PM Kisan Social Audit: सभी किसानों का होगा सोशल ऑडिट, जानें किसको होगा इस से लाभ

PM Kisan Social Audit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा पीएम किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत वर्ष 2019 में की गयी थी। इस योजना के अंतर्गत देश के सभी किसानों को वार्षिक रूप में 3 किस्तों के रूप में 6000 रूपये की राशि वितरण की जाती है। अब इस योजना का लाभ केवल योग्य किसान नागरिकों तक पहुंचाने के लिए हर राज्य में प्रत्येक वर्ग के किसान नागरिकों का सोशल ऑडिट किया जायेगा ताकि केवल जरूरतंद किसान नागरिकों को ही इसका लाभ मिल सके। इस योजना के अंतर्गत जो अपात्र किसान नागरिक है उनका नाम योजना से हटाया जायेगा।

PM Kisan Social Audit

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत जो भी किसान नागरिक लाभ ले रहे है ,उनकी सभी जानकारी अब सरकार के माध्यम से सोशल ऑडिट के जरिये एकत्रित की जा रही है। सोशल ऑडिट प्रक्रिया के जरिये जो भी किसान नागरिक अपात्र होने उन्हें योजना का कोई लाभ नहीं दिया जायेगा। पीएम किसान सम्मान निधि योजना की सूची से ऐसे अपात्र किसानों को बाहर किया जायेगा। इस योजना के अंतर्गत जिन किसानो को इसका लाभ मिल रहा है उनकी परिवार से जुड़ी जानकारी को सोशल ऑडिट किया जायेगा। ताकि यह पता चल सके की परिवार में रहने वाले अन्य सदस्य क्या काम करते है और पीएम किसान योजना का लाभ लेने वाला किसान व्यक्ति इसके पात्र है या नहीं।

देश के जिन किसान नागरिकों के द्वारा PM Kisan Yojana में आवेदन नहीं किया गया है और वह अब योजना में आवेदन करना चाहते है तो आवेदन करने के लिए किसान व्यक्ति को अब अपने परिवार का विवरण भी प्रस्तुत करना होगा। यानी की परिवार के अन्य सदस्यों से जुड़ी जानकारी भी देनी होगी। ताकि केवल जरूरतमंद किसानों को ही वार्षिक तौर पर मिलने वाली 6 हजार रुपये की वित्तीय सहायता राशि का लाभ मिल सके।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

आर्टिकल PM Kisan Social Audit
योजना का नाम पीएम किसान सम्मान निधि योजना
योजना शुरू केंद्र सरकार के अंतर्गत
योजना शुरू करने की तिथि 24 फरवरी 2019
लाभ किसानों को 6 हजार रुपये की आर्थिक सहायता राशि
उद्देश्य पीएम किसान सोशल ऑडिट के जरिये केवल
जरूरतमंद किसानों को लाभ प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट www.pmkisan.gov.in

पीएम किसान योजना सभी किसानों का होगा सोशल ऑडिट

PM Kisan Social Audit– सरकार के माध्यम से सोशल ऑडिट की प्रक्रिया इसलिए शुरू की गयी है ताकि जो किसान योजना का गलत तरीके से लाभ ले रहे है उन्हें पीएम किसान योजना की सूची से बाहर किया जाए। एवं जो किसान इस योजना के अंतर्गत योग्य है एवं वह लाभ लेने से अभी तक वंचित है उन्हें पीएम किसान योजना से जोड़ा जायेगा।

पंचायत प्रमुख ,वार्ड मेंबर , पंचायत के विभिन्न गांवों के प्रगतिशील किसान ऑडिट टीम में शामिल किये जायेंगे। इसके लिए कृषि विभाग के स्थानीय अधिकारी ,खंड कृषि अधिकारी ,कृषि समन्वयक और किसान सलाहकार ऑडिट टीम की मदद करेंगे। कृषि विभाग ने पीएम किसान योजना का सोशल ऑडिट कराने की पूरी तैयारी लगभग पूर्ण कर ली गयी है।

PM किसान सोशल ऑडिट से किसानो को होगा लाभ

सरकार के माध्यम से पीएम किसान योजना के लिए सोशल ऑडिट शुरू करने का लक्ष्य है केवल उन पात्र किसानों तक योजना का लाभ पहुँचाना जो अभी इसका लाभ लेने से वंचित है। सोशल ऑडिट टीम के माध्यम से अब किसानों के परिवार से जुड़ी जानकारी को एकत्रित किया जायेगा। जिसके पश्चात जो किसान व्यक्ति इसका लाभ ले रहे है वह इसके पात्र है या नहीं यह सभी डिटेल्स सोशल ऑडिट के जरिये एकत्रित करके ही उन्हें योजना का लाभ दिया जायेगा। यदि वह इसके योग्य है तो ही उन्हें योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि का लाभ प्राप्त होगा। अन्यथा नहीं तो उन्हें अपात्र होने की स्थिति में योजना से बाहर किया जायेगा।

सोशल ऑडिट की प्रक्रिया से पीएम किसान योजना में पारदर्शिता आएगी। अभी तक केंद्र सरकार के द्वारा 12 करोड़ से अधिक किसान नागरिकों को योजना का लाभ दिया जा रहा था लेकिन सोशल ऑडिट के अपात्र किसानों को सूची से हटा दिया गया है। ऐसे में अभी तक 9 करोड़ किसान नागरिक इसका लाभ ले रहे है।

PM Kisan Social Audit से संबंधित प्रश्न उत्तर

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना सोशल ऑडिट क्या है ?

पीएम किसान सम्मान निधि योजना सोशल ऑडिट व्यक्ति के परिवार से जुड़ी जानकारी को एकत्रित करने के लिए पंचायत स्तर पर गठित की गयी एक टीम है।

पीएम किसान सोशल ऑडिट के जरिये कौन से किसान नागरिकों को लाभ देने हेतु योग्य माना जायेगा ?

जो किसान नागरिक आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के है एवं खेतीबाड़ी करते है एवं जो पीएम किसान सोशल ऑडिट के जरिये इस योजना हेतु योग्य होंगे।

क्या उन सभी किसानों को PM Kisan Social Audit के जरिये सूची हटा दिया जायेगा जो इसके लिए अपात्र है ?

जी हाँ अपात्र किसान नागरिकों को पीएम किसान योजना से हटा दिया जायेगा इसका लाभ केवल जरूरतंद किसान नागरिकों को ही दिया जायेगा।

PM Kisan Social Audit के अंतर्गत अपात्र किसानों की पहचान कैसे की जाएगी ?

अपात्र किसानों की पहचान PM Kisan Social Audit के अंतर्गत परिवार की जानकारी एकत्रित करके की जाएगी। यदि किसान व्यक्ति की पारिवारिक जानकारी में वह आर्थिक रूप से कमजोर नहीं है तो उन्हें इस योजना हेतु अपात्र माना जायेगा।

पीएम किसान सोशल ऑडिट के तहत कौन से किसान नागरिकों को लाभ मिलेगा ?

पीएम किसान सोशल ऑडिट के जरिये उन सभी किसानों को लाभ मिलेगा जो पात्र होने के बावजूद भी अभी तक योजना से मिलने वाले लाभ से वंचित है। ऐसे पात्र किसानों का नाम प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में जोड़ा जायेगा।

PM Yojana HomepageClick Here

Leave a Comment