PM Care Fund For Students: पीएम मोदी ने दिया स्टूडेंट्स को तौफा, पीएम केयर फंड से मिलेगा पढ़ाई-लिखाई का खर्चा

PM Care Fund For Students: देश भर में कोरोना महामारी के चलते कितनों ने ही अपने परिवार के सदस्यों को खो दिया है। ऐसे में बहुत से बच्चे ऐसे हैं जिन्होंने इस दौरान अपने माता पिता को खो दिया है। इन्ही बच्चों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर फण्ड के जरिये इन बच्चों की मदद करने का निर्णय लिया है। चिल्ड्रन केयर फंड (PM-CARES For Children) के नाम से ये फण्ड उन सभी बच्चों की जरूरतें पूरी करेगा जिन बच्चों ने कोविड के दौरान अपने माता पिता को खो दिया है।

PM Care Fund For Students

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पीएम केयर फण्ड फॉर चिल्ड्रन के जरिये सभी जरूरतमंद बच्चों की रोजमर्रा की जरूरतें पूरी करने से लेकर उनकी शिक्षा व स्वास्थ्य संबंधी जरूरतें पूरी करने में सहायता करेंगे। इस फण्ड के जरिये बच्चों को शिक्षा प्राप्त करने से सभी संबंधित खर्चों की पूर्ती हेतु आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसमें स्कूल फीस के साथ साथ , स्कूल यूनिफार्म , पेन पेन्सिल , कॉपी , बुक्स , बैग आदि सभी खर्च शामिल होंगे। पीएम मोदी ने बताया की बच्चों को घर के आस पास ही सरकारी या प्राइवेट स्कूल में एडमिशन दिलाया जाएगा।

PM Cares for Children: आज पीएम मोदी देंगे तोहफा, इस स्कीम से प्रति बच्चे को मिलेंगे 10 लाख रुपए

उच्च शिक्षा हेतु मिलेगा लोन और रोजमर्रा के खर्चे हेतु प्राप्त होगी आर्थिक सहायता

बता दें की हर महीने जरूरतमंद बच्चों को नियमित खर्चे के लिए 4000 रूपए की धनराशि प्रदान की जाएगी , जिससे वो अपनी आवश्यकताएं पूरी कर सकें। इसके साथ ही उच्च शिक्षा हेतु लोन लें चाहेंगे उन्हें सरकार पीएम फण्ड के तहत लोन भीप्रदान करेगी। यही नहीं पीएम मोदी ने बताया की जो बच्चे अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद अपने सपने पूरे करने के लिए पैसों की जरुआत होगी उन्हें भी मदद दी जाएगी। इस के लिए उन्हें 18 से 23 वर्ष तक स्टाइपेंड देने की बात कही है। साथ ही जब बच्चे 23 वर्ष के हो जाएंगे तो उन्हें एक साथ 10 लाख रूपए की राशि दे दी जाएगी। जिससे वो अपना सपना साकार कर सके।

PM Cares For Children Scheme: इस स्कीम के तहत बच्चों को मिलते हैं 10 लाख रुपये, जानिए कैसे उठा सकते हैं लाभ

मिलेंगी 5 लाख रूपए तक की मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं

प्रधानमन्त्री ने बताया कि बीमार होने या किसी गंभीर बीमारी के चलते भी बच्चों को चिंता करने की जरुरत नहीं है। उन्होंने कहा की पीएम फण्ड केयर के जरिये ही सभी जरूरतमंद बच्चों को आयुष्मान हेल्थ कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा। बता दें इस कार्ड के जरिये बच्चे 5 लाख रूपए तक का इलाज मुफ्त में करा सकते हैं। इसके साथ ही बच्चों के भावनात्मक और मानसिक सहयोग हेतु एक विशेष संवाद सेवा की शुरुआत की गयी है। इस के माध्यम से बच्चे संवाद हेल्प लाइन नंबर के जरिये विशेषज्ञों से बात कर सकते हैं।

आयुष्मान भारत योजना 2022 रजिस्ट्रेशन: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म व पात्रता

ऐसी ही और सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment