National Savings Certificate: खुद पीएम मोदी ने किया है निवेश पोस्ट ऑफिस की इस योजना में, जानें क्या हैं फायदे

National Savings Certificate: जैसा की आप सभी जानते है भारतीय डाक विभाग द्वारा नागरिकों के लिए कई सारी योजनाओं को शुरू करती रहती है और यह बात भी बिलकुल सही है कि पोस्ट ऑफिस की सेविंग स्कीम्स अन्य किसी भी सरकारी स्कीम से ज्यादा रिटर्न नागरिकों को प्रदान करती है। डाकघर में निवेश करने पर पैसा पूरी तरह से सुरक्षित रहता है। बता देते है, की पोस्ट ऑफिस ने अभी तक कुल 9 छोटी बचत स्कीम्स को शुरू किया है। इनमे से एक स्कीम का नाम है नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट। इस स्कीम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने तक इन्वेस्ट किया है। डाटा के अनुसार साल 2020 में जून के महीने में 8 लाख 43 हजार रुपये का निवेश किया है। यह योजना काफी लाभदायक है। चलिए जानते है इस स्कीम के बारे में और अधिक जानकारी

क्या है NSC (National Savings Certificate)

ग्राहक नेशनल सेविंग स्कीम के तहत अपना पैसा जमा कर सकते है और पा सकते है बेहतर ब्याज का फायदा। इस स्कीम में आप निवेश करने की शुरुवात कम से कम 1000 रूपये या 100 रुपये के मल्टीप्ल में कर सकते है। आप चाहे तो कितना भी पैसा इस योजना में जमा कर सकते है इसकी को सीमा निर्धारित नहीं की गयी है।

क्या है राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र की मेच्योरिटी पीरियड

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम के तहत मेच्योरिटी पीरियड 5 साल तक रखा गया है। यानी आप 5 साल बाद ही अपना निवेश किया पैसा निकाल सकेंगे। NSC में आप तीन तरीके से पैसा इन्वेस्ट कर सकते है। (यदि किसी खाताधारक की मृत्यु हो जाती है तो यह खाता मेच्योरिटी डेट से पहले बंद हो जायेगा)

  1. सिंगल टाइप: सिंगल टाइप में नागरिक अपने लिए या किसी नाबालिग के लिए निवेश कर सकता है।
  2. जॉइंट A टाइप: इसमें दो लोग एक साथ निवेश कर सकते है।
  3. जॉइंट B टाइप: इस टाइप में दो लोग एक साथ निवेश करते है लेकिन मेच्योरिटी पीरियड खत्म होने के बाद पैसे किसी एक इन्वेस्टर (निवेशक) को दिए जाते है।

जानिए क्या है ब्याज दर (इंटरेस्ट रेट)

भारतीय डाक घर की नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट स्कीम में सालाना ब्याज 6.8% की दर से कंपाउंड इंटरेस्ट (चक्रवृद्धि ब्याज) दिया जायेगा। यदि कोई निवेशक योजना में 1000 रुपये जमा करेगा तो उसे 5 साल बाद 1389.49 रुपये इंटरेस्ट मिलेगा।

कौन खुलवा सकेंगे खाते

  • योजना में वही निवेश कर सकते है जिनकी उम्र 18 साल से ज्यादा होगी।
  • इसमें किसी नाबालिंग बच्चे का अकाउंट अभिभावक द्वारा भी खोला जा सकेगा।
  • योजना के तहत नागरिक जॉइंट खाता भी खुलवा सकेंगे।

मिलेगा टैक्स पर भी छूट

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट एक तरह से टैक्स सेविंग स्कीम है। जिसमे इन्कम टैक्स अंडर सेक्शन 80C के तहत सालाना 1.5 लाख तक के निवेश पर टैक्स में छूट मिलती है लेकिन इसके साथ ही केवल 5वें साल में मिल रहे ब्याज पर इन्वेस्टर को टैक्स स्लैब के अनुसार टैक्स भरना होगा।

12वीं पास वालों के लिए पोस्टमैन और पोस्टल असिस्टेंट पदों आई बंपर भर्ती, सैलरी 21,700 से 81,100 रुपये तक

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment