राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना 2022- ऑनलाइन आवेदन व लाभ

जैसा की आप जानते है राज्य के आधे से ज्यादा लोग कृषि क्षेत्र पर आश्रित है और इसी से वह अपने और अपने परिवार का भरण-पोषण करते है। छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बहोल द्वारा राजीव गाँधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना 2022 को शुरू किया गया। योजना के तहत उन सभी लोगों को लाभ प्रदान किया जायेगा जो ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि मजदूरी के रूप में कार्य कर रहे है और भूमिहीन है। छत्तीसगढ़ सरकार राज्य के भूमि से रहित कृषि मजदूरों को साल के आधार पर 6000 रुपये की वित्तीय सहायता राशि प्रदान करेगी। सरकार ने योजना के लिए 200 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana कृषि मजदूरों के लिए बहुत ही लाभकारी है। अगर आप भी योजना का आवेदन करना चाहते है तो आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट rggbkmny.cg.nic.in पर जाना होगा।

rajiv gandhi gramin bhumihin krishi majdur yojana

बता देते है कि राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली राशि आवेदक के बैंक खाते में भेजी जाएगी इसके लिए आवेदक का बैंक खाता होना बहुत जरुरी है जो की आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है। आज हम आपको योजना से जुडी अन्य जानकारियों जैसे: Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin krishi Majdur Nyay yojana का ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का ऑफलाइन आवेदन कैसे करें, योजना हेतु पात्रता, उद्देश्य, आवश्यक दस्तावेज, लाभ एवं विषेशताएं आदि के बारे में बताने जा रहे है, जानकारी जानने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

राजीव गाँधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना 2022

राजीव गाँधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के अंतर्गत राज्य के गांव क्षेत्र में रह रहे 15 लाख भूमिहीन कृषि मजदूरों को योजना का लाभ दिया जायेगा। योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक को पंजीकरण करवाना आवश्यक है। इच्छुक आवेदक को योजना का आवेदन करने के लिए इधर-उधर कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। वह आसानी से अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से योजना का आवेदन आसानी से कर सकते है इससे उनका समय और पैसे दोनों की बचत हो सकेगी।

कृषि मजदूर की कमाई केवल खरीफ फसल के उत्पादन के समय ही हो पाती है और अन्य समय पर उनकी कमाई का कोई स्त्रोत नहीं होता और इन सभी के पास स्वयं की जमीन भी उपलब्ध नहीं होती जिससे यह किसी प्रकार की फसल का उत्पादन भी नहीं कर सकते, इन्हे कई परेशानियों और मुसीबतो का सामना करना पड़ता है इसी कारण सरकार ने योजना को आरंभ किया। इसके अलावा पोर्टल पर सरकार द्वारा योजना के दिशा निर्देशों (instructions) को जारी कर दिया गया है लाभार्थियों को वार्षिक आधार पर हर एक परिवार को 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी।

योजना नाम राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन
कृषि मजदूर न्याय योजना
के द्वारा छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा
विभाग राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग
साल 2022
श्रेणी राज्य सरकारी योजना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन व ऑफलाइन मोड
लाभ लेने वाले ग्रामीण क्षेत्र के कृषि मजदूर
उद्देश्य कृषि मजदूरों को सहायता राशि प्रदान करना
पंजीकरण की शुरुआत
पंजीकरण की अंतिम तारीख
आधिकारिक वेबसाइट rggbkmny.cg.nic.in
फॉर्म डाउनलोड करें यहाँ से डाउनलोड करें

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin Krishi Majdur Nyay Yojana का उदेश्य

योजना का उद्देश्य यह है कि छत्तीसगढ़ राज्य के ग्रामीण क्षेत्र के भूमिहीन कृषि का काम करने वाले मजदूर नागरिकों को वित्तीय मदद राशि प्रदान की जाएगी यह राशि लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जाएगी। आवेदक का बैंक खाता होना बहुत जरुरी है। योजना का लक्ष्य कृषि मजदूरों की आय में दोगुनी वृद्धि करना और उन्हें मजबूत व आत्मनिर्भर बनाना है जिससे कृषि मजदूर अपने और अपने परिवार का भरण-पोषण अच्छे से कर पाए।

Bhumihin krishi Majdur Nyay yojana हेतु पात्रता

अगर आप योजना का आवेदन करना चाहते है और सरकार द्वारा निर्धारित की गयी पात्रता जानना चाहते है तो हम आपको इसकी जानकारी देने जा रहे है। पात्रता जानने के लिए दिए गए पॉइंट्स को ध्यानपूर्वक पढ़े।

  • आवेदक छत्तीसगढ़ राज्य का मूलनिवासी होना चाहिए तभी वह योजना से मिलने वाले लाभ प्राप्त कर सकता है।
  • यदि किसी परिवार के पास पट्टे पर सरकारी जमीन या फारेस्ट राइट (वन अधिकार) सर्टिफिकेट होगा तो उसे योग्य भूमि माना जायेगा।
  • ग्रामीण क्षेत्रों के भूमि से रही कृषि मजदूर जैसे: बढ़ई (कारपेंटर), लोहार, नाई, चरवाहा, धोबी, मोची, पुरोहित, फारेस्ट प्रोडूस कलेक्टर्स आदि सभी इसके पात्र है।
  • जिन नागरिकों के पास भूमि नहीं होगी वह इसका आवेदन कर सकते है।
  • गांव के कृषि मजदूर योजना का आवेदन कर सकते है सबसे पहले उन्हें पोर्टल पर जाकर या कार्यालय जाकर पंजीकरण करवाना होगा।
  • यदि रजिस्टर्ड आवेदक की मृत्यु हो जाती है तो आवेदक के परिवार वाले को दोबारा से नवीन आवेदन करना होगा।

योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं

योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं इस प्रकार से है:

  • योजाना के तहत सरकार ने उन ग्रामीण क्षेत्र के कृषि मजदूरों को शामिल किया है।
  • राज्य के भूमि से रही मजदूरों को योजना का प्रदान किया जायेगा।
  • आवेदक आसानी से अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से योजना का आवेदन आसानी से कर सकते है
  • राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के अंतर्गत नागरिकों को 6000 रुपये की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • नागरिक 1 सितम्बर से 30 नवंबर तक पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते है।
  • ऑनलाइन आवेदन करने पर आवेदक के समय और पैसे दोनों की बचत हो सकेगी।
  • इस योजना से मिलने वाली वित्तीय सहायता राशि 2 किश्तों मैं लाभार्थियों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से उनके बैंक अकाउंट में भेजी जाएगी।
  • योजना के तहत कृषि मजदूरों की आय में दोगुनी करना और उन्हें मजबूत व आत्मनिर्भर बनाना है।
आवश्यक दस्तावेज

योजना का आवेदन करने के लिए आपको आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी होनी जरुरी है तभी आप आसानी से इसका आवेदन कर सकते ही और लाभ पा सकते है। आवश्यक दस्तवेजो की सूची इस प्रकार से है:

आधार कार्ड बैंक पासबुक परिवार आवेदन की रसीद
वोटर ID कार्ड रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पासपोर्ट साइज फोटो
भुईया रिकॉर्ड के आधार पर ग्रामवार बी-1 खसरा की प्रतिलिपि

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin krishi Majdur Nyay yojana का ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

अगर आप भी योजना का आवेदन करना चाहते है तो आपको योजना की आवेदन प्रक्रिया के बारे में जानना बहुत जरुरी है। हम आपको योजना की प्रक्रिया के बारे में बताने जा रहे है जो इस प्रकार से है:

  • आवेदक को सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आपको पंजीयन के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के पश्चात आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे: आवेदक का नाम, पिता का नाम, जाति, पता, मोबाइल नंबर, ग्राम पंचायत, गांव का नाम, पटवारी हल्का नंबर, जनपद, पंचायत का नाम, तहसील, जिला, व्यवसाय, परिवार के सदस्य का नाम, अकाउंट नंबर आदि को भरना है।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करके घोषणा पत्र पर टिक करना है।
  • अब आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करते ही आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

  • योजना का ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को सबसे पहले निजी कार्यालय जाकर फॉर्म प्राप्त करना होगा, आवेदक हमारे द्वारा दिए गए लिंक के माध्यम से भी फॉर्म डाउनलोड कर सकते है।
  • फॉर्म पर आपको पूछी गयी जानकारी जैसे: आवेदक का नाम, पिता का नाम, जाति, पता, मोबाइल नंबर, ग्राम पंचायत, गांव का नाम, पटवारी हल्का नंबर, जनपद, पंचायत का नाम, तहसील, जिला, व्यवसाय, परिवार के सदस्य का नाम, अकाउंट नंबर को भरना होगा।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में मांगे गए डाक्यूमेंट्स को अपलोड करना है।
  • अब आप फॉर्म को एक बार दोबारा देख लें यदि किसी प्रकार की गलती हो तो उसका सुधार कर लें।
  • इसके बाद आप फॉर्म को ग्राम पंचायत सचिव के पास जमा करवा दें।
  • फॉर्म जमा होने के पश्चात सभी दस्तावेजों का सत्यापन किया जायेगा जिसके बाद आपको लाभ मिलना शुरू हो जायेगा।

राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर

योजाना के तहत किन लोगों को शामिल किया गया है?

योजाना के तहत सरकार ने उन ग्रामीण क्षेत्र के कृषि मजदूरों को शामिल किया है जिनके पास खेती के लिए भूमि नहीं है मगर वह किसी न किसी प्रकार से कृषि कार्य से जुड़े हो।

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin krishi Majdur Nyay yojana की आधिकारिक वेबसाइट क्या होगी?

Rajiv Gandhi Gramin Bhumihin krishi Majdur Nyay yojana की आधिकारिक वेबसाइट http://rggbkmny.cg.nic.in है। आवेदक आसानी से ऑनलाइन माध्यम से योजना का आवेदन कर सकते है।

योजना की आवेदन प्रक्रिया क्या है?

योजना की आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन व ऑफलाइन मोड रखी गयी है। यदि आवेदक ऑनलाइन मोड द्वारा योजना का रजिस्ट्रेशन करते है तो उन्हें पोर्टल पर जाकर पंजीकरण करना होगा और अगर आवेदक ऑफलाइन माध्यम से आवेदन करना चाहते है तो वह सम्बंधित कार्यालय में जाकर योजना हेतु पंजीकरण करवा सकते है।

क्या इस योजना का आवेदन अन्य राज्य के नागरिक कर सकते है?

जी नहीं, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का आवेदन अन्य राज्य के नागरिक नहीं कर सकते है, केवल छत्तीसगढ़ राज्य के मूलनिवासी योजना का आवेदन कर सकते है।

योजना का संचालन किसके द्वारा किया जाता है?

योजना का संचालन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा किया जाता है।

भूमिहीन कृषि मजदूर योजना में लाभार्थियों को कितने रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी?

भूमिहीन कृषि मजदूर योजना में लाभार्थियों को 6000 रुपये प्रति वर्ष की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी। यह राशि लाभार्थियों को 2 किश्तों में उनके बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी।

हमने आपको राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना 2022 से जुडी सभी जानकारी विस्तारपूर्वक बता दी है अगर आपको से सम्बंधित जानकारी अच्छी लगी हो तो आप हमे मैसेज करके बता सकते है और यदि आपको इससे सम्बंधित कोई भी सवाल पूछने है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है हम आपके सभी सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment