PMFBY: 31 दिसंबर से पहले रबी फसल का करा लें इंश्योरेंस, वरना फसल बिमा का नहीं मिलेगा फायदा

PMFBY: केंद्र सरकार के द्वारा किसान नागरिकों को लाभांवित करने के लिए विभिन्न प्रकार की कृषि योजनाएं संचालित की गयी है। इन्ही योजनाओं में से एक मुख्य योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना भी है। PMFBY के अंतर्गत किसानों को फसलों में हुई आर्थिक हानि के लिए बीमा का लाभ प्रदान किया जाता है। इस योजना के अनुसार किसान नागरिकों को अपनी फसल का बीमा करवाना अनिवार्य है। किसानों के लिए केंद्र सरकार की ओर से रबी फसल का बीमा करवाने के अंतिम तिथि 31 दिसंबर 2021 निर्धारित की गयी है। सभी किसान व्यक्ति प्राकृतिक आपदा में हुए फसलों के नुकसान से बचने के लिए अंतिम तिथि से पहली फसल का बीमा करवा सकते है।

PMFBY: 31 दिसंबर से पहले रबी फसल का करा लें इंश्योरेंस, वरना फसल बिमा का नहीं मिलेगा फायदा
PMFBY: 31 दिसंबर से पहले रबी फसल का करा लें इंश्योरेंस, वरना फसल बिमा का नहीं मिलेगा फायदा

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

13 जनवरी 2016 को केंद्र सरकार के द्वारा देश के किसान नागरिकों को प्राकृतिक आपदा के कारण फसलों में हुई आर्थिक हानि में राहत पहुंचाने के लिए यह योजना शुरू की गयी। इस योजना के तहत किसान नागरिक को फसल बीमा का लाभ प्राप्त करने के लिए प्रीमियम का भगुतान करने पर बीमा योजना का लाभ प्राप्त होगा। PMFBY से मिलने वाली बीमा राशि का लाभ प्राप्त करने हेतु किसानों को pmfby.gov.in की आधिकारिक वेबसाइट में अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा। रबी फसल का इंश्योरेंस कराने के लिए किसान नागरिक 31 दिसंबर तक अपना पंजीकरण करवा सकते है।

PMFBY प्रीमियम राशि

केंद्र सरकार के द्वारा किसानों को प्राकृतिक आपदा एवं अन्य कारणों से हुए फसलों में हुई हानि के लिए फसल बीमा का लाभ प्रदान किया जाता है। रबी की मुख्य फसलों के लिए जैसे गेहूं, जौ, मसूर, सरसों आदि के लिए किसान नागरिक को प्रीमियम राशि का 1.5 प्रतिशत और आलू के लिए 5 प्रतिशत की दर से प्रीमियम राशि का भुगतान करना होगा। पीएम फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु किसान नागरिकों को पोर्टल में अपना पंजीकरण करवाना होगा।

फसल में हो रही हानि के लिए किसान कहा संपर्क कर सकते है

किसान नागरिक फसलों में हानि होने पर 72 घंटे के अंदर implementing agency संबंधित बैंक शाखा और कृषि विभाग को फसलों के नुकसान का ब्यौरा देना होता है। इसी के साथ फसल से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए किसान नागरिक 1800-889-6868 नंबर पर भी संपर्क कर सकते है। डिफॉल्टर किसान नागरिक भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है। डिफॉल्टर किसानों का प्रीमियम भुगतान राशि भी 1.5 प्रतिशत की दर पर देय होगा। इसके साथ ही बाकी के कुल भुगतान राशि का वहन केंद्र एवं राज्य सरकार के द्वारा किया जायेगा।

फसल बीमा योजना का लाभ

PMFBY के अंतर्गत किसान नागरिकों को फसलों में हुए नुकसान पर राहत प्रदान करने हेतु उन्हें फसल बीमा योजना का लाभ प्रदान किया जाता है। यदि किसान नागरिक के द्वारा फसल बीमा हेतु प्रीमियम के तौर पर 100 रूपए का भुगतान किया गया है उन्हें बीमा के रूप में 100 रूपए के भुगतान पर 537 रूपए का लाभ प्राप्त हुआ है। इस योजना के तहत किसानों के द्वारा वर्ष 2020 में 19 हजार करोड़ रूपए बीमा का भुगतान किया था। जिसके अनुसार सरकार के द्वारा उन्हें 90 हजार करोड़ रूपए का क्लेम का लाभ प्रदान किया गया था।

पीएम फसल बीमा योजना: फसल बर्बाद तो मिलेगा सरकारी मुवावजा, ऐसे करें आवेदन

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment