पीएम किसान सम्मान निधि योजना: ई-केवाईसी की आखिरी तारीख है नजदीक, जल्दी करें

पीएम किसान सम्मान निधि योजना: पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी किसानो के लिए एक खुशखबरी है। जानकारी के लिए बता दें ई-केवाईसी कराने की आखिरी डेट को 31 मई 2022 तक बढ़ा दिया गया है। हालांकि पहले ई-केवाईसी कराने की आखिरी डेट 31 मार्च 2022 थी। जिसे अब एक महीने के लिए बढ़ा दिया गया है। अगर आपने भी अभी तक अपनी ई-केवाईसी नहीं कराई है तो जल्द ही करा लें। ई-केवाईसी करने की आखिरी तारीख नजदीक है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना ई-केवाईसी से जुडी अधिक जानकारी के लिए आगे दी गई समस्त जानकारी ध्यानपूर्वक पढ़ें –

क्या है पीएम किसान सम्मान निधि योजना

PM Kisan Samman Nidhi Yojana की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र ने की थी। इस योजना के अंतर्गत किसानो को कृषि सम्बन्धी आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए 6000 रूपये सालाना दिए जाते है। इस राशि का भुगतान सरकार द्वारा सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर करके करती है। योजना का पैसा लाभार्थी किसानो को एकमुश्त न देकर किस्तों में दिया जाता है। हालांकि जल्द ही पीएम किसान योजना की 11वीं क़िस्त जारी की जाएगी। 11वीं क़िस्त का भुगतान भी किसानो को बैंक खाते के माध्यम से ही किया जायेगा। किसी भी लाभार्थी को योजना का पैसा नकद उपलब्ध नहीं कराया जाएगा।

e-KYC के लिए जरूरी दस्तावेज

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए ई-केवाईसी कराने के लिए लाभार्थी किसानों को कुछ जरूरी डाक्यूमेंट्स की जरूरत होगी। इन डाक्यूमेंट्स के बारे में हम आपको नीचे दिए गए कुछ पॉइंट्स के माध्यम से बताने जा रहें है। ये पॉइंट्स निम्न प्रकार है –

  • भूमि का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक

ऐसे चेक करें पीएम किसान सम्मान निधि योजना की रिजेक्ट लिस्ट – PM Kisan Rejected List

ऐसे करें ई-केवाईसी

उम्मीदवार ध्यान दें जानकारी के लिए बता दें पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी किसान दो माध्यम से ई-केवाईसी कर सकते है। घर बैठे ई-केवाईसी करने के लिए किसानो को पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जबकि किसान सीएससी सेंटर के माध्यम से भी ई-केवाईसी करवा सकते है। जानकारी के लिए बता दें यदि कोई लाभार्थी किसान ओटीपी के जरिये स्वयं ई-केवाईसी करते है तो उनका कोई पैसा खर्च नहीं होगा जबकि जन सेवा केंद्र के माध्यम से ई-केवाईसी कराने पर आपको शुल्क का भुगतान करना होगा।

PM Kisan NPCI Link : अब किसानों को करना होगा NPCI Link, नहीं तो रुक जाएगा पैसा

जन सेवा केंद्र में लाभार्थी किसान की उँगलियों की छाप के माध्यम से ई-केवाईसी की जाएगी। जिसके के उम्मीदवार के आधार कार्ड और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की आवश्यकता होगी। जन सेवा केंद्र में जाकर ई-केवाईसी कराने पर लाभार्थी किसानो को लगभग 37 रूपये तक का शुल्क देना पड़ सकता है।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment