Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana: 24 महीने चलेगा ये बिजनेस, देगा बम्पर कमाई- मोदी सरकार भी करेगी मदद

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana | प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना: केंद्र सरकार द्वारा देश में कृषि से जुड़े किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए कई तरह की योजनाएँ सँचालित की जाती है, जिसके लिए देश के कृषि गतिविधियों से जुड़े किसान, पशुपालकों के साथ-साथ अब केंद्र सरकार द्वारा मत्स्य पालन का व्यवसाय करने वाले किसानों को भी आर्थिक सहयोग देने के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की शुरुआत की गई है, इस योजना के माध्यम से केंद्र के साथ साथ कई राज्य सरकारों द्वारा मिलकर मत्स्य पालन का व्यवसाय करने वाले किसानो को 40 से 60 प्रतिशत सब्सिडी का लाभ भी प्रदान किया जाता है, जिसे शुरू करके किसान बेहतर कमाई कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना 2024-25 तक रहेगी लागू

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर आय वर्ग के किसान जिनकी आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नहीं है की मत्स्य पालन के व्यवसाय को शुरू करने के लिए उसमे अधिक पैसे खर्च कर सकें ऐसे सभी किसानों को सरकार योजना के माध्यम से 40% और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और महिला लाभार्थियों को सरकार द्वारा 60% तक की सब्सिडी का लाभ दिया जाता है। इस योजना के माध्यम से वर्ष 2019 में भारत में हुए 137.58 लाख मेट्रिक टन मछली के उत्पादन को वर्ष 2024-25 तक 220 लाख मेट्रिक टन करने का लक्ष्य रखा गया है।

PM Matsya Sampada Yojana में 20,050 करोड़ किए गए निवेश

देश में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के लिए सरकार मछली पालन करने वालों, मछुआरों व मछली विक्रेताओं को पीएम मत्स्य सम्पदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana) में मोदी सरकार द्वारा 20,050 करोड़ रूपये का निवेश किया गया है। जिसके लिए योजना को पूरे देश में पाँच वर्ष के लिए लागू किए जाने के बाद सरकार का मुख्य लक्ष्य देश में 55 लाख युवाओं के लिए रोजगार उत्पन्न करने का रखा गया है, इसके साथ ही देश में वर्ष 2018-19 में 46589 करोड़ रूपये निर्यात आय को बढाकर 2024-25 तक 10,0000 करोड़ की दोगुना निर्यात आय करके 70 लाख टन का अतिरिक्त मछली उत्पादन करना है, जिससे देश में मछली पालन का व्यवसाय शुरू करने वाले किसान अपने व्यवसाय से अधिक मछली उत्पादन कर बेहतर लाभ अर्जित कर सकेंगे।

पीएम मत्स्य समदा योजना मुख्य बाते

  • प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के तहत सरकार देश के मछुआरों, व मत्स्य पालन करने वाले किसानों के लिए सरकार सामजिक व आर्थिक रूप से सुरक्षा प्रदान कर व्यवसाय शुरू करने के लिए सब्सिडी का लाभ प्रदान करना।
  • मत्स्य पालन उत्पादकता को वर्तमान में 3 टन से बढ़ाकर 5 टन प्रति हेक्टेयर करना है।
  • कृषि जीवीए में मत्स्यपालन क्षेत्र के योगदान को 2018-19 में 7.28 प्रतिशत से बढ़ाकर 2024-25 में 9% तक बढ़ाना है।
  • 20-25% तक के पोस्ट हार्वेस्ट नुक्सान को कम कर 10% तक करना।
  • किसानों की आय को दोगुना करने व रोजगार सृजन को बढ़ावा देना।

प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए यहाँ करें अप्लाई

केंद्र सरकार की तरफ से Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana को राज्य सरकारों द्वारा संचालित किया जा रहा है, जिसके लिए इस योजना से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त करने के लिए किसान pmmsy.dof.gov.in पर विजिट कर सकते हैं और इसकी जानकारी प्राप्त कर आवेदन के लिए अपने राज्यों की मत्स्य पालन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकेंगे।

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें।

PM Matsya Sampada Yojana

Leave a Comment