MP Panchayat Chunav: चुनाव आयोग ने एमपी पंचायत चुनाव रद्द किया, जानें अब कब होगा इलेक्शन

MP Panchayat Chunav: हाल ही में मध्य-प्रदेश कैबिनेट की बैठक में शिवराज चौहान सरकार ने मध्य-प्रदेश पंचायत चुनावो को रद्द करने का फैसला किया है. सरकार द्वारा कैबिनेट मीटिंग में इस आदेश पर मुहर लगा दी गयी है जिसके बाद राज्यपाल द्वारा इस पर हस्ताक्षर किये जायेंगे। आपको बता दे की सरकार द्वारा 4 दिसंबर को पंचायत चुनाव सम्बंधित अध्यादेश को निरस्त कर दिया गया है। राज्य चुनाव आयोग द्वारा इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है जिसमे पंचायत चुनावों को निरस्त करने सम्बंधित जानकारी दी है. वही सचिव द्वारा MP Panchayat Chunav में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों को नामांकन पेपर के साथ अपनी निक्षेप राशि को वापस लेने के लिए भी कहा है. इस सम्बन्ध में राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव बी. एस. जामोद ने इस सम्बन्ध में जानकरी दी है.

यहाँ फँस रहा है पेंच

4 दिसंबर को होने वाले पंचायत चुनावों में रोटेशन प्रणाली को लेकर क़ानूनी पेंच फंस गया था. जिसके बाद अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के उमीदवारो के लिए रिज़र्व सीटों पर चुनाव स्थगित कर दिए गए थे जिसको लेकर प्रदेश में सियासी हलचल भी मची थी. इस पूरे मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश राज्य चुनाव आयोग को कड़ी फटकार भी लगायी थी. जानकारी के लिए बता दें की इस बार एमपी में 3 चरणों में पंचायत चुनाव कराये जाने थे परन्तु सरकार द्वारा अब इन्हे निरस्त करने का फैसला किया गया है.

हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज चौहान द्वारा साफ़ कहा गया है की पिछड़े वर्ग के लिए सीटें आरक्षित होने के बाद ही फिर से पंचायत चुनाव की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. इस मामले को लेकर राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का रुख कर लिया है जिन पर 3 जनवरी को फैसला होना है.

यह भी है वजह

मध्य-प्रदेश में चुनाव आयोग के वर्तमान कमिश्नर बी पी सिंह ने कहा है की अगर चुनाव के बाद परिसीमन किया जाता है तो चुनाव जीतने वाले उमीदवार का चुनाव क्षेत्र बदल जायेगा. इसलिए विसंगतियों से बचने के लिए सरकार द्वारा पंचायत चुनाव को रद्द करने का फैसला किया जा रहा है. आपको बता दें की वर्ष 2019 में कमलनाथ सरकार ने पंचायत चुनावो के लिए नए नियम लागू किये थे जबकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 2014 के नियमों के हिसाब से पंचायत चुनाव करवाना चाहते थे.

जल्द घोषित होंगी MP Panchayat Chunav की नयी तारीख

हालांकि मध्य- प्रदेश सरकार द्वारा 4 दिसंबर को अध्यादेश लाये जाने से पंचायत चुनावों को निरस्त किया गया है लेकिन राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जल्द ही इन चुनावों के लिए नयी डेट घोषित की जाएगी. आपको बता दें की सरकार द्वारा इस मुद्दे सुप्रीम कोर्ट में ले जाया गया है. कोर्ट में 3 जनवरी को इस मुद्दे पर सुनवाई भी होनी है.

गृह-मंत्री भी कर चुके है चुनाव रद्द करने की मांग

मध्य-प्रदेश में भी ओमिक्रोन के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है. ऐसे में गृह-मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा भी चुनावों को टालने की बात कह चुके है. हालांकि सरकार द्वारा अभी तक इस पर कुछ भी फैसला नहीं लिए गया है. पंचायत चुनावों पर कोर्ट का आदेश आने के बाद सरकार द्वारा चुनाव करवाने के सम्बन्ध में फैसला लिया जायेगा.

12वीं के छात्रों को मिलेगा फ्री लैपटॉप, ऐसे करें आवेदन

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment