PPF Investment: हर महीने करें पीपीएफ में 1000 रुपये का निवेश, मिलेंगे 12 लाख रुपये

PPF Investment: यदि आप भी निवेश के माध्यम से कुछ बचत के साथ साथ मुनाफा कमाना चाहते हैं तो आप के लिए PPF Investment एक बेहतर विकल्प के तौर पर मिल सकता है। पीपीएफ में किसी प्रकार का भी जोखिम नहीं है जिसकी वजह से ये एक सुरक्षित निवेश है। सरकार द्वारा इस की सुरक्षा की पूरी गारंटी दी गयी है। इसी खासियत के आधार पर आप इस में निश्चिन्त होकर पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड में अपना निवेश कर सकते हैं। आप को बताते चलें की इस स्कीम की शुरुआत 1968 में की गयी थी। इस की शुरुआत राष्ट्रीय बचत संगठन द्वारा एक छोटी बचत योजना के तौर पर हुई थी।

PPF Investment: पीपीएफ में 1000 रुपये का निवेश करें हर महीने, मिलेंगे 12 लाख रुपये

इस में निवेश करने पर आप को बहुत फायदे हैं। क्यूंकि लम्बे समय तक इसमें निवेश करने पर आप को बेहतर रिटर्न प्राप्त होते हैं। आप को जानकारी दे दें की यदि आप प्रति माह 1000 रूपए इसमें निवेश करते हैं तो आप को कुछ 12 लाख रूपए से अधिक की धनराशि का रिटर्न पा सकते हैं।

मिलता है इतना ब्याज

आप को बता दें की केंद्र सरकार हर तीन माह में ( तिमाही ) पीपीएफ खाते में मिलने वाले ब्याज दर में बदलाव लाती रहती है। सामान्यता ये ब्याज दर 7 से 8 प्रतिशत के बीच में ही होती है , जिस में आर्थिक स्थिति के आधार पर बढ़ना घटना लगा रहता है। इस समय पीपीएफ में 7.1% की सालाना दर से रिटर्न मिलता है। ये चक्रवृत्ति ब्याज है जो की अन्य बैंकों की में सावधि जमा से अधिक है।

पीपीएफ में 1000 रुपये का निवेश करें हर महीने, मिलेंगे 12 लाख रुपये

आप अपने पीपीएफ खाते में हर साल न्यूनतम 500 रूपए और अधिकतम 1.5 लाख रूपए तक की रकम को निवेश कर सकते हैं। इसकी जमा अवधि (मैच्योरिटी पीरियड) 15 वर्ष है , इस अवधी के बाद आप इस रकम को निकाल सकते हैं या अगले 5 वर्षों तक आगे बढ़ा सकते हैं। आइये अब इस योजना को समझते हैं –

यदि आप इस स्कीम में हर महीने 1000 रूपए जमा करते हैं तो आप को 15 वर्षों के बाद आप की निवेश राशि 1 लाख 80 हजार रूपए इस पर आप को 1 लाख 45 हजार रूपए का ब्याज प्राप्त होगा। इस तरह से आप को निवेश के मच्योरिटी पीरियड के बाद 3 लाख 25 हजार रूपए मिल जाएंगे। अब अगर आप इसे 5 साल के लिए आगे बढ़ाते हैं और साथ ही 1000 रूपए का निवेश भी करते रहते हैं तो आप को इसकी मैच्योरिटी पर अगले 5 वर्षों बाद 5.32 लाख रूपए मिल जाएंगे। जिनमे से आप के निवेश की राशि 2.40 लाख और ब्याज की राशि 2.92 लाख रूपए होगी।

अब यदि आप इसी तरह 15 वर्षों की मच्योरिटी पीरियड के बाद आप इसे अगले 5 – 5 वर्षों के लिए तीन बार और बढ़ाते हैं और हर महीने 1 हजार रूपए जमा करने की प्रक्रिया को जारी रखते हैं तो आप की निवेश राशि की कुल वैल्यू 3.60 लाख रूपए हो जाएगी। इस पर आप को 8.76 लाख रूपए का ब्याज मिलेगा। और इस की मैच्योरिटी पीरियड पर आप को कुल मिला कर 12.36 लाख रूपए प्राप्त होंगे। जो की काफी फायदेमंद है।

आप की जानकारी के लिए बता दें की यदि आप इस स्कीम PPF Investment में निवेश कर रहे हैं तो आप को लोन लेने की सुविधा भी उपलब्ध होगी। आप को इस सुविधा का लाभ 3 तीसरे और 6ठे वर्ष में मिलेगा। 6 वर्ष निवेश करने के बाद आप लोन के लिए छोटी रकम निकाल सकते हैं।

अब बिना UAN नंबर के चेक कर पाएँगे पीएफ का बैलेंस, ये है तरीका

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

PPF की फुल फॉर्म क्या है ?

PPF की फुल फॉर्म Public Provident Fund है।

पीपीएफ स्कीम की शुरुआत कब की गई थी ?

इसकी शुरुआत 1968 में की गयी थी।

पीपीएफ पर इस समय सालाना कितने दर से रिटर्न मिल रहा है?

इस समय पीपीएफ में 7.1% की सालाना दर से रिटर्न मिल रहा है।

मैच्योरिटी पीरियड किसे कहते हैं ?

जब किस किसी प्रीमियम की जमा अवधि पूरी हो जाती उसे मैच्योरिटी पीरियड कहते हैं।

Leave a Comment