CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड: Misal Bandobast Record, कोरबा भूमि ऑनलाइन देंखे

छत्तीसगढ़ राज्य की सरकार अपने राज्य के नागरिकों के लिए कई सारी सुविधाएं देने के लिए तरह-तरह की योजनाओं को शुरू करती रहती है। आपको बता दें की राज्य सरकार द्वारा CG मिसाल बंदोबस्त रिकॉर्ड देखने के लिए ऑनलाइन पोर्टल को शुरू कर दिया है। यह पोर्टल नागरिकों के लिए बहुत ही लाभकारी है। पोर्टल में छत्तीसगढ़ राज्य के कुछ जिले जैसे: कोबरा, दुर्ग, जांजगीर, रायगढ़, बिलासपुर, धमतरी, रायपुर के मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड को जारी किया है जिसे नागरिक आसानी से देख सकते है। अगर आप भी मिसल बंदोबस्त सम्बंधित जानकारी देखना चाहते है तो इसके लिए आपको छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेटे रायपुर की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड: Misal Bandobast Record, कोरबा भूमि ऑनलाइन देंखे
CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड: Misal Bandobast Record, कोरबा भूमि ऑनलाइन देंखे

आज हम आपको CG Misal Bandobast Record से सम्बंधित सभी जानकरियों जैसे: CG मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड/कोरबा भूमि , CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड रायपुर ऑनलाइन कैसे देखे, नाम से रिकॉर्ड चेक करने की प्रकिया, ग्राम अनुसार डाटा कैसे देखें आदि के बारे में बताने जा रहे है। यदि आप जानकारी जानना चाहते है तो आप हमारे द्वारा लिखे गए लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।

CG मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड/कोरबा भूमि

CG मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड को 1929 से 1943 तक तैयार किया गया जिसमे ब्रिटिश सरकार द्वारा भारत की जमीन को नापा गया और इसके रिकार्ड्स तैयार किये गए। इन रिकार्ड्स को मिसल रिकार्ड्स कहा जाता है। इसी तरह वर्तमान में सभी राज्यों ने अपने अपने रिकार्ड्स तैयार किये है। राज्य में ऐसे कई जिले भी है जिन्होंने अपनी भूमि के ऑनलाइन रिकार्ड्स पोर्टल पर जारी नहीं किये है। अब नागरिक को गांव या जिले के मिसल रिकार्ड्स /कोरबा भूमि से जुडी जानकारी आसानी से अपने मोबाइल व कंप्यूटर के जरिये ऑनलाइन माध्यम से देख सकते है इससे उन्हें इधर-उधर कार्यालय के चक्कर भी नहीं काटने पड़ेंगे और उनका समय और पैसे दोनों भी बच सकेंगे।

राज्य छत्तीसगढ़
आर्टिकल मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड कोरबा भूमि ऑनलाइन देखें
चेक करने की प्रकिया ऑनलाइन मोड
लाभ लेने वाले छत्तीसगढ़ के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइट https://cg.nic.in/raipur/misal/UserSearch.aspx

CG मिसल योजना का उद्देश्य

CG मिसल योजना का उद्देश्य राज्य के नागरिकों को ऑनलाइन माध्यम से भूमि से जुड़े रिकार्ड्स देखने की सुविधा को प्रदान करना। यह तो आप जानते ही है कि सरकार ने सभी कार्यों को डिजिटल माध्यम से शुरू कर दिया है। अब राज्य के हर एक नागरिक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से कोरबा भूमि से जुडी जानकारी ऑनलाइन माध्यम से देख सकते है। अब उन्हें किसी भी कार्यालय जाकर इधर-उधर नहीं घूमना पड़ेगा न ही किसी दिक्कत या परेशानी का सामना करना पड़ेगा। ऑनलाइन माध्यम से भूमि से जुडी जानकारी चेक करने पर उन्हें समय और पैसे दोनों बच सकेंगे। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा कुछ जिलों के मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड जारी किये गए है। जिसे आप देख सकते है।

CG Misal Bandobast Record से मिलने वाले लाभ

  • छत्तीसगढ़ राज्य के सभी नागरिक अपने मोबाइल व कंप्यूटर के माध्यम से पोर्टल पर जाकर मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड देख सकते है।
  • मिसल बंदोबस्त रिकार्ड्स चेक करने के लिए राज्य के नागरिकों को किसी भी प्रकार का शुल्क का भुगतान नहीं करना पड़ेगा।
  • अब नागरिकों को भूमि रिकार्ड्स देखने के कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।
  • सरकार ने अलग-अलग जिलों के मिसल रिकार्ड्स को डिजिटल माध्यम से उपलब्ध करवाया है।
  • मिसल रिकॉर्ड को P1 भी कहा जाता है। जिसे 1929 से 1943 तक तैयार किया गया।

CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड रायपुर ऑनलाइन कैसे देखे?

अगर आप छत्तीसगढ़ राज्य के मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड रायपुर ऑनलाइन माध्यम से देखना चाहते है तो हम आपको इसकी प्रक्रिया के बारे में बताने जा रहे है। प्रक्रिया जानने के लिए हमारे द्वारा दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • आवेदक को सबसे पहले छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेट रायपुर की आधिकारिक वेबसाइट (cg.nic.in) पर जाना है।
  • जिसक बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी जैसे: जिला, तहसील, राजस्व नंबर, प.ह.नं, गांव, अभिलेख को सेलेक्ट करना है।
  • सभी जानकारी सही से भरने के बाद आपको खोजे पर क्लिक कर देना है। मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड देखना
  • क्लिक करते ही आपकी स्क्रीन पर CG मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड लिस्ट खुल कर आजायेगी। मिसल-बंदोबस्त-रिकार्ड
  • आवेदक को खुले पेज पर अपना नाम ढूंढना है और सेलेक्ट पर क्लिक कर देना है।
  • जिसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।
  • यहाँ आप लाभार्थी लिस्ट को डाउनलोड भी कर सकते है और प्रिंट के दिए गए ऑप्शन से प्रिंट भी कर सकते है। Misal-Bandobast-Record

CG मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड/ कोरबा भूमि ऑनलाइन देखने की प्रकिया

  • कोरबा भूमि ऑनलाइन देखने के लिए आवेदक को सबसे पहले  cg.nic.in/raipur/misal/UserSearch.aspx की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • होम पेज पर आप पूछी गयी जानकारी को भर दें और खोजे बटन पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करते ही आपके सामने गांव मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड कोरबा भूमि की जानकारी खुल जाएगी। मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड कोरबा भूमि
  • आप चाहे तो कोरबा भूमि रिकॉर्ड का प्रिंटआउट भी निकाल सकते है।

नाम से रिकॉर्ड चेक करने की प्रकिया

सबसे पहले आवेदक को छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेट रायपुर की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा। होम पेज पर आपको नाम के अनुसार खोजे पर क्लिक करना है। क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा। नए पेज पर आपको अपना नाम और तहसील को सेलेक्ट करना है और खोजे बटन पर क्लिक कर देना है। क्लिक करते ही सम्बंधित जानकारी आपके स्क्रीन पर आजायेगी। naam se record kese check karein

ग्राम अनुसार डाटा कैसे देखें?

  • ग्राम अनुसार डाटा देखने के लिए सबसे पहले आवेदक को छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेट रायपुर की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें।
  • जिसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आपको ग्राम अनुसार डाटा देखें पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल जायेगा
  • नए पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी जैसे: जिला, राजस्व, तहसील, अभिलेख, गांव का नाम भर के खोजे पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद स्क्रीन पर आप ग्राम अनुसार डाटा प्राप्त कर सकेंगे।

ऐसे गांव जिनके डाटा उपलब्ध नहीं है

कोदोमाली खुर्सीपार तरपोंगा पिसिपारा मातरमाल भैंसातरा लिमतरा कटझरिया अकोलीखुर्द दावरीभाटा
बेलकीवाय दावनबोड़ अमाड उरतुली कोटेन कचलोन लाटापारा मढेली अकोलडीह खपरी भैरामुड़ा
मोहभट्ठा घुघियामुड़ा नहरगांव खिलोरा सातमार मोखागुड़ा गरियाबंद लोहझर सोनपैरी फरहदा
गाड़ाघाट गरमनतोरा रोहासी देवभोग भैंसामुंडा नवापारा दिवानपुर सोनबेहरा धोबभटठी झिरनीखोल
बुटेंगा दयालपुर घूमरगुड़ा झालखम्हार आमामोरा चंद्रनगर पीपलखुंटा गोनबोरा पारागांव बारुला
शंकर नगर कांडसार कोनईमुडरा भटगांव नगरार फरसरा सातधर रानीपरतेवा चांपाझर कोसमकुंडा
मरघाट गोंडलवाय ओड़काकन पीपरछेड़ीखुर्द अमलोर सरसीवां उदन्ती विजयपुर कागदेही देवपरसुली
राइकोना कोयबा दगोरी गोडेनाहथोड़ाडीह बेहरावाल छिरचुंवा मलियार अकोलकला हरदी
मड़वाड़ीह चोरभटठी महकम भेंडरी अमेठी किसड़ा छतवन खंडमा रवेली गिधवा
मोहलाई सेम्हरढाप दर्रीवाय देवरीबहरा लोहझर मरदाडीह रावनडिगी केंवटीझर बोईरगांव खुर्द पंडरीपानी
धमकाठोनी अच्छाछड़का मारगांव बालठेमा जोबा फुलबहन टोरीभुई मातरबहरा लादाबहरा तुपेंगा
डुमरघाट महाल गवरमुंड जरहीडीह अंड़गड़ी भालूडिग्गी कोसममुड़ा पेंड्रा नरतोरा कुसियार बरछा
चिपरी तारद्धार वन गरहडीह मोटी पानी मौहानाला धोबनडीह मोंगराभर्री सहबीनकछार भूतबेडा
कोदोमली घोटियाभर्री ढोलसराई नगबेल शुक्ला भाठा गरीबा झोलाराव गाजीमुंडा रक्षापत्रा
नागिनबहरा नवापारा सोरिदखुर्द बीजपाल कुडेमा घोघरा पोंड फुलझर कनेसर टेंगनभाठा
बरपानी भरुवामुंडा चितामाडा गहनाबहरा घोट पानी दुल्ला डडइपानी जिड़ार अंजोरडीह

CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड से जुड़े प्रश्न/उत्तर

छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेट रायपुर की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेट रायपुर की आधिकारिक वेबसाइट cg.nic.in/raipur/misal/UserSearch.aspx है।

नागरिक मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड कैसे देख सकते है?

नागरिक मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड छत्तीसगढ़ शासन कार्यालय कलेक्टोरेट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर देख सकते है। नागरिक इन रिकार्ड्स को व्यक्ति के नाम के अनुसार, गांव के नाम के अनुसार एवं होम पेज में पूछी जानकारी भर के देख सकते है।

छत्तीसगढ़ राज्य के कौन से जिलों के रिकॉर्ड नागरिक ऑनलाइन चेक कर सकते है?

छत्तीसगढ़ राज्य के कोबरा, दुर्ग, जांजगीर, रायगढ़, बिलासपुर, धमतरी, रायपुर जिलों के मिसल बंदोबस्त रिकॉर्ड नागरिक ऑनलाइन चेक कर सकते है

क्या CG Misal Bandobast Record अन्य राज्य के नागरिक चेक कर सकते है?

जी नहीं, CG Misal Bandobast Record अन्य राज्य के नागरिक नहीं चेक कर सकते है, केवल छत्तीसगढ़ राज्य के मूल निवासी नागरिक जिनकी जमीन होगी अपना रिकॉर्ड चेक कर सकते है।

हमने आपको अपने आर्टिकल में CG मिसल बंदोबस्त रिकार्ड के बारे में सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है। यदि आपको जानकारी पसंद आयी हो तो आप हमे मैसेज करके बता सकते है और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने है तो आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते है। हम आपके आपके सभी सवालों के जवाब देने की जरूर कोशिश करेंगे।

Leave a Comment