राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, rajudyogmitra.rajasthan.gov.in

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2022: देश में औद्योगीकरण को बढ़ावा देने के लिए बहुत सी राज्य सरकारें उद्यमियों को सहयोग प्रदान कर उन्हें लघु, मध्यम व सूक्ष्म वर्ग के उद्योग की स्थापना करने में प्रोत्साहन दे रही हैं, ऐसे में राजस्थान सरकार द्वारा भी राज्य में स्वरोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने व नए उद्यमियों को उनके खुद के रोजगार की स्थापना करने में सहयोग देने के लिए राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल का आरम्भ किया गया है, जिसके माध्यम से पोर्टल पर छोटे उद्यमियों को उनके रोजगार की स्थापना की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए विशेष प्रकार की छूट व उद्यम विभाग से संबंधित सभी प्रकार की सेवाओं का लाभ प्रदान किया जाता है, जिससे राज्य में रोजगार सृजना हो सकेगा और अधिक से अधिक युवा अपने खुद के रोजगार की शुरुआत कर आत्मनिर्भर हो सकेंगे।

इसे भी पढ़ें :- Rajasthan Jan suchna Portal 2022

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल

Rajasthan Udyog Mitra Portal 2022 पर पंजीकरण प्रक्रिया जारी हैं, जिसमे अपने उद्योग की स्थापना करने के लिए जो नागरिक पोर्टल पर अपना पंजीकरण करना चाहते हैं, वह घर बैठे उद्योग मित्र पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट rajudyogmitra.rajasthan.gov.in पर आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं, पोर्टल पर पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी तरह निःशुल्क होगी यानी आवेदक को किसी तरह के आवेदन शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2022

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा वर्ष 12 जून 2019 में राज्य में नए उद्यमियों को उनके खुद के उद्योग की स्थापना करने में सहयोग देने के लिए को बढ़ावा देने के लिए किया गया है, जिसके माध्यम से वह युवा जो रोजगार की तलाश में आए दिन भटकते हैं लेकिन रोजगार उपलब्ध ना होने के चलते वह बेरोजगारी की समस्या से परेशान रहते हैं, वह अब पोर्टल पर पंजीकरण कर बिना किसी समस्या के सरलता से उद्योग स्थापित कर सकेंगे, इसके लिए राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर पंजीकृत नागरिकों को राज्य के सभी कानूनों के तहत उद्योग स्थापित करने के लिए सभी अप्रूवल और निरिक्षण से छूट मिल सकेगी।

Rajasthan Udyog Mitra Portal 2022 : Details

योजना का नाम राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल
शुरू की गई मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा
वर्ष 2022
पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन
संबंधित विभाग राजस्थान उद्योग विभाग
लाभार्थी राजस्थान के नए उद्यमी नागरिक
उद्देश्य राज्य के नागरिकों को उद्योग स्थापित करने के लिए आर्थिक
सहयोग प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइट rajudyogmitra.rajasthan.gov.in

Rajasthan उद्योग मित्र पोर्टल का उद्देश्य

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में नए उद्यमियों को उनके उद्योग स्थापित करने में सहयोग देना है, इसके लिए उद्यमियों को उद्योग मित्र पोर्टल पर पंजीकरण की सुविधा प्रदान कर उनके उद्योग स्थापना की प्रक्रिया को सरल बनाने में सहयोग दिया जा सकेगा, जिससे नए स्टार्टअप की शुरुआत करने वाले उद्यमियों को अपने व्यवसाय को शुरू करने में होने वाली समस्याओं जैसे नए व्यवसाय के लिए सरकारी विभागों में कॉन्ट्रैक्ट अप्रूवल के लिए बार-बार चेक करना और बहुत से सरकारी दस्तावेजों को बनवाने के लिए यहाँ-वहाँ भाग दौड़ करने जैसी समस्याओं से राहत मिल सकेगी। इससे व्यवसाय की शुरुआत करने में नागरिक आसानी से 3 साल तक अनुमोदन और निरीक्षण से छूट प्राप्त कर सकेंगे, जिसके लिए उन्हें आवेदन के बाद एक पावती प्रमाण पत्र भी प्रदान किया जाता है।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल के लाभ

इस पोर्टल पर उद्योग स्थापित करने के लिए पंजीकरण करने वाले नागरिकों को क्या लाभ प्राप्त होगा इसकी जनकारी कुछ इस प्रकार है।

  • राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर राज्य के उद्यमी खुद को उद्योग मित्र पोर्टल पर पंजीकृत कर उद्योग विभाग द्वारा जारी सभी सेवाओं का लाभ एक जगह प्राप्त कर अपने व्यवसाय की स्थापना कर सकेंगे।
  • पोर्टल पर राज्य के छोटे, लघु और माध्यम वर्ग उद्यमी अपने रोजगार की स्थापना के लिए खुद को घर बैठे ही पंजीकृत कर सकेंगे।
  • इस पोर्टल पर पंजीकरण के लिए आवेदकों को किसी प्रकार के शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा।
  • उद्योग मित्र पोर्टल नए उद्यमियों के लिए स्वरोजगार की स्थापना हेतु उद्योग को सरल और आसान बनाने के लिए एमएसएमई द्वारा शुरू की गई एक अग्रीण पहल है।
  • इस पोर्टल पर पंजीकृत नागरिकों को उनके उद्योग स्थापित करने के लिए किसी भी राज्य कानून के तहत तीन साल तक अनुमोदन और निरिक्षण से पूरी तरह छूट प्रदान की जाएगी।
  • राज्य के जिन भी नागरिकों द्वारा पोर्टल पर पंजीकरण किया गया होगा, उन्हें निरिक्षण और अनुमोदन से राहत देने के लिए पावती प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा, जिसकी वैधता पूरे तीन वर्षों की होगी।
  • इस पावती प्रमाण पत्र पर क्यूआर कोड को स्कैन करके सत्यापन की प्रक्रिया को पूरा किया जा सकेगा।
  • योजना के तहत आवेदक के पावती की वैधता पूरी होने के बाद उन्हें 6 महीने के भीतर सभी निरिक्षण और अप्रूवल का कार्य पूरा करवाना आवश्यक होगा।
  • पंजीकृत नागरिकों को रोजगार की स्थापना करने के लिए सरकारी विभागों में स्वीकृति के लिए बार-बार चक्कर काटने की समस्या से राहत मिल सकेगी।
  • राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन के लिए दस्तावेजों को अपलोड करने की अनिवार्यता नहीं रखी गई है।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पंजीकरण की पात्रता

उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन के लिए नागरिकों को इसकी निर्धारित पात्रता को पूरा करना होगा, जिसे पूरा करने वाले नागरिक ही पोर्टल पर आवेदन कर सकेंगे, जिसकी पात्रता की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • राजस्थान के स्थाई निवासी रोजगार की स्थापना के लिए पोर्टल पर पंजीकरण करने के पात्र होंगे।
  • लघु या सूक्ष्म व्यवसाय की शुरुआत करने के इच्छुक नागरिक एमएसएमई 2006 के अंतर्गत खुद को पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं।
  • 4 मार्च 2019 के बाद उद्योग की स्थापना करने वाले नागरिक खुद को पोर्टल पर पंजीकृत कर सकते हैं।

उद्योग मित्र पोर्टल के दस्तावेज

उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन के लिए आवेदक के कुछ महत्त्वपूर्ण दस्तावेज जैसे आवेदक नागरिक का आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, निवास प्रमाण पत्र, बैंक खाता विवरण और पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ होना आवश्यक है।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर ऐसे करें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

राजस्थान के जो भी नागरिक अपने उद्योग की स्थापना करने के लिए उद्योग मित्र पोर्टल पर पंजीकरण कर लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, वह यहाँ दिए गए स्टेप्स को पढ़कर पोर्टल पर पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • इसके लिए आवेदक सबसे पहले राजस्थान सरकार की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें। राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल
  • अब होम पेज पर आपको Sign up का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा। rajasthan-udyog-mitra-registration
  • अब आपकी स्क्रीन पर राजस्थान SSO की साइट खुलकर आ जाएगी।
  • यहाँ आपको पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपको उद्योग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल
  • अब आपको रजिस्ट्रेशन के लिए आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में माँगे गए सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को फॉर्म के साथ अपलोड कर देना होगा।
  • अब फॉर्म में पूछी गई सभी जानकार व दस्तावेजों की जाँच कर लेने के बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक कर देना होगा।
  • अब पंजीकरण हो जाने के बाद आपको पोर्टल पर लॉगिन करना होगा।
  • पोर्टल पर लॉगिन के बाद आपकी स्क्रीन पर सभी सेवाओं की लिस्ट खुलकर आ जाएगी, जिसमे से आपको राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर योजना का आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरकर दस्तावेजों को अपलोड कर देना होगा।
  • अब आखिर में Submit के बटन पर क्लिक कर देना होगा।
  • जिसके बाद पोर्टल पर आपकी पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पोर्टल पर क्वेरी दर्ज करने की प्रक्रिया

पोर्टल पर क्वेरी दर्ज करने के लिए नागरिक यहाँ बताई गई प्रक्रिया को पढ़कर प्रश्न या जानकारी दर्ज कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक राजस्थान सरकार की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब होम पेज पर आपको Query के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब अगले पेज में आपके सामने क्वेरी दर्ज करने के लिए आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा। Query-application-form
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई जानकारी जैसे आपका नाम, आवेदन संख्या, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, उद्यम प्रमुख की गतिविधि, उद्यम का प्रकार, संबंधित जिला आदि दर्ज करनी होगी।
  • अब दिए गए कैप्चा कोड दर्ज करके आपको Submit के बटन पर क्लिक कर देना होगा।

क्वेरी ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक राजस्थान सरकार की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब होम पेज पर आपको Query के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद नए पेज में आपको क्वेरी ट्रैकिंग के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। Query-tracking-process
  • अब आपको अगले पेज में क्वेरी/टिकट नंबर दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना होगा।
  • जिसके बाद आपकी स्क्रीन पर क्वेरी से संबंधित विवरण खुलकर आ जाएगा।

सर्टिफिकेट वेरिफाई करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक राजस्थान सरकार की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब होम पेज पर आपको Verify Certificate के विकल्प पर क्लिक करना होगा। verify-certificate-processverify-certificate-process
  • अब केरिटीफिकेटे वेरीफाई करने के लिए आपको एक्नॉलेजमेंट नंबर और एंटरप्राइज का नाम दर्ज करना होगा।
  • जानकारी भरकर आपको search के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।
  • अब आवेदक अपना प्रमाण पत्र सत्यापित कर सकेंगे।

हेल्पलाइन नंबर :- राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल से सम्बंधित किसी तरह की समस्या या जानकारी प्राप्त करने के लिए नागरिक इसके हेल्पलाइन नंबर : 014122227274/7812/7713 पर संपर्क कर अपनी समस्या का हल प्राप्त कर सकते हैं।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2022 से संबंधित प्रश्न/उत्तर (FAQs)

Rajasthan Udyog Mitra Portal की शुरुआत कब की गई थी ?

Rajasthan Udyog Mitra Portal की राजस्थान सरकार द्वारा 12 जून 2019 में की गई थी।

इस पोर्टल को किस लिए आरम्भ किया गया है ?

राजस्थान उद्योग पोर्टल की शुरुआत राज्य में औधोगीकरण को बढ़ावा देने और उद्यमियों को उनके रोजगार की स्थापना में होने वाली प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए किया गया है, जिससे उद्योग विभाग की सभी सेवा पोर्टल के माध्यम से प्राप्त कर नागरिक अपने व्यवसाय को बिना किसी समस्या के शुरू कर सकेंगे।

Rajasthan उद्योग मित्रा पोर्टल पर पंजीकरण के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

उद्योग मित्रा पोर्टल पर पंजीकरण के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट rajudyogmitra.rajasthan.gov.in है।

पोर्टल पर पंजीकृत नागरिकों को क्या-क्या लाभ प्राप्त होंगे ?

इस पोर्टल पर पानिकृत उद्यमियों को उनके खुद के रोजगार की शुरुआत के लिए तीन साल तक निरिक्षण और अप्रूवल के लिए कार्यालयों के काटने जैसी समस्या से राहत मिल सकेगी, इसके साथ ही वह सरलता से अपने उद्योग की शुरुआत कर आत्मनिर्भर हो सकेंगे और अन्य लोगों को भी रोजगार प्रदान कर सकेंगे।

उद्योग मित्र पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की क्या प्रक्रिया है ?

उद्योग मित्र पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी गई है, जिसे पढ़कर आप पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

Leave a Comment