(CG) मत्स्य विकास पुरस्कार योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन लाभ व पात्रता | फॉर्म Pdf

(CG) मत्स्य विकास पुरस्कार योजना 2022– केंद्र या राज्य सरकार द्वारा अपने यहां के किसानों को विभिन्न योजना से लाभ पहुंचाया जाता है। किसानों के लिए चलायी जाने वाली सभी योजनाओं में से एक योजना छत्तीसगढ़ राज्य द्वारा चलायी जा रही है जिसका नाम मत्स्य विकास पुरस्कार योजना है। Matsya Vikash Puraskar Yojana से छत्तीसगढ़ के उन सभी मछली पालकों की आय में वृद्धि होगी जो इस क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं और इस कार्य के लिए ऐसे सभी किसानों को पुरस्कृत भी किया जायेगा।

यह भी देखें :- छत्तीसगढ़ एम्प्लोयी सैलरी स्लिप ऐसे निकालें

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना
cg matashya vikas puruskaar yojana

आज के इस लेख में हम आपको छत्तीसगढ़ राज्य की चलायी जाने वाली मत्स्य विकास पुरस्कार योजना के बारे में बताएँगे साथ ही साथ Matsya Vikash Puraskar Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? ,योजना के लिए पात्रता और इस योजना का लाभ क्या होगा सभी के बारे में आप जान सकेंगे। तो चलिए जानते हैं CG मत्स्य विकास पुरस्कार योजना के बारे में विस्तार से।

क्या है मत्स्य विकास पुरस्कार योजना?

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना के माध्यम से राज्य में मत्स्य (मछली) पालन के क्षेत्र में अच्छा काम करने वाले किसानों,समूह ,संगठन,संस्था को छत्तीसग़ढ राज्य सरकार द्वारा इनके उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया जायेगा। ऐसे सभी किसान या संस्था जो मछली पालन में अच्छा कार्य कर रहे हैं या इस क्षेत्र में कुछ नया कर रहे हैं उन्हें प्रतिवर्ष 1 लाख रुपए तक की पुरस्कार राशि दी जाएगी और यह पुरस्कार राशि हार साल ऐसे सभी किसानों ,संस्था ,संगठन को श्रीमती बिलासाबाई केंवटीन मत्स्य विकास पुरस्कार योजना के अंतर्गत दी जाएगी।

नोट – इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को आवेदन फॉर्म को भरना होगा और जरुरी पात्रता को भी पूरा करना होगा। पात्र कृषक भाई या मछुआरे इस योजना में आवेदन 31 अगस्त 2022 तक आवेदन कर सकते हैं।

Key Points Of Matsya Vikash Puraskar Yojana 2022

योजना का नाम मत्स्य विकास पुरस्कार योजना 2022
सम्बंधित राज्य छत्तीसग़ढ
छत्तीसग़ढ कृषि मंत्री रविंद्र चौबे
योजना से सम्बन्धित विभाग कृषि (मछली पालन) विभाग ,छत्तीसग़ढ
योजना के लिए पोर्टल एग्रीपोर्टल
लाभार्थी राज्य के सभी मछली पालक किसान ,संस्था ,संगठन
योजन का उद्देश्य राज्य के मछली पलकों और गरीब किसानों की आर्थिक सहायता करना और उन्हें पुरस्कृत करना
योजना के अंतर्गत मिलने वाली धनराशि 1 लाख रुपए
योजना का लाभ ले सकेंगे राज्य के किसान,संस्था ,मछली पालक (मछुआरे)
योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन और ऑफलाइन
साल 2022
ऑफिसियल वेबसाइट agriportal.cg.nic.in

CG Matsya Vikas Puraskar Yojana Eligibility (पात्रता मापदंड)

राज्य के सभी मछुआरे (मछली पालक ) macchli Vikas Puraskar Chattisghar मेर यदि आवेदन करने की सोच रहे हैं तो उन्हें सबसे पहले इस योजना की पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा –

  • इस स्कीम का लाभ छत्तीसग़ढ के स्थायी निवासी ही ले सकेंगे जो मत्स्य पालन के कार्य में लगे हों।
  • योजना में मिलने वाले पुरस्कार के लिए कृषक भाइयों को मत्स्य पालन के कार्य में लगा होना चाहिए।
  • राज्य के ऐसे सभी व्यक्ति इस योजना के लिए एलिजिबल होंगे जिन्होंने मछली (मत्स्य) विकास के क्षेत्र में अच्छा कार्य किया हो।
  • मत्स्य विकास के क्षेत्र में यानि मछलियों के विकास में अपना उत्कृष्ट कार्य करने वाले मछुआरे (मछली पालक)/सहकारी संस्थाएं /मत्स्य कृषक /और संगठन इस योजना में पुरस्कार प्राप्त करने के लिए पात्र माने जायेंगे।
  • ऐसे सभी व्यक्ति जो मछली के विकास (मत्स्य विकास कार्यक्षेत्र) के नातर्गत मत्स्य बीज उत्पादन और उसके प्रगति ,संवर्धन ,मत्स्य उत्पादन (न्यूनतम 3000 किलोग्राम/हेक्टेयर) में अपना कार्य कर रहे हों।
  • ऐसे व्यक्ति जो मछली के साथ साथ मुर्गी ,बतख ,सुअर ,डेयरी पालन का कार्य कर रहे हों।
  • वह सभी व्यक्ति या संस्था /संगठन जो मत्स्य पालन के लिए अतिरिक्त Water Area (जल क्षेत्र) का विकास कर रहे हों। विलुप्त होने वाली मछलियों के संरक्षण /बचाव और मछलियों को होने वाली बीमारी को रोकने के लिए किये जाने वाले अनुसन्धान में लगे हुए मत्स्य पालक इस योजना के लिए पात्रता रखते हैं।

Benefits Of Matsya Vikas Puraskar Yojana (लाभ /विशेषतायें)

  • मत्स्य विकास पुरस्कार योजना को केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने मछुआरों को ध्यान में रखते हुए शुरू किया है।
  • इस योजना के द्वारा राज्य के मछली पालन कार्यों में लगे व्यक्ति /संस्था /सहकारी समितियों को आर्थिक लाभ पहुंचाया जायेगा।
  • Chhattisgarh Matsya Vikas Puraskar Yojana के तहत मछुआरों को उनके क्षेत्र में अच्छे कार्यों के लिए पुरस्कार स्वरुप 1 लाख रुपए से सम्मानित किया जायेगा।
  • मछली के उत्पादन में वृद्धि हो सकेगी। इस क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों की आर्थिक और सामाजिक स्थिति दोनों में ही सुधार हो सकेगा।
  • इस योजना का लाभ वे ले सकेंगे जो इसके लिए पात्र होंगे।
  • इस योजना में लाभ लेने वाले व्यक्तियों को नियमों और शर्तों को ध्यान से पढ़ना होगा।
  • जिन व्यक्तियों।/संस्था को इसका लाभ लेना है वह आवेदन के लिए आसानी से घर बैठे छत्तीसग़ढ की मछली पालन विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • इस स्कीम के माध्यम से यदि आप आवेदन कर लेते हैं तो आपको राज्य सरकार द्वारा सब्सिडी भी उपलब्ध कराई जाएगी।
  • मछुआरे अपना जीवन अच्छे से चला सकेंगे और आत्मनिर्भर बन सकेंगे।

छत्तीसग़ढ मत्स्य विकास पुरस्कार योजना 2022 में आवेदन की शर्तें

  • राज्य का कोई भी व्यक्ति या कोई संस्था।/संगठन /सहकारी समितियां मत्स्य विकास पुरस्कार योजना में सिर्फ एक बार ही आवेदन कर सकते हैं .एक से अधिक आवेदन मान्य नहीं होगा।
  • यदि आप आवेदन कर रहे हैं तो आपको आवेदन फोर्म को जरुरी प्रमाणपत्रों के साथ में अपने निकटवर्ती मछली पालन विभाग में अंतिम तिथि से पहले जमा करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म में डाक्यूमेंट्स (कागजात) के तौर पर आपको अपने काम की फोटो कॉपी या उस कार्य का विडिओ जो भी आपके पास मौजूद होगा उसे जमा कराना होगा।
  • यदि आप तय समय के भीतर अपना आवेदन नहीं करते या आपका एप्लीकेशन फॉर्म पूरा नहीं है तो समिति इस पर कोई विचार नहीं करेगी।
  • पुरस्कार के चयन से सम्बंधित कोई भी निर्णय चयन समिति का होगा जो अंतिम और सर्वमान्य होगा।

नोट – ध्यान रखें आपको इस योजना में आवेदन तय दिनांक से पूर्व करना होगा और यदि आप आवेदन कर रहे हैं तो आवेदन फॉर्म मे पूछी गयी जानकारी को पूरा भरना होगा।

Matsya Vikas Puraskar Yojana CG 2022 Online Apply (ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया)

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको नीचे दिए प्रोसेस को पूरा करना होगा –

  • सबसे पहले आपको इसके लिए मछली पालन विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट मछली पालन विभाग छत्तीसगढ़ (cg.nic.in) पर विजिट करना होगा। cg matashya vikas puruskar yojana
  • अब जैसे ही आप इस वेबसाइट पर आते हैं आपके सामने वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाता है।
  • जैसे ही इस वेबसाइट पर विजिट करते हैं आपको आपकी स्क्रीन पर Matsya Vikas Puraskar Yojana हेतु आवेदन आमंत्रण सूचना का लिंक दिखाई देगा। आपको लिंक पर क्लिक कर आप आवेदन फॉर्म को पा सकते हैं।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गयी जानकारी को भर कर मांगे गए दस्तावेज को जोड़ें और इसे सबमिट कर दें।

ऐसे करें Matsya Vikas Puraskar Yojana 2022 के लिए आवेदन

यदि आप अपना आवेदन इस योजना में करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए मत्स्य पालक / मत्स्य कृषक / सहकारी संस्थाएं / अशासकीय संगठन जिला स्तर पर मछलीपालन विभाग के जिला कार्यालय से आवेदन फॉर्म को प्राप्त कर सकते हैं जिसके लिए आपको कोई भी शुल्क नहीं देना होगा।

जिस समय आप आवेदन करेंगे आपको मत्स्य में उत्कृष्ट कार्य करने वाली फोटो या वीडियो को जमा करना होगा। इसके आधार पर ही आपके कार्य का मूल्यांकन हो सकेगा।आप अपने पुरस्कार के बारे में जानकारी को जिला स्तर के मत्स्य विभाग के अधिकारी, विकासखंड स्तर पर मछली निरीक्षक, सहायक मछली अधिकारियों से संपर्क कर प्राप्त कर सकते हैं। आवेदन फॉर्म को आप जिले के संयुक्त संचालक मछली पालन/ उप संचालक मछली पालन या सहायक संचालक मछली पालन के पास जमा कर सकते हैं।

Important Links (महत्वपूर्ण लिंक्स)

सांख्यिकी लिंक
मत्स्य उत्पादन मत्स्य उत्पादन वर्ष 2021 -22 हिंदी में पीडीएफ
मत्स्य बीज उत्पादन मत्स्य बीज उत्पादन 2021-22
मत्स्य बीज संचयन मत्स्य बीज संचयन 2021-22
आवेदन शर्त ,चयन प्रक्रिया ,पात्रता जानने हेतु मत्स्य विकास पुरस्कार योजना हेतु आवेदन शर्त ,पात्रता ,चयन प्रक्रिया हिंदी पीडीएफ
संपर्क सूत्र मछली पालन विभाग में संपर्क हेतु यहाँ क्लिक करें
तालाब जलाशय सूची यहाँ से देखें जिला बालोद की तालाब -जलाशय सूची
जिला बिलासपुर की तालाब -जलाशय सूची
दुर्ग की तालाब जलाशय सूची पीडीएफ

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना 2022 से सम्बंधित अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQs)-

मछली विकास पुरस्कार के लिए आवेदन कैसे करें ?

आप मछली विकास पुरस्कार के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑफलाइन आवेदन के लिए आपको मछली विभाग के जिला दफ्तर में जाना होगा जहाँ आपको आवेदन फॉर्म मिलेगा। आवेदन करते समय विभाग में आपको अपने कार्यों की फोटो या विडिओ को जमा करना होगा। जिसके बाद ही आगे की कार्यवाही होगी।

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

Matsya Vikas Puraskar Yojana CG की ऑफिसियल वेबसाइट agriportal.cg.nic.in है।

किस विभाग द्वारा यह योजना चलायी जा रही है ?

छत्तीसग़ढ राज्य के मछली पालन विभाग द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है।

CG Matsya Vikas Puraskar Yojana का लाभ किसे होगा ?

Matsya Vikas Puraskar Yojana CG का लाभ राज्य के मछुआरे /मछली पालन में लगे हुए समितियां /संस्था जो इसके लिए पात्रता रखेंगे वह सभी इसका लाभ ले सकेंगे।

छत्तीसग़ढ राज्य में वर्ष 2020 -21 में कितने टन मत्स्य का उत्पादन किया गया ?

साल 2020 -21 में राज्य में 5.77 लाख टन मछलियों का उत्पादन किया गया।

श्रीमती विलासबाई केंवटीन मछली विकास पुरस्कार की जानकारी कैसे ले सकते हैं ?

मछली विकास पुरस्कार(Matsya Vikas Puraskar) की जानकारी को जिला स्तर के मत्स्य विभाग के अधिकारी /निरीक्षक सहायक मत्स्य अधिकारी से सम्पर्क कर ले सकते हैं।

इस स्कीम के लिए अपना आवेदन फॉर्म कहाँ जमा करें ?

विलासबाई केंवटीन मछली विकास पुरस्कार योजना हेतु आवेदन पत्र को आप अपने सम्बंधित जिला के मछली पालन जिला कार्यालय /दफ्तर छत्तीसग़ढ में जमा कर सकते हैं।

श्रीमती बिलासाबाई केंवटीन मत्स्य विकास पुरस्कार योजना में कितने रुपए तक की राशि दी जाती है ?

मत्स्य विकास पुरस्कार योजना में 1 लाख रूपये का पुरस्कार राशि दी जाती है।

वर्तमान समय में प्रदेश में कितने लोग मत्स्य पालन में सलग्न हैं ?

छत्तीसग़ढ में इस समय 2.20 लाख व्यक्ति मत्स्य पालन का कार्य कर रहे हैं।

Leave a Comment