PMMVY प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, गर्भावस्था सहायता योजना

देश में रह रही गर्भवती महिलाओं के अच्छे स्वस्थ्य और देखभाल के लिए प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) की शुरुवात की गयी। 1 जनवरी 2017 को योजना की माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गयी है। महिला एवं बाल विकास द्वारा इसका संचालन किया जाता है। जिन महिलाओं की उम्र 19 या उससे अधिक होगी वही इसका आवेदन कर सकती है। गर्भवती सहायता योजना के तहत जो महिला पहली बार गर्भ धारण कर रही होंगी या दूध पिलाने वाली औरतो को सरकार 6000 रुपये की सहायता राशि प्रदान करेगी। योजना से मिलने वाली राशि सीधा लाभार्थी के बैंक खाते में DBT
के माध्यम से ट्रांसफर कर दी जाएगी, आपका स्वयं का बैंक अकाउंट होना बहुत जरुरी है जो की आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए। यह सहायता राशि महिलाओं को 3 क़िस्त में प्रदान की जाती है। बच्चे के जन्म के समय सरकार द्वारा पहली क़िस्त लाभार्थी के खाते में पंहुचा दी जाएगी।

PMMVY yojna online registration
PMMVY yojna

Table of Contents

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा एक्ट 2013 के तहत सभी जिलों में प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना को लागू कर दिया गया। योजना में लगभग 1.75 करोड़ से भी ज्यादा महिलाएं इसके अंतर्गत शामिल होकर लाभ प्राप्त कर चुकी है। केंद्र सरकार ने 2018 से 2020 तक इस PMMVY योजना में 5931.95 करोड़ रुपये की सहायता राशि औरतो को प्रदान की है। अगर आप भी इसका आवेदन करना चाहते है तो आप को किसी भी केंद्र के चक्कर काटने की जरुरत नहीं है आप आसानी से अपने घर बैठे ही अपने कंप्यूटर या मोबाइल द्वारा इसका ऑनलाइन आवेदन कर सकते है आवेदन करने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट pmmvy-cas.nic.in पर जाना होगा।

इस योजना के अंतर्गत महिलाओ को बच्चे के जन्म के समय और उसी के दौरान हुए नुकसान हेतू महिलाओ को सहायता राशि देती है। यदि आप भी इसका आवेदन करना चाहते है तो आप आंगनबाड़ी या हेल्थ सेंटर्स पर जाकर रजिस्ट्रेशन फॉर्म को भर सकते है या आप इसका ऑनलाइन माध्यम से भी पंजीकरण करा सकते है। बच्चे के जन्म के समय सरकार द्वारा पहली क़िस्त लाभार्थी के खाते में पंहुचा दी जाएगी। योजना से सम्बंधित जानकारी जैसे: PMMVY योजना का उद्देश्य, पात्रता, योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं, योजना का ऑफलाइन एवं PMMVY ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, महत्तवपूर्ण दस्तावेज क्या होंगे आदि जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 2022 कैसे उठाये लाभ PMSMASY

अपडेट – PMMVY प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत सर्वाधिक महिलाओं को लाभ देने के मामले में मध्य प्रदेश पहले स्थान पर रहा है। ये तीसरी बार है जब मध्य प्रदेश को अग्रणी घोषित किया गया है। राज्य में 148 प्रतिशत उपलब्धि दर्ज़ की गयी है। द्वितीय स्थान पर हिमांचल प्रदेश है 139 प्रतिशत की उपलब्धि के साथ। इस बार तीसरे स्थान पर आंध्र प्रदेश है।

गर्भावस्था सहायता योजना

योजना PMMVY प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना
के द्वारा माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी
योजना की शुरुवात 1 जनवरी 2017
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन व ऑफलाइन मोड
उद्देश्य गर्भावस्था, बच्चे के जन्म के समय, और
स्तनपान के समय ज्यादा से ज्यादा देखपाल और सेवा
सहायता राशि 6000
लाभ लेने वाले गर्भवती, स्तनपान महिला
श्रेणी केंद्र सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइट Login | Registration

PMMVY योजना का उद्देश्य

गर्भावस्था, बच्चे के जन्म के समय और स्तनपान के समय ज्यादा से ज्यादा देखपाल और सेवा को बढ़ावा देना इसका लक्ष्य है और बच्चे को कुपोषण होने से बचाना और मृत्यु दर को काम करना इस योजना का उद्देश्य बनाया गया है। जैसा की आप सब जानते है कि देश में कई ऐसे गरीब लोग है जिनके पास खाने पीने तक को पैसे नहीं होते और गर्भधारण के समय भी उनकी देखभाल नहीं हो पाती और बच्चे के जन्म के समय उन्हें सही से खाना तक नहीं मिल पाता जिसके कारण माँ और बच्चा दोनों कुपोषण का शिकार हो जाते है इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार ने इस योजना को शुरू किया जिससे महिलाओं की देखपाल और खान पान का ध्यान रखा जाएँ।

मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना: ऐसे होगा पंजीकरण

पीएम मातृत्व वंदना योजना से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएं

योजना के लाभ एवं विशेषतायें इस प्रकार से है।

  • यदि बच्चे के जन्म के समय ही उसकी मृत्यु हो जाती है तो वह इस योजना का पात्र नहीं समझे जायेंगे।
  • PMMVY योजना के अंतर्गत माँ और बच्चे दोनों का ख्याल रखने के लिए 6000 रूपये की वित्तीय राशि प्रदान की जाएगी।
  • अब आप ऑनलाइन माध्यम द्वारा योजना का आवेदन कर सकते है।
  • ऑनलाइन आवेदन करने से आपके समय और पैसे की बचत भी हो पायेगी।
  • वित्तीय राशि 3 किस्तों यानि पहली क़िस्त में 1000 रुपये, दूसरी क़िस्त में 2000 रूपए और तीसरी क़िस्त में 2000 रुपये कुल 5000 रुपये लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी।
  • योजना का लाभ पाने के लिए 3 फॉर्म जैसे: 1A, 1B, 1C भरना होगा।
  • पिछले साल मध्यप्रदेश राज्य की महिलाओं ने इस योजना का लाभ प्राप्त किया जिसमे 22.2 लाख लोगो को 942 करोड़ रुपये की सहायता राशि प्रदान की गयी।
  • योजना के अंतर्गत कानपुर जिले में 76,293 गर्भवती, स्तनपान करवाने महिलाओं को इसका लाभ दिया गया।
  • अन्य 1000 रुपये उन महिलाओ को दिए जायेंगे जिनके बच्चे अस्पताल में पैदा होते है और जो जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त कर रहे हो।
  • महिला के गर्भ धारण शुरू होने से और बच्चे के जन्म तक किस्तों में राशि दी जाएगी।

गर्भावस्था सहायता योजना आवश्यक दस्तावेज

बैंक पास बुक पोस्ट ऑफिस पास बुक पासपोर्ट साइज फोटो
वोटर ID कार्डबच्चे का जन्मप्रमाण पत्र पासपोर्ट
किसान फोटो पासबुकमोबाइल नंबर राशन कार्ड
ड्राइविंग लाइसेंस

PMMVY पात्रता

  1. लाभार्थी योजना के अंतर्गत एक ही बार पात्र समझा जायेगा।
  2. जिन महिलाओं की उम्र 19 या उससे अधिक होगी वह इसका आवेदन कर सकती है।
  3. नौकरी कर रही महिलाएं इस योजना के पात्र नहीं होंगे।
  4. आवेदक का बैंक खाता होना जरुरी है जो कि आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  5. 1 जनवरी 2017 से और उसके बाद होने वाली गर्भवती महिला इस योजना का एप्लीकेशन फॉर्म भर सकती है।
  6. यदि महिला का गर्भपात या बच्चा मृत पैदा होता है तब भी वह इस योजना का लाभ प्राप्त कर पाएंगी।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना के अंतर्गत दी जाने वाली 3 किस्ते

सरकार द्वारा महिलाओं की देखभाल के लिए दी जाने वाली किस्ते इस प्रकार से है:

1. पहली क़िस्त (INSTALLEMENT):

गर्भवती महिला को पहली क़िस्त रजिस्ट्रेशन करने के 150 दिन के अंदर दी जाती है जिसमे लाभार्थी को 1000 रुपये की सहायता राशि सरकार द्वारा दी जाती है जो की महिला के डायरेक्ट बैंक खाते में जाती है। पहली क़िस्त प्राप्त करने के लिए आपको इन दस्तावेजों की जरुरत पड़ेगी:

महिला को 1A फॉर्म भरना होगा MCP कार्ड(मदर एंड चाइल्ड प्रोटेक्शन कार्ड)
पहचान पत्र: वोटर ID कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, राशन कार्डबैंक पास बुक की कॉपी

2. दूसरी क़िस्त(INSTALLEMENT):

दूसरी क़िस्त सरकार महिला के खाते में तब ट्रांसफर करती है जब महिला का एक बार का गर्भवती टेस्ट हो गया हो और टेस्ट होने के पश्चात 180 दिन के अंदर महिला को 2000 रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। दूसरी क़िस्त प्राप्त करने के लिए आपको इनकी जरुरत होगी:

महिला को 1B फॉर्म भरना है MCP कार्ड की फोटो कॉपी

3. तीसरी क़िस्त(INSTALLEMENT):

तीसरी क़िस्त प्राप्त करने के लिए बच्चे के जन्म के पश्चात उसका पंजीकरण करवाना जरुरी है। और इसके अलावा बच्चे को 6 महीने के बाद टीके(हेपेटाईटिस B, खसरे के टीके आदि) लग जाने के बाद सरकार 2000 रुपये महिला के खाते में ट्रांसफर करती है। इसके लिए डाक्यूमेंट्स यह है:

महिला 1C फॉर्म भरें एमसीपी कार्ड
आधार कार्ड की कॉपी

सूचना:

सरकार द्वारा योजना के अंतर्गत प्रदान किये जाने वाले 6000 रुपये की धनराशि में से 1000 रुपये की राशि उन लोगो को दे दी जाएगी जिनके बच्चे हॉस्पिटल में जन्म लेते है और जननी सुरक्षा योजना के लाभ ले रहे है। सरकार द्वारा योजना के अंतर्गत महिलाओ को 5000 रुपए की सहायता राशि दी जाएगी जो की 3 किस्तों में प्रदान की जाएगी। गर्भवती महिला द्वारा सरकारी हॉस्पिटल या प्राइवेट हॉस्पिटल में बच्चे को जन्म देने पर भी वे योजना में आवेदन कर सकती है।

पीएम गर्भावस्था सहायता योजना के लिए आवेदन कैसे करें

जो भी आवेदक इस प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का आवेदन करना चाहते है वह दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • पीएम मातृत्व वंदना योजना का आवेदन करने के लिए आप सबसे पहले मिनिस्ट्री ऑफ़ वोमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • यहाँ आप के समने होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आप बैक ऑफिस लॉगिन फॉर्म के अंदर मांगी गयी जानकारी जैसे: ईमेल ID, पासवर्ड, और कैप्चा कोड को भर दें। pm-matritav-vandana-yojna-awedan-karein
  • अब आप दिए गए लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आपका आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • आपको फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक भरना है।
  • फॉर्म में सभी जानकारियाँ भरने के बाद आप फॉर्म को दोबारा पढ़ ले।
  • और इसके बाद सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।

मातृत्व वंदना योजना ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

योजना का ऑफलाइन आवेदन करने लिए आपको हेल्थ सेंटर या निजी आंगनबाड़ी केंद्र पर जाना है या आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर भी फॉर्म को जमा कर सकते है। यहाँ आपको अपना रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए 3 तरह के फॉर्म भरने होंगे लेकिन आपको ये फॉर्म योजना के दिशा निर्देश के अनुसार समय समय पर भरना है। पहले आपको फॉर्म 1A भरना है आपको फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारियों को अच्छे से भरना है और वही जमा कर देना है। इसी तरह आपको समय अनुसार दूसरा व तीसरा फॉर्म भी भर देना है। जब आपके तीनो फॉर्म भर जायेंगे तब आपको केंद्र द्वारा एक पर्ची दी जाएगी। जिसके बाद आपको आवेदन पूरी हो जाएगी और आपको इसका लाभ मिलना शुरू हो जायेगा।

मातृत्व वंदना योजना रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया (नए उपयोगकर्ता)

यदि आप नए उपयोगकर्ता है और अपने अभी तक योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकरण नहीं करवाया है तो आप हमारे द्वारा दिए गए स्टेप्स को पढ़कर खुद से पंजीकरण कर सकते है।

  1. सबसे पहले आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  2. होम पेज पर आपको बेनेफिसरी लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  3. अब आपको फॉर रजिस्ट्रेशन न्यू यूजर क्लिक हियर के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। रजिस्ट्रेशन-प्रोसेस-मातृत्व-वंदना-योजना-ऑनलाइन
  4. नए पेज पर आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।
  5. आप फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारियाँ जैसे: लाभार्थी नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल ID, पासवर्ड और कैप्चा कोड को भर दें।
  6. इसके बाद आप रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  7. अब आप मांगे गए डाक्यूमेंट्स की कॉपी इसके साथ अपलोड कर दें और सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  8. आपकी पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Beneficiary login कैसे करें

  • सबसे पहले मिनिस्ट्री ऑफ़ वोमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • होम पेज पर आपको बेनेफिसरी लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अगले पेज पर आपके सामने फॉर्म खुल जायेगा।
  • फॉर्म में आपको ईमेल ID, पासवर्ड और कैप्चा कोड को भर दें।pardhan-mantri-matritav-vandana-yojna-beneficiary-login-karein
  • अब आप लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • जिसके बाद आप बेनेफिशरी लॉगिन कर पाएंगे।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना फॉर्म डोनलोड करने की प्रक्रिया

योजना फॉर्म डोनलोड करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। होम पेज पर आपको डाउनलोड PMMVY फॉर्म पर क्लिक करना है। क्लिक करते ही फॉर्म आपके सामने खुल कर आ जायेगे। जिसे आप डाउनलोड करके प्रिंट निकाल सकते है।

form-download-पीएम-मातृत्व-वंदना-योजना

मातृ वंदना योजना फॉर्म Online

Important Download

Mantri Matritva Vandana Yojana Guidelines – Download लिंक

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है?

गर्भवती महिलाओं के अच्छे स्वस्थ्य और देखभाल के लिए प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की शुरुवात की गयी। इसके तहत जो महिला पहली बार गर्भ धारण कर रही होंगी या दूध पिलाने वाली औरतो को सरकार महिलाओं को सहायता राशि प्रदान करेगी। योजना से मिलने वाली राशि सीधा लाभार्थी के बैंक खाते में DBT के माध्यम से ट्रांसफर कर दी जाएगी।

योजना की शुरुवात किसके द्वारा और कब शुरू हुई?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की शुरुवात की गयी। 1 जनवरी 2017 को योजना की माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गयी है।

योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सहायता राशि कितनी है और किस माध्यम से यह राशि महिलाओं को दी जाएगी?

जो महिला पहली बार गर्भ धारण कर रही होंगी या दूध पिलाने वाली औरतो को सरकार 5000 रुपये की सहायता राशि प्रदान करेगी। योजना से मिलने वाली राशि सीधा लाभार्थी के बैंक खाते में DBT के माध्यम से ट्रांसफर कर दी जाएगी। यह सहायता राशि महिलाओं को 3 क़िस्त में प्रदान की जाती है

किन महिलाओं को योजना का लाभ प्राप्त होगा?

गर्भवती महिला, स्तनपान कराने वाली महिला को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा। जिसके अंतर्गत उन्हें 5000 रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।

PM मातृत्व वंदना स्कीम का आवेदन किस प्रकार से कर सकते है?

PM मातृत्व वंदना स्कीम का आवेदन दोनों ऑनलाइन व ऑफलाइन माध्यम से किया जा सकता है यदि आप ऑफलाइन माध्यम से इसका आवेदन करते है तो आप को अपने नजदीकी स्वस्थ्य केंद्र या आंगनबाड़ी में कार्यात आशा के पास जाकर आवेदन फॉर्म भरना होगा और यदि आप ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करना चाहते है तो आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर एप्लीकेशन फॉर्म भर सकते है।

पीएम मातृत्व वंदना योजना का हेल्पलाइन नंबर

पीएम मातृत्व वंदना योजना का हेल्पलाइन नंबर 7998799804, 9096210825 है आप सम्बंधित जानकारी या सवालों का जवाब जानने के लिए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपनी समस्या बता सकते है।

हमने आपको पीएम मातृत्व वंदना योजना से सम्बंधित सभी जानकारी आर्टिकल में विस्तारपूर्वक बता दी है, अगर आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है।

Leave a Comment