सौर सुजला योजना: 1 लाख किसानो को कम दाम पर मिल रहा सोलर पंप, जानें कैसे

सौर सुजला योजना: सरकार द्वारा देश के कृषि क्षेत्र को लेकर बहुत सी योजनाएं और स्कीम्स लायी जाती हैं। जिससे किसानों को आर्थिक सहायता मिलती है। और साथ ही कृषि में उपयोग होने वाले उपकरणों की खरीद में भी सब्सिडी दी जाती है। इसी तरह एक योजना है जिसका नाम है सौर सुजला योजना। ये योजना छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शुरू की गयी है। इस योजना के माध्यम से सरकार बेहतर कृषि और सिंचाई के लिए रियायती दर पर सौर पंप उपलब्ध कराएगी। इस से किसानों को बेहतर फसल तैयार करने में सहायता मिलेगी। आप की जानकारी के लिए बता दें की सौर सुजला योजना (Saur Sujala Scheme) की शुरुआत ऊर्जा विभाग द्वारा की गयी है।

Saur Sujala Yojana

सौर सुजला योजना

Saur Sujala Scheme छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास प्राधिकरण (CREDA) के माध्यम से लागू की गई योजना है। प्रदेश के किसानों के लिए बहुत लाभकारी है। बता दें कि इस योजना के अंतर्गत सभी किसानों को सब्सिडी पर सरकार द्वारा सोलर पंप उपलब्ध कराये जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत जो भी किसने अपने खेत में सिचाई हेतु सोलर पंप लगवाने के इच्छुक होंगे उन्हें इस योजना के माध्यम से लाभ प्रदान किया जाएगा। आप की जानकारी के लिए बता दें की सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) के अंतरगत सरकार की ओर से किसानों को 3 एचपी और 5 एचपी क्षमता वाले सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंपों का वितरण किया जाता है।

सौर सुजला योजना के अंतर्गत राज्य के किसानो को सिंचाई के लिए मिलने वाले सोलर पंप रियायती दरों पर उपलब्ध कराएं जा रहे हैं। बता दें इन में से 5 एचपी सोलर पंप की रियायती कीमत करीब 20 हजार रुपए तक होगी। वहीं 3 एचपी सोलर पंप की बाजार में कीमत 3.5 लाख तक है। ये सोलर पंप योजना के तहत योग्य किसानों को 7- 18 हजार की रियायती कीमत पर प्रदान किए जाएंगे। 

1 लाख किसानो को मिलेगा सोलर पंप

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा सौर सुजला योजना की शुरुआत प्रदेश के किसानों को ध्यान में रखकर की गयी है। बता दें की इस योजना को वर्ष 2016 में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा शुरू किया गया था । इस योजना के माध्यम से किसान अपने खेतों में पहले से बेहतर सिंचाई कर सकेंगे। योजना में लाभ प्रदान करने के लिए किसानों का चयन कृषि विभाग के द्वारा किया जाता है। Saur Sujala Yojana की खासियत ये हैं कि वो किसान भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं जो पहले से राज्य सरकार की बोरवेल या पंप योजना का लाभ उठा रहे हैं।

जानकारी के लिए बताते चलें की छत्तीसगढ़ राज्य में अब तक 1 लाख किसानों को इस योजना का लाभ मिल चूका है। इन सभी किसानों के खेतों में पानी की सिंचाई की व्यवस्था कर दी गयी है। इन किसानों में वो किसान भी शामिल हैं जो नक्सल और आदिवासी क्षेत्रों से आते हैं। इस योजना का सबसे ज्यादा लाभ उन ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों को हो रहा है जहाँ बिजली की आपूर्ति अभी भी नहीं की गयी है। ऐसे में सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पंप इन क्षेत्रों में प्रभवशाली सिद्ध हो रहे हैं।

आवश्यक दस्तावेज

  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर

ऐसे कर सकते हैं आवेदन

इस में कोई भी इच्छुक किसान आवेदन कर सकता है लेकिन रियायती दरों में सोलर पंप बांटने के लिए योग्य किसानों का चयन कृषि विभाग द्वारा किया जाएगा। Saur Sujala Scheme से संबंधित आवेदन पत्र ब्लॉक कार्यालयों और कृषि कार्यालयों से प्रॉपर कर सकते हैं। जिसे भरकर आवश्यक दस्तावेजों के साथ कृषि कार्यालय में जमा कर दें। आवेदन शुल्क का भुगतान भी कर दें। इस के बाद छत्तीसगढ़ अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण द्वारा आवेदन पत्र की जांच की जाती है। जिसके आधार पर तय किया जाता है की आवेदक योजना के लिए पात्र है या नहीं। योग्य किसानों को इसका लाभ प्रदान किया जाएगा।
सौर सुजला योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन इसकी वेबसाइट http://www.creda.in/home पर जाकर किया जा सकता है। 

यह भी पढ़ें: केवल 4 घंटे काम कर के कमाएं 15000 से 20000 रुपये, जानें कैसे

Leave a Comment