प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना की शुरुआत 1 फ़रवरी 2020 को की गयी थी। इस योजना के माध्यम से भारत सरकार देश भर के 20 लाख किसानो तक फ्री सोलर पैनल योजना का लाभ पहुचाएगी।

केंद्र सरकार इस योजना के तहत किसानो को सब्सिडी के रूप में सोलर पंप की कुल लागत का 60 % कुल रकम देगी। इस योजना के घोषणा वित्त मंत्री जी ने 2020 का बजट पारित करते हुए की है।

PM Kusum Yojana के माध्यम से किसान अपनी बंजर ज़मीन पर सोलर पैनल लगा कर सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली बना सकता है। 

सौर पैनल के माध्यम से बनी ऊर्जा किसान बेच भी सकता है तथा अपने खेतो में पंप चलाने हेतु उस बिजली का उपयोग भी कर सकता है। 

इस कुसुम योजना के माध्यम से बनाई गयी बिजली को DISC0M’S (Distribute companies) दुवारा खरीदा जायगा। इच्छुक लाभार्थी को आवेदन करने हेतु MNRE की आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर आवेदन करना होगा।

इस Pradhan Mantri Solar Panel Yojana 2022 के अंतर्गत 15 लाख किसानो की ग्रिड से जुड़े सोलर पंप लगाने के लिए धन दिया जायगा। ये पंप स्थापित करके किसान भाइयो को पेट्रोल की लागत नहीं लगानी पड़ेगी।

PM free solar panel scheme के माध्यम से सरकार आवेदक को हर माह 6000 रुपए से अधिक तक की राशि अकाउंट के माध्यम से देगी। 

इस योजना के अंतर्गत 1 मेगा वाट सोलर पैनल लगाने के लिए 5 एकड़ ज़मीन की आवश्यकता रहेगी। अर्थात 1 एकड़ ज़मीन 0. 2 वाट बिजली उतपन्न करेगी

इस योजना के माध्यम से प्राप्त की गयी बिजली को आप सरकारी या गैर सरकारी कंपनी में बेच सकते है।इस योजना को संचालित करने के लिए सरकार ने 50 हज़ार करोड़ का बजट निर्धारित किया है।

यह योजना किसानो को दो प्रकार का लाभ देगी, जिसका लाभ किसान भाई योजना में आवेदन पश्चात ले सकते है। इस योजना का लाभ उठा कर देश के किसान सशक्त तथा आत्मनिर्भर बनेगे।

योजना का लाभ लेने के लिए  आवेदक को भारत का मूल-निवासी होना आवश्यक है। साथ ही आवेदक के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना अनिवार्य है।

इस योजना का पात्र केवल वही लोग होंगे जिनके पास भूमि के दस्तावेज होंगे साथ ही आधार कार्ड,पासपोर्ट साइज फोटो,मोबाइल नंबर,राशन कार्ड,बैंक अकाउंट पासबुक आदि  दस्तावेजों का होना आवश्यक है।