सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022: मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना क्या है, Soil Health Card

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम : केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से देश के किसानों को लाभ प्रदान किया जाता है। सरकार का उद्देश्य होता है की किसानों के लिए कृषि कार्य में अनेक सुविधाएं प्रदान की जाए जिससे की किसानों की आय में वृद्धि हो सके। यही नहीं सरकार अलग अलग योजनाओं जैसे की - किसान सम्मान निधि योजना, पीएम किसान फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) आदि के माध्यम से उन्हें आर्थिक सहायता भी देती है जिससे उन पर अतिरिक्त आर्थिक दबाव न पड़े। और वो कृषि कार्य आसानी से कर सकें। ऐसी ही एक और महत्वपूर्ण योजना है - सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022 , जिसके बारे में हम आप को इस लेख के माध्यम से बताएंगे।

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022: मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना क्या है, Soil Health Card

आज इस लेख के माध्यम से हम आप को Soil Health Card Scheme के बारे में जानकारी देंगे। आप को बताएंगे की इस योजना के माध्यम से कैसे किसान अपने खेत की मृदा / मिट्टी की जांच करा के अपनी फसलों की पैदावार बढ़ा सकते हैं। साथ ही अन्य आवश्यक जानकारी जैसे की सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ? , मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड प्रिंट कैसे करे ? मृदा स्वास्थ्य कार्ड (Soil Health Card) के लिए कैसे करें आवेदन? आदि जानकारी देंगे। कृपया जानने के लिए आप हमारे इस लेख को पूरा अवश्य पढ़ें।

Table of Contents

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022

Soil Health Card Scheme (मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना ) की शुरुआत 19 फरवरी 2015 को केंद्र सरकार द्वारा की गयी थी। शुरुआत में इसे राजस्थान के सूरतगढ़ में लागू किया गया था। सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम के तहत किसान अपने खेत की मिटटी को और उपजाऊ और बेहतर बना सकते हैं। साथ ही फसलों की पैदावार भी बढ़ा सकते हैं। जरिये सभी किसान अपने खेतों की मृदा की जांच कर सकते हैं और उसकी उर्वरकता बढ़ा सकते हैं। वो मृदा की उत्पादकता के अनुसार खेती कर के अच्छी फसल का लाभ उठा सकते हैं। जिससे उनकी अच्छी कमाई हो जाएगी।

किसान सूर्योदय योजना: ऑनलाइन आवेदन, लाभ व पात्रता

ये भारत सरकार द्वारा शुरू की गयी योजना है जिसमें राज्य सरकार को भी सम्मिलित किया गया है। इस योजना में में केंद्र सरकार द्वारा 75 प्रतिशत और राज्य सरकार द्वारा 25 % प्रतिशत तक कुल लागत का व्यय उठाया जाएगा। बता दें की मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना स्वस्थ धरा , खेत हरा के आदर्श पर कार्य करेगी। किसानों को इस योजना के तहत मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनवाया जाएगा। जिस के प्रत्येक 3 वर्षों में रिन्यू कराना होगा। और इसी कार्ड के आधार पर सभी किसान इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम 2022 के अंतर्गत सभी किसानों के मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनवाये जाएंगे। इस कार्ड में किसानों के खेतों की मिट्टी के बारे में सभी जानकारी दर्ज रहेगी। खेत की मिटटी के प्रकार के आधार पर सभी किसान मृदा की गुणवत्ता के अनुसार फसल लगा सकते हैं और साथ ही अच्छी फसल का उत्पादन कर सकते हैं। इससे किसानों की आय में वृद्धि होगी और वो अच्छा ख़ासा मुनाफा भी कमा सकेंगे।

Highlights Of Soil Health Card Scheme 2022

योजना का नाम मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना 2022
शुरुआत की गयी प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी
लांच करने की तिथि 19 फरवरी 2015
समबन्धित विभाग कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय , भारत सरकार
उद्देश्य देश के किसानों की आय दोगुनी करना
लाभार्थी देश के सभी किसान वर्ग
वर्तमान वर्ष 2022
आधिकारिक वेबसाइट https://soilhealth.dac.gov.in/

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम का उद्देश्य

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना 2022 को लांच करने के पीछे सरकार का उद्देश्य किसानों की आय को बढ़ाना है और उन्हें इस के लिए योजना के अंतर्गत मृदा की जांच करवाने की सुविधा दी जाएगी। मिटटी की जांच और अध्ययन के पश्चात किसान आसानी से अपने खेत की मिटटी के क्षमता के अनुरूप फसल उगा सकेंगे। इस के अतिरिक्त किसान मिटटी के आधार और संतुलन को बढ़ाने के लिए आवश्यकता के अनुसार खाद का इस्तेमाल कर मिटटी की उत्पादकता बढ़ा सकते हैं । इससे किसानों को फसल की अच्छी खासी पैदावार करने में सहायता मिलेगी। सॉइल हेल्थ कार्ड की मदद से किसान मिटटी की आवश्यकतों को समझ कर कम लागत में फसलों की पैदावार बढ़ा सकेंगे।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना: ऑनलाइन आवेदन

यहाँ जानिये कैसे काम करता है Soil Health Card ?

  1. इस प्रक्रिया में सबसे पहले संबंधित अधिकारी किसान के खेतों में जाकर मिट्टी के सैंपल इकठ्ठा करते हैं।
  2. सैंपल लेने के बाद इन्हे लैब में भेजा जाता है। जहां मिट्टी का परिक्षण किया जाता है।
  3. जांच पूरी होने पर सैंपल से प्राप्त जानकारी के आधार पर गुणवत्ता के बारे में बताया जाता है।
  4. मृदा / मिटटी में यदि कोई कमी होती है तो इस बारे में उचित दिशा निर्देश उपलब्ध कराये जाते हैं।
  5. अंत में संबंधित किसान के नाम से ये सभी जांच की जानकारी / रिपोर्ट को ऑनलाइन अपलोड कर दिया जाता है।

सॉइल हेल्थ कार्ड में उपलब्ध कराई जाने वाली जानकारी

मृदा स्वास्थ्य कार्ड में किसान के खेतों की मिटटी की जांच करने के पश्चात सॉइल हेल्थ कार्ड पर मृदा से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराई जाती है।

  1. मिट्टी की सेहत
  2. खेत की उर्वरक / उत्पादक क्षमता
  3. पोषक तत्वों से जुडी जानकारी।
  4. मिटटी में नमी / पानी की मात्रा के संबंध में
  5. खेतों की गुणवत्ता के संबंध में दिए गए आवश्यक दिशा निर्देश ।

Soil Health Card Scheme से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य ?

  • सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम के जरिये सभी लाभार्थी किसानों को उनके खेत की मिटटी की जाँच से संबंधित एक हेल्थ कार्ड दिया जाएगा।
  • मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड के माध्यम से सभी किसान खेत की मिट्टी के परिक्षण से संबंधित सभी जानकारी इस कार्ड के माध्यम से प्राप्त कर सकेंगे।
  • कार्ड में उपलब्ध मृदा की जानकारी (रिपोर्ट ) के आधार पर किसान दिए गए निर्देशों का पालन कर मिट्टी की उत्पादकता को बढ़ा सकते हैं।
  • इस योजना की निर्धारित थीम है -  स्वस्थ धरा, खेत हरा।
  • मिटटी के अनुसार दिए गए सुझावों के अनुरूप फसल लगाकर मुनाफा कमा सकते हैं।
  • इस योजना (सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम) के अंतर्गत 14 करोड़ किसानों को लाभ होगा।
  • सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम के अंतर्गत ग्रामीण युवा एवं किसान जिनकी आयु 40 वर्ष तक है को लाभ मिलेगा। ये किसान मृदा परीक्षण प्रयोगशाला की स्थापना एवं नमूना परीक्षण कर सकते हैं।
  • बता दें की प्रयोगशाला स्थापित करने में 5 लाख रूपए तक का खर्च आता हैं। जिस में से 75 प्रतिशत केंद्र एवं राज्य सरकार वहन करती है।
  • स्वयं सहायता समूह, कृषक समूह या कृषक उत्पादक संगठनों और , कृषक सहकारी समितियाँ के लिये भी यहीं प्रावधान है।
  • अब तक मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण के पहले चरण (वर्ष 2015 से 2017) में 10.74 करोड़ कार्ड और दुसरे चरण (वर्ष 2017-2019) में 11.69 करोड़ कार्ड केंद्र सरकार द्वारा वितरित किये गए हैं।
  • किसानों को सॉइल हेल्थ कार्ड योजना के तहत प्रत्येक 3 वर्ष में मृदा की स्थिति का आकलन नियमित रूप से राज्य सरकारों द्वाराकराया जाएगा और मृदा स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा।
  • इससे पोषक तत्त्वों की कमी की पहचान की जा सके और इस के सुधार हेतु कुछ कदम उठाये जा सकें।
  • भारत सरकार द्वारा इस योजना के लिए शुरुआत में  568 करोड़ रूपये का बजट जारी किया था।
  • इस योजना के तहत मृदा परीक्षण प्रयोगशालाओं की स्थापना हेतु - राज्यों के लिये अब तक 429 नई स्टेटिक लैब (Static Labs), 102 नई मोबाइल लैब (Mobile Labs), 8752 मिनी लैब (Mini Labs), 1562 ग्रामस्तरीय प्रयोगशालाओं की स्थापना और 800 मौजूदा प्रयोगशालाओं के सुदृढ़ीकरण हेतु मंजूरी दी गयी है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना: रजिस्ट्रेशन, किसान पंजीकरण

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम के लाभ यहाँ जानिये

  • Soil Health Card के माध्यम से सरकार देश के सभी किसानों को बेटर उत्पादन करने में सहायता करेगी।
  • मृदा की समय समय पर जांच के आधार पर किसान फसलों का उत्पादन कर सकेंगे और बेहतर आय प्राप्त कर सकेंगे।
  • योजना के तहत मृदा परिक्षण लैब की स्थापना करने और परिक्षण का विकल्प खुले होने से किसानों और अन्य योग्य युवाओं को रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।
  • मिटटी की जांच के बाद सभी किसान इसकी पूरी रिपोर्ट ऑनलाइन माध्यम से देख सकेंगे।
  • रिपोर्ट में पोषक तत्वों की मौजूदगी और कमी आदि से संबंधित जानकरी प्राप्त हो जाएगी। साथ ही सुझाव और उपाय भी बताये जाएंगे।
  • सभी किसान रिपोर्ट के अनुसार आवश्यक खाद आदि का इस्तेमाल करके मृदा की उत्पादकता बढ़ा सकेंगे।

सॉइल हेल्थ कार्ड कैसे बनाएं ?

  1. सबसे पहले आप को स्कीम के अंतर्गत निर्धारित की गयी आधिकारिक वेबसाइट soilhealth.dac.gov.in पर जाना होगा।
  2. आप के सामने होम पेज खुल जाएगा। आप को होम पेज पर दिख रहे Log In के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम
  1. अब आप के स्क्रीन पर अगले पेज पर आप को State का चयन करना होगा।
मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना
  1. चयन के बाद Continue के बटन पर क्लिक कर दें।
  2. अब आप को अगले पेज पर New Registration के विकल्प पर क्लिक करें।
Soil Health Card
  1. इस के बाद आप के स्क्रीन पर अगला पेज खुलेगा। यहाँ आप को पंजीकरण फॉर्म मिलेगा।
  2. रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी यहाँ दर्ज कर दें। जैसे की -  User Organisation Details, Language, User Details, User Login Account Details  इत्यादि।
सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम
  1. सभी जानकारियों को दर्ज करने के बाद Submit के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  2. इस तरह से आप की पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी होती है।
  3. अब आप को होम पेज पर जाकर लॉगिन की प्रक्रिया पूरी करनी होगी और फिर योजना के अंतर्गत आवेदन पत्र को भर सकते हैं।

किसान सम्मान निधि लिस्ट 2022 : pmkisan.gov.in List, PM Kisan Status

लॉगिन की प्रक्रिया ऐसे पूर्ण करें

  • सबसे पहले आप को सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहाँ होम पेज खुलेगा। अब आप को होम पेज पर दिए गए विकल्पों में से Login के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप के सामने अगला पेज खुलेगा , यहाँ अपने राज्य का चयन करें।
  • नए पेज पर लॉगिन फॉर्म में पूछी गयी जानकरी भरें।
  • जैसे की - यूज़र नेम , पासवर्ड और दिए गए इमेज कोड को दर्ज करें।
  • इस के बाद Login के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस तरह से आप की लॉगिन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Soil Health Card 2022 कैसे प्रिंट करें ?

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट soilhealth.dac.gov.in पर जाएँ।
  • होम पेज पर आप को Farmers Corner पर जाना होगा। यहाँ आप को Print Soil Health Card के विकल्प पर क्लीक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आप के सामने अगला पेज खुलेगा। जहाँ आप को अपने राज्य का चयन करना होगा।
  • इसके बाद Continue पर क्लिक करें।
  • राज्य का चयन करते ही आप की स्क्रीन पर नया पेज खुलेगा। इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकरी को भरें।
  • जैसे की - District , Village , Farmers Name आदि भर दें। और अंत में Search के बटन पर क्लिक कर दें।
  • अब आप के सामने आप के नाम का सॉइल हेल्थ कार्ड / मृदा स्वास्थ्य कार्ड खुल जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड कर के प्रिंट आउट निकाल लें।

मिटटी का सैंपल कैसे ट्रैक करें ?

  1. सबसे पहले आप को आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  2. अब आप के सामने होम पेज खुल जाएगा।
  3. यहाँ आप को Farmers Corners के तहत Track Your Sample के लिंक पर क्लीक करना है।
  4. क्लिक करते ही आप के स्क्रीन पर एक फॉर्म खुल जाएगा जहाँ आप को पूछी गई सभी जानकारी भरनी होगी।
  5. यहाँ आप को - अपने राज्य, जिले, मंडल , गांव तथा किसान का नाम, विलेज ग्रिड नंबर तथा सैंपल नंबर दर्ज करना है।
  6. सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आप को Search के बटन पर क्लिक करना है।
  7. इस तरह से आप अपने स्क्रीन पर अपने खेत के मृदा के सैंपल से संबंधित जानकारी आसानी से देख सकेंगे।

e nam रजिस्ट्रेशन: ई-नाम ऑनलाइन किसान पंजीकरण @ enam.gov.in Portal

Soil Testing Laboratory कैसे ट्रैक करें ?

  • सबसे पहले सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • अब होम पेज खुलेगा जहाँ आप को Farmers Corners पर जाना है।
  • इस के बाद यहां आप को Locate soil testing laboratory पर क्लिक करना है।
  • अब अगला पेज खुलेगा जहाँ आप अपने स्टेट और डिस्ट्रिक्ट का चयन करेंगे।
  • इस के बाद View Report / View Map के विकल्प पर क्लिक कर दें।

नोट : यदि आप View Report पर क्लीक करते हैं तो आप को सॉइल टेस्टिंग लैब की सूची आप के स्क्रीन पर दिखाई देगी। वहीँ यदि आप View Map के बटन पर क्लिक करते हैं तो आपके सामने नजदीकी सॉइल टेस्टिंग लैबोरेट्री की जानकारी मैप के फॉर्म में खुल जाएगी।

साइल हेल्थ डैशबोर्ड कैसे देखें ?

  • सबसे पहले सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम की ऑफिसियल वेबसाइट soilhealth.dac.gov.in पर जाएँ।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आप को सॉइल हेल्थ डैशबोर्ड का विकल्प मिलेगा। इस पर क्लीक करें।
  • क्लिक करते ही आप की स्क्रीन पर अगला पेज खुलेगा।
  • यहाँ आप को कुछ जानकारियां दर्ज करनी होंगी। जैसे की - State , District, Sub- District और village आदि।
  • इन जानकारियों को दर्ज करने के बाद आप को Search के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • आप अब डैशबोर्ड पर संबंधित जानकारी देख सकते हैं।

ऐसे चेक करें पीएम किसान सम्मान निधि योजना की रिजेक्ट लिस्ट

फसलों के लिए उर्वरक खुराक की जानकारी ऐसे देखें

  • सबसे पहले आप को सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर Fertilizer Dosage for Crops का विकल्प दिखेगा। इस पर क्लिक करें।
  • अब आप को State और District का चयन करना होगा।
  • इसके बाद अन्य जानकारियां भी भरें और Continue पर क्लीक करें।
  • अब आप को Crop Group , Crop , Variety , Irrigation आदि जानकारियां भरनी होंगी।
  • अंत में Calculate के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आप के स्क्रीन पर संबंहित जानकरी आ जाएगी।
  • अपनी आवश्यतानुसार आप इस का प्रिंट आउट निकाल सकते हैं।

Sample Registration Mobile App डाउनलोड ऐसे करें

  • सबसे पहले मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना 2022 के अंर्तगत आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आप को Download टैब के तहत सैंपल रजिस्ट्रेशन मोबाइल एप्प के लिंक पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करते ही आप के मोबाइल फ़ोन में ये एप्लीकेशन डाउनलोड होनी शुरू हो जाएगी।
  • इसके बाद आप डाउनलोड की प्रक्रिया के बाद इसे अपने फ़ोन में Install कर सकते हैं।
  • इस तरह से आप की Sample Registration Mobile App Download होने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

टेस्ट रिजल्ट एंट्री मोबाइल ऐप डाउनलोड ऐसे कर सकते हैं

  • सबसे पहले आप सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आप को डाउनलोड टैब पर जाना है।
  • इस के अंतर्गत दिए गए विकल्प टेस्ट रिजल्ट एंट्री मोबाइल एप के लिंक पर क्लिक करें।
  • इस लिंक पर क्लिक करते ही ये ऐप आप के मोबाइल फोन में डाउनलोड होना शुरू हो जाएगी।
  • डाउनलोड की प्रक्रिया के पूरा होने पर आप इसे Install कर सकते हैं।

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम से संबंधित प्रश्न उत्तर

Soil Health Card स्कीम में किसे लाभ प्राप्त होगा ?

इस योजना के माध्यम से देश के सभी किसानों को लाभ होगा।

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम की शुरुआत सबसे पहले कहाँ की गयी थी ?

इसकी शुरुआत राजस्थान में की गयी थी।

मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है ?

इस योजना के अंतर्गत आधिकारिक वेबसाइट - /soilhealth.dac.gov.in है।

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम क्या है ?

ये एक केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई ग आयी योजना है जिस में किसानों को लाभ मिलेगा। इस स्कीम में किसान अपने खेत की उत्पादकता को जांच कर उसे और बेहतर बना सकते हैं। इस के लिए उन्हें मृदा परिक्षण करवाना होगा। परिक्षण के आधार पर वो उत्पादन बढ़ाने के लिए मिट्टी में सुधार कर सकते हैं। जिससे उनकी फसल में लाभ होगा।

मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना में soil health card कैसे प्राप्त करें ?

इस के लिए किसान अपने खेत की मिट्टी के सैंपल को टेस्ट करवाने दे सकते हैं। फिर जांच के बाद रिपोर्ट आधिकारिक पोर्टल पर अपलोड कर दी जाएगी। जिसे किसान डाउनलोड कर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर

यदि आप को किसी प्रकार की समस्या है तो समाधान हेतु आप लेख में दिए जा रहे हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Comment