Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Application Form 2021: नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana उत्तराखंड राज्य सरकार के द्वारा शुरू किया गया है। यह योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की बालिकाओं को लाभान्वित करने के लिए शुरू किया गया है। बालिकाओं को योजना के माध्यम से 12वीं पास करने के बाद 51 हजार रूपए की वित्तीय सहायता राशि उत्तराखंड सरकार के माध्यम से प्रदान की जाएगी। यह सरकार के द्वारा बालिकाओं को पढाई हेतु प्रेरित करने के लिए यह प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है। की अधिकतम दो बालिकाएं नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना का लाभ प्राप्त कर सकती है। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत गौरा देवी कन्या धन योजना से संबंधी सभी महत्वपूर्ण जानकारी को साझा करने जा रहे है। अतः योजना से जुड़े सभी आवश्यक विवरणों की जानकारी के लिए हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

नन्दा-गौरा-देवी-कन्या-धन-योजना

नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के माध्यम से सामान्य श्रेणी के बीपीएल परिवार की बालिकाओं को एवं अनुसूचित जाति ,अनुसूचित जनजाति ,ओबीसी और अन्य पिछड़ा वर्ग की सभी कन्याओं को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा। उत्तराखंड राज्य के मान्यता प्राप्त संस्थानों से बारहवीं कक्षा पास करने वाली सभी पात्र लाभार्थी कन्याओं को योजना के अंतर्गत वित्तीय सहायता राशि का लाभ प्रदान किया जायेगा। सरकार के द्वारा दी जाने वाली इस वित्तीय राशि के माध्यम से बालिका अपनी आगे की पढाई को पूर्ण कर सकती है। एवं साथ ही अपने विवाह के लिए भी इस धनराशि का इस्तेमाल कर सकती है। अविवाहित बालिकाएं इस योजना में आवेदन करने हेतु पात्र है।

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना

राज्य सरकार के अंतर्गत बालिकाओं के हितों के लिए योजना में काफी संसोधन किये गए है। पहले बालिका को बारहवीं पास करने के बाद 50 हजार रूपए की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाती थी। लेकिन नन्दा गौरा देवी कन्या धन योजना के तहत अब बालिकाओं के जन्म के समय में 11 हजार रूपए की राशि लड़की के माता-पिता को प्रदान की जाएगी। जन्म के समय में बेटी के साथ हो रहे भेदभाव को योजना के अंतर्गत कम करने का प्रयास किया जायेगा। साथ ही योजना के माध्यम से बाल लिंगानुपात में सुधार किया जायेगा। उच्च शिक्षा में सामान अवसर उपलब्ध करवाने हेतु 12th पास करने के बाद छात्राओं को 51 हजार रूपए की राशि दी जाएगी।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Application Form

योजना का नामनंदा गौरा कन्या धन योजना 2021  
विभाग महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग
जनजाति कल्याण विभाग उत्तराखंड
लाभार्थी12वीं पास करने वाली बालिकाएं
क्षेत्रउत्तराखंड राज्य
योजना की घोषणाउत्तराखंड सरकार के द्वारा
वित्तीय सहायता राशि विवरण 51,000
आधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें

गौरादेवी कन्याधन योजना के उद्देश्य

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana– का मुख्य उद्देश्य है उत्तराखंड राज्य की बालिकाओं को उच्च स्तर की शिक्षा हेतु प्रेरित करने के लिए प्रोत्साहन राशि को प्रदान करना। शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए उत्तराखंड सरकार के माध्यम से योजना को शुरू किया गया है। गरीब परिवार की उन सभी बेटियों को योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा जिनके द्वारा बारहवीं कक्षा परीक्षा पास की गयी है। इस योजना के तहत शिक्षा के स्तर में सुधार किया जायेगा। साथ ही योजना के माध्यम से बेटियों के साथ हो रहे भेदभाव भ्रूण हत्याओं जैसे अपराधों में रोकथाम होगी। उत्तराखंड राज्य में अभी बहुत से ग्रामीण इलाके ऐसे है जो शिक्षा के आभाव से वंचित है,ऐसे में लोग बालिकाओं के शिक्षा के प्रति कोई ध्यान नहीं देते है। बालिकाओं की शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए गौरादेवी कन्याधन योजना माध्यम से यह एक बेहतर प्रयास शुरू किया गया है।

श्रेणी वार जानकारी प्राप्त आवेदनो की जानकारी

Category Nametotal applications receivedTotal Approved ApplicationsTotal Benefited Applications
एससी758161222366
एसटी19201674723
सामान्य एंव ओबीसी233691611610078

श्रेणी वार अनुदान वितरण की जानकारी

Category Nametotal amount disbursed
एस सी118300000
एस टी36150000
सामान्य एंव ओबीसी503900000

जिलेवार जानकारी प्राप्त आवेदनो की जानकारी

Serial NumberName of districttotal applications receivedTotal Approved ApplicationsTotal Benefited Applications
1Almora348929441858
2Bageshwar13141260410
3Chamoli173515421086
4Champawat14301243530
5Dehradun306625581626
6Hardwar25242298822
7Nainital347730912657
8Pauri Garhwal18891528383
9Pithoragarh20851861497
10Rudraprayag14021169877
11Tehri Garhwal30282464393
12Udham Singh Nagar527845623614
13Uttarkashi215316701668

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के लाभ

  1. उत्तराखंड राज्य की 12th पास करने वाली सभी बालिकाओं को योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  2. एसटी, एससी ,ओबीसी ,एवं सामान्य श्रेणी की सभी गरीब परिवार की कन्याओं को योजना के माध्यम से 51 हजार रूपए की राशि की सहायता प्रदान की जाएगी।
  3. साथ ही कन्या के जन्म के समय में Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के माध्यम से 11 हजार रूपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी ,
  4. योजना के माध्यम से मिलने वाली 51 हजार रूपए की सहायता राशि का चेक धनराशि स्वीकृति होने के उपरान्त लाभार्थी के नाम से कोर बैंकिंग बैंक शाखा में 5 साल की अवधि के लिए 51,000 की फिक्स्ड डिपॉजिट बनवाई जाएगी।
  5. जिसे लाभार्थी कन्या पांच वर्ष की अवधि पूर्ण होने के बाद 75 हजार रूपए की राशि के रूप में प्राप्त करने में सहायक होंगे।
  6. गौरादेवी कन्याधन योजना के माध्यम से शिक्षा को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही बालिकाएं अपनी उच्च स्तर पढाई को जारी रख सकती है।

गौरादेवी कन्याधन योजना की विशेषताएं

  • उत्तराखण्ड राज्य सरकार के द्वारा यह योजना वर्ष 2017 में शुरू की गयी।
  • बीपीएल श्रेणी से संबंधित सभी बालिकाएं योजना का लाभ ले सकती है।
  • गौरादेवी कन्याधन योजना के माध्यम से अभी तक 50 हजार से अधिक लड़कियों को योजना के माध्यम से सहायता राशि प्रदान की गयी है।
  • वर्तमान समय में राज्य के 2685 सरकारी स्कूल Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के अंतर्गत पंजीकृत है।
  • 89 करोड़ रुपए उत्तराखंड सरकार के द्वारा योजना हेतु निर्धारित किया गया है।
  • बालिका के जन्म के समय में 11 हजार रूपए की आर्थिक सहायता एवं 12th पास करने पर 51 हजार रूपए की राशि लाभार्थी छात्रा को प्रदान की जाएगी।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Eligiblity

  • गौरादेवी कन्याधन योजना एप्लीकेशन फॉर्म भरने हेतु आवेदिका बालिका को उत्तराखंड राज्य की मूल निवासी नागरिक होना अनिवार्य है।
  • बालिका योजना में आवेदन करने के लिए 12 वीं कक्षा पास होनी चाहिए।
  • ST ,SC OBC ,एवं सामान्य श्रेणी एवं अन्य पिछड़े वर्ग से संबंधित सभी पात्र लाभार्थी बालिकाएं योजना में आवेदन कर सकती है।
  • योजना में आवेदन करने हेतु ग्रामीण क्षेत्रों की बालिका की परिवार की वार्षिक आय 15976 रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • साथ ही नगरीय क्षेत्रों में रहने वाली कन्या के परिवार की वार्षिक आय 21206 रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • Gaura Devi Kanya Dhan Yojana में आवेदन करने हेतु बालिका बीपीएल परिवार से संबंधित होनी चाहिए।
  • अविवाहित छात्रा योजना हेतु पात्र है एवं आवेदन हेतु उनकी आयु 25 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • संस्थागत रूप में पढ़ने वाली बालिकाओं को राज्य सरकार के अंतर्गत आने वाले मान्यता प्राप्त विद्यालय से 12th पास होना अनिवार्य है।

कन्या धन योजना आवेदन आवश्यक दस्तावेज

  • परिवार का बीपीएल प्रमाण पत्र
  • परिवार का वार्षिक आय प्रमाण पत्र
  • हाई स्कूल प्रमाण पत्र एवं अंकतालिका
  • परिवार रजिस्टर की नक़ल
  • ग्राम प्रदान द्वारा सत्यापित अविवाहित होने के प्रमाण पत्र
  • एफडीआर फॉर्म हस्ताक्षर सहित
  • वोटर आईडी कार्ड
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • छात्रा का रोल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • अभिभावक या बालिका का मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

गौरा देवी कन्या धन योजना एप्लीकेशन फॉर्म कैसे भरें ?

उत्तराखंड सरकार के द्वारा बालिकाओं को प्रोत्साहन राशि देने हेतु यह योजना शुरू की गयी है यदि आप इस योजना हेतु पात्र लाभार्थी है। तो आप नीचे दिए गए चरणों के अनुसार योजना हेतु आवेदन कर सकते है।

  • Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Application Form हेतु http://escholarship.uk.gov.in की ऑफिसियल वेबसाइट में जाएँ।
    गौरा-देवी-कन्या-धन-योजना-एप्लीकेशन-फॉर्म
  • वेबसाइट में जाने के बाद होम पेज में आवेदन पत्र के ऑप्शन में क्लिक करें।गौरा-देवी-कन्या-धन-योजना
  • अब नए पेज में लाभार्थी को आवेदन फॉर्म प्राप्त होगा।
  • इस आवेदन फॉर्म को डाउनलोड कर इसका प्रिंट आउट ले।
  • इसके पश्चात आवेदन पत्र में दी गयी सभी महत्वपूर्ण जानकारी को भरें
  • जैसे -छात्रा का नाम ,विद्यालय का नाम ,माता पिता का नाम ,पिता का व्यवसाय माता का व्यवसाय ,छात्रा की अन्य बहनों की संख्या ,इंटरमीडिएड परीक्षा रोल नंबर ,जन्म तिथि ,जाति श्रेणी ,बीपीएल आईडी नंबर आदि।
  • इसके बाद अपने डिस्ट्रिक्ट ,स्टेट से संबंधी सभी महत्वपूर्ण जानकारी को भरें। अब फॉर्म में बैंक से संबंधी सभी आवश्यक विवरण को दर्ज करें।
  • फॉर्म में सभी आवश्यक विवरण भरने के बाद DPO कार्यालय या फिर अपने स्कूल में अपने आवेदन फॉर्म को जमा कराएं।
  • इस तरह गौरा देवी कन्या धन योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Application Status Check

  • कन्या धन योजना की जांच करने के लिए योजना की आधिकारिक वेबसाइट में जाएँ।
  • वेबसाइट के होम पेज में लाभार्थी बालिका को आवेदनों की वर्तमान स्थिति जाने के विकल्प में क्लिक करना है।Gaura-Devi-Kanya-Dhan-Yojana-Application-Status-Check
  • अब अगले पेज में आवेदनों की वर्तमान स्थिति जानें हेतु दी गयी सभी आवश्यक जानकारी को भरें जैसे -जिला ,ब्लॉक ,स्कूल,छात्रवृति आवेदन संख्या ,एवं कैप्चा कोड दर्ज करके खोजे के बटन में क्लिक करें।
  • अब आवेदन से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी नागरिक के स्क्रीन में दिखाई देगी।
  • इस प्रकार गौरा देवी कन्या धन योजना आवेदन
  • स्थिति चेक करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

गौरा देवी कन्या धन योजना से संबंधित प्रश्न उत्तर

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के अंतर्गत कौन सी बालिकाओं को लाभ प्रदान किया जायेगा ?

बारहवीं कक्षा में पास हुए आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी की सभी बालिकाओं को Gaura Devi Kanya Dhan Yojana का लाभ वितरण किया जायेगा।

एक परिवार की कितनी बालिकाओं को कन्या धन योजना का लाभ दिया जायेगा ?

कन्या धन योजना के अंतर्गत एक परिवार की अधिकतम दो बालिकाओं को योजना का लाभ दिया जायेगा।

गौरा देवी कन्या धन योजना आवेदन पत्र को लाभार्थी छात्रा कहाँ जमा कर सकते है ?

अपने क्षेत्र के विकास खंड कार्यालय या समाज कल्याण अधिकारी के पास लाभार्थी छात्रा कन्या धन योजना आवेदन फॉर्म को जमा कर सकते है।

क्या अन्य राज्यों से संबंधित छात्रों को गौरा देवी कन्या धन योजना का लाभ दिया जायेगा ?

नहीं गौरा देवी कन्या धन योजना का लाभ केवल उत्तराखंड राज्य के मूल निवासी बालिकाएं ही प्राप्त कर सकती है।

गौरादेवी कन्याधन योजना के माध्यम से कौन सी श्रेणी की कन्याओं को वित्तीय सहायता राशि का लाभ दिया जायेगा?

अनुसूचित जाति ,अनुसूचित जनजाति ,ओबीसी ,अन्य पिछड़ा वर्ग एवं सामान्य श्रेणी के बीपीएल परिवार से संबंधित छात्राओं को गौरादेवी कन्याधन योजना के माध्यम से वित्तीय राशि लाभ प्राप्त होगा।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Application Form को छात्रा कहाँ से प्राप्त कर सकते है ?

योजना की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से या फिर अपने स्कूल एवं जिला 
प्रोबेशन अधिकारी कार्यालय ,जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय ,संबंधित विकास खण्ड अधिकारी कार्यालय से Gaura Devi Kanya Dhan Yojana Application Form को प्राप्त कर सकते है।

कन्याधन योजना के अंतर्गत लाभ किस प्रकार दिया जायेगा ?

योजना के अंतर्गत लाभार्थी छात्राओं को 51 हजार रूपए की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी जो धनराशि स्वीकृत होने के बाद लाभार्थी के नाम से 5 साल की अवधि हेतु बैंक शाखा में फिक्स डिपॉजिट बनाई जाएगी। 5 साल की अवधि पूर्ण होने के बाद लाभार्थी छात्रा इस वित्तीय सहायता राशि को प्राप्त कर सकते है।

Leave a Comment