प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना 2022: रजिस्ट्रेशन व लॉगिन, Kisan Sampada Yojana

देश के किसानों की आय में वृद्धि करने उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा बहुत सी योजनाओं की शुरुआत की जाती है, ऐसी ही एक योजना के माध्यम से खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के आधुनिकरण को बढ़ावा देकर और खाद्य प्रसंस्करण या फसल की बर्बादी को कम करने के लिए प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना की शुरुआत केंद्र सरकार की और से की गई हैं। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों को बढ़ावा मिल सकेगा और किसानों की आय भी दोगुना हो सकेगी।

यह भी पढ़ें :- प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना
pradhanmantri-kisan-sampada-yojana

Prahanmantri Kisan Sampada Yojana 2022 के तहत योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को योजना में पंजीकरण करना होगा, इस योजना में पंजीकृत किसानों को क्या लाभ प्राप्त हो सकेगा, योजना में पंजीकरण के लिए इसकी क्या पात्रता और दस्तावेजों की आवश्यकता होगी इसकी विस्तृत जानकारी आवेदक हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

Table of Contents

जाने क्या है प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना की शुरुआत प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किसानों को लाभान्वित करने के लिए की गई है, जिसका संचालन खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा किया जाता है। इस योजना के माध्यम से खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र की वृद्धि को तेज गति प्राप्त होगी, जिससे कृषि समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य समूहों प्रसंस्करण का विकास किया जा सकेगा। इस योजना के तहत देश के किसानों की आय में वृद्धि करने व ख़ास तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने का कार्य किया जाएगा। प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना एक व्यापक पैकेज है, जिसके परिणामस्वरुप खेत के गेट से लेकर रिटेल आऊटलेट तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला के साथ आधुनिक बुनियादी ढाँचे का निर्माण हो सकेगा। इससे खाद्य वस्तुओं का प्रसंस्करण को वृद्धि मिलेगी और अधिक से अधिक खाद्य वस्तुओं की बर्बादी को रोकने में मदद मिलेगी।

Key Highlights of Prahanmantri Kisan Sampada Yojana 2022

योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना
शुरुआत की गई केंद्र सरकार द्वारा
संबंधित मंत्रालय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय (MOFPI)
साल 2022
आवेदन माध्यम ऑनलाइन प्रक्रिया
योजना के लाभार्थी देश के किसान नागरिक
उद्देश्य किसानों की आय में वृद्धि करना
योजना श्रेणी केंद्र सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइट www.mofpi.gov.in

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना 2022

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना का अनुमोदन भारत सरकार द्वारा 14 वें वित्तीय आयोग चक्र की सह सहमति के साथ वर्ष 2016 से 2020 तक की अवधि के लिए 6000 करोड़ रूपये का आवंटन किया गया था। इस योजना के विस्तार के लिए खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय द्वारा योजना को 7 फरवरी 2022 में लिए गए निर्णय के बाद योजना को मार्च 2026 तक आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया है। जिसके माध्यम से रोजगार के अवसरों को अधिक बढ़ावा दिया जा सकेगा और किसानों को उनकी उपज का बेहतर एवं उचित मूल्य मिल सकेगा। प्रधानमंत्री किसान सम्पदा योजना को आगे बढ़ाने और इसके बेहतर कार्यन्वयन के लिए केंद्र सरकार द्वारा योजना में 4600 करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है, जिससे योजना का संचालन बिना किसी समस्या के किया जा सकेगा।

PM कृषि संपदा योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री कृषि संपदा योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के आधुनिकरण व इनके माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि कर उनके जीवन स्तर में सुधार लाना है, क्योंकि आज भी देश में बहुत से कृषि उपज की बर्बादी फसल समय पर ना कटने व उनके सही दाम में विक्रेताओं द्वारा न खरीदने के कारण होती है। जिससे सबसे अधिक नुक़सान देश के किसानों को उठाना पड़ता है, ऐसे में कृषि संपदा योजना के माध्यम से कृषि समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य समूहों प्रसंस्करण का विकास करके कृषि उपज की बर्बादी को कम करने उनकी आय को दुगुनी करने और ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों को बढ़ाने का कार्य केंद्र सरकार इस योजना के माध्यम से कर रही है।

