बेलारूस, यूक्रेन के साथ युद्ध में रूस का सहयोग क्यू कर रहा?

Russia-Ukraine War– एक्सपर्ट के मुताबिक यह जानकारी दी जा रही की रूस-यूक्रेन युद्ध में बेलारूस ,रूस की मदद कर रहा है। 28 फरवरी को बातचीत करने के लिए रूस और यूक्रेन के प्रतिनिधि बेलारूस पहुंचे थे। यूक्रेन से युद्ध लड़ रहा रूस दुनिया में पूरी तरह से अलग पड़ गया है। लेकिन इसके बावजूद भी कई देश है जो रूस के साथ इस लड़ाई में अपना सहयोग दे रहे है। इसका कारण यह है की इन देशों के राष्ट्रध्यक्षों से रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का एक अच्छा संबंध है। मुश्किल समय में पुतिन ने इन नौ राष्ट्रों की मदद की है। इसी के परिणाम स्वरुप आज यह 9 देश पूरी दुनिया के खिलाफ रूस के साथ इस लड़ाई में अपना सहयोग दे रहे है।

रूस ने यूक्रेन पर हमला करने से पहले बेलारूस के साथ 10 दिनों का military exercises ( सैन्य अभ्यास ) किया था। जिसके परिणाम स्वरुप बेलारूस ने रुसी सैनिकों को बेलारूस में यूक्रेन बॉर्डर पर तैनाती की अनुमति दी। ऐसे में इस बात से सभी लोगो के मन में यह सवाल उठ रहा है की आखिकरकार बेलारूस ,रूस का सहयोग यूक्रेन रसिया युद्ध में क्यों कर रहा है।

बेलारूस और रूस के संबंध

रूस की पश्चिमी बॉर्डर पर बेलारूस स्थित है ,इसकी आबादी लगभग 95 लाख के करीब है। यूक्रेन के साथ भी बेलारूस बॉर्डर साझा करता है। यूक्रेन और पुतिन बेलारूस को पूर्व सोवियत गणराज्यो को ऐतिहासिक रुसी हृदय भूमि का हिस्सा मानते है। वर्ष 1991 में सोवियत संघ के टूटने से इनका दावा है की इन्हे इनकी मातृ भूमि से गलत तरीके से पृथक कर दिया गया।

बेलारूस में होने वाले व्यापार का 48 प्रतिशत हिस्सा सीधे रूस से होता है। इसी के साथ एलेक्जेंडर लुकासहेंको बेलारूस के राष्ट्रपति का प्रभाव भी पुतिन जैसा ही है। रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने बेलारूस के प्रधानमंत्री एलेक्जेंडर का साथ उस समय दिया जब सितंबर 2020 में उनके खिलाफ आवाज उठने लगी थी। पुतिन के सहयोग के नतीजे से ही लुकाहेंस्क 1994 से लगातर से बेलारूस के राष्ट्रपति बने हुए है।

बेलारूस सैन्य सहयोग रूस

यूक्रेन के खिलाफ जंग छेड़ने में बेलारूस की भी अपनी एक अहम भूमिका रही है। रुसी सैनिको को यूक्रेन में पहुंचाने के लिए बेलारूस ने रूस की काफी मदद की है। क्योंकी बेलारूस यूक्रेन की सीमा से बंधा हुआ है। इसी के साथ बेलारूस और रूस ने मिलकर जंग से पहले दोनों देशो की सेनाओं से युद्ध का संयुक्त अभ्यास भी किया पहले से ही बेलारूस रूस की सेना को सहयोग करता रहा है ,जिसके परिणाम स्वरुप यूक्रेन और रूस जंग की शुरुआत हुई है।

रूस-यूक्रेन की इस जंग में रूस की मदद करने के लिए बेलारूसी सैनिक भी यूक्रेन पर हमला करेंगे। क्युकी बेलारूसी सैनिक अब तक लुकाशेंको के प्रति वफादार रहे है ,जिसके परिणाम स्वरुप यह लगता है की इन सैनिकों में से कुछ सैनिक आक्रमण करने के लिए इस युद्ध में शामिल होंगे।

एक्सपर्ट का कहना है की यदि बेलारूसी सैनिकों की आवश्यकता रूस को इस युद्ध में होती है तो बेलारूसी जरूर इसमें रूस की मदद करेगा। हालाँकि इस बारे में अभी भी कुछ भी नहीं कहा जा सकता है।

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment