Sidhu Moose Wala Murder: कौन हैं गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्‍नोई जिनपर सिद्धू मूसेवाला की हत्‍या का आरोप ? जानें इनके बारे में

Sidhu Moose Wala Murder : सिद्धू मूसेवाला को कौन नहीं जनता है वह एक बहुत ही अच्छे और बड़े गायक थे। गायक मूसेवाला डाउन टू अर्थ व्यक्ति था। दुःख की बात यह है बीते रविवार की शाम को सिद्धू मूसेवाले की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जानकारी के लिए बता दें सिद्धू मूसेवाले की हत्या के आरोपी गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्‍नोई है। हालांकि गोल्डी बराड ने मूसेवाले की हत्या करने जुर्म स्वयं कबूला है। गोल्डी बराड़ फिलहाल कनाडा में है और दूसरा हत्यारा लॉरेन्स बिश्नोई जेल में बंद है। सिद्धू मूसेवाला पंजाब के एक महशूर गायकों में से एक है। उनका पूरा नाम शुभदीप सिंह सिद्धू है। हालांकि वे सिद्धू मूसेवाला नाम से जाने जाते है। Sidhu Moose Wala Murder से जुडी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए दी गयी पूरी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ें –

कौन हैं गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्‍नोई ?

गोल्डी बराड़ अन्य नाम सतेंदर सिंह है। यह लॉरेंस बिश्नोई का खास गुर्गा माना जाता है। बीते वर्ष लॉरेंस बिश्नोई के खिलाफ फरीदकोट के अदालत में पहलवान गुरलाल सिंह की हत्या के मामले में ओपन एंडेड गैर जमानती वारंट जारी किया गया था। दो बदमाशों ने 34 वर्षीय पहलवान की हत्या गोली मारकर की गयी थी। सिद्धू मूसेवाले की हत्या (Sidhu Moose Wala Murder) गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्‍नोई ने की। इसकी सूचना स्वयं गोल्डी बराड़ ने फेसबुक पर पोस्ट करके बतायी है और साथ-ही साथ उन्होंने अपना जुर्म भी कबूला है। इस समय गोल्डी बराड़ कनाडा में रह रहे है। लॉरेन्स बिश्नोई अभी जेल में बंद है।

गिरिजा टिक्कू जीवन परिचय, परिवार, बैकग्राउंड, फोटो

कौन था Sidhu Moose Wala ?

सिद्धू मूसेवाला पंजाब का एक प्रसिद्ध गायक था। जानकारी के लिए बता दें सिद्धू मूसेवाले का जन्म 17 जून 1993 को हुआ था। हालांकि मूसेवाला एक पंजाबी गायक तो थे ही साथ-ही साथ कांग्रेस पार्टी के नेता भी थे। मूसेवाले का पूरा नाम शुभदीप सिंह था। इनके पिताजी का भोला सिंह ही वे पूर्वसेनाधिकारी है। इनकी माता का नाम चरण कौर है और गांव की सरपंच है। सिद्धू मूसेवाले की उम्र 28 वर्ष है। अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद सिद्धू कनाडा चले गए थे। कनाडा में ही इन्होने अपना पहला सॉन्ग रिलीज़ किया था जिसका नाम जी वैगन था। 2018 में इन्होने पंजाबी फिल्म के लिए गाने गए। इस फिल्म का नाम डाकुओं दा मुंडा था। इस फिल्म के लिए इन्होने डॉलर सॉन्ग गाया था। जानकारी के लिए बता दें पंजाबी फिल्म के लिए यह उनका पहला सॉन्ग था।

हालांकि हमेशा से ही सिद्धू मूसेवाला विवादों से जुड़े रहे है। उन्होंने साल 2019 में एक गाना रिलीज किया था जिसका नाम जट्ट जियोने मोड़ दी बन्दूक था। इस गाने को लेकर उनके खिलाफ शिकायत तक दर्ज की गई थी। कुछ लोगो का कहना था कि वे इस गाने से गन कल्चर को बढ़ावा दे रहे है। ऐसे ही बहुत सी बार उनके दर्ज की गयी है।

Manoj Pandey Bio: मनोज पांडे जीवन परिचय, उम्र, कैरियर, परिवार

30 से 40 गोलियां मारकर की गई हत्या

खबरों की माने की माने तो सिद्धू मूसेवाला रविवार शाम को अपनी थार गाडी में दोस्तों के साथ घूमने निकले थे। ड्राइविंग सिद्धू ही कर रहे थे। उनके साथ उनके तो दोस्त थे। एक दोस्त अगली सीट पर दूसरा पिछली सीट पर बैठा था। घर से कुछ दूर ही एक गाडी कड़ी तह। उस गाड़ी में हमलावर बैठे हुए थे। अचानक उन्होंने सिद्धू मूसेवाले पर फायरिंग शुरू कर दी। जानकारी के लिए बता दें मूसेवाले पर लगभग 30-40 गोली चलाई गई। जिनमें से मूसेवाले को 6 गोलियां लगी। इसके अलावा उन्हें दोस्तों को भी चोट आयी। फायरिंग के तुरंत बाद ही गांव वालो ने मूसेवाले और उनके घायल दोस्तों को हॉस्पिटल पहुंचाया। हॉस्पिटल पहुँचते ही सिद्धू मूसेवाले को मृत घोषित कर दिया गया।

गोल्डी बराड़ ने फेसबुक पर पोस्ट के जरिये बताया

Goldy Brar ने अपनी पोस्ट में लिखा – सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी मैं गोल्डी बराड़, सचिन बिशनोई और लौरेंस बिशनोई लेते है। मिद्दू खेहरा और गुरनाम बराड़ की हत्या के पीछे मूसेवाले का नाम आया लेकिन फिर भी पुलिस ने इसकी कोई जांच नही की। इसके अलावा अंकित भादू के एनकाउंटर में भी मूसेवाला का ही नाम सामने आया था। हालांकि दिल्ली पुलिस द्वारा इसका नाम मीडिया के सामने रख दिया या था। लेकिन वह अपनी पावर के कारण बच गया।

Pulitzer Price: जानें कौन है दानिश सिद्दीकी? Danish Siddiqui Pulitzer Prize photo

पंजाब के सीएम ने मूसेवाले की सिक्योरिटी कम करने पर दिए जाँच के आदेश

जानकारी के लिए बता दें पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मूसेवाले की सिक्योरिटी घटाने के निर्णय की जांच के आदेश दिए है। उन्होंने कहा की इस मामले की जांच सही ढंग से होनी चाहिए। डीजीपी के कल के बयान पर भी सीएम ने सफाई पेश करने का आदेश भी दिया है। पंजाब सरकार ने सिद्धू मूसेवाला हत्या काण्ड में पूर्ण सहयोग से जांच करने के आदेश दिए है साथ ही अपराधियों को न बख्शे जाने की भी बात की गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री ने मूसेवाला के मर्डर की जाँच हाईकोर्ट के सिटिंग जज से कराने का ऐलान किया है।

विनि रमन बायोग्राफी, जीवन परिचय, उम्र, करियर, फॅमिली

Leave a Comment