e nam रजिस्ट्रेशन: ई-नाम ऑनलाइन किसान पंजीकरण @ enam.gov.in Portal

जैसा की आप सभी जानते ही होंगे केंद्र सरकार समय-समय पर किसानों के हित के लिए तरह-तरह की योजनाओं को जारी करती रहती है ताकि उन्हें भविष्य में किसी तरह की परेशानियों का सामना ना करना पड़े। ऐसे ही हमारे देश के प्रधानमंत्री जी श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किसान भाइयों की फसलों की समस्या को देखते हुए एक पोर्टल को शुरू किया गया है। जिसका नाम है ई-नाम पोर्टल। बता दें ई-नाम को राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना के नाम से भी जाना जाता है। यह एक पैन इंडिया इलेक्ट्रॉनिक व्यापार (ट्रेडिंग) पोर्टल है। सरकार द्वारा जारी सभी योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसान भाइयों को पोर्टल पर पंजीकरण करवाना आवश्यक है। आवेदक किसान अपने मोबाइल या कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से e nam portal Registration या राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल 2022 पर पंजीकरण कर सकते है।

e-nam portal farmer registration online process
e nam portal Registration

चलिए आज हम आपको पोर्टल से सम्बंधित सभी जानकरियों जैसे: e-NAM कृषि बाजार – 2022 क्या है ? e nam पोर्टल से मिलने वाले लाभ, विशेषताएं, पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य, पोर्टल पर पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज, पात्रता, E-nam Registration करने की प्रक्रिया आदि के बारे में बताने जा रहे है। जानकारी जानने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़े।

Table of Contents

e nam पोर्टल

किसानों की फसल से जुडी समस्या का हल निकालने के लिए सरकार ने इस ऑनलाइन पोर्टल को जारी किया है। इस पोर्टल के माध्यम से किसान नागरिक अपनी फसल को ऑनलाइन बेच सकते है और फसल का उचित मूल्य प्राप्त कर सकते है। बता दें, किसने द्वारा अपनी फसल के पैसे उन्हें उनके बैंक अकाउंट में भेजे जायेंगे। यह एक तरह का बाजार की मंडियों का एकीकृत राष्ट्रीय बाजार है। इस पोर्टल के माध्यम से बीच के मिडिलमेन समाप्त हो सके और APMC (Agricultural Produce Market Committee) मंडी का प्रसार हो सके।

पोर्टल राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल (e-NAM portal) 2022
के द्वारा केंद्र सरकार
लाभ लेने वाले देश के किसान नागरिक
उद्देश्य ऑनलाइन माध्यम से किसान की फसल की बिक्री करना
साल 2022
श्रेणी केंद्र सरकारी योजना
पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन मोड
आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in
e nam portal Registration

ई-नाम ऑनलाइन किसान रजिस्ट्रेशन

योजना का लाभ आप तभी प्राप्त कर सकेंगे जब आप पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करेंगे। ई-नाम पोर्टल को जारी करने के लिए एग्रीकल्चर एंड फार्मर्स वेलफेयर मिनिस्ट्री ने स्माल फार्मर एग्री-बिज़नेस एसोसिएशन से सुझाव लिए थे। इस पोर्टल के माध्यम से सभी मौजूद मंडियों को ऑनलाइन नेटवर्क से जोड़ा जायेगा। ये पोर्टल सभी के लिए बहुत ही लाभदायी साबित होगा। पोर्टल की मदद से जो भी किसान अपनी फसल को ऑनलाइन बेचना चाहते है वह पोर्टल पर जाकर इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते है और अपनी फसल को उचित मूल्य पर बेच सकते है।

पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य

e nam online किसान पंजीकरण पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य किसानों को मदद प्रदान करना है। यह तो आप जानते ही है कि किसानों को हमेशा इस बात की टेंशन रहती है कि उनकी फसल सही रेट पर बिकेगी या नहीं। ओरिजिनल सिस्टम में जो मिडिल मैन होते है वह किसानों से कम दाम में फसल खरीदते है और आगे जाकर उन फसलों को महंगे दामों में बेचते है परन्तु अब ई-नाम पोर्टल यानी (राष्ट्रीय कृषि बाजार) के जरिये किसान अपनी फसल को अपने हिसाब से उचित दामों पर बेच सकेंगे। किसानों को कृषि से जुड़े सभी तरह के उत्पाद को बेचने के लिए आवेदन फॉर्म को भरना होगा और खुद को सेलर (विक्रेता) के रूप में पंजीकृत करना होगा।

इसके साथ ही पहले के समय में किसानों का पैसा मिडिल मैन के जरिये देर से आता था लेकिन अब नेशनल एग्रीकल्चर मार्किट की के माध्यम से किसानों का फसल से बेचा हुआ पैसे उन्हें उसी समय बैंक में ट्रांसफर कर दिया जाता है।

पोर्टल से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएँ

पोर्टल से मिलने वाले लाभ एवं विशेषताएँ जानने के लिए दिए गए पॉइंट्स को पढ़े।

  • देश के सभी राज्य अब इस पोर्टल पर मिलकर काम करेंगे।
  • देश के किसान योजना के जरिये अधिक लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • सेब, आलू, प्याज, हरा मटर, महुवा का फूल, अरहर, साबुत मूंग, मसूर, उड़द साबूत, गेहूं, मक्का, चना, बाजरा, जौ, ज्वर, धान, अरंडी के बीज, सोयाबीन, मूंगफली, कपास, जीरा, लाल मिर्च, हल्दी आदि के लिए शुरुवात मंडियों में की गयी।
  • पोर्टल के जरिये वस्तुओं की गुणवत्ता की जानकारी मिल सकेगी।
  • किसानों को होगा फसल हेतु सीधा ऑनलाइन भुगतान।
  • ट्रेड और रेट पर रियल टाइम की जानकारी।
  • ई-नाम पोर्टल को स्माल फार्मर्स एग्रीकल्चरल ट्रेडर्स एसोसिएशन द्वारा शुरू किया जाता है।
  • पोर्टल पर किसान निशुल्क रजिस्ट्रेशन करवा पाएंगे।
  • ई-नाम किसान पोर्टल के ऑनलाइन प्लेटफार्म ट्रेडिंग में ट्रांस्पेरेन्सी आएगी।
  • इस पोर्टल को कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा 8 राज्यो की मंडियों में 14 अप्रैल 2016 को पायलट प्रोजेक्ट बेस पर शुरू किया था। परन्तु सरकार ने 175 कृषि वस्तुओं की ट्रेडिंग करने के लिए पोर्टल के तहत 18 राज्यों और 3 केंद्र शासित प्रदेशों से 1000 बाजारों को इक्कठा किया है।
  • ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से देश के किसान अपनी फसल को किसी भी मंडी में बेच सकेंगे।

ई-नाम पोर्टल पर पंजीकरण हेतु पात्रता

अगर आप भी एक किसान है पर योजना से मिलने वाला लाभ प्राप्त करना चाहते है तो इसके लिए आपको इसकी पात्रता का पता होना बहुत जरुरी है। आज हम आपको योजना से जुडी पात्रता के बारे में बताने जा रहे है आप इसे ध्यानपूर्वक पढ़े।

  • पोर्टल पर आवेदन करने वाला एक किसान होना चाहिए।
  • किसान एक भारतीय नागरिक होना जरुरी है।
  • आवेदन करते समय आवेदक के पास जरुरी दस्तावेज होने चाहिए।

रजिस्ट्रेशन हेतु आवश्यक दस्तावेज

पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी। आज हम आपको उन्ही आवश्यक दस्तावेजों के बारे में जानकारी देने जा रहे है। दस्तावेज जानने के लिए हमारे द्वारा दी गयी तालिका को पूरा पढ़े।

आधार कार्ड मूल निवास प्रमाणपत्र पहचान पत्र: वोटर ID कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस
बैंक पास बुक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पासपोर्ट साइज फोटो
e nam portal Registration

ई-नाम पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

यदि आप ई-नाम पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना चाहते है तो इसके लिए आपको रजिस्ट्रेशन प्रकिया का पता होना बहुत जरुरी है, E nam Registration प्रक्रिया जानने के लिए हमारे द्वारा दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन

  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

ई-नाम ऑनलाइन किसान रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

  • क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी जानकारी जैसे: रजिस्ट्रेशन टाइप, रजिस्ट्रेशन लेवल, नया नाम, बैंक डिटेल्स, पता, जेंडर, पिन कोड, जन्मतिथि, स्टेट, तहसील, डिस्ट्रिक्ट, फ़ोन नंबर आदि को दर्ज करना होगा।

E-nam portal registration process online

  • सभी जानकारियाँ भरने के बाद आपको कैंसिल चेक की कॉपी, पासबुक की कॉपी या ID प्रूफ की स्कैन कॉपी को अपलोड करना होगा। इसके पश्चात आपको बाकि अन्य दस्तावेज को अपलोड कर लेना है।
  • इसके पश्चात सबमिट बटन पर क्लिक कर लेना है।
  • जिसके पश्चात आपकी पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • अब आप कृषि उत्पादन को बेचने के लिए लॉगिन प्रकिया को पूरा कर सकते है।

लॉगिन करने की प्रक्रिया

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल ऑनलाइन

  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको login here के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

ई-नाम पोर्टल लॉगिन प्रक्रिया ऑनलाइन

  • क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।

ई-नाम पोर्टल ऐसे करें लॉगिन

  • नए पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी जैसे: यूज़र नाम, पासवर्ड, भाषा और कैप्चा कोड को भरना होगा।
  • अब आपको सभी जानकारी भरने के बाद लॉगिन पर क्लिक कर लेना है।

e-nam पोर्टल पर किसान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन दिशानिर्देश डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन दिशानिर्देश डाउनलोड करने के लिए सर्वप्रथम ई-नाम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन

  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होमपेज पर आपको रिसोर्स के सेक्शन पर जाकर रजिस्ट्रेशन गाइडलाइन्स के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

E-nam portal aise registration guidelines

  • क्लिक करते ही आपके सामने सम्बंधित जानकारी खुल जाएगी।
  • जिसके बाद आप आसानी से रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को पूरा कर सकेंगे।

ई-नाम मोबाइल एप डाउनलोड करने की प्रकिया

  • ई-नाम मोबाइल एप्प डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर को ओपन करें।
  • होमपेज पर सर्च पर जाकर e-NAM mobile app टाइप करें।
  • इसके बाद आपके सामने एप्प की लिस्ट ओपन हो जाएगी। इसमें सबसे ऊपर दे रहे एप्प पर टैप करें।

राष्ट्रीय कृषि बाजार एप्प डाउनलोड प्रोसेस

  • इसके बाद आपको इंस्टाल का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे।
  • इसके बाद आप रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को पूरा कर सकते है।

एस्पिरेशनल डिस्टिक लिस्ट कैसे देखें?

  • सर्वप्रथम आवेदक किसान को ई-नाम पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट enam.gov.in पर जाना होगा।

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल ऑनलाइन

  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होमपेज पर आपको एस्पिरेशनल डिस्टिक के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

ई-नाम पोर्टल एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट लिस्ट चेक

  • क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर सम्बंधित सूची देख सकते है।

ट्रेनिंग कैलेंडर से जुडी जानकारी देखने की प्रक्रिया

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन

  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको रिसोर्स के सेक्शन पर जाकर ट्रेनिंग कैलेंडर के दिए गये ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा ।

E-nam portal training calendar online

  • नए पेज पर आपको ट्रेनिंग कैलेंडर से जुडी जानकारी दिखाई देगी।

ऐसे करें मैन्युअल डाउनलोड

मैन्युअल डाउनलोड करने के लिए हमारे द्वारा लिखे गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम आवेदक किसान ई-नाम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in पर जाएँ।

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल ऑनलाइन

  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको रिसोर्स के सेक्शन पर जाकर मैन्युअल के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • अगले पेज पर आपको ई-नाम पोर्टल के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

E-nam portal Manual download process

  • क्लिक करते ही आपके सामने स्क्रीन पर पीडीऍफ़ फॉर्मेट में मैन्युअल खुल जाएगी।
  • जिसके बाद आप इसे आसानी से डाउनलोड कर सकते है।

ऑनलाइन पैमेंट कैसे करें?

  • enam ऑनलाइन पैमेंट करने के लिए आपको सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट enam.gov.in पर जाना होगा।

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन

  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा। होम पेज पर आपको रिसोर्स के सेक्शन पर जाकर ऑनलाइन पेमेंट्स के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। अगले पेज पर आपको पेमेंट का ऑप्शन जैसे: पैमेंट चालान, नेट बैंकिंग, BHIM ID, पे टू कॉर्प, इन्सेन्टिव्स आदि को सेलेक्ट करना है। जिसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन पेमेंट करने की प्रक्रिया

  • नए पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी को भर लेना है और पे के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। जिसके बाद आपकी ऑनलाइन पैमेंट पूरी हो जाएगी।

ऑपरेशनल गाइडलाइंस डाउनलोड करने की प्रकिया

  • ऑपरेशनल गाइडलाइंस डाउनलोड करने के लिए आवेदक किसान को ई-नाम पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट enam.gov.in पर जाना होगा।

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल ऑनलाइन

  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको रिसोर्स के सेक्शन पर जाकर ऑपरेशनल गाइडलाइन्स के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।

ई-नाम पोर्टल ऑपरेशन गाइडलाइन्स डाउनलोड प्रोसेस

  • अगले पेज पर आपके स्क्रीन पर पीडीऍफ़ फॉर्मेट खुल कर आ जायेगी।
  • जिसके बाद आपको इसे डाउनलोड के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

E-NAM मंडी से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • E-NAM मंडी से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए सर्वप्रथम आवेदक किसान को ई-नाम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in पर जाना होगा।

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन

  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको ई-नाम मंडीज के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

E-nam portal mandi search process

  • क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपके सामने तीन ऑप्शन जैसे: कांटेक्ट डिटेल्स, ट्रेडिंग डिटेल्स, मंडीज ऑनलाइन दिखाई देंगे।

E-nam portal online mandi search process

  • यहाँ आप अपनी आवश्यकता अनुसार एक ऑप्शन को चुन लें।
  • ऑप्शन सेलेक्ट करने के बाद आपके सामने नया पेज खुल कर आजायेगा।
  • नए पेज पर आप राज्य, जिला, कमोडिटी आदि को सेलेक्ट कर लें।
  • इसके पश्चात सबमिट बटन पर क्लिक कर लें।
  • क्लिक करते ही सम्बंधित जानकारी आपकी स्क्रीन पर आ जायेगी।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

डैशबोर्ड देखने के लिए दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम आवेदक किसान ई-नाम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in पर जाएँ।

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल ऑनलाइन

  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको डैशबोर्ड के सेक्शन पर जाना है यहाँ आपके सामने कई सारे ऑप्शन दिखाई देंगे।

E-nam portal dashboard search

  • आपको अपने अनुसार दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर लेना है।
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी को भर लेना है।
  • इसके पश्चात सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।

राष्ट्रीय कृषि मंडी डैशबोर्ड चेक करने की प्रक्रिया

  • क्लिक करते ही सम्बंधित जानकारी आपके सामने स्क्रीन पर आ जायेगी।

कंप्लेंट दर्ज (ग्रीवांस) कैसे करें?

