पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF): योग्यता, ब्याज़ दर, पैसे निकालना और योगदान

आज हर कोई व्यक्ति बेहतर जीवन जीने के लिए बचत करने की सोचता है। अपने परिवार को सभी सुख-सुविधाएं और मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए बचत करना बेहद जरुरी है, यदि आप भी बचत करके अच्छा रिटर्न प्राप्त करना चाहते है, तो भारत देश की सबसे लोकप्रिय स्कीम पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF) में निवेश करके अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते है।

PPF एक प्रकार की सुरक्षित और आसान स्कीन है। क्योकि इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा संचालित किया जाता है। हमारे देश में ऐसे कई बचत खाते है, जिसमे कुछ सालों तक निवेश करके ब्याज प्राप्त कर सकते है। लेकिन PPF सबसे विश्वसनीय निवेश ऑप्शन है।

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF): योग्यता, ब्याज़ दर, पैसे निकालना और योगदान
Public Provident Fund (PPF) Account – Benefits

इस अकाउंट को खुलवाने के अनेक लाभ है। जैसे – ब्याज दर में वृद्धि, टैक्स फ्री, सरकारी सुरक्षा। अगर आप भी बेहतर भविष्य की कामना कर रहे है तो PPF स्कीम में निवेश कर सकते है।

यदि आपने अभी तक कोई बैंक खाता नहीं खुलवाया है तो आप Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana के अंतर्गत फ्री में बैंक खाता खोल सकते है

तो आइये जानते है पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF) क्या है? आर्टिकल से जुड़ी सभी जानकारी को प्राप्त करने के लिए हमारे लेख को अंत तक पढ़े।

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF)

भारत सरकार द्वारा देश के नागरिकों को उत्तम और सुरक्षित भविष्य प्रदान करने के लिए पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड स्कीम को जारी किया गया है।

इस स्कीम के अंतर्गत कोई भी नागरिक 15 सालों तक निवेश करके अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते है। इस स्कीम के अंदर आप 15 सालों तक थोड़ी-थोड़ी रकम जमा करके अंत में बड़ी रकम हासिल कर सकते है।

इसके लिए आप पोस्ट ऑफिस या अपने नजदीदी बैंक में जाकर PPF अकाउंट खोल सकते हैं। यदि आप यह जानना चाहते है कि पोस्ट ऑफिस में पीपीएफ अकाउंट कैसे खोलें तो उसके लिए आप दिए गए लिंक आप क्लिक करके सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF): योग्यता, ब्याज़ दर, पैसे निकालना और योगदान

यदि आप यह अकाउंट खुलवा रहे है तो इसमें आप सालाना न्यूनतम 500 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा कर सकते है। 15 साल पुरे होने के बाद 5-5 साल के लिए आप अपने खाते को आगे बढ़ा सकते है। यदि आप सालाना 1.5 लाख रुपए तक निवेश करते है तो उस पर किसी प्रकार का टैक्स नहीं लगता है। PPF की ब्याज दर 7.1 है।

Public Provident Fund (PPF) Highlights Key

लेख का नाम पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF)
संचालन केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थी देश के सभी नागरिक
लाभ कम निवेश पर अधिक ब्याज दर की सुविधा
निवेश समय सीमा 15 साल
भुगतान राशि न्यूनतम 500 और अधिकतम 1.5 लाख रुपए
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन /ऑफलाइन
ब्याज दर 7.1 फीसदी

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF) के लिए योग्यता

  • PPF अकाउंट खुलवाने के लिए नागरिक को भारतीय निवासी होना चाहिए।
  • एक व्यक्ति एक समय पर केवल एक ही पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड अकाउंट खुलवा सकता है।
  • कोई भी माता-पिता अपने बच्चे के नाम से PPF अकाउंट खोल सकते है।
  • इस स्कीम के अंतर्गत जॉइंट अकाउंट या कई अकाउंट खोलने की अनुमति नहीं है।
  • विदेशी नागरिक को पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF) खाता खोलने की अनुमति नहीं है।

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड आवश्यक दस्तावेज

पीपीएफ अकाउंट का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी के पास नीचे बताएं गए सभी दस्तावेजों का होना अनिवार्य है। जो कि इस प्रकार से है :-

  • आधार कार्ड/ वोटर आईडी/ ड्राइविंग लाइसेंस
  • पैन कार्ड
  • अकाउंट खोलने के लिए Form- A
  • नॉमिनी के लिए फॉर्म E भरना होगा
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Public Provident Fund (PPF) पर लगने वाले ब्याज दर

यदि आप अपने या अपने परिवार के किसी सदस्य के नाम से PPF अकाउंट खुलवाते है तो आपके द्वारा जमा की गई राशि पर 7.1% वार्षिक ब्याज दर प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा इस ब्याज दर पर निरंतर बदलाव किये जाते है जैसे – ब्याज की दर अभी तक 7.1% – 9% तक जा चुकी है। जो कि अन्य निवेशों की तुलना में अधिक है।

ब्याज का भुगतान 31 मार्च को किया जाता है। ब्याज दर की गणना हर महीने दिए जाने वाले भुगतान पर लगेगा। यानि आपके द्वारा दी गई राशि की गणना किसी महीने के 1 तारीख से लेकर उसी महीने के 5 तारीख में किये गए निवेश पर पुरे महीने का ब्याज दर प्राप्त होता है।

PPF अकाउंट से पैसे निकालने की प्रक्रिया

जैसा की आप जान ही चुके होंगे कि पीपीएफ अकाउंट खुलवाने के 15 साल पूर्ण होने पर भुगतान की राशि और ब्याज की राशि प्राप्त कर सकते है। यदि आप समय अवधि से पहले अपना पैसे प्राप्त करना चाहते है तो आप पांच साल के अंत में निकासी के पैसे प्राप्त कर सकते है। लेकिन आपको जमा की गई राशि का 50 % तक ही प्राप्त होगा। बाकी की राशि समय अवधि समाप्त होने पर मिलेगी।

पीपीएफ अकाउंट खोलने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी मान्यता प्राप्त बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाना होगा।
  • अब वहां के अधिकारी से पीपीएफ अकाउंट खोलने का फॉर्म -A प्राप्त कर देना है।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को सही से दर्ज कर देने के बाद मांगे गए दस्तावेजों को अटैच कर लेना है।
  • सभी दस्तावेजों की जाँच होने के बाद आपका PPF अकाउंट में खाता खुल जाएगा।

Online Public Provident Fund (PPF) अकाउंट ऐसे खोले

यदि आप नेट बैंकिंग उपयोग करते है तो घर बैठे आसानी से PPF अकाउंट खोल सकते है। आवेदन करने की प्रक्रिया इस प्रकार से है :-

  • सबसे पहले लाभार्थी का जिस बैंक में खाता है उस बैंक का नेट बैंकिंग पोर्टल ओपन कर देना है।
  • पोर्टल ओपन होने के बाद Login करके “open a ppf account” के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (PPF): योग्यता, ब्याज़ दर, पैसे निकालना और योगदान

  • अगले पेज पर आपको Self Account या Minor Account में से किसी एक विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको अपनी आवश्यक जानकारी जैसे – नॉमिनेशन, बैंक वितरण आदि सभी दर्ज करना है।
  • अब आपके स्थाई खाता संख्या (पैन) की जानकारियों को वेरीफाई किया जाएगा।
  • अब आपको उस फॉर्म में वह राशि दर्ज करनी है, जो आप PPF खाते में जमा करना चाहते है।
  • अब आपको स्टैडिंग इंस्ट्रक्शन इनेबल करने के लिए कहा जाएगा, जो बैंक को निश्चित समय पर आपके अकाउंट से राशि कटौती करने में सक्षम बनाता है।
  • अपनी पसंद का विकल्प चुनने के बाद आपके रजिस्टर नंबर पर एक OTP आयेगा जिसे आपने फॉर्म में दर्ज कर देना है
  • वेरिफिकेशन पूर्ण होने के बाद आपका पीपीएफ अकाउंट खुल जाएगा।
  • अब आपको भविष्य में रेफ़्रेन्स के लिए स्क्रीन पर अकाउंट नंबर को दर्ज कर देना है। प्रत्येक बैंक/पोस्ट ऑफिस के नियम अलग-अलग होते है।

Public Provident Fund (PPF) के लाभ

  • देश में कम आय वाले नागरिक को कम निवेश पर अधिक ब्याज प्राप्त करने के लिए PPF अकाउंट खोलना बेहतर ऑप्शन है।
  • PPF अकाउंट पुरे देश का सुरक्षित और सबसे लोकप्रिय बचत स्कीम है।
  • इस योजना के अंतर्गत आप बच्चे, बड़े और बुजुर्गो का अकाउंट खोल सकते है।
  • पीपीएफ अकाउंट का लाभ सभी लोगों तक पहुंचाने के लिए इसकी सुविधा मान्यता प्राप्त बैंक और पोस्ट ऑफिस में उपलब्ध है।
  • इस खाते के अंदर आपको 7.1% या उससे अधिक ब्याज दर प्राप्त होता है। जो की अन्य निवेश की तुलना में बहुत अधिक है।
  • इस स्कीम के तहत जमा की गई निवेश राशि पर आपको इनकम टैक्स की धारा 80c के तहत सालाना 1.5 लाख रुपए जमा करने पर टैक्स नहीं लगाया जाएगा।
  • इस खाते के अंतर्गत आपको उज्जवल भविष्य प्राप्त करने के लिए 15 सालों तक पैसे निवेश करने होंगे। भुगतान की राशि को आप हर महीने, 6 महीने या 1 साल में अपनी सुविधानुसार एक साथ पैसा जमा कर सकते है।
  • अभिभावक PPF खाते में अपने 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चे का अकाउंट खोलकर खुद को नॉमिनी बना सकते है। और बच्चे को 18 वर्ष पुरे होने के बाद वह अकाउंट उसके नाम कर सकते है।
  • इस स्कीम के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति 15 साल पुरे होने के बाद निवेश की अवधि को 5 साल के लिए आगे बढ़ा सकते है।
  • आवेदन करने वाले व्यक्ति को पीपीएफ खाता खुलवाने के बाद परिवार के किसी सदस्य को नॉमिनी के लिए चयन करना होता है। क्योकि आवेदक की मृत्यु या दुर्घटना होने पर निवेश की राशि का लाभ उन्हें प्रदान किया जाएगा।
  • PPF खाते की समय अवधि पूर्ण होने के बाद जमा की हुई राशि पर अच्छा रिटर्न मिलना है।
  • खाताधारक अपने PPF अकाउंट को किसी अन्य बैंक या पोस्ट ऑफिस में आसानी से ट्रांसफर कर सकते है।

PPF खाता खुलवाने के लिए बैंकों की सूची

देश में कई सारे ऐसे बैंक है जहां पीपीएफ अकाउंट खुलवाने की सुविधा उपलब्ध है। नीचे बताएं गए बैंकों में आप अपना खाता खोलकर अच्छा भविष्य पाने के लिए हर महीने थोड़ा-थोड़ा निवेश करके बेहतर जीवन जी सकते है। बैंकों की सूची इस प्रकार से है :-

  1. भारतीय स्टेट बैंक
  2. बैंक ऑफ इंडिया
  3. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  4. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  5. आईडीबीआई बैंक
  6. पंजाब नेशनल बैंक
  7. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  8. बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  9. देना बैंक
  10. बैंक ऑफ बड़ौदा
  11. एचडीएफसी बैंक
  12. आईसीआईसीआई बैंक
  13. ऐक्सिस बैंक
  14. कोटक महिंद्रा बैंक

पीपीएफ अकाउंट का महत्वा

  • फ्री टैक्स – इस खाते के अंतर्गत सालाना निवेश करने की राशि 1.5 लाख रुपए है, यदि कोई व्यक्ति इससे अधिक राशि का निवेश करता है तो आयकर अधिनियम की धारा 80 C के तहत 1.5 लाख रुपए निवेश करने पर किसी प्रकार का टैक्स नहीं लगेगा। लेकिन अधिक राशि जमा करने पर ब्याज नहीं मिलेगा।
  • पीपीएफ के बदले लोन – इस खाते के अंतर्गत PPF राशि के बदले लोन लेने की भी सुविधा उपलब्ध है। लोन प्राप्त करने की अवधि खाता खुलने के दिन से केवल तीन वर्ष से शुरू और छह वर्ष के अंत तक होती है। लेकिन यह लोन की राशि जमा किए हुए रुपए की राशि के 25% ही प्राप्त हो सकती है।
  • निश्चित समय अवधि – इस खाते के अंदर आरामदायक भविष्य पाने के लिए आप 15 सालों तक निवेश कर सकते है यदि आप किसी वजह से समय अवधि से पूर्व राशि को प्राप्त करना चाहते है तो उसके लिए 5 साल पुरे होने जरुरी है। इसके अलावा आप 15 साल होने के बाद और 5 साल के लिए इस खाते को आगे बढ़ा सकते है।

PPF अकाउंट में राशि जमा करने का तरीका

खाताधारक ऑनलाइन या ऑफलाइन के माध्यम से निवेश की राशि को जमा कर सकते है। जिसके लिए वह नकद, चेक, या डिमांड ड्राफ्ट की मदद से जमा कर सकते है। और यदि आप ऑनलाइन माध्यम के जमा करना चाहते है तो उसके लिए नेट बैंकिंग, यूपीआई जैसे अन्य ऑनलाइन सुविधाओं का उपयोग कर सकते है।

Public Provident Fund (PPF) से संबंधित प्रश्नोत्तर

Public Provident Fund (PPF) क्या होता है ?

यह केंद्र सरकार द्वारा जारी बेहतर भविष्य प्राप्त करने हेतु पैसे की सुरक्षित और गरंडित रिटर्न प्रदान करने वाली स्किम है। जिसके अंतर्गत कोई भी नागरिक लंबे समय के लिए पैसा निवेश करके अच्छा ब्याज प्राप्त कर सकते है।

पीपीएफ खाता खोलने पर कितनी राशि का भुगतान करना होगा ?

यदि आप पीपीएफ खाता खोलना चाहते है तो उसके अंतर्गत आप सालाना न्यूनतम 500 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए का भुगतान करना होगा।

कोई एक व्यक्ति कितने समय के लिए पीपीएफ अकाउंट खोल सकते है ?

एक व्यक्ति एक समय पर केवल 1 ही अकाउंट खोल सकता है जिसकी समय अवधि 15 साल है। यदि वह व्यक्ति चाहे तो 15 साल पुरे होने के बाद 5-5 साल के लिए खाते को एक्सटेंड भी कर सकते हैं।

Public Provident Fund (PPF) का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

इस स्कीम का मुख्य उद्देश्य देश के प्रत्येक नागरिक को उज्जवल भविष्य प्राप्त करने के लिए बचत की सुविधा उपलब्ध करके उनकी आवश्यकताओं और सपनों को पूर्ण करना। ताकि नागरिक लंबे समय के लिए थोड़ा -थोड़ा निवेश करके अच्छा ब्याज प्राप्त कर सकें।

पीपीएफ अकाउंट खुलवाने के लिए क्या-क्या लाभ है ?

ये अकाउंट निश्चित अवधि होने के साथ-साथ टैक्स फ्री भी है। जिसमें सालाना 1.5 लाख रुपए जमा करने से लेकर समय समाप्त होने के बाद मिलने वाले ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगता है। इसके अलावा खाताधारक पीपीएफ के बदले लोन की सुविधा प्राप्त कर सकते है।

Public Provident Fund (PPF) खोलने के लिए पात्रता क्या है ?

PPF अकाउंट खोलने के लिए खाताधारक को भारतीय निवासी होना चाहिए। इसके अतिरिक्त 18 वर्ष से कम आयु के नागरिक का खाता खोलने के लिए उसके माता -पिता का नाम दर्ज होगा। और खाताधारक के 18 वर्ष पूर्ण होने तक उन्हें पीपीएफ खाता संचालित करना होता है।

Leave a Comment