Mera Desh Bharat Par Nibandh | 10 lines Essay on Mera Desh Bharat | Mera Desh Essay in Hindi

Essay on Mera Desh Bharat– भारत विश्व में अपने ऐतिहासिक धरोहर, संस्कृति ,प्राचीन इतिहास के लिए जाना जाता है। एक ऐसा देश जिसने गुलामी की जंजीरे तोड़ खुद को ब्रिटिश साम्राज्य से आजाद कराया था। भारत देश 15 अगस्त 1947 में आजाद हुआ इस देश का अपना एक गौरवशाली इतिहास रहा है। आज हम आपको इस आर्टिकल में भारत देश ( Mera Desh Bharat )पर निबंध लिखना बता रहे हैं।

दिवाली पर निबंध (Essay on Diwali in Hindi)

Essay on Mera Desh Bharat
Essay on Mera Desh Bharat; भारत पर निबंध

भारत देश की संस्कृति और उसकी धरोहर विश्व में अपनी एक विशेष पहचान बनाये हुए है। आज यहां हम आपको इस महँ देश पर निबंध (Mera Desh Bharat Par Nibandh) लिखना बता रहे हैं। जो भी छात्र /छात्राएं Mera Desh Essay in Hindi निबंध ढूंढ रहे हैं वह यहां से मेरा देश भारत पर निबंध को आसानी से लिख सकते हैं।

Mera Desh Bharat Par Nibandh

शीर्षक – ”मेरा भारत देश पर निबंध”

प्रस्तावना

भारत देश जो तीनो ओर से समुद्र से घिरा हुआ अपने शिखर पर हिमालय पर्वत को धारण किये हुए है। दुनिया में भारत देश अपनी संस्कृति के लिए विशेष रूप से पहचाना जाता है। यहाँ पर लाखों मंदिर हैं जिनकी अपनी विशेष शैली है। दुनिया भर में भारत देश अपनी पहचान बना चुका है। यहाँ कई ऐतिहासिक स्थल है साथ ही साथ यहाँ कई धर्मों के लोग भी निवास करते हैं यह देश पूरे विश्व में सभी धर्मों का सम्मान करने वाला देश है जिसे आर्यावर्त के नाम से भी जाना जाता है।

भारत का विस्तार

पूर्व में बंगाल की खाड़ी पश्चिम में अरब सागर ,दक्षिण में हिन्द महासागर से घिरा यह देश बांग्लादेश से लगभग 4,096.7 किमी ,चीन से 3,488 किमी ,पाकिस्तान से 3,323 किमी तथा नेपाल से 1,751 किमी और म्यांमार 1,643 किमी ,भूटान 699 किमी और अफ़ग़ानिस्तान (106 किमी) की सीमा साझा करता है। उतर से दक्षिण भारत 3,214 कि. मी. में तथा पूर्व से पश्चिम तक भारत की चौड़ाई 2,933 किलोमीटर है। भारत जो की कुल 32,87,263 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। भारत उत्तरी गोलार्ध में स्थित देश है इस देश के मध्य से कर्क रेखा (23° 30’) होकर गुजरती है। यहाँ कुल 28 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश (यूनियन टेरेटरी) हैं । लगभग 742 जिलों वाला यह देश अपनी अखंडता के लिए जाना जाता है।

भारत का गौरवशाली इतिहास

भारत का अपना एक महान इतिहास रहा है। देश जो कभी गुलामी की जंजीरों में जकड़ा हुआ था उसे आजाद कराने में कई क्रांतिकारियों ने अपना योगदान दिया है। गाँधी जी की दांडी यात्रा हो या फिर उनका असहयोग आंदोलन देश को आजादी दिलाने में सभी तरह के आंदोलन अपने अपने स्तर पर समय -समय पर किये गए। ब्रिटिश साम्राज्य द्वारा कई तरह के अनुचित नियमों और कानूनों को भारत की जनता के ऊपर लागू किये गए। भारत जो कभी ”सोने की चिड़ियाँ” कहलाता था उसे खोखला कर दिया गया।

1947 में आजादी ऐसे ही नहीं मिली कई क्रांतिकारियों ने अपना खून भारत को आजाद कराने में बहाया है। भारत जहाँ हिन्दू मुस्लिम एकजुट होकर रहा करते थे अंग्रेजी हुकूमत ने अपने हुकूमत के विस्तार के लिए हिन्दू -मुस्लिम दोनों धर्मों के बीच ईर्ष्या और नफरत के बीज बोये इसका यह नतीजा रहा की भारत के दो भाग कर दिए गए -पाकिस्तान और भारत।

भारत में विदेशियों का आक्रमण

भारत हमेशा से ही विदेशी आक्रमणकारियों का निशाना रहा है। 721 में अरबी मुस्लिम शासक मुहम्मद बिन कासिम ने भारत पर आक्रमण किया था। इसके बाद से कई विदेशी आक्रांताओं ने भारत में समय -समय पर अपने साम्राज्य विस्तार और लूट के उद्देश्य से आकर्मण किया था। भारत पर लगभग 11 विदेशियों द्वारा राज किया गया और इस दौरान भारत की कई धरोहर को नष्ट किया गया।

1858 से 1947 के बीच भारत ब्रिटिश साम्राज्य के अधीन था। भारत की आजादी में कई नेताओं और क्रांतिकारियों का योगदान रहा है। भारत अंग्रेजी हुकूमत के 200 साल की गुलामी से 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ। भारत जो सोने की चिड़ियाँ कहलाता था उसे अंग्रेजों द्वारा लूट कर खोखला कर दिया गया। भारत देश जो वर्तमान समय में दुनिया में ख्याति प्राप्त का चुका है। उसके इतने लम्बे इतिहास हो कुछ ही शब्दों में बयाँ नहीं किया जा सकता। आज भारत देश विकसित देशों की श्रेणी में आने के लिए अपने स्तर पर प्रयाश कर रहा है।

भारत की ऐतिहासिकता –

इस देश की मिटटी में अनेक महापुरुषों का जन्म हुआ है। सूर्यवंशी मर्यादा पुरुषोत्तम राम जैसे राजा जिन्होंने सदैव ही अपने वचन का पालन किया और श्री कृष्ण जैसे राजा जिन्होंने युद्ध क्षेत्र में अर्जुन को उपदेश दिया जिसके परिणाम स्वरुप कुरुक्षेत्र के युद्ध में पांडवों को विजय मिली और धर्म की जीत हुयी ऐसा देश है” भारत”। महात्मा गाँधी,सरदार पटेल, जवाहर लाल नेहरू जी जैसे नेताओं ने अपने स्तर पर भारत को गुलामी से आजादी के लिए प्रयत्न किये। गाँधी जी का विचार था की हिंसा नहीं अहिंसा से सब कुछ पाया जा सकता है।

अहिंसा परमो धर्मा” का पथ पढ़ने वाले गाँधी जी जैसे देशभक्त, भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव जैसे क्रांतिकारियों वाला यह देश अपनी आजादी के लिए कई महापुरुषों का खून बहा ले गया। आज का भारत इन महान पुरुषों के ही बलिदान का नतीजा है जो आज इन खुली हवाओं में तिरंगे को आजादी के साथ 15 अगस्त को फहराता है।

भारत की विशेषता

विश्व विरासत में भारत का अपना स्थान है यहाँ कई ऐसे धरोहर स्थल हैं जिनकी तरफ विदेशी लोग आकर्षित होकर यहाँ आते हैं। भारत में 40 विश्व विरासत स्थल हैं। यहाँ 200 से भी अधिक बड़ी और छोटी नदियां हैं। जिसमे माँ गंगा जो की देश की सबसे लम्बी नदी है। हिमालय पर्वत जिसे पर्वतराज भी कहा जाता है ऐसा देश जहाँ पर्वत, नदी को भगवान का स्वरुप समझा जाता है। साथ ही भारत में कई भाषा ,संस्कृति ,खान-पान ,वेशभूषा वाले लोगों का समवेश है। यहाँ पर हर धर्म का सम्मान किया जाता है। हिन्दू ,मुस्लिम,सिख ,ईसाई सभी मिल-जुल कर रहते हैं।

भारत जो विकसशील देश है यहाँ पर चीन के बाद सबसे अधिक संख्या में आबादी निवास करती है। भारत में कई प्रकार के मंदिर हैं। उत्तर भारत में नगर शैली के मंदिर और दक्षिण भारत में द्रविड़ शैली जैसे मंदिर देखने को मिलते हैं। हर कदम पर खान-पान और वेशभूषा ,भाषा में भिन्नता देखने को मिलती है। गंगा यमुना ,गोदावरी ,कृष्णा ,कावेरी नदियों और हिमालय ,अरावली, नीलगिरि पर्वत तथा मालवा ,बुंदेलखंड ,छोटा नागपुर और दक्कन के पठार भारत में फैले हुए हैं।

धर्मनिरपेक्ष भारत –

यहाँ एक ऐसा देश है जिसका कोई एक धर्म नहीं है सभी घरों का सम्मान यहाँ किया जाता है। हिन्दू, मुस्लिम,सिक्ख, ईसाई तथा बोद्ध धर्म के लोग यहाँ मिलजुल कर रहा करते हैं। यहां हिन्दू धर्म के लोग अधिक संख्या में रहती है जिसके बाद मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोग आते हैं। यहाँ का सनातन धर्म सभी धर्मों में से प्राचीन धर्म है। देश में अनेक धर्मों ,जातियों के बीच आपसी भाईचारा देखने को मिलता है। यहाँ  79.8% लोग हिन्दू धर्म को मानते हैं। 15.23 प्रतिशत लोग इस्लाम धर्म के अनुयायी हैं। 2.3 प्रतिशत तक ईसाई तथा 1.72 % सिख धर्म के लोग रहते हैं।

भारतीय संस्कृति –

भारत एक रंगबिरंगा देश है जहाँ विभिन्न प्रकार की वेशभूषा ,रहना सहन ,खानपान है। यहां हर राज्य की अपनी अपनी विशेषता है अपना इतिहास है। यह भगवान राम ,कृष्ण की जन्भूमि है यहाँ भगत सिंह ,महात्मा गाँधी जैसे महान क्रांतिकारियों का जन्म हुआ है। यहाँ की संभ्यता ,इतिहास ,भूगोल अभी का अपना एक महत्त्व है। कई सारी परम्पराओं वाला यह देश अपनी छाप विदेशों में भी छोड़ रहा है। भारत की संस्कृति संसार की प्राचीन संस्कृतियों में से एक है। चाणक्य,द्रोणाचार्य जैसे गुरुओं की यह भूमि विश्व के अन्य देशों में अपनी पहचान बना चुकी है। यहाँ की संस्कृति को आज विदेशों में भी अपनाया जा रहा है।

त्योहारों का देश “भारत “

भारत एक ऐसा देश है जहाँ अन्य देशों की तुलना में सबसे अधिक त्यौहार मनाये जाते हैं। हर धर्म के लोग अपने अपने त्यौहार को बड़े ही उत्साह से मानते हैं। यहाँ होली ,दिवाली ,रक्षाबंधन ,नवरात्री , कृष्णजन्माष्टमी,लोहड़ी ,बकरीद ,गणेश चतुर्थी ,रमजान आदि त्यौहार मनाये जाते हैं। हर धर्म के लोग अपने त्यौहार को बड़ी ही श्रद्धा और उत्साह के साथ सभी धर्मों के लोगों के संग मनाते हैं।

भारत का संविधान

भारतीय संविधान पर 26 नवंबर 1949 को हस्ताक्षर किए गए थे। संविधान को भारत में हर साल 26 जनवरी 1950 को लागू कर दिया गया था। इसी दिन भारत में हर साल गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। संविधान सभा में कुल 299 सदस्य थे। भीमराव अम्बेडकर जी को भारत के संविधान का निर्माता खा जाता है। और भारत का संविधान किसी अन्य देश के संविधान से अधिक लम्बा लिखित संविधान है। भारत के संविधान को तैयार करने में 2 वर्ष, 11 माह, 18 दिन का समय लगा था। इस संविधान में वर्तमान समय में 395 अनुच्छेद जिन्हें 22 भागों और 12 अनुसूचियां मे बांटा गया है।

इस संविधान में समय समय पर कई संशोधन किये गए हैं। इन्हीं अनुच्छेद और अनुसूचियों का प्रयोग भारत में सभी राज्यों और राज्यों में निवास करने वाले नागरिकों के लिए होता है। भारत के संविधान में सभी नागरिकों को मूल अधिकार दिए गए हैं साथ ही साथ नागरिकों के कर्तव्यों को भी इस संविधान में समझाया गया है।

भारत की अर्थव्यवस्था

आज भारत देश विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। साल 1991 में भारत देश की आर्थिक प्रगति हुयी है। इस दौरान कई आर्थिक सुधार किये गए। विश्व में यह अपनी विशेष छाप छोड़ चुका है। भारत कई देशों को जरुरी सामान निर्यात (exports)करता है जैसे वस्त्र ,पेट्रोलियम उत्पाद ,तेल ,लोहा आदि।

मेरा भारत देश –

भारत जिसे इंडिया नाम से भी जाना जाता है। एक ऐसा देश है जिसकी अपनी संस्कृति ,धरोहर, स्मारक और अपना एक अस्तित्व है। अनेकता में एकता के इस देश में कई धर्मों के लोग साथ मिल-जुल कर रहते हैं। यह एक सांस्कृतिक देश है। यह एशिया महाद्वीप के दक्षिण में बसा एक लोकतान्त्रिक देश है। जहाँ सभी धर्मों का सम्मान किया जाता है। पूर्व से पश्चिंम ,उतर से दक्षिण भारत देश में कई सारे रीति-रिवाजों ,खान -पान ,संस्कृति से जुड़े लोग निवेश करते हैं। मुख्या रूप से हिंदी भाषा देश में बोली जाती है। लेकिन इसके साथ ही अन्य भाषाओं को भी मान्यता दी गयी है जिनकी संख्या 22 है। अलग-अलग संस्कृति और परंपरा होने के बावजूद भी बिना भेदभाव के सभी लोग यहाँ रहते हैं।

भारत देश में सबसे सुंदर और पूरे विश्व को अपनी और आकर्षित करने वाली कलाकृतियाँ, मंदिर समूह ,पौराणिक स्थल मौजूद हैं। दक्षिण के लेकर उत्तर और पूर्व से लेकर कई ऐसे मंदिर हैं जिनके दर्शन के लिए लोग विदेशों से यहाँ आते हैं।

निष्कर्ष

आज भारत विश्व में अपनी पहचान बन चुका है। भारत ने अपने इतिहास में कई जख्मों को झेला है। आजादी से पहले कई विदेशी आक्रमणकरियों ने इस देश में रक्तपात किया। ब्रिटिश साम्राज्य द्वारा देश की कमर तोड़ दी गयी। भुखमरी ,गरीबी अपनी चरम सीमा पर थी। भारत देश की आज़ादी में कई क्रांतिकारियों का विशेष योगदान रहा जिसके परिणाम स्वरुप आज हम खुली हवाओं में साँस ले पा रहे हैं। कई प्रकार के राजनितिक,आर्थिक,सामाजिक समस्याओं से भारत देश निकल कर आया है और आज विश्व की महाशक्तियों में इसका भी अपना स्थान है।

किन्तु विडंबना है की आज यह देश अपने मूल स्वरुप जिसके लिए यह पहचाना जाता था उसे कहीं खो चुका है। आज देश में सभी धर्मों के बीच एक गहरी खाई आ चुकी है। जिसके लिए हमारे वोटों के भूखे राजनेता कई अधिक जिम्मेदार हैं।

10 lines Essay on Mera Desh Bharat

  1. भारत एशिया महाद्वीप में बसा हुआ है।
  2. भारत में विभिन्न धर्म के लोग रहते हैं; जैसे हिन्दू ,मुस्लिम ,सिख ,ईसाई
  3. भारत को 15 अगस्त 1947 को आजादी मिली थी।
  4. भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है। यहाँ का संविधान सभी धर्मों को समानता ,स्वतंत्रता जैसे मूल अधिकारों की आजादी देता है।
  5. भारत पूरे विश्व में क्षेत्रफल के आधार पर सातवें स्थान पर आता है।
  6. छीने के बाद भारत जनसँख्या के आधार पर दूसरे स्थान पर आता है।
  7. भारत के पडोसी देश- पाकिस्तान ,बांग्लादेश ,नेपाल, चीन, म्यांमार , अफगानिस्तान ,मालद्वीव ,श्री लंका ,भूटान है।
  8. भारत में हिंदी भाषा का ज्यादा उपयोग किया जाता है। इसके अलावा भारत में 22 भाषाओं को भी मान्यता दी गयी है।
  9. हमारा प्यारा भारत 3 ओर से महासागर से घिरा हुआ है। इसके पूरब में बंगाल की खाड़ी ,दक्षिण में भारतीय महासागर और पश्चिम में अरब सागर है।
  10. भारत की आजादी में भगत सिंह, लाला लाजपत राय, गाँधी जी ,सरदार पटेल जैसे देशभक्तों का योगदान रहा है।

Mera Desh Bharat Essay in Hindi FAQs

भारत देश कब आजाद हुआ ?

हमारा भारत देश 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ।

भारत का कुल क्षेत्रफल कितना है ?

भारत का कुल क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किलोमीटर है।

भारत में कुल कितनी नदियां हैं ?

हमारे भारत देश में सभी छोटी और बड़ी नदियों को मिला दिया जाए तो इनकी संख्या 200 है।

भारत की प्रमुख नदियां कौनसी हैं ?

भारत की प्रमुख नदिया -गंगा नदी ,यमुना नदी,सिन्धु नदी ,झेलम नदी ,चिनाब नदी ,रावी नदी ,सतलुज नदी, व्यास नदी हैं।

भारत की जनसँख्या 2022 में कितनी है?

भारत में वर्तमान समय में जनसंख्या 140 करोड़ है।

उत्तर से दक्षिण तक भारत की कुल लम्बाई कितनी है ?

भरता देश की कश्मीर से कन्याकुमारी तक कुल लम्बाई 3214 किलोमीटर है।

भारत के पूर्व में कौन कौनसे राज्य हैं ?

देश में पूर्वी भारत में बिहार ,झारखण्ड ,उड़ीसा ,पश्चिम बंगाल राज्य है।

भारत की सबसे लम्बी नदी कौनसी है ?

गंगा भारत की सबसे लम्बी नदी है।

भारत में कुल कितने धर्म हैं ?

हमारे देश भारत में कुल 4 धर्म हैं -हिंदी ,मुस्लिम ,सिक्ख ,ईसाई हैं।

देश में सबसे अधिक जनसँख्या किस धर्म की है ?

हिन्दू धर्म या सनातन धर्म की संख्या भारत में अधिक है।

भारत के पश्चिम में कौनसा सागर है ?

अरब सागर भारत के पश्चिम में स्थित है।

भारत के पूर्व में कौनसा महासागर है ?

इंडिया के ईस्ट में प्रशांत महासागर है।

भारत के पडोसी देश कौन कौनसे हैं ?

पाकिस्तान ,बांग्लादेश ,नेपाल ,भूटान ,चीन ,म्यांमार ,अफगानिस्तान,मालद्वीव ,इंडोनेशिया ,श्री लंका देश बहरत के पडोसी देश है।

भारत के स्थलीय सीमा की लम्बाई कितनी है ?

भारत की स्थलीय सीमा की लम्बाई 15200 किमी है। वहीँ भारत के समुद्र तट की लम्बाई 7517 किमी है।

इंडिया में कुल कितने स्मारक स्थल है ?

इस समय भारत में कुल 3650 स्मारक स्थल है।

Bharat के मैदानों को कितने भागों में बनता गया है ?

Bharat के मैदानों को कुल 3 भागों में बांटा गया है -पूर्वी घाट के मैदान ,पश्चिमी घाट के मैदान और उत्तरी घाट के मैदान।

INDIA में कुल कितनी भाषाओं को राजभाषा का दर्जा मिला है ?

भारत में कुल 22 भाषाओं को राजभाषा का दर्जा दिया गया है।

भारत में कुल कितने राज्य हैं?

वर्तमान में भारत में कुल 28 राज्य और 8 यूनियन टेरेटरी है।

भारत की सबसे छोटी नदी कौनसी है ?

अरवरी नदी भारत की सबसे छोटी नदी है।

आज के इस पोस्ट में हमनें आपको Mera Desh Bharat पर निबंध कैसे लिखते हैं वो बताया है। किसी भी सवाल के लिए आप कमेंट करके सवाल कर सकते हैं।

Leave a Comment

Join Telegram