इन योजनाओं के तहत कार्यन्वित की जाएगी PMKSY

  • मेगा फ़ूड पार्क
  • कोल्ड चेन
  • खाद्य प्रसंस्करण एवं परिरक्षण क्षमताओं का सृजन/विस्तार
  • कृषि प्रसंस्करण क्लस्टर अवसंरचना
  • बैकवर्ड और फारवर्ड लिंकेजों का सृजन
  • खाद्य संरक्षा एवं गुणवत्ता आश्वासन अवसंरचना
  • मानव संसाधन एवं संस्थान

मेगा फ़ूड पार्क

मेगा फ़ूड पार्क योजना का उद्देश्य किसानों, प्रसंस्करणकर्ताओं एवं खुदरा विक्रेताओं को एक साथ लाकर कृषि उत्पादन को बाजार से जोड़ने के लिए एक तंत्र उपलब्ध करवाना है, इसके लिए मेगा फूड पार्क में संग्रहण केंद्रों, प्राथमिक प्रसंस्करण केंद्रों और उद्यमियों द्वारा खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों की स्थापना हेतु 25 से 30 पूर्ण विकसित खण्डों समेत आपूर्ति श्रृंखला अवसंरचना शामिल होती है, जिससे किसानों की आय में वृद्धि हो सकेगी, रोजगार के अवसरों को बढ़ाया जा सकेगा और अधिक से अधिक उपज की बर्बादी को कम किया जा सकेगा।

कोल्ड चेन

इस योजना के अंतर्गत एकीकृत शीत श्रृंखला एवं परिरक्षण अवसंरचना सुविधाएँ बिना किसी बाधा के खेत से लेकर उपभोक्ताओं तक पहुँचाई जाएँगी। योजना में खेत स्तर पर सभी तरह की आपूर्ति श्रृंखला जैसे प्री-कूलिंग, छंटाई, वर्गीकरण तथा वैक्सिंग सुविधा, पैकिंग सुविधा, जैविक उपज, मैरीन एवं डेयरी आदि की वित्तरण सुविधा हेतु रिफर वाहन एवं मोबाइल कूलिंग इकाइयाँ शामिल है। यह योजना कोल्ड चेन के बुनियादी ढाँचे को कृषि स्तर पर निर्माण के लिए अधिक प्रयास करती है।

खाद्य प्रसंस्करण एवं परिरक्षण क्षमताओं का सृजन/विस्तार

इस योजना का मुख्य उद्देश्य कृषि उपज की बर्बादी को अधिक से अधिक कम करने है, इसके लिए प्रसंस्करण, मूल्यवर्धन के स्तर को बढ़ाने की दृष्टि से प्रसंस्करण एवं परिरक्षिण क्षमता का सृजन और मौजूदा प्रसंस्करण इकाइयों का मोडर्नाइजेशन/विस्तार करना है। यह योजना एक तरफ प्रसंस्करण की क्षमता का विस्तार करने, प्रसंस्करण को बढ़ने और उपज की बर्बादी को कम करने के लिए जरुरी है वही दूसरी तरफ आधुनिक प्रौद्योगिकी द्वारा अंतिम उत्पाद में गुणवत्ता में सुधार लाना है। इसके साथ ही योजना में नई इकाइयों की स्थापना और मौजूदा इकाइयों का आधुनिकरण/विस्तार को भी शामिल किया गया है।

कृषि प्रसंस्करण क्लस्टर अवसंरचना

कृषि प्रसंस्करण क्लस्टर योजना के माध्यम से उत्पादन क्षेत्रों के खाद्य प्रसंस्करण के लिए आधुनिक बुनियादी ढाँचा तैयार करना है। इसके लिए कृषक समूहों को प्रसंस्करणकर्ताओं और बाजारों से जोड़ते हुए क्लस्टर दृष्टिकोण के आधार पर प्रसंस्करण इकाइयों की स्थापना के लिए उद्यमी समूहों को प्रोत्साहित करने के लिए आधुनिक अवसंरचना एवं सामान्य सुविधाओं का विकास करना है। योजना में दो घटक शामिल किए गए हैं जो सक्षम बुनियादी ढांचा और 5 प्रसंस्करण इकाइयों में कम से कम 50 करोड़ का निवेश किया गया है।