  • कंप्लेंट दर्ज करने के लिए आपको सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in पर जाना होगा।

ई-नाम पोर्टल ऑनलाइन

  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज पर आपको Contact Us के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

E-nam portal geivances redressel online

  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • नए पेज पर आपको इफ यू हेव ग्रीवांस क्लिक हियर के ऑप्शन पर क्लिक करना है।

E-nam portal online geivances redressel process

  • इसके बाद आपको ओपन न्यू टिकट पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही नए पेज पर आपको अपना यूजर नेम और पासवर्ड को दर्ज कर लेना है।

राष्ट्रीय कृषि बाजार ऑनलाइन कम्प्लेन रजिस्ट्रेशन प्रोसेस

  • और साइन इन के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करते ही आपके सामने कंप्लेंट दर्ज करने का फॉर्म खुल कर आ जायेगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी को भर देना है और साथ ही आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर लेना है।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।
  • क्लिक करते ही आपकी कंप्लेंट दर्ज हो जाएगी।

ग्रीवांस स्टेटस ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • ग्रीवांस स्टेटस ट्रैक करने के लिए आप सबसे पहले ई-नाम पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in पर विजिट करें।

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल ऑनलाइन

  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा। होम पेज पर आपको कांटेक्ट अस के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

E-nam portal geivances redressel online

  • इसके बाद आपको इफ यू हेव ग्रीवांस क्लिक हियर के ऑप्शन पर क्लिक करना है। अब आपको चेक टिकट स्टैट्स पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही नए पेज पर आपको अपनी ईमेल ID और टिकट नंबर को भरना होगा और ट्रैक के दिए गए ऑप्शन पर क्लिक कर लेना है। क्लिक करते ही कंप्लेंट दर्ज का स्टेटस आपकी स्क्रीन पर आ जायेगा।

E-nam portal online complain status check online

ई-नाम पोर्टल से सम्बंधित प्रश्न/उत्तर

ई-नाम पोर्टल रजिस्ट्रेशन हेतु आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

ई-नाम पोर्टल रजिस्ट्रेशन हेतु आधिकारिक वेबसाइट enam.gov.in है। आवेदक आसानी से अपने मोबाइल के जरिये ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।

e nam पोर्टल क्या है?

देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किसान भाइयों की फसलों की समस्या को देखते हुए एक पोर्टल को शुरू किया गया है। इस पोर्टल के जरिये किसान भाई अपनी फसल को उचित दाम में ऑनलाइन माध्यम से बेच सकेंगे।

पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या होंगे?

पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए आवश्यक दस्तावेज की जानकारी आपको सम्बंधित आर्टिकल में बता दी गयी है। आवश्यक दस्तावेजों सम्बंधित जानकारी के लिए दिये गये आर्टिकल को पूरा पढ़े।

क्या ई-नाम पोर्टल पर देश के सभी किसान पंजीकरण कर लाभ प्राप्त कर सकते है?

जी हाँ, ई-नाम पोर्टल पर देश के सभी किसान पंजीकरण करके लाभ प्राप्त कर सकते है

पोर्टल से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए हेल्पलाइन नंबर क्या है?

अगर आपको पंजीकरण करने में किसी प्रकार की परेशानी आ रही हो या आपको योजना सम्बंधित किसी तरह की शिकायत हो तो आप दिए गए हेल्पलाइन नंबर 1800 270 0224 पर संपर्क कर सकते है इसके साथ ही आप दी गयी ईमेल ID : [email protected][email protected] पर भी ईमेल भेज सकते है।

हमने आपको अपने आर्टिकल में ई-नाम पोर्टल रजिस्ट्रेशन से सम्बंधित सभी जानकारियों को हिंदी में विस्तारपूर्वक बता दिया है, यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है या इससे सम्बंधित कोई भी सवाल या जानकारी आपको जाननी है तो आप हमे मैसेज कर सकते है। हम आपके सभी सवालों के जवाब देने की जरूर कोशिश करेंगे।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment