गत बचत खाता कितने रुपये की धनराशि से खुल सकता है?

आप सुकन्या समृद्धि योजना के अन्तर्गत खाता 250 रुपये से खोल सकते है। आप हर साल 250 रुपये से 1.5 लाख तक इसमें इन्वेस्ट कर सकते है। इसमें आपको 7.6% ब्याज दर प्राप्त होगा।

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत नए बदलाव कौन से है?

हमने आपको सुकन्या समृद्धि के नए नियम के अनुसार किये गए बदलाव को ऊपर आर्टिकल में विस्तार पूर्वक बता दिया है जानकारी के लिए आप आर्टिकल को पढ़े।

सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में धनराशि कैसे जमा कर सकते है?

आप धनराशि को या तो मोबाइल ऐप के जरिये या तो आप डिमांड ड्राफ्ट, या कोर बैंकिंग सिस्टम से इलेक्ट्रॉनिक मोड द्वारा जमा कर सकते है।

अगर योजना के अंतर्गत हर साल राशि जमा नहीं हुई होगी तो इससे क्या होगा?

अगर आप किसी भी साल आपके द्वारा निर्धारित राशि जमा नहीं करते तो आपका खाता बंद कर दिया जायेगा परन्तु आप इस अकाउंट को दोबारा रि-ओपन करवा सकेंगे। दोबारा अकाउंट एक्टिवटे करने के लिए आपको पोस्ट ऑफिस या बैंक में जाना होगा जिधर भी आपका अकाउंट होगा। अब आपको रि-ओपन का फॉर्म लेकर भरना है और बची हुई राशि को पेनल्टी(जुर्माना) के साथ जमा करना होगा। पेनलिटी राशि हर साल 50 रुपये निर्धारित की गयी है।

क्या एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में या बैंक से दूसरे बैंक में सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट ट्रांसफर किया जा सकता है?

जी हां, सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट ट्रांसफर किया जा सकता है। अकाउंट ट्रांसफर करने की प्रक्रिया इस प्रकार से है:
आप सबसे पहले पासबुक और KYC डाक्यूमेंट्स को लेकर बैंक या पोस्ट ऑफिस मे जाएं और जमा कर दें। अब आप अधिकारी को अपना अकाउंट ट्रांसफर करने की जानकारी दे दें। जिसके पश्चात बैंक मैनेजर या पोस्ट ऑफिस अधिकारी आपके पुराने अकाउंट को बंद कर देगा और ट्रांसफर रिक्वेस्ट लेटर आपको देगा। जिसे आपको नए बैंक या डाक घर में जमा करना है और उसके साथ साथ सभी दस्तावेजों, KYC फॉर्म को भी जमा करना होगा। जिसके बाद आपको नयी पासबुक उपलब्ध करा दी जाएगी और आपका नए बैंक या पोस्ट ऑफिस मैं नया अकाउंट खुल जायेगा।

हमने आपको सुकन्या समृद्धि योजना 2021 के बारे में अपने आर्टिकल के माध्यम से सारी जानकारी प्रदान कर दी है अगर आपको जानकारी पसंद आयी हो तो हमे बता सकते है और योजना से सम्बंधित कोई भी सवाल आपको जानने है तो आप हमे कमेंट करके पूछ सकते है।

Leave a Comment