Digital Health ID Card: इस कार्ड से आपको मिल सकते है कई फायदे, जल्दी से बनवायें

Digital Health ID Card: जैसा की आप सभी जानते है देश के बढ़ते विकास के चलते सभी कार्यो को डिजिटल माध्यम से पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है और स्वास्थ्य से जुडी सभी सेवाएं भी डिजिटल रूप से पूरी की जा रही है। देश के प्रधानमंत्री जी श्री नरेंद्र मोदी जी ने कुछ समय पहले आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन को शुरू किया है। इस मिशन को शुरू करने का उद्देश्य हेल्थ सेक्टर में क्रांति लाना है। बता देते है कि डिजिटल मिशन के अंतर्गत नागरिकों का डिजिटल हेल्थ कार्ड बनाया जायेगा। इस हेल्थ कार्ड में नागरिक के स्वास्थ्य से जुड़े सभी चीजों का रिकॉर्ड सेव होगा। जिससे आपको पेशेंट की मेडिकल हिस्ट्री के बारे में पता चल जायेगा। आज हम आपको डिजिटल मिशन से जुडी जानकारी जैसे: डिजिटल हेल्थ ID कार्ड क्या है, कार्ड के जरिये नागरिक को क्या-क्या फायदे मिलेंगे आदि के बारे में बताने जा रहे है।

जानिए क्या है डिजिटल हेल्थ मिशन

जब नागरिक को डिजिटल हेल्थ ID प्राप्त हो जाएगी तो वह देश के किसी भी कोने में अपना इलाज करवा सकते है। इसके लिए उन्हें किसी भी पर्ची या जांच रिकॉर्ड की आवश्यकता नहीं होगी। मरीज की सभी जानकारी हेल्थ कार्ड में उपलब्ध होगी। हेल्थ कार्ड में डॉक्टर को यह पता चल जायेगा कि नागरिक को क्या बीमारी थी और उनका इलाज कौन से हॉस्पिटल में हुआ है।

क्या है यूनिक हेल्थ ID और आप इसे कैसे पा सकते है

यदि जो भी नागरिक आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन से जुड़ना चाहते है उन्हें एक हेल्थ ID कार्ड बनाना होगा। हेल्थ ID कार्ड के अंतर्गत 14 डिजिट के नंबर्स जेनरेट होगा। इस ID कार्ड का प्रयोग आप तीन चीजों के लिए जैसे: आपका पहचान यानी यूनिक आइडेंटिफिकेशन हेतु, प्रमाणित करने के लिए और आपके हेल्थ रिकॉर्ड को आपकी सहमति मिलने पर कई सिस्टम व हितधारकों (स्टेकहोल्डर्स) तक पहुंचने के लिए कर सकते है।

हेल्थ कार्ड बनवाने के लिए करना होगा पंजीकरण

अगर औ भी डिजिटल हेल्थ ID कार्ड बनवाना चाहते है तो इसके लिए आपको अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके अलावा आप चाहे तो अपने मोबाइल पर ABDM हेल्थ रिकॉर्ड एप भी डाउनलोड कर सकते है। हेल्थ कार्ड बनाने के लिए आपको बेसिक इनफार्मेशन भरना है और अपने मोबाइल नंबर व आधार कार्ड को प्रमाणित करना है।

ये है हेल्थ कार्ड बनवाने के फायदे

  • आवेदक किसी भी पर्सनल हेल्थ रिकार्ड्स को अपनी हेल्थ ID के साथ लिंक कर सकते है। जिसके बाद आपकी हेल्थ से जुडी जानकारी हमेशा के लिए रिकॉर्ड हो जाएगी।
  • यदि आप किसी दूसरी जगह अपना इलाज करवाने जाते है तो आपको अपने पुराने पर्चे व रिपोर्ट नहीं रखनी पड़ेगी। इन सभी की जनकारी आपके हेल्थ कार्ड में उपलब्ध होगी।
  • यदि कोई भी नागरिक किसी भी हॉस्पिटल में भर्ती है तो इस दौरन किसी भी समय अपने डिजिटल हेल्थ रिकॉर्ड को एक्सेस कर सकते है।
  • हेल्थ ID कार्ड के माध्यम से मरीज देश भर में मौजूद वेरिफाइड डॉक्टरों की पहचान कर सकेंगे और उन तक पहुंच भी पाएंगे।
  • नागरिक चाहे तो अपने बच्चे के जन्म होने से पहले डिजिटल हेल्थ ID बनवा सकते है।
  • आवेदक हेल्थ ID तक पहुंचने के लिए नॉमिनी भी शामिल कर सकते है। नॉमिनी द्वारा आपके पर्सनल हेल्थ रिकार्ड्स देखने और मैनेज करने में मददगार साबित हो सकते है।

ऐसे करें डिजिटल हेल्थ कार्ड के लिए अप्लाई

  • आवेदक को सबसे पहले नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की आधिकारिक वेबसाइट healthid.ndhm.gov.in पर जाना है।
  • इसके बाद आपको होम पेज पर क्रिएट योर हेल्थ ID के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करते ही आपके सामने 2 ऑप्शन खुल जाएगंगे। यदि आपको आधार कार्ड के द्वारा ID बनानी है तो आप जनरेट विआ आधार पर क्लिक करना है और आधार नंबर दर्ज करना है।
  • और यदि आप मोबाइल नंबर के माध्यम से हेल्थ ID कार्ड बनवाना चाहते है तो आपको अपना मोबाइल नंबर भरना है।
  • इसके बाद आपको मोबाइल नंबर पर OTP प्राप्त होगा आपको उसे बॉक्स में भर देना है।
  • जिसके बाद आपके सामने फॉर्म खुल कर आजायेगा।
  • आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकारी के साथ-साथ आवश्यक दस्तावेजों को भी अटैच कर लेना है।
  • और सबमिट बटन पर क्लिक कर लेना है।
  • जिसके बाद आपकी हेल्थ ID जनरेट हो जाएगी।

यूपी फ्री लैपटॉप योजना की पहली लिस्ट, ऐसे करें चेक

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment