स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, योग्यता व लाभ

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana: देश की केंद्र सरकार व राज्य सरकार समय समय पर देश के नागरिकों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए तरह-तरह की योजनाओं को जारी करती रहती है ताकि उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान की जा सके। ऐसी एक योजना हिमचाल प्रदेश की सरकार द्वारा शुरू की गयी है जिसका नाम है स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना. Swarna Jayanti Anushikshan Yojana राज्य के आर्थिक स्थिति से कमजोर गरीब बच्चों के लिए बनायीं गयी है। योजना के तहत छात्रों को उच्च शिक्षा प्रदान करवाने के लिए कोचिंग प्रदान की जाएगी। अगर आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है उन्हें पंजीकरण प्रकिया को पूरा करना जरुरी है। पंजीकरण करने के लिए आवेदक अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन पोर्टल पर जा सकते है।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना
Swarna Jayanti Anushikshan Yojana apply process

आज हम आपको योजना से जुडी सभी जानकारियों जैसे: स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना क्या है, योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं, पात्रता, उद्देश्य, आवश्यक दस्तावेज, swarna Jayanti Anushikshan Yojana आवेदन आदि के बारे में बताने जा रहे है। इससे जुडी अन्य जानकारियों को जानने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 5 सितम्बर 2021 को हिमाचल प्रदेश के गवर्नर राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर द्वारा शुरू की गयी थी। इसके तहत राज्य के ऐसे छात्र जो उच्च स्तर पर शिक्षा प्राप्त करना चाहते है लेकिन आर्थिक स्थिति से कमजोर होने के कारण शिक्षा प्राप्त नहीं कर पा रहे है उन्हें मुफ्त में कोचिंग प्रदान कर आत्मनिर्भर बनाना है। योजना के माध्यम से राज्य के सरकारी स्कूल में पढ़ रहे छात्रों को मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट और जेईई की फ्री में कोचिंग प्रदान की जाएगी। बच्चों को निशुल्क कोचिंग मुहैया करवाई जाएगी। Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 का लाभ राज्य के 2 लाख स्टूडेंट्स ले सकेंगे।

जो भी छात्र इस योजना का लाभ प्रदान करना चाहते है उन्हें बता दें कि इसमें किसी भी तरह का एक्स्ट्रा खर्चा या फीस जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी। योजना का संचालन दो स्टेप्स में किया जायेगा। एजुकेशन डिपार्टमेंट द्वारा तैयार प्लेटफार्म के जरिये हर घर पाठशाला के माध्यम से यह फ्री कोचिंग प्रदान की जाएगी। 9 से 12वी के छात्रों को शनिवार और रविवार को कोचिंग में भाग लेना जरुरी है।

Key highlights of Swarna Jayanti Anushikshan Yojana

राज्य हिमाचल प्रदेश
योजना स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना
के द्वारा हिमाचल प्रदेश के गवर्नर राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर
योजना शुरू करने की तारीख 5 सितम्बर 2021
साल 2022
लाभ लेने वाले सरकारी स्कूल में पढ़ रहे छात्र व छात्राएं
उद्देश्य जेईई एवं नीट की मुफ्त कोचिंग प्रदान करवाना
बजट 5 करोड़
आवेदन मोड ऑनलाइन व ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट जल्द सूचित की जाएगी

योजना को शुरू करने का उद्देश्य

योजना को शुरू करने का उद्देश्य राज्य के जरूरतमंद बच्चों को मेडिकल इंजिनीरिंग कॉलेजेस में एडमिशन लेने के लिए मुफ्त कोचिंग प्रदान करना है। यह तो आप जानते ही होंगे राज्य में ऐसे कई बच्चे है जो आगे की पढाई करना चाहते है लेकिन उनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वह मेडिकल या इंजीनियरिंग जैसे : परीक्षाओं को पास नहीं कर पाते क्यूंकि उनके पास कोचिंग लेने के लिए पैसे नहीं होते परन्तु उस योजना के माध्यम से छात्र व छात्राएं आसानी से नीट और जेईई की कोचिंग ले सकेंगे। छात्रों के लिए विभिन्न कोचिंग सेंटर की स्थापना की जाएगी जिससे अधिक से अधिक छात्र अपनी शिक्षा पूरी कर सकेंगे और अपने पैरो पर खड़े हो सकेंगे। बता दें, यह योजना 15 सितम्बर को पूरे भारत देश में लागू कर दी गयी है।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022 से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं

  • शिक्षा विभाग के स्टेट रिसोर्स ग्रुप द्वारा कोचिंग के लिए विडिओ को तैयार किया जायेगा।
  • यह योजना राज्य के आर्थिक स्थिति से कमजोर गरीब बच्चों के लिए बनायीं गयी है।
  • योजना के तहत छात्रों को उच्च शिक्षा प्रदान करवाने के लिए मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • गैर सरकारी संस्था से भी सरकार मदद प्राप्त करेगी।
  • स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 5 सितम्बर 2021 को हिमाचल प्रदेश के गवर्नर राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर द्वारा शुरू की गयी थी।
  • योजना के माध्यम से राज्य के सरकारी स्कूल में पढ़ रहे छात्रों को मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट और जेईई की कोचिंग दी जाएगी।
  • Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 का लाभ राज्य के 2 लाख स्टूडेंट्स ले सकेंगे।
  • 9 से 12वी तक के छात्र इस योजना का लाभ प्रदान कर सकेंगे।
  • एजुकेशन डिपार्टमेंट द्वारा तैयार प्लेटफार्म के जरिये हर घर पाठशाला के माध्यम से यह फ्री कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • कोचिंग के पहले स्टेप में साइंस और मैथ्स की कोचिंग दी जाएगी
  • योजना का संचालन करने के लिए 5 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है।
  • बता दें, 11 परीक्षा पास होने के बाद 12 में एडमिशन लेने के पश्चात छात्रों का टेस्ट लिया जायेगा जो इस टेस्ट को पास कर देंगे उन्ही 10% छात्रों को चयन फाइनल कोचिंग के लिए किया जायेगा।

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana हेतु पात्रता

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana की पात्रता जानने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए पॉइंट्स को पूरा पढ़े। जिसके पश्चात आप पात्रता पढ़कर पंजीकरण प्रकिया को पूरा कर सकते है।

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के मूलनिवासी छात्र व छात्राएं इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • सरकारी स्कूल में पढ़ रहे बच्चे ही इस योजना का आवेदन करने के पात्र समझे जायेंगे।
  • 9 से 12वी तक के छात्र ही स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का आवेदन कर सकते है और मुफ्त कोचिंग प्राप्त कर सकते है।
  • छात्रों को केवल नीट एवं जेईई की कोचिंग प्रदान की जाएगी।

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana महत्वपूर्ण दस्तावेज

आज हम आपको योजना का आवेदन करने के लिए आवेदन फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों के बारे में जानकारी देने वाले है, जिससे आप आसानी से योजना का लाभ उठा सकेंगे। दस्तावेज इस प्रकार से है:

आधार कार्ड मूल निवास प्रमाणपत्र आय प्रमाणपत्र
रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर आयु प्रमाणपत्र पहचान पत्र
पासपोर्ट साइज फोटो मार्कशीट

ऐसे करें स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का आवेदन

अगर आप भी स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का आवेदन कर लाभ प्राप्त करना चाहते है तो आपको थोड़ा इंतजार करना होगा क्यूंकि सरकार ने अभी इस योजना को केवल जारी करने की घोषणा की है। अभी योजना का आवेदन करने के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट को लांच नहीं किया गया है। सरकार द्वारा जब भी इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट को लांच किया जायेगा और इसकी ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया को शुरू किया जायेगा हम इसकी जानकारी आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे जिसके बाद आप आसानी से इसकी आवेदन प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर

क्या इस योजना का लाभ अन्य राज्य के छात्र व छात्राएं भी कर सकते है?

जी नहीं, स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का लाभ अन्य राज्य के छात्र व छात्राएं नहीं कर सकते है, केवल हिमचाल प्रदेश के मूलनिवासी छात्रों को इस योजना का पात्र समझा जायेगा।

राज्य के किन बच्चों को Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 का लाभ प्रदान किया जायेगा।

राज्य के आर्थिक स्थिति से कमजोर गरीब बच्चों को योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना हेतु किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी?

योजना हेतु जिन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी उनकी जानकारी हमने आपको ऊपर अपने आर्टिकल में प्रदान कर दी है जानकारी जानने के लिए लेख को पूरा पढ़े।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना क्या है?

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 5 सितम्बर 2021 को हिमाचल प्रदेश के गवर्नर राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर द्वारा शुरू की गयी थी। योजना के तहत छात्रों को मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट और जेईई की कोचिंग दी जाएगी।

योजना का आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

सरकार द्वारा अभी योजना की आधिकारिक वेबसाइट लांच नहीं की गयी है जैसे ही ऑफिसियल वेबसाइट लांच हो जाएगी हम आपको सूचित कर देंगे।

हमने आपको अपने आर्टिकल में स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022 से सम्बंधित सभी जानकारियों को हिंदी में विस्तारपूर्वक बता दिया है, यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है या इससे सम्बंधित कोई भी सवाल या जानकारी आपको जननी है तो आप हमे मैसेज कर सकते है। हम आपके सभी सवालों के जवाब देने की जरूर कोशिश करेंगे।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment