PM FME Scheme in Hindi | PM FME Scheme Portal Apply Online

PM FME Scheme: देश के जो नागरिक फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री (खाद्य प्रसंस्करण उद्योग) से जुड़े है उनके लिए बहुत ही खुशी की बात है। ऐसे उद्यमी नागरिकों के लिए सरकार ने PM FME यानि पीएम फॉर्मलाइजेशन ऑफ़ माइक्रो फ़ूड प्रोसेसिंग एंटरप्राइज स्कीम को शुरू किया है। योजना की शुरुवात राज्य व केंद्र सरकार द्वारा की गयी है। यह योजना नागरिकों के लिए बहुत ही लाभकारी है। इस योजना के माध्यम से 9 लाख या उससे अधिक स्किल्ड या सेमि-स्किल्ड नौकरी नागरिकों के लिए उत्त्पन होंगी और इसके माध्यम से 8 लाख से ज़्यादा यूनिट्स को फायदा भी होगा। योजना के तहत आलू, लीची, टमाटर, भुजिया, पेठा, पापड़, अचार, मत्स्य, पोल्ट्री फार्म, पशुचारा जैसे क्षेत्र में नागरिक काम कर सकते है या जो स्वयं का रोजगार चलाना चाहते है उन्हें अनुदान भी प्राप्त हो सकेगा।

PM FME apply online

फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री में 25 लाख से भी अधिक यूनिट्स है। जो अनरजिस्टर्ड और अनऑफिसियल है। जिसमें 66% यूनिट्स ग्रामीण क्षेत्र में रह रहे परिवारों द्वारा चलायी जा रही है। देश के शहरी या ग्रामीण क्षेत्र के छोटे उद्यमी को इस योजना से बहुत ही लाभ प्राप्त होगा। योजना में 2020-21 से 2024-25 यानि 5 साल तक 10 हजार करोड़ रुपये का खर्चा किया जायेगा। जिसमे 60% खर्च केंद्र सरकार और 40% खर्च सभी राज्य सरकार देगी। अगर आप योजना से सम्बंधित जानकारी जैसे: PM FME योजना का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें, योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, पीएम एफएमई योजना का एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड कैसे करें आदि जानना चाहते है तो आप हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

पीएम एफएमई योजना

PM FME एक तरह की सेंट्रल स्पोंसर्ड स्कीम है इसके तहत किसान उत्पादक समहू (फार्मर प्रोडूसर आर्गेनाईजेशन), स्वयं सहायता ग्रुप और उत्पादक सहकारिताओं की पूरी श्रृंखला को वित्तीय प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है। जो नागरिक अपनी यूनिट्स को अपग्रेड (उन्नति) करना चाहते है वह नागरिक अपनी कॉस्ट (लागत) का 35% हिस्सा क्रेडिट लिंक सब्सिडी के रूप में प्राप्त कर सकते है। क्रेडिट रूप में सब्सिडी प्राप्त करने की मैक्सिमम लिमिट 10 लाख प्रति यूनिट रखी गयी है। 35% क्रेडिट लिंक सब्सिडी (अनुदान) नागरिक सामान्य प्रोसेसिंग सुविधा, प्रयोगशाला, गोदाम, कोल्ड स्टोरेज, पैकिंग, इन्क्यूबेशन सेंटर, इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास हेतु ले सकते है। यदि आप सेल्फ हेल्प ग्रुप को चलाना चाहते है तो आप इसे शुरू करने के लिए सरकार से 40 हजार रुपये की वित्तीय सहायता राशि प्राप्त कर सकते है। सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी इसके लिए आवेदक का स्वयं का बैंक खाता होना बहुत जरुरी है जो आधार कार्ड से लिंक होना आवश्यक है।

आर्टिकल PM FME Scheme
के द्वारा मिनिस्ट्री ऑफ़ फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री
श्रेणी केंद्र सरकारी योजना
उद्देश्य संगठित ढांचा प्रदान करना
साल 2022
लाभ लेने वाले भारत के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइट mofpi.nic.in/pmfme

PM FME स्कीम से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं

योजना से मिलने वाले लाभ एवं विषेशताएं इस प्रकार से है:

  • फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री के असंगठित खंड में उपलब्ध जितने भी छोटे उद्योग है उनकी क्षमता को और अधिक बढ़ावा देना और इंडस्ट्री के फॉर्मलाइजेशन को और प्रोत्साहन देना।
  • यह योजना महिला उद्यमी को लेकर फोकस की गयी है।
  • किसान उत्पादक समहू (फार्मर प्रोडूसर आर्गेनाईजेशन), स्वयं सहायता ग्रुप और उत्पादक सहकारिताओं की पूरी चैन को सहायता प्रदान करना।
  • आवेदक को पोर्टल पर पंजीकरण करना आवश्यक है तभी वह इस योजना से मिलने वाले लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • देश के जितने भी छोटी फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री है उन्हें वित् की सहायता प्रदान करके आगे बढ़ावा देना।
  • मार्केटिंग और ब्रांडिंग (Branding) को मजबूत करके संगठित आपूर्ति श्रृंखला (organised supply chain) को एकीकरण करना।
  • योजना के तहत औपचारिक फ्रेमवर में मौजूदा 2 लाख उद्यमों के संक्रमण के लिए समर्थन किया जायेगा।
  • सामान्य प्रोसेसिंग सुविधा, प्रयोगशाला, गोदाम, कोल्ड स्टोरेज, पैकिंग, इन्क्यूबेशन सेंटर को और अधिक बढ़ावा देना।
  • संस्थानों को मजबूत करना, खाद्य प्रसंस्करण में अनुसंधान केंद्र में पर्शिक्षण देना।

योजना हेतु पात्रता

सरकार द्वारा कुछ पात्रताएं नागरिकों के लिए निर्धारित की गयी है। बताई गयी पात्रता के अनुसार ही आप योजना का आवेदन कर पाएंगे। हम आपको पात्रता के बारे में बताने जा रहे है। पात्रता जानने के लिए दिए गए स्टेप्स को फोल्लो करें।

  • योजना का लाभ केवल वही नागरिक ले सकते है जो फ़ूड प्रोसेसिंग क्षेत्र से जुड़े होंगे।
  • सीड फण्ड के लिए मिलने वाली राशि का इस्तेमाल छोटे औजार और कार्यशील पूंजी के लिए किया जायेगा।
  • फ़ूड प्रोसेसिंग गतिविधि के लिए सेल्फ हेल्प ग्रुप को शामिल किया होना चाहिए।
  • सीड फण्ड तभी स्वयं सहायता समहू को दिया जायेगा जब उनके प्रत्येक सदस्य से सभी जानकारी जैसे: रॉ मटेरियल का सोर्स, सालाना टर्नओवर, जितने प्रोडक्ट प्रोसेस्ड किये गए है उनकी जानकारी और अन्य जानकारी प्राप्त होगी।
  • SHG की महिलाओं को फ़ूड प्रोसेसिंग क्षेत्र में 3 साल का एक्सपीरियंस होना जरुरी है।
  • स्वयं सहायता समहू के पास 10% प्रोजेक्ट कॉस्ट और 20% मार्जिन मनी अपने पास होनी चाहिए।
आवश्यक दस्तावेज

हम आपको योजना में मांगे जाने वाले दस्तावेजों के बारे में जानकारी देने जा रहे है जिसके माध्यम से आप आसानी से आवेदन कर सकेंगे। आवेदक दस्तावेजों की सूची जानने के लिए दी गयी तालिका को पूरा पढ़े।

आधार कार्ड मूलिवास प्रमाणपत्र इनकारपोरेशन सर्टिफिकेट (निगमन प्रमाणपत्र)
बैंक अकाउंट नंबर बैंक पासबुक आयु प्रमाणपत्र
पासपोर्ट साइज फोटो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर

PM FME योजना का SHG को सहायता

सहायता स्वयं समहू को इस योजना के तहत कई सारी सुविधाएं दी गयी है। हम आपको इसकी जानकारी देने जा रहे है जो इस प्रकार से है:

  • वित्तीय सहायता राशि: SHG महिलाओं को वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी। इसमें 35% क्रेडिट लिंक सब्सिडी अनुदान के रूप में दी जाएगी। सरकार ने 10 लाख की अनुदान राशि लिमिट इस योजना के तहत रखी है।
  • सीड कैपिटल: औजार खरीदने और कार्यशील पूंजी के लिए सरकार स्वयं सहायता समहू के हर एक सदस्य को 40 हजार रुपये के हिसाब से बीज हेतु राशि प्रदान करेगी। सभी SHG के सदस्य को फ़ूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री में शामिल नहीं किया जायेगा इसलिए महिलाओं को यूनियन लेवल पर बीज पूंजी दी जाएगी। योजना से मिलने वाली राशि अनुदान के रूप में दी जाएगी।
  • ट्रेनिंग एंड हैंडहोल्डिंग सपोर्ट: योजना के तहत नागरिकों को ट्रेनिंग और सपोर्ट प्रदान किया जायेगा।

