(रजिस्ट्रेशन) यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

देश के विकास के लिए सरकार विभिन्न वर्गों के लिए बहुत सी योजनाएं लाती रहती हैं। कुछ योजनाएं केंद्र सरकार की ओर से शुरू की जाती हैं तो कुछ राज्य सरकार अपने प्रदेश की जरुरत के अनुसार योजनाओं को लाती है। इसी तरह उत्तर प्रदेश ने एक योजना की शुरुआत की है। जिस का नाम है – यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना। इस योजना को प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओं को ध्यान में रखकर लाया गया है। इससे उन्हें स्वरोजगार शुरू करने का अवसर मिलेगा। इसके लिए राज्य सरकार उन्हें पूरी सहायता प्रदान करेगी। जिससे प्रदेश के युवाओं को प्रोत्साहन मिले। आज इस लेख के माध्यम से हम आप को Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana में आवेदन कैसे करना है, इस की पात्रता शर्तें, आवश्यक दस्तावेज आदि संबंधित जानकारी देंगे। कृपया जानने के लिए आगे पढ़ें –

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना: ऐसे भरें आवेदन फॉर्म

(रजिस्ट्रेशन) यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना : ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म
यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना

यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana की शुरुआत उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा की गयी है। इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के शिक्षित युवाओं को अपना स्वरोजगार शुरू करने के लिए 10 लाख रूपए का ऋण प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। ये योजना प्रदेश हित में लायी गयी एक बेहतरीन पहल है जिससे न केवल बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार शुरू करने के लिए आर्थिक सहायता मिलेगी बल्कि राज्य में रोजगार के अन्य अवसर भी खुलेंगे। जिसका लाभ बाकी युवाओं और बेरोजगारों को भी मिलेगा।

यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना में 10 लाख रूपए का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। स्कीम के तहत मिलने वाली धनराशि पर सामान्य वर्ग के लाभार्थियों को 4 % ब्याज पर लोन दिया जाएगा। इस के अतिरिक्त आरक्षित वर्ग के लाभार्थियों को ये धनराशि बिना ब्याज के प्राप्त होगी। ध्यान दें आरक्षित वर्ग में एससी एसटी , पिछड़ा वर्ग, महिलाएं, अल्पसंख्यक, विकलांग और भूतपूर्व सैनिकों को इस सूची में माना जाएगा। Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana में जो भी इच्छुक उम्मीदवार आवेदन करना चाहते हैं वो इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana Highlights

आर्टिकल का नाम मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना
राज्य का नाम उत्तर प्रदेश
शुरुआत की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
समबन्धित विभाग उत्‍तर प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड
योजना का प्रकार राज्य सरकार द्वारा प्रायोजित
उद्देश्य प्रदेश में बेरोजगारी कम करना और स्वरोजगार को प्रोत्साहन देना।
लाभार्थी प्रदेश के बेरोजगार और युवा
आवेदन का मोड ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट upkvib.gov.in

ग्रामोद्योग रोजगार योजना से लाभ

  • ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। जिससे सभी आस पास के युवाओं को अपने घर के पास ही रोजगार मिल जाएगा।
  • जो भी इच्छुक युवा अपना रोजगार शुरू करना चाहते हैं वो इस योजना के माध्यम से स्वरोजगार की शुरुआत कर सकते हैं।
  • शिक्षित युवा स्वरोजगार के माध्यम से अपने साथ साथ बाकी लोगों को भी रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएंगे।
  • आप की जानकारी के लिए बता दें की मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना में आवेदन करने वाले सभी आवेदकों को 10 लाख रूपए तक का लोन प्राप्त होगा।
  • स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहन मिलने पर सभी युवा ग्रामीण क्षेत्रों में ही रोजगार शुरू कर सकेंगे, जिससे विकास होने की राह खुल जाएगी।
  • ग्रामीण क्षेत्रों से शहरी क्षेत्रों की ओर होने वाले पलायन पर भी रोक लगेगी।

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना की पात्रता

  1. आवेदन करने वाला उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  2. इसमें केवल प्रदेश के बेरोजगार लोग ही आवेदन कर सकते हैं।
  3. आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष के मध्य होनी आवश्यक है।
  4. उन आवेदकों को प्राथमिकता दी जाएगी जो आईटीआई (ITI) और पॉलिटेक्निक (Pol.Tech) संस्थानों से तकनीकी प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके हों।
  5. इस योजना में 50 प्रतिशत आरक्षित वर्ग (अनुसूचित जाती / अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, महिलाएं, विकलाँग आदि ) से आने वाले आवेदकों को शामिल किया जाएगा।
  6. वो युवा भी पात्र माने जाएंगे जो S.G.S.Y और शासन के अंतर्गत ट्रेनिग प्राप्त कर चुके हैं।
  7. इसमें महिलाएं और पुरुष दोनों ही आवेदन कर सकते हैं।
  8. जिन आवेदकों ने व्यावसायिक शिक्षा यानि 12th में ग्रामीण उद्योग विषय के साथ परीक्षा पास की है।
  9. परम्परागत कारीगरों को भी इसमें लाभ मिलेगा।

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana में ये हैं आवश्यक दस्तावेज

आप को इस योजना में आवेदन करने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक प्रमाण पत्र
  • जन्म सम्बन्धित प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पंजीकृत मोबाइल नंबर
  • तकनीकी योग्यता प्रमाण पत्र
  • उद्यमी विकास प्रशिक्षण प्रमाण पत्र (यदि ऐसा कोई प्रशिक्षण लिया गया हो तो )
  • जहाँ स्वरोजगार शुरू करना हो वहां की प्रमाणित प्रमाण पत्र की कॉपी जो कि ग्राम प्रधान कार्यकारी अधिकारी द्वारा सत्यापित होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना में ऐसे करें आवेदन

यदि आप भी Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana में आवेदन करना चाहते हैं और इस के माध्यम से स्वरोजगार शुरू करने के इच्छुक हैं तो आप यहाँ दी यी प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आप को ग्रामोद्योग रोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट upkvib.gov.in पर जाएँ।
  • अब आप को होम पेज पर मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब अगला पेज खुलेगा, यहाँ आप को ऑनलाइन आवेदन करने के लिए यहाँ क्लिक करें के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • क्लीक करने के बाद आप की स्क्रीन पर पंजीकरण हेतु आवेदन पत्र खुल जाएगा।
  • यहाँ आप को पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी।
  • यहाँ आप अपना नाम आधार कार्ड और मोबाइल नंबर भरें। और सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • अब आप को यूजर ID और पासवर्ड मिल जाएगा।
  • अब होम पेज पर वापस आइये और यहाँ दिखाई दे रहे Login For Applicant के विकल्प पर क्लीक करिए।

कृपया ध्यान दें की लाभार्थी के पास रोजगार करने के लिए स्वयं का अंशदान ( सामान्य नागरिकों का परियोजना लागत का कम से कम 10% तथा आरक्षित वर्ग का 5% होना आवश्यक है ) हो और रोजगार का प्रशिक्षण प्राप्त किया हो।

Gramodyog Rojgar Yojana से संबंधित प्रश्न उत्तर

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना किस प्रदेश में शुरू की गयी है ?

Gramodyog Rojgar Yojana उत्तर प्रदेश राज्य में शुरू की गयी है। इसकी शुरुआत माननीय मुक्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा की गयी है।

Gramodyog Rojgar Yojana किसके लिए शुरू की गयी है ?

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग योजना की शुरुआत प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के शिक्षित और बेरोजगार युवाओं के लिए शुरू की गयी है।

ग्रामोद्योग रोजगार योजना में क्या खास है ?

इस योजना में जो भी पात्रता रखने वाला व्यक्ति अपना स्वरोजगार शुरू करना चाहता है उसे सरकार के अंतर्गत उत्‍तर प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में ऋण उपलब्ध कराया जाएगा।

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana में कितना ऋण मिलता है और इसमें कितनी छूट मिलती है ?

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना में 10 लाख रूपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है। यही नहीं आरक्षित वर्ग के सभी वर्गों को ब्याज पर पूरी छूट मिलती है। वहीँ सामन्य वर्ग के आवेदकों को मात्र 4 % ब्याज पर लोन मिल जाता है।

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है ?

इस योजना के लिए निर्धारित की गयी आधिकारिक वेबसाइट – http://upkvib.gov.in/ है।

हेल्पलाइन नंबर

टोल फ्री नंबर – 2208321, 2208310, 2208313, 2207004 ई-मेल – ceoupkvib@gmail.com

इस लेख के माध्यम से हमने आप को यूपी ग्रामोद्योग रोजगार योजना (Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana) के बारे में सभी आवश्यक जानकारी प्रदान कर दी है। उम्मीद करते हैं की आप को ये जानकारी उपयोगी लगी होगी। यदि आप को इस विषय के संबंध में अधिक जानकारी चाहिए या कुछ पूछना हो तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं।

यदि आपको अपने राज्य से जुडी इसी तरह की अन्य लेख और योजनाओं से संबंधित जानकारी चाहिए तो आप हमारी इस वेबसाइट को बुक मार्क कर सकते हैं। हम आप तक ऐसे ही और उपयोगी आर्टिकल्स लाते रहेंगे। कृपया साथ बने रहे।

Leave a Comment