Drone Pilot: डिग्री नही है फिर भी मिलेगी सरकारी नौकरी, सरकार देगी 30,000 रुपए प्रतिमाह , यहाँ जानिये पूरी खबर।

Drone Pilot : यदि आप भी एक अच्छी नौकरी की तलाश में हैं और आप के पास अगर डिग्री भी नहीं है तो आप को निराश होने की आवश्यकता नहीं है। जी हाँ , अब आप बिना किसी डिग्री के भी अच्छी खासी नौकरी कर सकते हैं। सिविल एविएशन मिनिस्टर (Civil Aviation Minister ) ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा ताकि आने वाले समय में भारत में एक लाख ड्रोन पायलट्स (Drone Pilot) की आवश्यकता होगी। केंद्रीय मंत्रालय द्वारा पूरे देश में ड्रोन सर्विस की डिमांड में बढ़ोतरी करने का प्रयास कर रही है। इसी के साथ ही ड्रोन पायलट्स की भी आवश्यकता बढ़ेगी।

Drone Pilot

यदि कोई युवा सिर्फ 12 वीं पास भी है तो वो भी इस पद के लिए योग्य होगा। जैसे की सरकार द्वारा ड्रोन सर्विस को बढ़ावा दिया जा रहा है तो उसी अनुसार जल्द ही लाखों की संख्या में ड्रोन पायलट्स की जरुरत भी पड़ेगी। ये आप को बिना कॉलेज जाए भी मिल जाएगी और यही नहीं आप को इसमें 30 हजार रूपए प्रति माह तक की सैलरी भी प्राप्त होगी। इससे अच्छा सरकारी नौकरी का अवसर आप को मात्र 3 महीने की ट्रेनिंग करने से ही प्राप्त हो जाएगा।

आप की जानकारी के लिए बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कि ड्रोन पायलट्स के पद पर भर्ती के लिए युवाओं को दो से तीन माह का प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिस के बाद उन्हें नौकरी प्राप्त हो जाएगी। इस प्रशिक्षण के बाद नौकरी में उन्हें 30, 000 रूपए तक का वेतन भी मिलेगा। युवाओं के लिए बिना डिग्री के ये सरकारी नौकरी करने का अच्छा अवसर है।

MP Drone School: एमपी के ग्वालियर में खुला राज्य का पहला ड्रोन स्कूल, जानें क्या है इसकी खासियत

सरकार का टारगेट भारत को ग्लोबल ड्रोन हब बनाना

केंद्रीय मंत्री ने जानकारी दी की सरकार का लक्ष्य वर्ष 2030 तक भारत देश को ग्लोबल ड्रोन हब बनने का है। जिस के लिए सरकार कई मोर्चों पर कार्य कर रही है। जैसे की विभिन्न इंडस्ट्रीयल और डिफेंस रिलेटेड सेक्टर में ड्रोन के उपयोग को प्रोत्साहित कर रहे हैं।

उन्होंने इस बारे में आगे बताया कि सरकार ड्रोन क्षेत्र को तीन चक्कों या फेज में आगे बढ़ाने का प्रयास कर रही है। पहला फेज है नीति का – जिसपर तेजी से कार्य किया जा रहा है। दूसरा फेज प्रोत्साहन का है। उत्पादन-आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना देश में ड्रोन विनिर्माण एवं सेवाओं को और आगे बढ़ाने में मदद करेगी। इस योजना में अनेक कंपनियां काम करने में रूचि ले रही हैं। और इसका तीसरा फेज / चक्का घरेलु मांग पैदा करना है। जिसके लिए केंद्र सरकार के 12 मंत्रालय मांग ड्रोन सर्विस के लिए मांग पैदा करने के प्रयास में लगे हुए हैं।

himachal govt jobs : पीडब्ल्यूडी में निकली 5000 भर्तियां, ऐसे कर सकेंगे आवेदन

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें । केंद्रीय मंत्रालय द्वारा ड्रोन सर्विस की डिमांड में बढ़ोतरी, पड़ेगी इतने ड्रोन पायलट की आवश्यकता

Leave a Comment