Vivad Se Vishwas Scheme 2022: विवाद से विश्वास स्कीम क्या है, Details

Vivad Se Vishwas Scheme 2022: केंद्रीय मंत्री निर्मंला सीतारमण जी के द्वारा वर्ष 2020 में विवादित करों की समस्याओं के समाधान हेतु यह योजना 1 फरवरी को शुरू की गयी। इस योजना के अंतर्गत टैक्सपेयर्स के प्रत्यक्ष कर के विवादित टैक्स मामलो को निपटाया जायेगा। विवाद से विश्वास स्कीम 2022 के अंतर्गत टैक्सपेयर्स को एकमात्र विवादित करों की राशि का भुगतान ही करना होगा। केंद्र सरकार की इस स्कीम के अंतर्गत टैक्सपेयर्स को किसी भी प्रकार का ब्याज या दंड आदि का भुगतान नहीं करना होगा।

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2022: ऑनलाइन आवेदन

Vivad Se Vishwas Scheme 2022: विवाद से विश्वास स्कीम क्या है, Details

आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से Vivad Se Vishwas Scheme 2022: विवाद से विश्वास स्कीम क्या है, से संबंधी Details को साझा करने जा रहे है। अतः इस स्कीम से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

विवाद से विश्वास स्कीम क्या है ?

Vivad Se Vishwas Scheme 2022– विवाद से विश्वास स्कीम वह स्कीम है जो सभी टैक्स देने वाले बिजनेसमैन टैक्स से संबंधित विवादों के कारण किसी भी फोरम से प्रताड़ित किये जा रहे है। या फिर टैक्स न चुकाने की वजह से उन्हें अदालतों में चक्कर लगाने पड़ रहे है। इन सभी विवादों से टैक्सपेयर्स को बचाने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा विवाद से विश्वास स्कीम को शुरू किया गया है। केंद्र सरकार की इस स्कीम की सहायता से करदाता अपना बचा हुआ टैक्स बिना किसी पैनल्टी के चुका सकते है। जिन नागरिकों के द्वारा किसी कारण वश अपना इनकम टैक्स पेय नहीं किया गया है उन सभी लोगो को इस योजना के अंतर्गत एक बार फिर से निर्धारित समय के अंदर टैक्स पेय करने की सुविधा प्रदान की गयी है।

ग्राहक सेवा केंद्र : CSP ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, Grahak Seva Kendra कैसे खोलें ?

विवाद से विश्वास स्कीम के अंतर्गत बिजनेस करने वाले लोगो को अधिशेष रूप में किसी तरह की कोई पैनल्टी भी नहीं भरनी होगी। कारोबारी लोगो को केंद्र सरकार की इस स्कीम का लाभ लेने के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से संपर्क करना होगा। इस स्कीम के अंतर्गत टैक्सपेयर्स को किसी भी तरह की आईडेंटिफिकेशन को एक्सपोस नहीं किया जायेगा।

Vivad Se Vishwas Scheme Details

योजना का नामVivad Se Vishwas Scheme, विवाद से विश्वास स्कीम
वर्ष2022
योजना की घोषणा वित्त मंत्री निरमला सीतारमण के द्वारा
लाभार्थीटैक्सपेयर्स
पंजीकरण प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यटैक्स से संबंधी मामलों का समाधान
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.incometaxindiaefiling.gov.in/home

विवाद से विश्वास स्कीम के उद्देश्य

Vivad Se Vishwas Scheme का मुख्य उद्देश्य है उन सभी प्रत्यक्ष कर से जुड़े 9.32 लाख करोड़ के 4.83 लाख मामलो को जल्दी से निपटाना जो अदालतों में काफी लम्बे समय से लंबित है। इस योजना के अंतर्गत अदालतों में दर्ज इन सभी मामलो को आसानी पूर्वक एक-एक करके सुलझाने में मदद की जाएगी। यदि यह सभी मामले अदालतों के अंतर्गत सुलझाए जाने लगे तो इनको सुलझाने के लिए काफी समय लग सकता है। हो सकता है की कई मामले इस प्रक्रिया के अनुसार निपट ही ना पाएं। इन सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार के अंतर्गत सरकार को विवादित राशि मिल सके और अदालतों से इन मामलो से संबंधी केस की संख्या को कम करने के लिए योजना को शुरू किया गया है।

इस स्कीम का मुख्य उद्देश्य टैक्सपेयर्स को केवल विवादित टैक्स राशि भुगतान करने की सुविधा प्रदान करना। उन्हें इस टैक्स पेय करने के लिए ब्याज एवं जुर्माने राशि पर भी पूरी छूट मिलेगी। कोर्ट की कार्यवाही से बचने के लिए यह केंद्र सरकार की एक विशेष योजना है।

Vivad Se Vishwas Scheme 2022 अंतिम तिथि

विवाद से विश्वास स्कीम– केंद्र सरकार के द्वारा योजना के शुरूआती दौर में इसका लाभ प्रदान करने के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2020 रखी गयी थी। जिसे बाद में बढ़ाकर 31 दिसंबर 2020 कर दिया गया। लेकिन कोविड-19 के चलते देश में कई तरह की अयोग्य इकोनॉमी स्थिति क्रिएट हो गई जिसके कारण इस योजना की अंतिम तिथि बढाकर 31 मार्च 2022 कर दी गयी है। केंद्र सरकार के अंतर्गत विवाद से विश्वास स्कीम में ट्रिब्यूनल ,अपील ,अदालतों के लंबित मामले आदि भी शामिल किये गए है। रेड पड़ने की स्थिति में यदि disputed income tax की मांग 5 करोड़ रुपये से कम है तो वह नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकते है।

7th Pay Commission Salary: खुशखबरी!

विवाद से विश्वास स्कीम आवेदन प्रक्रिया

यदि आप विवादित टैक्स का भुगतान करना चाहते है और विवाद से विश्वास स्कीम का लाभ उठाना चाहते है तो इसके लिए आपको इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से एप्लीकेशन फॉर्म लेना होगा। क्युकी इस योजना हेतु अभी केंद्र सरकार के द्वारा किसी तरह की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू नहीं की गयी है। आप आयकर विभाग में जाकर इसके लिए फॉर्म प्राप्त करके अंतिम तिथि से पहले कार्यालय में जाकर अपने पत्र को जमा करा सकते है। इसके बाद आप विवाद से विश्वास स्कीम से मिलने वाली सुविधाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है।

Vivad Se Vishwas Scheme 2022 संबंधित प्रश्न उत्तर

विवाद से विश्वास स्कीम कब और किसके द्वारा शुरू की गयी ?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा 1 फरवरी 2020 को विवाद से विश्वास स्कीम को शुरू किया गया है।

Vivad Se Vishwas Scheme 2022 को क्यों शुरू किया गया है ?

टैक्स पेमेंट से जुड़े विवादों को सुलझाने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा Vivad Se Vishwas Scheme 2022 को शुरू किया गया है इस स्कीम के अंतर्गत पीड़ित पक्ष और विभाग आमने सामने बैठकर टैक्स विवाद को सुलझाते है।

विवाद से विश्वास स्कीम का लाभ कौन उठा सकते है ?

वह सभी टैक्सपेयर्स इस योजना का लाभ उठा सकते है ,जिनका रेड में 5 करोड़ से कम का मामला पकड़ा जाता है लेकिन इस स्कीम का लाभ केवल तभी उठा सकते है जिनका मामला कोर्ट में ना चल रहा हो और कोर्ट उनके लिए सजा का ऐलान कर चुका हो ऐसी स्थिति में उन्हें योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा।

Vivad Se Vishwash Scheme के क्या लाभ है ?

टैक्सपेयर्स को इस स्कीम के अंतर्गत केवल विवादित कर का भुगतान करना होता है। टेक्सपायर्स को दंड एवं पैनल्टी में योजना के तहत एक विशेष छूट प्रदान की जाती है। इसके तहत करदाताओं को कोर्ट की कार्यवाही से बचने का अवसर मिलता है।

यह भी जानें –

Leave a Comment