प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन फॉर्म, PM Fasal Bima Yojana (PMFBY) Online Apply

देश के किसान के हित के लिए तथा उनकी आय जल्द से जल्द दोगुनी करने के लिए मोदी सरकार तरह तरह की योजना किसानों के लिए जारी किया जा रही है जिससे उन्हें सुविधा मिल सके क्यूंकि किसान केवल अपनी खेती पर ही निर्भर होता है खेती ही उसकी आय का जरिया है जिसके माध्यम से वह अपने परिवार का भरण पोषण करता है। किसान भाइयों को और अधिक लाभ पहुंचाने के लिए माननीय मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 18 फरवरी 2016 को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुवात की जिसके तहत किसानों को 2 लाख तक का बीमा कवर दिया जायेगा। भारतीय बीमा कंपनी द्वारा इसे संचालित किया जाता है। यह वन नेशन-वन स्कीम है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

इस योजना को शुरू करने के लिए सरकार ने 2021-22 हेतू 16000 करोड़ रुपये का बजट देने का एलान किया है। किसान भाइयों को अपनी फसलों का कुछ परसेंट भुगतान इंशोरेंस कंपनी को देना है जिसमे उन्हें खरीफ फसल का 2% और रबी फसल का 1.5% देना होगा। कृषि बीमा स्कीम (National agriculture insurance scheme) एवं संशोधित राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (Modified national agriculture insurance scheme) को हटाकर इस योजना को शुरू किया गया है। यदि आप भी इसका लाभ प्राप्त करना चाहते है तो इसके लिए आपको पंजीकरण करवाना होगा। आवेदन करने के लिए आप आधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in पर जाएं।

कई बार ऐसा होता है कि किसान की फसलें किसी कारण बर्बाद हो जाती है या प्रकृतिक आपदाओं से नष्ट हो जाती है जिसके कारण उसे बहुत नुकसान होता है और वह आर्थिक और मानसिक रूप से बीमार हो जाता है जिससे वह आत्महत्या कर लेता है इसी समस्या को देखकर मोदी सरकार ने इसे शुरू किया। योजना से सम्बंधित जानकारी जैसे: योजना का उद्देश्य, योजना से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएं, पीएम फसल बीमा योजना का ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, पात्रता क्या होगी, आवश्यक दस्तावेज क्या क्या है, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की लाभार्थी लिस्ट कैसे चेक करें आदि जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

Table of Contents

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से यदि किसान भाइयों की फसल किसी भी प्रकार से प्राकृतिक(नेचुरल) आपदा से ख़राब होती है तो उन्हें कृषि बीमा कंपनी इंशोरेंस देगी। प्राकृतिक आपदा यानि यदि खेत में सूखा पड़ गया हो, ओले बर्फ बारी होने के कारण या बाढ़, तूफ़ान आंधी के कारण फसल ख़राब हुई तभी इसका लाभ किसानों को मिलेगा। जिसमे उन्हें अपनी फसलों का कुछ परसेंट भुगतान बीमा कंपनी को जमा करना होगा। योजना के तहत कुल 52 लाख किसान भाइयो को क्लेम राशि दी गयी है। योजना का आवेदन आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यम से करवा सकते है

योजना नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
लाभ लेने वाले देश के किसान
के द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी
योजना की शुरुवात 18 फरवरी 2016
विभाग मिनिस्ट्री ऑफ़ एग्रीकल्चर एंड फार्मर्स वेलफेयर
साल 2022
श्रेणी केंद्र सरकारी योजनाएं
उद्देश्य किसानो को साहयता राशि देना
बीमा राशि 2 लाख रूपए
आधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2022 क्या है ?

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Objective

देश के कई ऐसे किसान है जिन्हे इन योजनाओं की जानकारी तक नहीं मिल पाती और वह इन योजना का लाभ नहीं उठा पाते इसका यही उद्देश्य है की किसानो को इनके बारे में जानकारी देना ताकि उन्हें सुविधाओं का लाभ मिल सके और इसके अलावा मोदी सरकार का यह लक्ष्य भी है की वह किसानों की आय को दोगुना कर सके और उन्हें खेती करने के लिए और अधिक प्रोत्साहन और बढ़ावा मिल सके जिससे कि वह अपना जीवन अच्छे से बिता सके। pm-fasal-beema-scheme

PM फसल बीमा योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं

योजना की लाभ एवं विशेषताएं इस प्रकार से है:

  • योजन के तहत प्राकृतिक आपदा जैसे तेज बर्फ-बारी, बाढ़, आंधी, तेज तूफ़ान एवं बारिश आदि से फसल बर्बाद होने पर किसानों को बीमा राशि दी जाती है।
  • किसान भाइयों को अपनी फसलों का कुछ परसेंट भुगतान इंशोरेंस कंपनी को देना है जिसमे उन्हें खरीफ फसल का 2% और रबी फसल का 1.5% देना होगा ताकि भविष्य में उनकी फसल प्राकृतिक आपदा से बर्बाद हुई तो उन्हें 2,00,000 तक का बीमा मिल सके।
  • भारतीय बीमा कंपनी प्रधानमंत्री फसल बीएम योजना का संचालन करती है।
  • यदि किसान की फसल बर्बाद हो जाती है तो 15 दिन के अंदर किसान के खाते में क्लेम राशि पहुँच जाती है।
  • योजना का आवेदन ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों माध्यम से किया जा सकता है।
  • ऑनलाइन आवेदन करने पर किसानों के समय और पैसे दोनों की बचत होगी।
  • हर साल 5.5 लाख से अधिक किसान योजना का आवेदन करते है। अगर किसान की फसल को किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो उन्हें 72 घंटे के अंदर किसान हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करवानी होगी।
  • अगर फसल किसी व्यक्ति ने नष्ट या बर्बाद की हो तो वह इसका लाभ नहीं ले पायेगा।
  • योजना के अंतर्गत किसानों को 2 लाख तक का बीमा कवर दिया जायेगा
  • योजना के तहत खेत में बुवाई से कटाई तक का के काम का टाइम निर्धारित किया है
  • PMFBY के अंतर्गत 90000 हजार करोड़ तक का क्लेम राशि किसानों को दी जा चुकी है।

पीएम फसल बीमा योजना हेतु पात्रता

  • फसल बीमा का लाभ देश में रह रहे सभी किसान ले पाएंगे।
  • किसान अपनी खेती के साथ साथ किराये में ली गयी खेती का इंशोरेंस भी करवा सकते है।
  • जो भी किसान किसी नया बीमा के लाभार्थी नहीं होंगे वही इसके पात्र समझे जायेंगे।
  • किसी मनुष्य द्वारा फसल बर्बाद की गयी तो वह बीमा कवर राशि लेने के पात्र नहीं समझे जायेंगे।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

अगर आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो इसके लिए आपको दस्तावेजों का पता होना बहुत जरुरी है। आवश्यक दस्तावेज इस प्रकार से है:

आधार कार्ड वोटर id कार्ड ड्राइविंग कार्ड
किसान ID कार्ड पासपोर्ट साइज फोटो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
बैंक अकाउंट नंबर व IFSC कोड बैंक पासबुक खेती के कागजाद
जमींदार की खेती के कागज(यदि खेती किराये में ली हो)खसरा, खतौनी नंबर खेत पर बुवाई करने की तारीख का प्रमाण पत्र
सहमति पत्र राशन कार्ड

PMFBY तहत 52 लाख किसानों को मिली बीमा क्लेम राशि

योजना के अंतर्गत हर साल 5.5 करोड़ किसान अपना रजिस्ट्रेशन करवाते है। साल 2018-19 में 52,41,268 लाख रूपए किसानो को उनकी प्राकृतिक रूप से फसल बर्बाद होने पर दी गयी। यह क्लेम राशि किसानो को डायरेक्ट DBT के माध्यम से लाभार्थियों के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिया जाता है। आप भी इस योजना का लाभ उठा सकते है और यदि आपकी फसल बर्बाद होती है तो आप भी इसका क्लेम कर सकते है।

पीएम फसल बीमा योजना साल 2021-22 बजट

किसानों को भारी नुकसान से बचाने के लिए सरकार ने पीएम सफल बीमा योजना को शुरू किया जिसके चलते फसलों की बर्बादी पर किसानों को बीमा कवरेज प्रदान किया जायेगा इसके अंतर्गत साल 2021-22 के लिए सरकार ने 16000 करोड़ रूपये का बजट देने का एलान किया है। इसमें किसान के खेत में बुवाई से लेकर कटाई तक के समय का बीमा कवर किया जायेगा। यदि कुछ भी प्राकृतिक नुकसान होता है तो बीमा कंपनी द्वारा इसकी भरपाई की जाएगी। जिससे किसानों को किसी भी परेशानियों का सामना ना करना पड़े और वह परिवार की देख रेख अच्छे से कर पाए। योजना में 84% तो सीमान्त (छोटे) किसान आवेदन करते है।

सूचना:

बता देते है की किसानो को खेतो में फसल बुवाई करने के पश्चात 10 दिन होने के बाद आवेदन करना है। इस योजना का लाभ पाने के लिए किसानो के खाते से निर्देशानुसार बीमा किश्त राशि काटी जाएगी।

दिसंबर महीने में यह योजना से सम्बंधित कुछ नई अपडेट आयी जिसमे प्राकृतिक आपदाओं पर किसानो के लिए बीमा कवरेज दिया जाता था इसके साथ साथ वाइल्ड लाइफ डैमेज यानि जंगली जानवरो द्वारा फसलों को बर्बाद करने पर भी किसानों को बीमा कवर दिया जायेगा। अगर जो किसान वाइल्डलाइफ कवर का लाभ लेना चाहते है तो उन्हें इसके लिए भी बीमा किश्त देनी होगी ताकि भविष्य में अगर जंगली जानवर उनकी फसलें ख़राब करते है तो उन्हें सहायता राशि दी जाएगी।

पीएम फसल बीमा में किसानो द्वारा दी जाने वाली प्रीमियम राशि(बीमा किश्त)

1. रबी फसल : 1.5% (किसान द्वारा दी जाने वाली बीमा किश्त)
2. खरीफ फसल : 2.0% (किसान द्वारा दी जाने वाली बीमा किश्त)
3. वाणिज्यिक फसल(गन्ना, तम्बाकू) : 5% (बीमा किश्त)
4. बागवानी फसल : 5% (बीमा किश्त)

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन ऐसे करें

यदि आप भी योजना का आवेदन करना चाहते है और इसका लाभ प्राप्त करना चाहते है तो दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  1. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  2. यहाँ आपको इस तरह का होम पेज दिखाई देगा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
  3. होम पेज पर आप दिए गए विकल्पों में से फार्मर कार्नर के ऑप्शन पर क्लिक कर दें। panjikaran karein fasal beema yojna
  4. इसके बाद आप गेस्ट फार्मर के ऑप्शन पर क्लिक करें। अगर अपने पहले से पंजीकरण करा लिया तो आप लॉगिन फॉर फार्मर के ऑप्शन पर क्लिक कर सकते है।

    पीएम फसल बीमा पंजीकरण करने की प्रक्रिया
  5. अब आप अगले पेज पर रजिस्टर ऑफ़ न्यू फार्मर यूजर फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे: अपना नाम, पिता-पति का नाम, आयु, लिंग, फार्मर टाइप, मोबाइल नंबर, जिला, स्टेट पता, पिनकोड, बैंक डिटेल्स और कैप्चा कोड आदि को भर दें। online-awedan-fasal-beema-scheme
  6. सभी जानकारी भरने के बाद आप क्रिएट यूजर के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  7. जिसके बाद आपकी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरी हो जाएगी।

SIGN IN करने की प्रक्रिया

  1. आवेदक को सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  2. होम पेज पर आप SIGN IN के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।login karein fasal beema yojna online
  3. अगले पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर, पासवर्ड और कैप्चा कोड को भर देना है। फसल बीमा योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरें
  4. अब आप लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  5. क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  6. आपको फॉर्म में पूछी सभी जानकारी जैसे: अपना नाम, माता-पिता का नाम, लिंग आदि सभी जानकारियों को भर देना है।
  7. अब आप इसमें मांगे गए सभी डाक्यूमेंट्स को उपलोड या स्कैन कर दें और फॉर्म को एक बार दोबारा चेक कर ले यदि कोई गलती हो तो उसे सुधार लें।
  8. इसके बाद आप सबमिट बटन पर क्लिक क्लिक कर दें जिसके बाद आपको आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

PMFBY का ऑफलाइन आवेदन ऐसे करें?

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले इंशोरेंस कंपनी के पास जाना पड़ेगा। यहाँ आपको PMFBY का आवेदन फॉर्म लेना होगा। अब आपको फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारियों को सही से भरना होगा। आप आपको फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों की फोटोकॉपी अटैच करने होगी। फॉर्म को अच्छे से भरने के बाद एक बार दोबारा पढ़ ले। अब आप इसे कृषि विभाग में जमा करवा दें। फॉर्म जमा करने के बाद हर महीने आपकी बीमा की किश्त आपके खाते से काट ली जाएगी। अब आपको रेफ़्रेन्स नंबर दिया जायेगा जिसके बाद आप इसकी आवेदन स्थिति देख पाएंगे।

CHECK APPLICATION FORM STATUS (पीएम फसल बीमा योजना आवेदन स्थिति जाने)

यदि आप आवेदन फॉर्म का स्टेटस जानना चाहते है तो आपको दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना है।

  • आपको सबसे पहले प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको एप्लीकेशन स्टेटस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
    आवेदन-स्थिति-जाने-pm-fasal-beema-scheme
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुल कर आ जायेगा।
  • अगले पेज पर आपको रिसीप्ट नंबर और कैप्चा कोड भरना होगा। प्रधानमंत्री-फसल-बीमा-योजना-चेक-एप्लीकेशन-स्टेटस
  • अब आप चेक स्टेटस के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद एप्लीकेशन फॉर्म की स्थिति आपके सामने स्क्रीन पर आप देख सकेंगे।

PM फसल बीमा योजना मोबाइल एप्प डाउनलोड ऐसे करें

मोबाइल एप्प के जरिये आप योजना से जुडी सभी प्रकार की जानकारी अपने मोबाइल में आसानी से देख पाएंगे और इसके जरिये आप स्वयं से रजिस्ट्रेशन भी कर सकेंगे। मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए स्टेप्स को पढ़े।

PM फसल बीमा योजना मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए आपको सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर पर जाना है। यहाँ आपको सर्च के ऑप्शन पर जाकर पीएम फसल बीमा एप्प लिखना होगा और सर्च पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद आपके सामने स्क्रीन पर एप्प आपको दिखाई देगा इसे आपको इनस्टॉल करना होगा। Install बटन पर क्लिक करते ही मोबाइल एप्प आपके मोबाइल पर successfully download हो जायेगा। जिसके बाद आप इसे ओपन कर सकते है और अपना रजिस्ट्रेशन करके योजना की पूरी जानकारी मोबाइल में ही प्राप्त कर सकते है।

pm-fasal-beema-mobile-app-download

PMFBY लाभार्थी सूचि देखने की प्रक्रिया

अगर आपने भी योजना का आवेदन किया था और आप भी अपना नाम सूची में देखना चाहते है तो सरकार ने लाभार्थी लिस्ट ऑफिसियल वेबसाइट पर जारी कर दी है। आप दोनों ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया से अपना नाम देख सकते है। अपना नाम देखने के लिए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • आवेदक को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको बेनेफिशरी फार्मर लिस्ट के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुलेगा, यहाँ आपको अपना राज्य, जिला, ब्लॉक को सेलेक्ट करना है।
  • अब आप सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करने के पश्चात आपके समाने लाभार्थी के नाम की लिस्ट स्क्रीन पर आपको दिखाई देगी।

आप बैंक द्वारा भी ऑफलाइन मोड से अपना नाम लाभार्थी लिस्ट में देख सकते है इसके लिए आपको बैंक अधिकारी को अपना एप्लीकेशन नंबर/ रेफरन्स नंबर देना होगा। इसके बाद बैंक अधिकारी आपको यह बता देंगे कि आपका नाम लिस्ट में है या नहीं।

PMFBY के तहत इन्शुरन्स प्रीमियम कैलकुलेट कैसे करें?

  • आपको सबसे पहले प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना कीऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको इंशोरेंस कैलकुलेटर के ऑप्शन पर क्लिक करना है।बीमा-किश्त-राशि-जाने-pmfby
  • .क्लिक करते ही आपके समाने नए पेज पर फॉर्म खुल जायेगा जिसमे आपको पूछी गयी जानकारी जैसे: सीजन, साल, स्कीम, राज्य, जिला, फसल को सेलेक्ट करना है। pardhan-mantri-fasal-beema-premium-calculate-karein
  • इसके बाद आपको कैलकुलेट के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

PROCESS TOO REGISTER GRIEVANCE(शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया)

आवेदक आसानी से योजना से सम्बंधित अपनी कोई भी शिकायत ऑनलाइन दर्ज करवा सकते है। शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया इस प्रकार से है:

  1. आप सबसे पहले PMFBY की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएँ।
  2. होम पेज पर आपको टेक्निकल ग्रीवांस के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना है। शिकायत-दर्ज-कैसे-करें-पीएम-फसल-बीमा-योजना
  3. क्लिक करते ही आपके सामने शिकायत दर्ज करने हेतू फॉर्म खुल जायेगा।
  4. फॉर्म में आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल ID, पर कमैंट्स भरके कैप्चा कोड को भर देना है। pm-fasal-beema-scheme-complaint-darj-karein
  5. अब आप सबमिट बटन के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  6. जिसके बाद आपकी शिकायत दर्ज हो जाएगी।

check fasal beema state wise report(फसल बीमा रिपोर्ट देखें स्टेट वाइज)

फसल बीमा रिपोर्ट देखने के लिए दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • आपको सबसे पहले प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको रिपोर्ट के ऑप्शन पर क्लिक करना है।state-wise-report-dekhe-fasal-beema-scheme
  • यहाँ आपको अब स्टेट वाइज फार्मर डिटेल्स पर क्लिक करना होगा। किसान डिटेल्स फसल बीमा योजना
  • क्लिक करते ही अगले पेज पर डिटेल्स खुल जाएगी, आपको जिस साल की डिटेल्स देखनी होगी उसे क्लिक करके डाउनलोड कर सकते है।

डैशबोर्ड ऐसे देखें?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का डैशबोर्ड देखने के लिए आपको सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है।यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। होम पेज पर आपको डैशबोर्ड के ऑप्शन पर क्लिक करना है। इसके बाद आप PMFBY पोर्टल डाटा डैशबोर्ड पर क्लिक कर दें। क्लिक करते ही योजना का डैशबोर्ड आपके सामने स्क्रीन पर दिखाई देगा।

dashboard dekhe pm fasal beema yojna

हेल्पलाइन नंबर

अगर आपको योजना से सम्बंधित कोई भी शिकायत है या किसी भी प्रकार की जानकारी जाननी है तो आप दिए गए नंबर पर कॉल करके अपनी समस्या बता सकते है।

हेल्पलाइन नंबर 01123382012
कांटेक्ट हेल्पलाइन नंबर 01123381092
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है?