बैकवर्ड और फारवर्ड लिंकेजों का सृजन

इस योजना का मुख्य उद्देश्य सामग्री की उपलब्धता और बाजार के साथ जुड़ाव के संबंध में आपूर्ति श्रृंखला के बीच की दूरी को कम करते हुए प्रसंस्करण खाद्य उद्योग के लिए प्रभावी एवं बिना किसी बाधा के बैकवर्ड और फॉरवर्ड एकाकीकरण को उपलब्ध करवाना है। इस योजना के माध्यम से खेत के समीप प्राथमिक प्रसंस्करण केंद्रों, संग्रहण केंद्रों की स्थापना और इनयूनिक लीटिड के माध्यम से जुड़ाव के साथ आधुनिक खुदरा बिक्री केंद्रों के लिए वित्तीय सहायता दी जाती है।

खाद्य संरक्षा एवं गुणवत्ता आश्वासन अवसंरचना

इस योजना का आरम्भ खाद्य सुरक्षा एवं गुणवत्ता आश्वासन देने के लिए किया गया है, योजना के तहत खाद्य उत्पादों के लिए वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा अधिक बढ़ जाने से खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के पूरे विकास के लिए कुल गुणवत्ता प्रबंधन के बहुत से आयामों जैसे नियंत्रण, प्रणाली और आश्वासन को क्षैतिज प्रकार से कार्य करना चाहिए। इसके साथ बाजारों में बेचे जाने वाले खाद्य उत्पादों पर भी खाद्य संरक्षा नियामक द्वारा निर्धारित कठोर मानदंडों का पालन सुनिश्चित करना चाहिए।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना में आवेदन हेतु पात्रता

इस योजना में आवेदन के लिए आवेदक को इसकी निर्धारित पात्रताओं को पूरा करना आवश्यक होगा।

  • प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना में आवेदन के लिए आवेदक देश के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • आवेदक नागरिक किसान होने आवश्यक है।

योजना में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

पीएम किसान संपदा योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • ईमेल आईडी
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना में ऐसे करें आवेदन

Prahanmantri Kisan Sampada Yojana 2022 जो किसान पंजीकरण करना चाहते हैं वह यहाँ बताई गई प्रक्रिया को पढ़कर योजना में आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • इसके लिए सबसे पहले आवेदक खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें। pradhanmantri-kisan-sampada-yojana
  • अब होम पेज पर आपको आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर योजना का आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  • अब फॉर्म में माँगे गए सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को फॉर्म के साथ अपलोड कर देनी होगी।
  • अब आपको Submit के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।
  • इस तरह आपकी योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

यह भी जानें –

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना 2022 से जुड़े प्रश्न/उत्तर

Prahanmantri Kisan Sampada Yojana क्या है ?

पीएम किसान संपदा योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई योजना है, जिसके माध्यम से सरकार किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए कृषि समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य समूहों प्रसंस्करण का विकास कर रही है।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना में आवेदन के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

PMKSY में आवेदन के लिए आवेदक खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट www.mofpi.gov.in पर आवेदन कर सकते हैं।

इस योजना के माध्यम से किसानों को क्या लाभ प्राप्त होगा ?

योजना के तहत खाद्य प्रसंस्करण का विकास होने से किसानों के कृषि उपज की बर्बादी को रोका जा सकेगा, उन्हें उनकी फसल का सही दाम मिल सकेगा और ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों को बढ़ाया जा सकेगा।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना में आवेदन के लिए इसकी आवेदन प्रक्रिया क्या है ?

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना में आवेदन की प्रक्रिया ऊपर लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी गई है, जिसे पढ़कर आप योजना में आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और हमे उम्मीद है की यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी होगी, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में अपना प्रश्न पूछ सकते हैं, हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment