Sahara India Refund Status 2022: आपके भी पैसे फंसे हैं सहारा इंडिया में? तो एक कॉल पर मिलेगा फायदा, सरकार ने जारी किया नंबर

Sahara India Refund Status 2022: जैसा की आप सभी जानते ही है कि सहारा इंडिया परिवार भारत देश का एक मल्टी ट्रेडिंग कंपनी है। जिसका काम अनेकों क्षेत्रों जैसे: फाइनेंसियल सर्विस, हाउसिंग फाइनेंस, म्यूच्यूअल फण्ड, लाइफ इंश्योरंस, सिटी डेवलपमेंट, रियल स्टेट न्यूज़ पेपर एंड टेलीविज़न, फिल्म मेकिंग, स्पोर्ट्स, आईटी, हेल्थ, टूरिज्म, कंस्यूमर गुड्स क्षेत्रों में फैला हुआ है। परन्तु एक खबर सहारा इंडिया से जुडी सामने आयी है। जी हां, सहारा इंडिया परिवार में जिस किसी नागरिक के पैसे अटके या फंसे है उन्हें अब दुखी होने की जरूरत नहीं है सरकार अब सहारा इंडिया के रिफंड को लेकर कड़े एक्शन में आ चुकी है। चलिए जानते है इससे जुडी जानकारियों को।

ये है जारी किया गया नंबर

बता देते है, सहारा इंडिया में जिन भी लोगों के पैसे अटके है उन सभी के लिए सरकार के फाइनेंस डिपार्टमेंट ने एक पुलिस हेल्पलाइन नंबर 112 को जारी कर दिया है। जारी किये गए इस हेल्पलाइन पर सहारा के अलावा अन्य दूसरे नॉन बैंकिंग कंपनियों और कॉर्पोरटिव सोसाइटी के खिलाफ शिकायत दर्ज किया जा सकेगा इसके बाद लोगों से शिकायत मिलने के पश्चात वृत्त विभाग CID के साथ में मिल जुलकर शिकायत दर्ज की जांच करके

Sahara India Refund Status 2022: नागरिकों के फसें 2500 करोड़ रुपये

बता दें, सहारा इंडिया में नागरिकों के करोड़ रुपये अटके पड़े है। झारखंड सरकार के बजट सत्र में विधायक नवीन जैसवाल ने 10 मार्च को नॉन बैंकिंग कंपनियों में लोगों के फसें पैसे की बात बताई थी। उनके द्वारा यह बताया गया है कि तीन लाख नागरिक अपने पैसे को लेकर बहुत ही परेशान है। जिसके कारण सरकार ने इस हेल्पलाइन नंबर को जारी करने का फैसला लिया है। बता दें, इस हेल्पलाइन नंबर के जरिये नागरिकों के फसें पैसों की जानकारी का पता लग सकेगा की किसके कितने पैसे अटके पड़े है।

60 हजार लोग हुए है बेहाल (हेल्पलेस)

नवीन जैसवाल जी का यह भी कहना है कि सहारा इंडिया परिवार कंपनी में काम कर रहे 60 हजार लोग बेहाल हो चुके है। इन सभी की हालत बहुत ही ख़राब हो चुकी है। स्थिति इतनी गंभीर भी हो सकती है कि किसी की भी जान जा सकती है। जिसके बाद वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने इस पर माना था कि सहारा में देहात गांव के लोगों का पैसा फसा है।

बता दें, सहारा एक लिस्टेड कंपनी है जो कि SEBI के कण्ट्रोल में है। फाइनेंस डिपार्टमेंट की तरफ से SEBI और सहारा प्रमुख को पत्र भेजा जा चुका है। विभाग इसके निदान से बाहर निकलने के लिए सभी प्रयासों को करेगा।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment