सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को बिटकॉइन पर दिया आदेश, बताएं यह वैल‍िड या इनवैल‍िड

बिटकॉइन (Bitcoin) एक तरह की क्रिप्टोकरेंसी है जिसे लेकर कई तरह के सवाल चल रहे है कि क्या है यह वैलिड है या इनवैलिड। बता देते है सुप्रीम कोर्ट द्वारा 25 फरवरी 2022 को यह कहा गया है कि बिटकॉइन अपना क्लैरिफिकेशन करें की क्या यह वैध है या अवैध। आज के समय में क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) पर किसी तरह की रोक नहीं लगायी गयी है और ना ही इसके इस्तेमाल पर किसी तरह का नियम बनाया गया है। बेंच के दो सदस्यों जस्टिस श्री डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस सूर्यकांत ने एडिशनल सॉलिसिटर जनरल श्रीमती ऐश्वर्या भाटी को यह कहा है वह इस बारे में अपना स्टैंड क्लियर करें।

सामने आया 87 हजार बिटकॉइन से जुड़ा मामला

Supreme-Courts-order-to-the-government-on-bitcoin

डिवीज़न बेंच केंद्र सरकार के खिलाफ अजय भारद्वाज द्वारा दायर की गयी याचिका पर सुनवाई की गयी थी। जिसके बाद वकील साहब आलम ने अजय भरद्वाज की मंजूर की गयी याचिका को ख़ारिज करने की मांग राखी। एडिशनल सॉलिसिटर जनरल श्रीमती ऐश्वर्या भाटी ने बेंच (खंडपीठ) को यह बताया कि बिटकॉइन से जुड़ा मामला 87 हजार का है और इसमें जो भी आरोपी है वह इन्वेस्टीगेशन करने में सहयोग नहीं कर रहा है और उसे न्यायालय में उपस्थित होने के कही आदेश (सम्मन) भेजे गए है। बता देते है, जितने भी जज बिटकॉइन (Bitcoin) से जुड़े मामले की सुनवाई कर रहे है उन्होंने आरोपी को इन्वेस्टीगेशन ऑफिसर से मिलने का आदेश दिया है और साथ ही जांच में सहयोग देने के लिए कहा है।

27 हजार से अधिक शिक्षकों को टैबलेट का पैसा देने की तैयारी

सरकार से पूछा गया सुप्रीम कोर्ट ने कि बिटकॉइन वैध ही या अवैध

बेंच द्वारा यह कहा गया है कि प्रवर्तन निदेशालय ने सात जुलाई में स्टेटस रिपोर्ट पेश की थी। डिवीज़न बेंच द्वारा यह भी बोला गया है कि इन्वेस्टीगेशन ऑफिसर आरोपी के जांच में सहयोग करने के पश्चात ही इसकी स्टेटस रिपोर्ट को सबके सामने पेश कर सकेंगे। बता देते है इस मामले से जुडी सुनवाई अगले चार हफ्तों के लिए स्थगित कर दी गयी है।

इसके साथ ही बेंच ने आरोपी को अरेस्ट (गिरफ्तार) न करने का अंतरिम आर्डर अगली 4 सुनवाई तक मान्य रहेगा। सुप्रीम कोर्ट द्वारा यह कहा गया है कि क्रिप्टोकरेंसी के रेफ़्रेन्स (संदर्भ) में RBI के आदेशों को मार्च 2020 में पलट दिया गया था।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment