UP Kisan Shramik Yojana: हर तीन महीने में किसानों और श्रमिकों को मिलेगा 2-2 हजार रुपये, जानें कैसे

UP Kisan Shramik Yojana: उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा राज्य के किसान और श्रमिक नागरिकों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान करने हेतु यूपी किसान श्रमिक योजना शुरू की गयी है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के लघु एवं सीमान्त किसानों एवं असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले श्रमिक नागरिकों को लाभान्वित किया जायेगा। यूपी सरकार की इस स्कीम का लाभ 5 करोड़ से अधिक नागरिकों को प्राप्त होगा। किसानों और श्रमिक नागरिकों को योजना के तहत दिसंबर माह से मार्च माह 2022 तक 2 हजार रूपए की राशि क़िस्त के रूप में उनके बैंक खाते में भेजी जाएगी। यह किसानों एवं श्रमिक व्यक्तियों की आय में वृद्धि करने के लिए यह स्कीम पुरे राज्य भर में लागू की गयी है। आइये जानते है यूपी किसान श्रमिक योजना का लाभ श्रमिक एवं किसान नागरिकों को किस प्रकार प्रदान किया जायेगा।

UP Kisan Shramik Yojana

योगी सरकार के माध्यम से वित्त वर्ष 2021-22 के बजट प्रस्ताव को अंतिम रूप देने में जुटी हुई है। इसमें लघु एवं सीमान्त किसान नागरिकों को राज्य सरकार की तरफ से 2 हजार रूपए की किस्त देने की सहमति जताई गयी है। जैसे की आप सभी लोगो को पता है की केंद्र सरकार के द्वारा पीएम किसान योजना के अंतर्गत देश के सभी किसानों को वार्षिक आधार पर 6 हजार रूपए की 3 किस्त के रूप में प्रदान किया जाता है। लेकिन योगी सरकार के द्वारा किसानों को और अधिक लाभ देने के लिए UP Kisan Shramik Yojana के तहत अब किसानों को 2 हजार रूपए की राशि 4 किस्तों में देने का फैसला किया गया है। यानी की अब किसानों को योजना के तहत वार्षिक आधार पर कुल मिलाकर 8 हजार रूपए की राशि लेने का लाभ प्राप्त होगा।

असंगठित क्षेत्र में कार्यरत श्रमिक

यूपी किसान श्रमिक योजना के अंतर्गत उन सभी श्रमिक नागरिकों को भी लाभान्वित किया जायेगा जो असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले नागरिक है एवं जिनके पास ई-श्रम कार्ड है। श्रमिक व्यक्तियों को इस स्कीम के आधार पर वार्षिक आधार पर 2 हजार रूपए की किस्त प्रदान की जाएगी यह राशि श्रमिकों को 4 किस्त में यानी की 500 -500 रूपए के रूप में प्रदान की जाएगी। यदि श्रमिक और किसान एक ही श्रेणी के अंतर्गत आते है तो उन्हें दोनों में से किसी एक राशि लेने का लाभ मिलेगा। अभी तक 2 करोड़ 45 लाख असंगठित श्रमिक नागरिकों का योजना के तहत पंजीकरण किया गया है। हालाँकि प्रदेश सरकार के द्वारा योजना का लाभ प्रदान करने होते 6 करोड़ का लक्ष्य रखा गया है। इस योजना के तहत श्रमिक नागरिकों को मार्च माह 2022 तक 500 रूपए राशि लेने का लाभ मिलेगा। यह राशि मासिक रूप में श्रमिकों को प्राप्त होगी।

यूपी किसान श्रमिक योजना के साथ -साथ राज्य में आशाओं को मिलने वाले भत्ते राशि में भी वृद्धि की जाएगी। 5 सौ रूपए के भत्ते के रूप में मिलने वाली राशि को अब 750 रूपए कर दिया जायेगा। इसका लाभ राज्य की लगभग 2 लाख 20 हजार आशाओं को 750 रूपए भत्ता राशि लेने का लाभ मिलेगा।

केवल 1 रुपये में मिलेगा पूरे 30 का इंटरनेट, जल्दी करें रिचार्ज

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment