उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल: ऑनलाइन चेक करे, Uttrakhand Parivar Rajistar Nakal Download

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल | Uttrakhand Parivar Rajistar Nakal Download | उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल ऑनलाइन | Parivar Register Nakal

जैसा की आप सब जानते है देश के विकास के लिए सरकार सभी चीजों को डिजिटल माध्यम द्वारा उपयोग में ला रही है। जितने भी राज्य है वहां की सरकारें अपने नागरिक के हित में वह सभी काम कर रही है जिनसे वह लाभ पा सके। इसी तरह उत्तराखंड सरकार ने भी एक अहम कदम उठाया है जिसमे उन्होंने उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल ई डिस्ट्रिक्ट उत्तराखंड की शुरुवात की है। इसके अंदर उत्तराखंड के नागरिको को अनेक सुविधा प्रदान की जाएँगी। जिसके बाद लोगो को इधर उधर कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। और वह घर बैठे आसानी से सुविधा का लाभ ले सकेंगे, जिससे उनका समय और पैसा दोनों की बच जायेंगे। पोर्टल के माध्यम से आप भविष्य हेतु अपनी पेंशन हेतु आवेदन कर सकते है। हम आपको परिवार रजिस्टर नक़ल के बारे में और अधिक जानकारी जैसे: इससे मिलने वाले लाभ, इसे बनाने का उद्देश्य क्या है, परिवार रजिस्टर में क्या क्या डिटेल्स उपलब्ध होती है, Uttrakhand Parivar Rajistar Nakal ऑनलाइन कैसे चेक करें, इसे डाउनलोड करने की प्रक्रिया आदि के बारे में बताएँगे। यदि आप भी इसे ऑनलाइन माध्यम द्वारा चेक करना चाहते है तो इसके लिए आपको उत्तराखंड राज्य की आधिकारिक वेबसाइट edistrict.uk.gov.in पर जाना होगा। समबन्धित जानकारी जानने के लिए आर्टिकल को पूरा पढ़े।

Table of Contents

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल

परिवार रजिस्टर नक़ल एक बहुत ही जरुरी एवं उपयोगी कागजाद है। इसमें परिवार के लोगो के नाम, आयु, जेंडर आदि सभी चीजे शामिल है। यह देश में रह रहे हर एक नागरिक के पास होना जरुरी है। इसी के माध्यम से आपकी इनकम तय की जाती है। इसमें परिवार के सभी लोगो की जानकारी जैसे प्रमाण पत्र, शिकायत एवं सूचना अधिकार, पेंशन, खतौनी नक़ल आदि उपलब्ध होती है। जो की हर जगह सरकारी या गैर सरकारी कामो में काम आती है। लोगो की सुविधा हेतु सरकार ने परिवार रजिस्टर नक़ल आसानी से देखने के लिए पोर्टल की सुविधा जारी की है।

योजना उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल
के द्वारा उत्तराखंड सरकार द्वारा
वेबसाइट ई-डिस्ट्रिक्ट उत्तरखंड
लाभ लेने वाले राज्य के नागरिक
उद्देश्य परिवार के सभी लोगो के बारे में जानकारी प्रदान करना
श्रेणी उत्तराखंड सरकारी योजना
प्रक्रिया ऑनलाइन मोड
वर्ष 2021
भुगतान निशुल्क
ऑफिसियल वेबसाइट edistrict.uk.gov.in
उत्तराखंड-परिवार-रजिस्टर-नकल

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल का उद्देश्य

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नक़ल बनाने का यही उद्देश्य है की जो नागरिक अपने परिवार रजिस्टर सम्बंधित जानकारी जानना चाहते थे उन्हें कई दिन तक कार्यालयों के चक्कर काटने पढ़ते थे जिससे उन्हें कई परेशानियाँ और समस्याओं का सामना करना पड़ता था। लेकिन अब इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से लोगो की सभी परेशानियों का हल आसानी से निकल जायेगा। जिससे वह खुद से आत्मनिर्भर बन पाएंगे। और वह कही से भी अपने परिवार रजिस्टर को ऑनलाइन माध्यम द्वारा अपने कंप्यूटर व मोबाइल पर देख पाएंगे जिसके लिए उन्हें पोर्टल पर जाना होगा।

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल के लाभ

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नक़ल द्वारा ऑनलाइन सुविद्या इस प्रकार से है:

  • सरकारी और गैर सरकारी सम्बंधित कामों के लिए इसका उपयोग किया जाता है।
  • आपको इसके अंदर अपने परिवार में जितने भी लोग है उनकी सभी डिटेल्स को घर बैठे देख सकते है।
  • यदि किसी भी आदमी को कोई भी जमीन खरीदनी होगी तो उसे परिवार रजिस्टर नक़ल की जरुरत होती है।
  • परिवार में रह रहे बच्चे इसके द्वारा स्कालरशिप प्राप्त कर सकते है।
  • यह एक महत्वपूर्ण कागजाद के रूप में कई जगह इस्तेमाल किया जाता है।
  • भविष्य हेतु पेंशन को अप्लाई करने के लिए परिवार रजिस्टर नक़ल मांगी जाती है।
  • ऑनलाइन माध्यम के जरिये लोग आसानी से इसकी सुविधा और जानकारी मिनटों में प्राप्त कर सकते है।
  • गांव के पंचायत सदस्यों की जानकारी भी यहाँ प्राप्त की जा सकती है।

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल ऑनलाइन देखने की प्रक्रिया

वह लोग जो अपनी परिवार रजिस्टर की नक़ल को देखना चाहते है वह ऑनलाइन माध्यम से इसे आसानी से देख सकते है। दिए गए स्टेप्स को धैयपूर्वक पढ़े।

  1. आप उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने इस तरह का होम पेज खुलेगा। UTTRAKHAND-E-DISTRICT-ONLINE-PARIVAR-REGISTER-NAKAL-CHECK
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप फॅमिली रजिस्टर पर क्लिक करें। PARIVAR-REGISTER-NAKAL-DEKEIN
  6. अब नए पेज पर आप अपना जिला, ब्लॉक, ग्राम पंचायत, और गावं की सभी डिटेल्स को भरें।
  7. अब नीचे परिवार के मुखिया का नाम भरें और सर्च के ऑप्शन पर क्लिक करें। ONLINE-PROCESS-TO-CHECK-UTTARAKHAND-PAARIVAR-REGISTER-NAKAL
  8. आप यहाँ अपने परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी देख सकते है।
  9. आप इसे डाउनलोड भी कर सकते है और भविष्य के लिए इसका प्रिंटआउट भी निकल के रख सकते है।

उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल में क्या क्या डिटेल्स होती है?

परिवार के सबसे बड़े सदस्य का नाम पिता का नाम जन्मतिथि
लिंग ब्लॉक तहसील
डिस्ट्रिक्ट जाति उपजाति
घर का पता आयु मकान का नंबर
शिक्षा विवरण व्यवसायधर्म
आपका ग्राम ग्राम पंचायत तिथि

ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हेतु दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें :

  • ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हेतु सबसे पहले ई-डिस्ट्रिक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • जिसके बाद आपके सामने उत्तराखंड ई-DISTRICT का होम पेज खुलकर आ जायेगा।
  • जिसमे आपको रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करना है, क्लिक करते हे आपके सामने दो ऑप्शन दिखाई देंगे: सी० एस०सी पंजीकरण एवं आवेदक पंजीकरण दिखाई देंगे।
  • आपको आवेदक पंजीकरण पर क्लिक करना है।
  • जिसके बाद आपके सामने इस तरह का आवेदन फॉर्म खुलेगा।
  • इसके बाद आप पूछी गयी जानकारी जैसे: यूजर का नाम, पिता/पति का नाम, ऐज, जेंडर, शहर, जिला, तहसील, ब्लॉक, ग्रामपंचायत, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल ID, कैप्चा कोड आदि को अच्छे से भरें।
  • अब आप सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपके रेजिस्टर्ड मोबाइल पर SMS के द्वारा पिन आएगा जिसे आपको भरना होगा। और एक्टिव अकाउंट पर क्लिक कर देना है।
  • जिसके बाद आपके ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस पूरी हो जाएगी।

ऑनलाइन माध्यम से डिजिटल हस्ताक्षर प्रमाण पत्र कैसे प्राप्त करें?

  1. सबसे पहले ई-डिस्ट्रिक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. जिसके बाद आपके सामने उत्तराखंड ई-DISTRICT का होम पेज खुलकर आ जायेगा।
  3. जिसमे आपको डाउनलोड पर क्लिक करना है, क्लिक करते हे आपके सामने दो ऑप्शन दिखाई देंगे: आवेदन पत्र, उपयोगकर्ता मैनुअल, उपयोगकर्ता लिस्ट, डिजिटल हस्ताक्षरित प्रमाण पत्र दिखाई देंगे।process-to-digital-hastakshar-prmaan-patr
  4. आप इसमें डिजिटल हस्ताक्षरित प्रमाण पत्र के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  5. नए पेज पर पूछी गयी जानकारी जैसे: सर्विस, एप्लीकेशन नंबर, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर को भरें और SEND OTP के ऑप्शन पर क्लिक कर दें। digital-signed-ccertificate-download-karein

शिकायत सम्बंधित फॉर्म कैसे डाउनलोड करें

यदि किसी आवेदक को कोई भी शिकायत है तो वो शिकायत दर्ज करने का फॉर्म पोर्टल के माध्यम से डाउनलोड कर सकते है। डाउनलोड करने के स्टेप्स इस प्रकार से है:

  1. उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।SIKAYAT-DARJ-KARNE-HETU-PARMAAN-PATR
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें।COMPLAINT-FORM-DOWNLOAD-THROUGH-E-DISTRICT-UTTARKHAND
  7. आपके सामने नए पेज पर आप GRIEVANCE REDRESSAL पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।GRIEVENCE-REDRESSEL-FORM-DOWNLOAD-PROCESS
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे: नाम, पिता-माता का नाम, ,जिला, तहसील, ग्राम, पता, मोबाइल नंबर, आवेदन संख्या, विभाग चुनें, सेवा का पुकार चुनें, सेवा का नाम, शिकायत, तारीख आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। SIKAYAT-DARJ-FORM-DOWNLOAD-KAREIN

ई-डिस्ट्रिक्ट पर उपलब्ध सेवाएं

1. जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त करना :

जन्म प्रमाण पत्र सभी लोगो के लिए उनकी जन्म की तारीख को साबित करने का प्रामण पत्र है। यह एक बहुत ही जरुरी कागज है जिसे सभी नागरिक को बनाना आवश्यक है। जन्मप्रमाण पत्र का उपयोग: वोट देने के अधिकार प्राप्त करने के लिए, छात्रों को स्कूलों में दाखिला दिलवाने के लिए, सरकारी कामो के लिए, सम्पति हेतु, आदि में जन्मप्रमाण पत्र की जरुरत होती है।

जन्मप्रमाण पत्र आवेदन करने के लिए पहले आप अपने जन्म का रजिस्ट्रेशन करें। आवेदन फॉर्म को बच्चे के जन्म के पैदा होने के 21 दिन के भीतर सम्बंधित स्थानीय अथॉरिटी ऑफिसर के पास रजिस्ट्रेशन हेतु फॉर्म जमा कर दें। हॉस्पिटल के ओरिजिनल रिकार्ड्स का वेरिफिकेशन होने के बाद ही जन्मप्रमाण पत्र जारी किया जाता है। यदि निर्धारित समय में रजिस्ट्रेशन नहीं किया गया हो तो इसके बाद पुलिस द्वारा वेरिफिकेशन किया जा सकता है। आप इसे ई-डिस्ट्रिक्ट उत्तराखंड पोर्टल से डाउनलोड कर सकते है। डाउनलोड करने प्रक्रिया इस प्रकार से है:

  1. आप उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने इस तरह का होम पेज खुलेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।BIRTH-CERTIFICATE-DOWNLOAD
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें। JANAM-CERTIFICATE-DOWNLOAD-KARNE-KA-PROCESS
  7. जिसके बाद आपके सामने इस तरह खुल जायेगा, जहां आपको बर्थ सर्टिफिकेट पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।e-district-uttarakhnad-birth-certificate-download
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे:नाम, तिथि, पता, माता, पिता का नाम, मोबाइल नंबर आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। birth-certiicate-appliacation-form

2. मृत्यु प्रमाण पत्र:

यदि किसी आदमी की मृत्यु हो जाती है तो उसका मृत्यु प्रमाण पत्र बनाना आवश्यक है। यह एक बहुत जरुरी डॉक्युमेन्ट्स है जो की व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके परिवार के सदस्यों को जारी किया जाता है। इस प्रमाण पत्र में उस आदमी की मृत्यु का कारण और दिनांक की डिटेल्स लिखी रहती है। यह प्रमाण पत्र इसलिए बनाया जाता है क्यूंकि इससे समय और तारीख का पता चलता है, सामाजिक, न्यायिक, और सभी तरह की सरकारी रुकावटों से मुक्त करने के लिए, परिवार के सदस्य को बीमा और कई तरह की सुविधा प्राप्त के लिए मृत्यु प्रमाणपत्र का रजिस्ट्रेशन करना बहुत जरुरी है।

मृत्यु प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए सबसे पहले परिवार के सदस्य द्वारा मृत व्यक्ति का पंजीकरण किया जा सकता है, यदि उसकी मृत्यु घर पर हुई है। यदि आदमी की मृत्यु अस्पताल में हुई होगी तो मेडिकल ऑफिसर द्वारा रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है, यदि व्यक्ति की मृत्यु जेल में हुई हो तो जेलर ऑफिसर द्वारा पंजीकरण किया जा सकता है। अगर कोई मृत व्यक्ति लावारिश मिला हो तो ग्राम मुखिया या ग्राम प्रधान द्वारा रजिस्ट्रेशन करना बहुत जरुरी है। मृत व्यक्ति की मृत्यु के 21 दिन के भीतर सम्बंधित स्थानीय अथॉरिटी ऑफिसर के पास रजिस्ट्रेशन हेतु फॉर्म जमा कर दें। रिकार्ड्स का वेरिफिकेशन होने के बाद ही मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किया जाता है। यदि निर्धारित समय में रजिस्ट्रेशन नहीं किया गया हो क्षेत्र के मजिस्ट्रेट द्वारा लेट रजिस्ट्रेशन शुल्क देकर रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। इसमें आपको व्यक्ति के जन्मप्रमाण, शपथपत्र जिसमे मृत्यु का समय और तिथि दर्ज हो, राशन कार्ड कॉपी, अदालती स्टाम्प, और भुगतान शुल्क को जमा करना है। ई-डिस्ट्रिक्ट उत्तराखंड पोर्टल से करने प्रक्रिया:

  1. आप उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  7. आपके सामने नए पेज पर आप डेथ सर्टिफिकेट पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।HOW-TO-DOWNLOAD-DEATH-CERTIFICATE-IN-E-DISTRICT-UTTARAKHAND
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे: शहर, डेथ डेट, मृतक का नाम, लिंग,पिता-माता का नाम,उम्र, धर्म,डेथ रीज़न आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें।MRITU-PARMAAN-PATR-DOWNLOAD

3. पिछड़ी जाति के लिए प्रमाण पत्र प्राप्त करें

जाति प्रमाण पत्र एक इस जरुरी दस्तावेज है जो की देश में रह रहे हर एक नागरिक की जाति का प्रमाण प्रदान करता है। अक्षर पिछड़े जाति के लोगो के साथ भेदभाव किया जाता है। जिसको देखते हुए सरकार ने उन्हें कई तरह की योजना, लाभ और सुविधाएं जैसे: सरकारी सेवाओं में सीट हेतु आरक्षण, स्कूल, कॉलेज में कम फीस देना, कई तरह की छात्रवृति, एजुकेशनल इंस्टिट्यूट में कोटा , नौकरी हेतु आवेदन करने के लिए आयु में छूट आदि प्राप्त करवाई है। जिससे सभी लोग उन्हें एक सामान समझ सके। और इन सब के लिए पिछड़ी जाति वाले लोग के पास स्वयं का जातिप्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।

पिछड़ी जाती प्रमाण पत्र पाने के लिए या तो आप ऑनलाइन ई-डिस्ट्रिक्ट उत्तरखंड के पोर्टल से डाउनलोड अथवा स्‍थानीय  सम्बंधित कार्यालय में जाकर फॉर्म प्राप्त कर सकते है। इसके लिये एक समय तक आपके स्थान की जांच की जाती है, राज्य के निवास प्रमाण पत्र, वचन पत्र जसमे यह लिखा हो की आप पिछड़ी जाति के है, अदालती स्टाम्प शुल्क माँगा जाता है। पिछड़ीजाति प्रमाण पत्र डाउनलोड करने की प्रक्रिया:

  1. उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  7. आपके सामने नए पेज पर आप कास्ट सर्टिफिकेट पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।download-caste-certificate
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे: नाम, लिंग, पिता-माता का नाम, उम्र, जाति, उपजाति, जिला, ग्राम, पता, मोबाइल नंबर आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा
    दें।
    caste-certificate-download-parkriya

4. अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए प्रमाण पत्र

वह लोग जो आदिवासी जाति या समुदाय से तालुख रखते है। इस जाति वाले लोग पिछड़े पन की वजह से समाज से दूर हो जाते है। जिनकी वजह से इनका शैक्षिक विकास, आर्थिक विकास नहीं हो पाता। सरकार द्वारा इन लोगो के हित में कई कदम उठाये है जैसे:आरक्षण, स्कूल, कॉलेज में कम फीस देना, कई तरह की छात्रवृति, एजुकेशनल इंस्टिट्यूट में कोटा , नौकरी हेतु आवेदन करने के लिए आयु में छूट जैसी सभी सेवाएं प्रदान की है।

आपको बता दें अनुसूचित जाति वह जाती है जो सामाजिक रूप से भेदभाव का शिकार होती है जिसे अछूत और छुवाछूत हेतु इनपर अत्याचार होता आया है। और अनुसूची जनजाति जिन्हे शिडयूल्ड ट्राइब भी कहा जाता है। यह लोग हमारे समाज से बाहर आदिवासी समाज में आते है। इनकी भाषा, रीति रिवाज, संस्कृति सबसे अलग होती है। और इन सब के लिए जाति प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है। जिससे वह इन सब सुविधाओं का लाभ ले सके। जाती प्रमाण पत्र का आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर फॉर्म को डाउनलोड कर सकते है। डाउनलोड करने के लिए स्टेप्स को पढ़े।

  1. उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  7. आपके सामने नए पेज पर आप CASTE सर्टिफिकेट पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे: नाम, लिंग, पिता-माता का नाम, उम्र, जाति, उपजाति, जिला, ग्राम, पता, मोबाइल नंबर आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें।

5. विकलांग प्रमाण पत्र

यह प्रमाण पत्र उन लोगो को जारी किया जाता है जो अपने जन्म से ही अपाहिज या विकलांग होते है। विकलांग प्रमाण पत्र द्वारा वह व्यक्ति एजुकेशन इंस्टिट्यूट में पढाई हेतु आवेदन कर सकता है , और उसे सरकार द्वारा कई सुविधाएं प्राप्त हो सकती है, उसे छात्रवृति, विकलांग पेंशन योजना से भी आर्थिक मदद मिल सकती है, और सरकारी तथा रोजगार हेतु वह इनका आवेदन कर सकता है।

आवेदन करने के लिए सभी दस्तावेज जैसे: राशन कार्ड की फोटोकॉपी, वोटर id कार्ड, शपथ पत्र, 4 फोटो, जाति प्रमाण पत्र का होना अनिवार्य है जिससे वह आवेदन फॉर्म को भर सके। इसके लिए उसे 32 रूपए यदि सामान्य जाति का हो और 8 रुपये यदि अनुसूचित जाति का हो शुल्क देना होगा

6. आय प्रमाण पत्र (INCOME CERTIFICATE )

आय प्रमाण पत्र से आपकी सालाना आय का प्रमाण पता चलता है कि आप एक वर्ष में कितने रुपये कमाते है। आय प्रमाण पत्र जरुरी होता है। यदि आपको बैंक, सरकारी कार्यालयों में अपना कोई भी काम करवाना है तो उसके लिए आपकी आय का प्रमाण पत्र माँगा जाता है। यह सरकार को देना जरुरी है जिससे आपके सभी रिसोर्स का डाटा रखा जायेगा। यदि आपको बैंक से लोन लेना हो, एजुकेशन लोन की जरुरत हो, स्कूल या कॉलेज में एडमिशन के लिए परिवार की इनकम का प्रूफ दिखाना जरुरी होता है आदि कई चीजों में इसका उपयोग होता है आप दिए गए स्टेप्स को पढ़कर इनकम सर्टिफिकेट आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है और सभी जानकारी भरकर जमा करवा सकते है। स्टेप्स इस प्रकार से है:

  1. उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  7. आपके सामने नए पेज पर आप INCOME सर्टिफिकेट पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।INCOME-CERTIFICATE-DOWNLOWD
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे: नाम, लिंग, पिता-माता का नाम, उम्र, जाति, उपजाति, जिला, ग्राम, पता, मोबाइल नंबर आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा
    दें।
    AAY-PRMAAN-PATR-DOWNLOAD-KAREIN

7. निवास प्रमाण पत्र

इस प्रमाण पत्र द्वारा यह साबित होता है की आप राज्य के मूल निवासी है। यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट है। जो की हर जगह काम आता है। इससे राज्य के मूल निवासियों को नौकरी के मामले में प्रायोरिटी दी जाती है, इसकी आवश्यकता स्कूल व कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने के लिए भी पढ़ती है।

निवास प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए या तो ऑनलाइन माध्यम द्वारा दी गयी आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है। या तो अथॉरिटी ऑफिसर(सब डिविशनल मजिस्ट्रेट/ तहसीलदार कार्यालय/ जिला कलेटर/ राजस्व विभाग/या अन्य अथॉरिटी ऑफिसर ) द्वारा फॉर्म को भरवाया जा सकता है। मूलनिवास प्रमाण पत्र डाउनलोड करें:

  1. सबसे पहले उत्तराखंड ई-डिस्ट्रिक्ट की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं.
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  3. होम पेज पर आपको सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  4. ऑप्शन क्लिक करने पश्चात आपके सामने 4 विकल्प: सर्टिफिकेट, पेंशन, एम्प्लॉयमेंट रजिस्ट्रेशन, फॅमिली रजिस्टर दिखाई देंगे।
  5. जिसमे आप सर्टिफिकेट पर क्लिक करें।
  6. अब आप नीचे दिए गए डाउनलोड के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  7. आपके सामने नए पेज पर आप DOMICILE सर्टिफिकेट पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर सकते है।how-to-download-domicile-certificate-through-e-district-uttarakhand
  8. फॉर्म का प्रिंटआउट निकल कर, इसमें पूछी गयी जानकारी जैसे: नाम, लिंग, पिता-माता का नाम, उम्र, जाति, उपजाति, जिला, ग्राम, पता, मोबाइल नंबर आदि सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा दें। सभी को भरकर फॉर्म को सबमिट करा
    दें।
    MULNIWAS-PARMAAN-PATR-DOWNLOAD-KARNE-KI-PRAKRIYA

PORTAL पर अन्य (OTHERS) सेवाएं

1. वृद्धावस्था पेंशन

जो महिलाये 60 साल से अधिक और जो पुरुष 65 साल से ऊपर होंगे। आवेदक की महीने की इनकम यदि वह अकेले हो तो 1000 रुपये होनी चाहिए और यदि अकेले नहीं हो तो 1500 रुपये तक होनी चाहिए। इसमें वृद्ध लोगो को महीने की 250 रुपये प्रति महीने प्रदान की जाएगी।

2. विधवा पेंशन

वह महिलाये जिनके पति की मृत्यु हो जाती है और उन्हें देखने वाला कोई नहीं होता ऐसे में सरकार द्वारा इन महिलाओं के हित में उत्तराखंड सरकार ने इन्हे प्रति महीने विधवा पेंशन दी जाने के लिए अहम कदम उठाये। जिससे वह किसी पर निर्भर न रह सके। इसमें इनके परिवार की साल की आय 10000 से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। इन विधवा महिलाओं को प्रति महीने 200 रुपये की धनराशि सरकार द्वारा दी जाएगी।

3. विकलांग पेंशन

वह लोग जो अपने जन्म से ही अपाहिज या विकलांग होते है। उन्हें सरकार द्वारा इस योजना से प्रति महीने विकलांग पेंशन दी जाएगी, जिसमे इन्हे 200 रुपये की धनराशि दी जाएगी। आवेदक की उम्र 18 साल से नीचे होनी आवश्यक है। आवेदक 70% विकलांग होना चाहिए। उसकी सालाना आय दस हजार से अधिक नहीं होनी चाहिए। पेंशन का लाभ लेने के लिए व्यक्ति के पास विकलांग प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।

ई-डिस्ट्रिक्ट मोबाइल ऐप डाउनलोड

  • सबसे पहले आप ई-डिस्ट्रिक्ट उत्तराखंड की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • जिसके बाद आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आप MISCELLANEOUS(विविध) के ऑप्शन पर क्लिक करें , जिसमे आपको 3 विकल्प: फोटो गैलरी, अदर इनफार्मेशन, मोबाइल एप्लीकेशन दिखाई देंगे।
  • जिसमे आप मोबाइल एप्लीकेशन पर क्लिक करें।MOBILE-APP-DOWNLOAD
  • जिसके बाद आपका ई-DISTRICT उत्तराखंड मोबाइल ऐप डाउनलोड होने लगेगा।

संपर्क हेतु हेल्पलाइन नंबर व ईमेल ID

यदि आपको कोई भी सवाल या जानकारी जाननी है तो आप दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अथवा ईमेल ID पर ईमेल भेज के पूछ सकते है।

संपर्क हेतु अधिकारी मिस्टर. अमित बलूनी
हेल्पलाइन नंबर 1800-3000-3468 (उत्तराखंड हेतु 2 दबाएं)
ईमेल ID amitkumar.baluni@gmail.com
मोबाइल नंबर 9761696435
टाइमिंग सुबह 10-5 बजे

यदि आपको हमारे द्वारा उत्तराखंड परिवार रजिस्टर नकल से सम्बंधित सभी जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है। हमने इस आर्टिकल में सभी जानकारी उपलब्ध करा दी है की पोर्टल में और अन्य क्या क्या सेवा उपलब्ध है जिसके माध्यम से नागरिक इन सभी सेवाओं का लाभ ले सके। यदि आपको आर्टिकल से सम्बंधित कोई और अन्य सवालों के जवाब जानने है तो आप हमे मैसेज बॉक्स में अपना सवाल पूछ सकते है। हम आपके प्रश्नो के जवाब जरूर देंगे।

Leave a Comment