PM FME योजना का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

अगर आप भी योजना का आवेदन करना चाहते है तो हम आपको इसकी आवेदन प्रक्रिया के बारे में बताने जा रहे है। योजना की आवेदन प्रक्रिया के जानने के लिए दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • आवेदक को सबसे खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहाँ आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको PMFME वेबसाइट के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के पश्चात आप अगले वेबसाइट पर पहुँच जायेंगे।
  • यहाँ आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। pardhan mantri FME yojana registration
  • जिसके बाद आपको साइन अप पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही पंजीकरण फॉर्म आपकी स्क्रीन पर खुल जायेगा।
  • पंजीकरण फॉर्म पर आपको लाभार्थी का प्रकार, नाम, ईमेल ID, मोबाइल नंबर, राज्य, डिस्ट्रिक्ट, एड्रेस आदि की जानकारी को भरना होगा।
  • अब आपको रजिस्टर के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करते ही आपकी पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • लॉगिन करने के लिए आवेदज को सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको लॉगिन के ऑप्शन पर जाना है, यहाँ आपको एप्लिकेंट लॉगिन (PMFME) के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना है। Pmfme scheme online awedan
  • क्लिक करने के पश्चात आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको लॉगिन करें पर जाकर लाभार्थी के प्रकार, यूजर ID, पासवर्ड को भरना है। PMFME SCHEME LOGIN PROCESS
  • इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आप लॉगिन हो जायेंगे।
  • अब आपके सामने डैशबोर्ड खुल जायेगा, यहाँ आपको योजना के आवेदन फॉर्म पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करते ही आपके सामने फॉर्म खुल जायेगा, फॉर्म पर आपको पूछी गयी जानकारी भरनी होगी।
  • और इसके साथ-साथ आप फॉर्म में मांगे गए डाक्यूमेंट्स को अपलोड कर दें।
  • अब आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करते ही आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पीएम एफएमई योजना का एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड कैसे करें?

पीएम एफएमई योजना का एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करने की प्रक्रिया इस प्रकार से है:

  • आवेदक को सबसे पहले खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको ऑफलाइन एप्लीकेशन फॉर्म्स फॉर ग्रुप्स के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने कई ग्रुप के पीडीऍफ़ फॉर्म स्क्रीन पर आजायेंगे।
  • आप अपने अनुसार पीडीऍफ़ फॉर्म डाउनलोड कर लें और पूछी गयी जानकारी को अच्छे से भर दें।
  • अब आप फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेज को अपलोड कर लें।
  • और सभी डाक्यूमेंट्स को सम्बंधित कार्यालय में जमा करवा दें।

पीएम एफएमई स्कीम से जुड़े प्रश्न/उत्तर

योजना की आवेदन प्रक्रिया क्या है

योजना की आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन व ऑफलाइन मोड द्वारा पूरी की जाएगी। यदि आप ऑनलाइन माध्यम से योजना का आवेदन करते है तो आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा और अगर आप ऑफलाइन माध्यम से आवेदन करते है तो आपको योजना से सम्बंधित कार्यालय जाकर आवेदन फॉर्म भरना है।

पीएम एफएमई योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

पीएम एफएमई योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmfme.mofpi.gov.in है। आवेदक आसानी से अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से योजना का आवेदन कर सकते है।

पीएम एफएमई का फुल फॉर्म क्या है?

पीएम एफएमई का फुल फॉर्म पीएम फॉर्मलाइजेशन ऑफ़ माइक्रो फ़ूड प्रोसेसिंग एंटरप्राइज स्कीम है।

योजना से सम्बंधित हेल्पलाइन नंबर क्या है?

योजना से सम्बंधित हेल्पलाइन नंबर 911302281089, 8168001500 है। यदि आवेदक को किसी भी प्रकार की जानकारी जाननी है या कोई भी सवाल पूछने है तो आप दिए गए हेल्पलाइन नंबर्स पर संपर्क करके अपनी समस्या का हल जान सकते है। इसके अलावा आवेदक दी गयी ईमेल ID [email protected] पर भी ईमेल भेज सकते है।

क्या इस योजना का आवेदन देश के नागरिक कर सकते है?

जी हाँ, PM FME योजना का आवेदन देश के सभी नागरिक कर सकते है और इससे मिलने वाले लाभों को प्राप्त कर सकते है।

हमने आपको अपने आर्टिकल में पीएम एफएमई स्कीम के बारे में सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है। यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे मैसेज करके बता सकते है और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है। हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की जरूर कोशिश करेगी।

ऐसी ही सरकारी और गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें।

Leave a Comment