मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना: ऐसे होगा पंजीकरण

UP Matritva Shishu Evam Balika Yojana 2021 – उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं एवं नवजात शिशुओं के लिए एक नयी योजना का शुभारम्भ किया गया हैं। इस योजना को मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना नाम दिया गया हैं। जिसके अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को लाभ प्रदान किया जायेगा। UP Matritva Shishu Evam Balika Yojana को शुरू करने का सरकार का मुख्य उद्देश्य गर्भवती महिलाओं को प्रसव से पूर्व एवं प्रसव के बाद विश्राम करने और पौष्टिक भोजन की व्यवस्था उपलब्ध कराना हैं। अगर आप मातृत्व शिशु योजना के पात्र हैं तो इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो इसके लिए आपको पहले आवेदन फॉर्म भरना होगा। ऑनलाइन मातृत्व एवं शिशु योजना यूपी आवेदन फॉर्म कैसे भरें इसकी पूरी प्रोसेस हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताने जा रहें हैं। UP Matritav Shishu Yojana 2021 से जुडी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे लेख से अंत तक जुड़े रहिये।

मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना

प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत राज्य की उन गरीब एवं महिलाओं के लिए शुरू की गयी हैं जो गर्भवती हैं या जिनका प्रसव हुआ हैं या होने वाला हैं। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को प्रसव से पूर्व और प्रसव उपरान्त विश्राम/आराम देने के उद्देश्य से कुछ आर्थिक मदद दी जाएगी ताकि ऐसी अवस्था में माता के खान-पान का ध्यान रखा जा सकें। इस योजना के अंतर्गत श्रमिक महिलाओं या श्रमिक पुरुष की पत्नियॉं को लाभान्वित किया जायेगा। गर्भवती महिलाओं को इस योजना का लाभ उठाने के लिए योजना आवेदन फॉर्म भरना होगा। जिसकी पूरी जानकारी हम आपको अपने इस आर्टिकल में उपलब्ध कराएँगे। UP Matritav Shishu Yojana 2021 का लाभ केवल महिलाओं और नवजात शिशु के लिए दिया का रहा हैं।

UP Matritva Shishu Evam Balika Yojana 2021 Highlights

Uttar Pradesh Matritav Shishu Yojana 2021 से जुडी जरूरी सूचनाओं के बारे में जानने के लिए आप नीचे दी गयी सारणी देख सकते हैं। आइये दी गयी सारणी में जानकारी के माध्यम से जानते हैं-

आर्टिकल का नाम मातृत्व एवं शिशु योजना यूपी
योजना UP Matritav Shishu Yojana
राज्य उत्तर प्रदेश
लाभार्थी कौन होंगे महिला श्रमिक /श्रमिक की पत्नी
साल 2021
आधिकारिक वेबसाइट upbocw.in

Matritva Shishu Evam Balika Yojana के उद्देश्य

मातृत्व एवं शिशु योजना का उद्देश्य निर्माण कार्यों में लगी श्रमिक महिलाओं या श्रमिक पुरुषों की पत्नी जो कि गर्भावस्था में हैं उनको सहायता प्रदान करना हैं। इस योजना का तहत उन महिलाओं को लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से हैं जो की प्रसव के पूर्व और प्रसव के उपरान्त आराम नहीं कर पाती हैं अतः उन्हें मजबूरी के कारण प्रसव के कुछ दिन ही काम में जुटना पड़ता हैं। इस बात का ध्यान रखते हुए सरकार द्वारा माताओं को आराम देने और उनके खान पान का ध्यान रखने के उद्देश्य से आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी जा रही हैं।

मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना आवेदन के लिए पात्रता/मापदंड

यहाँ हम आपको योजना के लिए कौन आवेदन कर सकते हैं इसके बारे में बताने जा रहे हैं। आइये गए पॉइंट्स के माध्यम से दी गयी सूचना पढ़ते हैं और जानते हैं योजना आवेदन करने की पात्र क्या हैं ? देखिये-

  1. जो श्रमिक महिलाएं पंजीकृत होंगी उनको और पंजीकृत श्रमिक पुरुष की पत्नी इस योजना का आवेदन करने की पात्र होंगी।
  2. आवेदनकर्ता इस योजना के अंतर्गत केवल दो बच्चो तक ही लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  3. इस योजना का पात्र केवल उत्तर प्रदेश राज्य के नागरिक ही हो सकते हैं।
  4. आवेदनकर्ता की आयु 18 वर्ष से ऊपर होनी चाहिए।
योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले लाभ

यहाँ हम आपको सरकार द्वारा मातृत्व योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले आवश्यक लाभों के बारे में बताने जा रहें हैं। अगर आप इन विशेष लाभों के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे दी गयी सूचनाओं की लिस्ट देख सकते हैं। आइये देखते हैं-

  1. पुत्र का जन्म होने पर 20 हज़ार रूपये और पुत्री का जन्म होने पर 25 हज़ार रूपये दिए जायेंगे।
  2. श्रमिक महिला का गर्भपात होने की स्थिति में कम से कम 2 महीने का वेतन दिया जायेगा।
  3. यदि पहली और दूसरी संतान बालिका होती हैं या बालिका गोद लेने पर 25 हज़ार की सावधि जमा की सुविधा दी जाएगी।
  4. प्रसव अवस्था में कम से कम 3 महीने का वेतन चिकित्सा राशि के रूप में दिया जायेगा।
आवेदन के लिए इम्पोर्टेन्ट डाक्यूमेंट्स

यहां हम आपको उत्तर प्रदेश की मातृत्व शिशु योजना का आवेदन के लिए कुछ इम्पोर्टेन्ट डाक्यूमेंट्स के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहें हैं। इन डॉक्युमेंट्स के बारे में आप नीचे दी गयी सूची के माध्यम से जान सकते हैं। आइये देखते हैं-

  • आधारकार्ड
  • पंजीकृत श्रमिक का पहचान पत्र
  • शिशु (बालक/बालिका) का जन्म प्रमाण पत्र
  • बैंक पास बुक की छायाप्रति
  • वैधानिक गोदनामा
  • श्रमिक कार्ड
  • आंगनवाड़ी कार्यक्रमी द्वारा दी गयी पंजीकृत का प्रमाण
  • चिकित्सा अधिकारी द्वारा दिया गया प्रसव प्रमाण पत्र

ऑफलाइन आवेदन कैसे करें ?

यहाँ हम आपको UP Matritav Shishu Yojana का ऑफलाइन आवेदन करने की प्रोसेस बताने जा रहें हैं। ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया जानने के लिए आप हमारे द्वारा बताये गए स्टेप्स फॉलो कर सकते हैं। देखिये नीचे दिए गए स्टेप्स के माध्यम से-

  1. सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. आपके सामने वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जायेगा।
  3. होम पेज पर आपको मेन्यू में नया क्या हैं के विकल्प पर जाना होगा।
  4. आपके सामने कई ऑप्शन आएंगे आपको डाउनलोड पर क्लिक करना होगा।
  5. क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज आएगा।
  6. यहाँ आपको योजना कॉमन एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करना होगा।
  7. फॉर्म पीडीएफ फाइल के रूप में डाउनलोड हो जायेगा।
  8. इसके बाद आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी भरनी होंगी।
  9. सभी आवश्यक दस्तावेज फॉर्म के साथ संलग्न करें
  10. अब फॉर्म को संबंधित विभाग में जमा करा दें।
  11. इस प्रकार आपकी आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो जाती हैं।
  12. फॉर्म जमा करने के कुछ माह बाद आपको योजना का लाभ दिया जायेगा

उम्मीदवार ध्यान दें फॉर्म आप नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। यह फॉर्म पीडीएफ फाइल के रूप में डाउनलोड होगा। फॉर्म डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

मातृत्व एवं शिशु योजना आवेदन फॉर्म PDF डाउनलोड

यूपी मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

यहाँ हम आपको उत्तर प्रदेश मातृत्व एवं शिशु योजना 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन/अप्लाई करने की प्रक्रिया/प्रोसेस बताने जा रहें हैं। यूपी मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ? इससे संबंधी सूचना प्राप्त करने के लिए आप हमारे द्वारा बताये गए स्टेप्स देख सकते हैं। नीचे दिए गए स्टेप्स के माध्यम से हमने अप्लाई प्रोसेस पूर्ण विस्तार से समझाने की कोशिश की हैं। आइये देखते हैं अप्लाई प्रोसेस –

  • उम्मीदवार पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाए जैसा कि आप नीचे दी गयी पिक्चर में आसानी से देख सकते हैं। यूपी-मातृत्व-एवं-शिशु-योजना
  • इसके बाद आपके स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • आप होम पेज नीचे दिखाई गयी इमेज में आसानी से देख सकते हैं।
    मातृत्व-शिशु-योजना-यूपी
  • होम पेज पर आपको दिए गए योजना आवेदन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • अब आपको अपने जिले का चयन करना होगा और अपनी आधार संख्या दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा और आवेदन पत्र खोले के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • इसके बाद फॉर्म में पूछी गयी सभी आवश्यक सूचनाएँ भरनी होंगी।
  • फिर आपको आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने होंगे।
  • इसके बाद फॉर्म सबमिट कर देना हैं।
  • लगभग तीन माह बाद आपको लाभ राशि उपलब्ध करा दी जाएगी।

आवेदन की स्थिति कैसे जांचे/चेक करें/देखें ?

हम आपको मातृत्व योजना की आवेदन स्टेटस कैसे चेक करें इसकी प्रोसेस के बारे में बताने जा रहें हैं। इसकी प्रोसेस हमने नीचे दिए गए कुछ स्टेप्स के माध्यम से बताने का प्रयास किया है। आइये जानते हैं –

  1. आवेदन की स्थिति चेक करने के लिए सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज ओपन होगा।
  3. जिसके बाद आपको मेन्यू में योजनाएं के ऑप्शन पर जाना होगा।
  4. आपके सामने तीन ऑप्शन आ आजएंगे। आपको आवेदन की स्थिति पर क्लिक करना होगा।
  5. क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन स्थिति देखने का फॉर्म खुल जायेगा। up-matratva-shishu-yojana
  6. फॉर्म में आवेदन संख्या और पंजीयन संख्या दर्ज करें और सबमिट पर क्लिक कर दें।
  7. आपके सामने आपके आवेदन की स्थिति का सम्पूर्ण विवरण आ जायेगा।
  8. इस प्रकार आपकी यह प्रोसेस पूरी हो जाएगी।

उयूपी मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना 2021 सम्बन्धित प्रश्न उत्तर

योजना का आवेदन कौन कर सकते हैं ?

केवल गर्भवती महिलाएं ही इस योजना का आवेदन कर सकते हैं।

क्या केवल उत्तर प्रदेश राज्य के पात्र नागरिक ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं ?

जी हाँ, केवल उत्तर प्रदेश राज्य के पात्र नागरिक ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

इस योजना का आवेदन करने के लिए कौन से डाक्यूमेंट्स चाहिए होंगे ?

मातृत्व एवं शिशु योजना का आवेदन करने के लिए आपको इन डाक्यूमेंट्स/दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जैसे-आधारकार्ड, पंजीकृत श्रमिक का पहचान पत्र, शिशु (बालक/बालिका) का जन्म प्रमाण पत्र, बैंक पास बुक की छायाप्रति, आंगनवाड़ी कार्यक्रमी द्वारा दी गयी पंजीकृत का प्रमाण, चिकित्सा अधिकारी द्वारा दिया गया प्रसव प्रमाण पत्र, आदि

यह योजना किसके द्वारा और क्यों शुरू की गयी हैं ?

इस योजना का शुभारम्भ गर्भवती महिलाओं को प्रसव से पहले और प्रसव के बाद आराम देने और उनके खान पान के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिया किया गया हैं। ताकि महिलाओं को प्रसव के बाद आराम मिल सकें।

नवजात बालिका शिशु का जन्म होने पर योजना के अंतर्गत कितनी रुपए की सहायता दी जाएगी ?

बालिका का जन्म होने पर योजना के अंतर्गत 25 हज़ार रुपए सहायता के रूप में दिए जायेंगे।

योजना का आवेदन किस आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर कर सकते हैं ?

आवेदन करने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट upbocw.in पर जाना होगा।

मातृत्व एवं शिशु योजना यूपी से जुडी सूचनाएँ प्राप्त करने के लिए किस हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क करें ?

यूपी मातृत्व एवं शिशु योजना से जुडी जानकारी के लिए आप दिए गए 1800 180 5415 इस हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं।

पुत्र शिशु का जन्म होने पर योजना के अंतर्गत कितनी धनराशि सहायता के लिए दी जाती हैं ?

योजना के अंतर्गत पुत्र का जन्म होने पर 20 हज़ार रुपए सहायता के रूप में दिए जायेंगे।

हेल्पलाइन नंबर

अपने इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको उत्तर प्रदेश मातृत्व एवं शिशु योजना से संबंधित सभी आवश्यक सूचनाएं देने का प्रयास किया हैं। अगर आप इस योजना से जुडी अन्य सूचना प्राप्त करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते हैं। हमारे द्वारा आपके प्रश्न का अवश्य दिया जायेगा। यूपी मातृत्व एवं शिशु योजना से जुडी जानकारी प्राप्त करने के लिए हेल्पलाइन नंबर 1800 180 5415 पर सम्पर्क कर सकते हैं। आशा करते हैं आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से सहायता मिलेगी।

2 thoughts on “मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना: ऐसे होगा पंजीकरण”

Leave a Comment