PPF: सुकन्या समृद्धि और पीपीएफ जैसी सेविंग योजनाओं पर सरकार ने लिया ये फैसला, अब ये हैं ब्याज दरें

PPF: पीपीएफ और सुकन्या समृद्धि योजना का नाम आप ने सुना ही होगा। यदि नहीं तो हम बता देते हैं। ये एक प्रकार की छोटी बचत योजनाएं हैं। जो भी इन योजनाओं में अपने पैसे निवेश करते हैं उनके लिए ये महत्वपूर्ण खबर हो सकती है। आप को बता दें कि सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) और सुकन्या समृद्धि योजनाओं की ब्याज दरों को इस बार भी स्थिर रखा है। कुल मिलाकर इन छोटी बचत योजनाओं में न ही इसमें निवेश करने वालों को ब्याज में न ही राहत दी है और न ही ब्याज में किसी प्रकार की कटौती की गयी है। इसलिए अगले तिमाही यानी की अप्रैल, मई और जून में भी पहले जैसे ही ब्याज दरें रहेंगी।

यहाँ जानिये किस योजना में कितना मिलता है ब्याज

देश की सरकार इन छोटी बचत योजनाओं से निवेशकों को उनके निवेश पर ब्याज प्रदान करती है। जिससे ज्यादा से जयदा लोग निवेश करके बचत करने के लिए प्रोत्साहित हों। सभी योजनाओं में ब्याज दरें अलग अलग होती हैं जिस में निवेशक अपनी जरुरत के अनुसार निवेश कर सकते हैं। यदि निवेशक सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करता है तो उसे सालाना दर पर 7.6 प्रतिशत का ब्याज मिलता है। वहीँ अगर किसी ने अपनी बचत का पैसा 5 वर्षों की वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर लगाया है तो उसे सालाना 7.4 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। बाकी बचत जमा पर ब्याज की दर चार प्रतिशत सालाना के हिसाब से अभी भी बनी है। साथ ही एक साल की सावधि जमा योजना पर ब्याज दर 5.5 प्रतिशत ही बनी रहेगी।

IVR Facility Post Office: सुकन्या समृद्धि, PPF, NSC योजना की मिलेगी सारी जानकारी, डायल करें यह नंबर

यदि किसी निवेशक ने अपने पैसे पीपीएफ में लगाए हैं तो उसे 7.1 प्रतिशत सालाना की दर से ब्याज मिलेगा। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) पर 6.8 प्रतिशत की दर से ब्याज प्राप्त होगा। आप को जानकरी दे दें कि सरकार द्वारा चलाई गयी अन्य छोटी बचत योजनाएं भी हैं जिनमे आप निवेश कर सकते हैं। जैसे – डाकघर की आरडी , पीपीएफ, किसान विकास पत्र, सुकन्या समृद्धि आदि। इनकी जानकरी आप को अपने नज़दीकी डाकघर से भी मिल जाएगी।

Leave a Comment