UP PMGKAY: योगी ने गरीब कल्याण अन्न योजना के बारे में किया बड़ा ऐलान, अब इस दिन तक मिलेगा फ्री राशन

UP PMGKAY:त्तर प्रदेश गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत मार्च 2020 में की गयी थी। इस योजना की शुरुआत करने के पीछे कोरोना महामारी के समय होने वाली असुविधाओं को कम करना था। साथ ही गरीब लोगों को खाद्यान्न उपलब्ध करना था। सरकार ने महामारी के दौरान इस स्कीम के माध्यम से सभी राशन कार्ड धारकों को फ्री में राशन उपलब्ध कराया जो उस समय बहुत आवश्यक था। इस योजना UP PMGKAY को समय समय पर आवश्यकता के अनुसार बढ़ाया गया है। ये योजना 30 नवम्बर तक थी जिसे हाल ही में सरकार ने कैबिनेट की बैठक में लिए गए निर्णय के बाद बढ़ाकर 31 मार्च 2022 तक कर दिया है।

योजना के अंतर्गत 80 करोड़ लोगों को मिला मुफ्त अनाज

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के अंतर्गत देश में 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में अनाज प्रदान किया गया है। वहीँ उत्तर प्रदेश में मई से लेकर नवम्बर तक 15 करोड़ लोगों को इसका लाभ मिला है। जैसा की हमने बताया की अब इस योजना को बढाकर अगले साल 31 मार्च 2022 तक कर दिया गया है जिससे अब इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिलेगा। इस योजना को आगे बढ़ाने की घोषणा करते हुए माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने कुछ दिनों पहले कहा की कोरोना महामारी के समय शुरू की गयी इस योजना को नवम्बर में पूरा होना था लेकिन कोविड अभी तक खत्म नहीं हुआ है जिसको ध्यान में रखते हुए इस योजना को अगले वर्ष तक बढ़ा दिया गया है। इस से गरीब लोगों को ज्यादा से ज्यादा राहत मिल सके। योगीजी ने कहा की इस योजना को आगे बढ़ाने में जितना भी खर्च आएगा उसका वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। आप की जानकारी के लिए बता दें की 24 नवम्बर को अब पूरे देश में इसको बढ़ाने (31 मार्च तक ) के लिए घोषणा कर दी गयी है।

UP PMGKAY की खासियत

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में सरकार नेशनल फूड सिक्योरिटी एक्ट (NFSA) के अंतर्गत आने वाले कार्डधारकों को हर महीने मुफ्त राशन प्रदान की जाती है। आप की जानकारी के लिए बता दें की  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में प्रतिमाह 5 किलो राशन प्रतिव्यक्ति मुफ्त दिया जाता है। और यही नहीं ये अतिरिक्त 5 किलो राशन राशन कार्ड पर निर्धारित राशन की मात्रा से अलग मिलता है। इसका मतलब है की प्रतिव्यक्ति 5 किलो अनाज (गेंहू या चावल ) और 1 किलो दाल प्रति परिवार लाभार्थी को दिया जाता है। इस योजना के माध्यम से सभी गरीब लोगों को बहुत राहत मिलेगी। ऐसा इसलिए क्यूंकि बहुत से लोगों की इस महामारी के चलते नौकरी चली गयी जिससे उन्हें अपना व अपने परिवार को पालना मुश्किल हो गया था। ऐसे में इस योजना से कम से कम उन्हें खाने के लिए पर्याप्त अन्न प्राप्त हो जाएगा।

कैबिनेट ने लिया अहम फैसला

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कैबिनेट द्वारा लिए गए फैसलों के बारे में बताया की अब PMGKAY को मार्च 2022 तक बढ़ाया जाएगा। इस योजना के माध्यम से सिर्फ उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि अब सभी प्रदेशों में इसका लाभ मिलेगा। और सभी गरीबों को इस योजना के तहत मुफ्त राशन मिलता रहेगा। पांचवे चरण के तहत खाद्यान्न पर अनुमानित खाद्य सब्सिडी 53,344.52 रूपए की होगी। पीएम गरीब खाद्यान्न अन्न योजना की कुल लागत इस विस्तार के साथ अब 2.6 लाख करोड़ रूपए तक पहुंच चुकी है।

राशनकार्ड धारियों को योगी सरकार का तौफा, होली तक मिलेगा मुफ्त राशन

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment