भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन है | Rail Divisions in India 2023

वर्तमान समय में हर किसी ने रेल की यात्रा की होगी। ये हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। भारतीय अर्थव्यवस्था को संचालित करने में रेल की खास भूमिका है। दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी रेल सेवा भारत देश में है।

एक दिन में लाखों लोग एक स्थान से दूसरे स्थान जाने के लिए अधिकतम ट्रैन का उपयोग करते है। भारत देश में प्रतिदिन 12 हजार से अधिक रेल चलती है।

भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन है | Rail Divisions in India 2023
Rail Divisions in India

भारत के रेलमंत्री द्वारा रेलवे को व्यवस्थित रूप से संचालित करने के लिए रेल को अलग-अलग जोन में बांटा जाता है और आगे चलकर इस जोन को विभिन्न मंडल में विभाजित किया जाता है।

तो आइये जानते है भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन है रेलवे से जुड़ी सभी जानकारी को जानने के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन है?

भारत देश में रेलवे की शुरुआत 1853 से हुई। पुरे देश में फैली इस रेल की लम्बाई लगभग 1,23,542 किलोमीटर है। भारत में अधिकांश लोग रेल से यात्रा करते हो ऐसे में यात्रियों को किसी प्रकार की समस्या न हो उसके लिए भारतीय रेलवे को 18 जोन में बांटा गया है।

इन 18 जोन को संचालित करने के लिए 70 डिवीजन बनाये गए है। भारतीय रेलवे का परिवहन व्यवस्था में महत्वपूर्ण स्थान है। जो की यात्रियों को सस्ती और आरामदायक सुविधा प्रदान करता है।

वर्तमान में यात्रियों को सुरक्षित यात्रा करवाने के लिए रेल में कवच टेक्नोलॉजी का प्रयोग होने लग गया है। ये कवच सिस्टम दो ट्रैन को आमने-सामने आने पर कुछ दुरी से ही सिग्नल दे देती है और ट्रैन रुक जाती है। जिससे कोई दुर्घटना नहीं होती है।

भारतीय रेलवे के मुख्य 18 जोन

भारत में रेलवे को सुव्यवस्थित तरीके से संचालित करने के लिए रेलवे को 18 जोन में विभाजित किया गया है जो की इस प्रकार से है –

  1. उत्तर रेलवे
  2. उत्तर पूर्वी रेलवे या पूर्वोत्तर रेलवे
  3. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे
  4. पूर्व रेलवे
  5. दक्षिण पश्चिम रेलवे
  6. उत्तर पश्चिम रेलवे
  7. पश्चिम मध्य रेलवे
  8. दक्षिण पूर्वी रेलवे
  9. दक्षिण मध्य रेलवे
  10. दक्षिण रेलवे
  11. मध्य रेलवे
  12. पश्चिम रेलवे
  13. उत्तर मध्य रेलवे
  14. दक्षिणपूर्व मध्य रेलवे
  15. पूर्व तटीय रेलवे
  16. पूर्वमध्य रेलवे
  17. कोलकाता मेट्रो रेलवे
  18. दक्षिण तटीय रेलवे

भारत में कुल रेलवे मंडल की सूची –

क्रं सं रेलवे जोन मुख्यालय डिवीज़न
1.उत्तर दिल्ली दिल्ली, मुरादाबाद, अंबाला, लखनऊ NR, फिरोजपुर
2 पूर्व कोलकाता हावड़ा, मालदा, आसनसोल, सियालदेह
3 पूर्वोत्तर सीमांत रेलवेगुवाहाटीतिनसुकिया, अलीपुरद्वार, रंगिया, कटिहार, लामडिंग
4 मध्यमुंबईमुंबई (सीएसटी), भुसावल, नागपुर, पुणे
5 उत्तर मध्य रेलवेप्रयागराजइलाहाबाद आगरा झांसी
6 पूर्वोत्तर रेलवेगोरखपुरइज्जत नगर, लखनऊ NER, वाराणसी
7 दक्षिण पूर्व रेलवेकोलकाताआद्रा, रांची, चक्रधरपुर, खड़गपुर
8 उत्तर पश्चिम रेलवेजयपुरजोधपुर, बीकानेर, जयपुर, अजमेर
9 पश्चिम मध्य रेलवेजबलपुरकोटा, जबलपुर, भोपाल
10 दक्षिण रेलवेचेन्नईतिरुवनन्तपुरम, तिरुचिरापल्ली, सलेम, मदुरई, पलक्कड
11 दक्षिण मध्य रेलवेसिकंदराबादसिकंदराबाद, नांदेड़, हैदराबाद
12 दक्षिण पूर्व बिलासपुरनागपुर, बिलासपुर, रायपुर
13 दक्षिण तटीय रेलवेविशाखापट्टनमविशाखापट्टनम, गुंटूर, विजयवाड़ा, गुंटाकल
14 मध्य रेलवेमुंबईमुंबई, नागपुर, भुसावल, सोलापुर, पुणे
15 पूर्वी तटीय रेलवेभुवनेश्वररायगड़ा, खुरदा रोड, संबलपुर
16 पूर्व मध्य रेलवेहाजीपुरसोनपुर, दानापुर, धनबाद, मुगलसराय, समस्तीपुर
17 पश्चिम रेलवेमुंबईरतलाम, वडोदरा, मुंबई WR, भावनगर, अहमदाबाद, राजकोट
18 कोलकाता मेट्रो रेलवेकोलकाताकोलकाता

रेलवे स्टेशन व उनकी संख्या

जब कोई ट्रैन एक स्थान से चल कर किसी निश्चित स्थान पर रुकती है तो उसे रेलवे स्टेशन कहते है। उसी स्टेशन से यात्री ट्रैन में सवार होते है, कुछ लोग स्टेशन पर उतर जाते है। एक रेलवे मंडल में कई सारे रेलवे स्टेशन होते है।

वर्तमान समय में भारतीय रेलवे स्टेशन की संख्या 8- 10 हजार के बीच में है। भारतीय रेलवे ने अभी तक 1 लाख से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान किया है। जिसमे भारत का चौथा स्थान है। भारत में एक दिन में 1 करोड़ से अधिक लोग ट्रैन में यात्रा करते है।

भारतीय रेलवे से जुड़ी खास बातें

  • भारतीय रेलवे में पहले 17 जोन थे। हाल ही में 27 जुलाई 2019 को दक्षिण तटीय रेलवे मंडल भी इस जोन में शामिल हो गया। अब इनकी संख्या 18 को चुकी है।
  • सबसे पहले रेलगाड़ी 16 अप्रैल, 1853 में शुरू हुई . जो बंबई के बोरीबंदर से लेकर ठाणे के बीच चली थी।
  • भारत में सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन मथुरा में है। इसके अलावा रेलवे की सबसे अधिक लाइन उत्तरप्रदेश राज्य में है।
  • भारतीय रेलवे का मुख्यालय नई दिल्ली में है। भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रैन वंदे भारत ट्रैन है। जिसकी स्पीड 180 किलोमीटर प्रति घंटा है।
  • भारत की सबसे पहले विद्युत ट्रेन 1925 में बम्बई वी टी और कुर्ला हारवर के बीच चलाई गई। जिसका नाम डेक्कन क्वीन था।

Rail Divisions in India से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न

भारत में कुल कितने रेल मंडल, जोन और रेलवे स्टेशन है ?

भारत देश में कुल 18 जोन, 73 रेल मंडल और रेलवे स्टेशन की संख्या 8 से 10 हजार है।

वर्तमान में भारत के रेल मंत्री कौन है?

वर्तमान में भारत के रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव है।

भारतीय अर्थव्यवस्था में रेलवे की क्या भूमिका है?

भारतीय अर्थव्यवस्था में रेलवे की अहम भूमिका है। देश के इस स्थान से दूसरे स्थान की दुरी पार करने में ट्रैन उत्तम है। प्रतिदिन करोड़ो लोग इसमें आरामदायक तरीके से यात्रा करते है। अन्य परिवहन के मुताबित ये सस्ती भी है। और अभी तक भारतीय रेलवे लाखों लोगों को रोजगार का अवसर प्रदान कर चूका है।

भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन कौन-सा है?

भारत का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन हावड़ा जंक्शन है। 10 लाख से अधिक लोग इस स्टेशन से सफर करते है। इसलिए इसे व्यस्त रेलवे स्टेशन भी कहा जाता है।

Leave a Comment