यदि किसान भाइयों की फसल किसी भी प्रकार से प्राकृतिक(नेचुरल) आपदा से ख़राब होती है तो उन्हें कृषि बीमा कंपनी इंशोरेंस देगी। प्राकृतिक आपदा यानि यदि खेत में सूखा पड़ गया हो, ओले बर्फ बारी होने के कारण या बाढ़, तूफ़ान आंधी के कारण फसल ख़राब हुई तभी इसका लाभ किसानों को मिलेगा।

योजना की शुरुवात कब और किसके द्वारा की गयी?

18 फरवरी 2016 को माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा फसल बीमा योजना की शुरुवात की गयी।

योजना का उद्देश्य क्या है?

योजना का उद्देश्य यह है कि किसानो को योजना के बारे में जानकारी देना ताकि उन्हें सुविधाओं का लाभ मिले। इसके अलावा किसानों की आय को दोगुना करना और उन्हें खेती करने के लिए और अधिक प्रोत्साहन और बढ़ावा देना।

योजना के अंतर्गत मिलने वाली बीमा राशि क्या होगी?

योजना के अंतर्गत किसानों को 2 लाख तक का बीमा कवर दिया जायेगा। यह राशि तभी किसान को मिलेगी यदि उसकी फसल प्राकृतिक आपदा के कारण या जंगली जानवर के कारण नष्ट हुई होगी अगर किसी व्यक्ति द्वारा फसल को बर्बाद किया गया हो तो उसे वह क्लेम नहीं कर सकता।

किसानों को कितने प्रतिशत बीमा किश्त का भुगतान करना होगा?

किसानों को अपनी फसलों का कुछ परसेंट भुगतान इंशोरेंस कंपनी को देना है जिसमे उन्हें खरीफ फसल का 2% और रबी फसल का 1.5% देना होगा ताकि भविष्य में उनकी फसल प्राकृतिक आपदा से बर्बाद हुई तो उन्हें बीमा सहायता राशि मिल सके।

क्या PMFBY का आवेदन देश का कोई भी किसान कर सकता है?

जी हाँ, देश का कोई भी किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का आवेदन कर सकता है। अगर आप भी योजना का आवेदन करना चाहते है तो हमारे द्वारा लिखे आर्टिकल को पढ़े।

योजना हेतू आवश्यक दस्तावेज क्या होंगे?

हमने अपने आर्टिकल में ऊपर आवश्यक दस्तावेज के बारे में विस्तारपूर्वक बता दिया है, दस्तावेज जानने के लिए आप आर्टिकल को पढ़े।

पीएम फसल बीमा योजना की आवेदन प्रक्रिया क्या है?

आप योजना का आवेदन फॉर्म दोनों ऑफलाइन व ऑनलाइन माध्यम से भर सकते है यदि आप ऑनलाइन माध्यम द्वारा फॉर्म भरेंगे तो इसके लिए आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन फॉर्म को भरना है और यदि आप ऑफलाइन माध्यम द्वारा फॉर्म भरते है तो इसके लिए आपको कृषि विभाग में जाकर आवेदन फॉर्म लेना होगा और भरकर वही जमा करवा देना होगा।

प्राकृतिक आपदा के कारण हुई बर्बाद फसल की रिपोर्ट किसान को कब तक देनी होगी?

प्राकृतिक आपदा के कारण यदि किसान की फसल को किसी भी प्रकार का नुकसान होता है तो उन्हें 72 घंटे के अंदर किसान हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करवानी होगी।

किसान योजना का आवेदन कब कर सकता है?

किसान योजना का आवेदन खेती में बुवाई करने के 10 दिन बाद योजना के लिए आवेदन फॉर्म भर सकता है।

फसल बर्बाद होने पर कितने दिन के अंदर बीमा राशि किसान को मिल जाती है?

यदि किसान की फसल बर्बाद हो जाती है तो 15 दिन के अंदर किसान के खाते में क्लेम राशि पहुँच जाती है। इसके लिए उन्हें फसल बर्बाद होने की रिपोर्ट कृषि विभाग को देनी होती है।

हमने अपने आर्टिकल में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से सम्बंधित सभी बाते आपको हिंदी में बता दी है यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है।

Leave a Comment