One Nation, One Registration: अब जमीन के लिए बनेगा ‘आधार’ नंबर, सरकार शुरू करने जा रही है ये योजना

One Nation One Registration: के अंतर्गत भारत सरकार अब जमीन के लिए यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर जारी करेगी। वित्तीय वर्ष 2022 बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने डिटलाइजेशन की गति को बढ़ावा देने का ऐलान किया है। इस प्रक्रिया के आधार पर अब जमीन के रिकॉर्ड को डिजिटल रखा जायेगा। लैंड डिजिटल रिकॉर्ड के लिए आईपी बेस्ड टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जायेगा। डिजिटल लैंड रिकॉर्ड के लिए अब URN नंबर जारी किया जायेगा। इस URN नंबर के आधार पर ऑनलाइन प्रणाली के अंतर्गत जमीन से संबंधी सभी रिकॉर्ड ऑनलाइन चेक किये जा सकते है।

वित्त वर्ष 2022 के बजट में निर्मला सीता रमण जी के द्वारा अपने भाषण में यह ऐलान किया गया है की 2023 तक जमीन के रिकॉर्ड को डिटलाइजेशन करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। तो आइये जानते है वन नेशन वन रजिस्ट्रेशन से संबंधित जानकारी को किस तरह से सरकार के द्वारा Land Record Digital किया जायेगा।

Table of Contents

One Nation One Registration

वन नेशन वन रजिस्ट्रेशन के आधार पर अब जमीन के रिकॉर्ड को डिटलाइजेशन किया जायेगा। जमीनों के रिकॉर्ड को डिटलाइजेशन करने के लिए सरकार के द्वारा तैयारी शुरू कर दी गयी है। इस प्रक्रिया के आधार पर (Unique Registered Number-URN) नंबर जारी किया जायेगा। जिसके अंतर्गत जमीन के कागजात को हासिल करने में आसानी होगी। डिजिटल लैंड रिकॉर्ड रखने से कई तरह के फायदे होंगे। इससे जमीन के क्रय विक्रय संबंधी मामले में पारदर्शी आएगी। 3C फॉर्मूले के अंतर्गत इसे बांटा जायेगा। जिसके आधार पर सभी नागरिकों को फायदा मिलेगा। आधार नंबर के रूप में जमीन के लिए 14 अंको का URN नंबर जारी किया जायेगा। डिजिटल लैंड रिकॉर्ड के आधार पर जमीन के क्रेता और विक्रेता से जुड़ी जानकारी पारदर्शी रूप में सबके सामने मौजूद रहेगी।

बनेगा जमीन के लिए ‘आधार’ नंबर

डिटलाइजेशन की गति को बढ़ावा देने के लिए सरकार अब वन नेशन वन रजिस्ट्रेशन के तहत जमीन के लिए आधार नंबर के रूप में एक URN नंबर जारी करेगी। जिसके अंतर्गत अब भूस्वामी मालिक डिजिटल माध्यम से अपनी जमीन से जुड़े डाक्यूमेंट्स को घर बैठे प्राप्त करने में सहायक होंगे। जमीन के डिजिटल रिकॉर्ड को एकत्रित करने के लिए सरकार के द्वारा पोर्टल लॉन्च किया जायेगा। इस पोर्टल में डिजिटल रूप में जमीन का सभी डेटा एकत्रित होगा। One Nation, One Registration प्रोग्राम के तहत भारत सरकार ड्रोन की मदद से जमीन की मपाई करेगी।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment