Old Pension Scheme: सरकार का बड़ा ऐलान! 1 अप्रैल से NPS वाले कर्मचारियों के वेतन से कटौती बंद, इतनी बढ़ कर आएगी सैलरी

Old Pension Scheme : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कर्मचारियों की पेंशन के संबंध में बड़ी घोषणा की है। घोषणा के मुताबिक़ 1 अप्रैल 2022 से न्यू पेंशन स्कीम (NPS) वाले कर्मचारियों के वेतन से कटौती खत्म कर दी जाएगी। जानकारी के लिए बता दें की न्यू पेंशन स्कीम (NPS) के अंतर्गत वो कर्मचारी जिनकी भर्ती 2004 में हुई है , उनके मूल वेतन से हर माह 10 फ़ीसदी की कटौती होती आ रही थी। लेकिन अब जल्द ही अगले माह से वेतन में होने वाली कटौती को खत्म किया जाएगा। जिससे सभी कर्मचारियों को फायदा होगा। इस के अतिरिक्त सरकार ने घोषणा में ये भी कहा है की अभी तक जो भी धनराशि कटी है वो पैसे पेंशनर्स मेडिकल फण्ड की राशि आरजीएचएस में समायोजित कर दी जाएगी और बाकि की बची हुई राशि रिटायरमेंट के समय ब्याज के साथ कर्मचारियों को वापस कर दी जाएगी।

1 अप्रैल से मिलेगा अधिक वेतन

आप को बता दें की सोमवार को एप्रोप्रिएशन बिल पर बहस चल रही थी। जिस में जवाब देते हुए मुख्यमंत्री गहलोत ने बताया की 1 अप्रैल 2022 से कर्मचारियों को पैसा बढ़ाकर मिलेगा। वो ऐसे की अब वेतन में होने वाली 10 फ़ीसदी तक की कटौती को खत्म कर दिया जाएगा, जिससे कर्मचारियों को हर माह वेतन में धनराशि बढ़ाकर मिलेगी। बता दें की वेतन में ये बढ़ोतरी 2000 रूपए से लेकर 10 हजार रूपए तक की होगी। बताते चलें की गहलोत सरकार ने इस बार बजट में 2004 में और उसके बाद भर्ती किये गए कर्मचारियों पर लागू न्यू पेंशन स्कीम को खत्म कर Old Pension Scheme को लागू करने की घोषणा की है।

NPS में कटते हैं पैसे

जैसे की आप को जानकारी होगी की एनपीएस (न्यू पेंशन स्कीम ) में सभी कर्मचारियों के मूल वेतन का 10 फ़ीसदी एनपीएस के लिए कट जाता था। उस के बाद इतनी ही रकम सरकार द्वारा भी मिलाई जाती है। साथ ही बता दें की प्रदेश में कुल 5 लाख 22 हजार कर्मचारी हैं जो न्‍यू पेंशन स्‍कीम के तहत सरकारी विभागों में कार्यरत हैं। इस के अतिरिक्त 38 हजार कर्मचारी ऑटोनोमस बॉडीज में काम करते हैं।

NPS में 25 हजार करोड़ रूपए बैंक में जमा

बताते चलें की नयी पेंशन स्कीम के अंतर्गत कर्मचारियों के वेतन से एक निश्चित धनराशि एनपीएस अंशदान कटता है और जिस में सरकार के योगदान को मिलाकर अभी तक लगभग 25 हजार करोड़ रूपए ट्रस्टी बैंक में जमा हो चुके हैं। जिसमें से 13.24 प्रतिशत का अमाउंट शेयर बाजार और बाकी कंपनियों में लगाया गया है। इस आधार पर इस रकम की मौजूदा वैल्यू अभी 31 हजार करोड़ से भी ऊपर हो गयी है।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment